India Australia Naval Exercise, Indian Navy, India China Ties, Indian Ocean, China Military, Malabar Exercise

India Australia Naval Exercise, Indian Navy

Malabar Exercise: इस बार चीन की परवाह नहीं? जो फैसला साल 2017 नहीं हुआ उस पर भारत फिर कर रहा है विचार

इस बार चीन की परवाह नहीं? जो फैसला साल 2017 नहीं हुआ उस पर भारत फिर कर रहा है विचार

11-07-2020 13:17:00

इस बार चीन की परवाह नहीं? जो फैसला साल 2017 नहीं हुआ उस पर भारत फिर कर रहा है विचार

समुद्र में अपनी बादशाहत और दादागिरी दिखाने के लिए हर रोज नए पैंतरे चलने वाला चालाक चीन के होश ठिकाने के लिए भारत के साथ तीन देश पूरी तरह तैयार हैं. यानी अब चार देशों का मोर्चा बिलकुल तैयार हो गया है. दरअसल खबर है कि इस साल के अंत में होने वाले मालाबार नौसैनिक अभ्यास में भाग लेने में ऑस्ट्रेलिया की दिलचस्पी पर भारत गंभीरता से विचार कर रहा है. मामले की जानकारी रखने वाले लोगों ने शुक्रवार को यह जानकारी दी. अगर भारत ऑस्ट्रेलिया को अभ्यास में शामिल करने का निर्णय लेता है तो वह उस चतुर्भुज गठबंधन का हिस्सा होगा जिसकी स्थापना हिंद-प्रशांत क्षेत्र में शांति और स्थायित्व कायम करने और चीन के प्रभाव को कम करने के उद्देश्य से की गई थी.

नई दिल्ली :  नवंबर 2017 में भारत, अमेरिका, जापान और ऑस्ट्रेलिया ने दीर्घकाल से लंबित चतुर्भुज गठबंधन को आकार दिया था ताकि हिंद-प्रशांत क्षेत्र में महत्वपूर्ण समुद्री मार्गों को किसी के प्रभाव से मुक्त रखने के वास्ते नई रणनीति बनाई जा सके.  मामले की जानकारी रखने वाले लोगों के अनुसार मालाबार नौसैनिक अभ्यास में भाग लेने के प्रति ऑस्ट्रेलिया की दिलचस्पी पर भारत गंभीरता से विचार कर रहा है और अगले कुछ सप्ताह में इस पर निर्णय लिया जा सकता है. 

कश्मीर: लॉकडाउन का शानदार जवाब हैं खुले में लगने वाली कक्षाएं कश्मीर में नेताओं के बिना कैसी राजनीति और कैसा लोकतंत्र? सुशांत केस में ब‍िहार पुल‍िस को जांच का हक नहीं- मुंबई पुल‍िस कम‍िश्नर

यह भी पढ़ेंसूत्रों का कहना है कि भारत आस्ट्रेलिया की दिलचस्पी को सकारात्मक तरीके से देख रहा है. अगर भारत इसमें अभ्यास में ऑस्ट्रेलिया को शामिल करने का फैसला करता है तो लद्दाख में हुई घटना के बाद भारत-चीन के संबंधों को बीच तनाव के बीच यह एक अहम कदम होगा. आपको बता दें कि मालाबार एक्सरसाइज में हिस्सा लेने वाले देशों की नेवी इसमें अपने-अपने फ्लीट के साथ-साथ अभ्यास  करती हैं. इसका मकसद हिंद महासागर  में अपना प्रभुत्व बनाए रखना है. 

साल 1992 में हुए इस अभ्यास में सबसे पहले भारत और अमेरिकन नेवी जुड़ी थीं. साल 2015 में जापान भी हिस्सा बन गया. बीते कुछ सालों में ऑस्ट्रेलिया ने भी इसमें रुचि दिखानी शुरू कर दी. क्योंकि इस समुद्री में इलाके में चीन इस देश को हमेशा धमकाने की कोशिश करता रहता है. यहीं हाल के कुछ सालों में आस्ट्रेलिया और भारत के बीच रक्षा संबंधों में काफी गाढ़े संबंध हुए हैं. बीते महीने में दोनों देशों के बीच इस लेकर ऑनलाइन शिखर सम्मेलन भी हुआ था और कई रणनीतिक समझौतों पर हस्ताक्षर किए गए. जिसमें एक दूसरे सैन्य बेस और लॉजिस्टिक के इस्तेमाल पर सहमति बनी है. 

यहां ध्यान देने की बात ये है कि साल 2017 में भी आस्ट्रेलिया की ओर से इस मालाबार एक्सरसाइज में शामिल होने के लिए प्रस्ताव आया था. लेकिन उस समय भारत ने चीन के साथ अपने संबंधों को देखते हुए इसे अस्वीकार किया था. लेकिन लद्दाख में हुई घटना के बाद अब चीन को लेकर भारत ने अपनी सारी रणनीति बदल दी है. सेनाएं भले ही आपसी सहमति से पीछे हट रही हों और तनाव कम करने की कोशिश जारी है लेकिन भारत सरकार अब चीन के साथ अपने संबंधों को दूसरे देशों के साथ रिश्तों की कीमत पर कतई  नहीं बर्दाश्त नहीं करने के मूड में है.

(हेडलाइन के अलावा, इस खबर को एनडीटीवी टीम ने संपादित नहीं किया है, यह सिंडीकेट फीड से सीधे प्रकाशित की गई है।)Listen to the latest songs, only on JioSaavn.comIndia Australia naval exerciseIndian navyIndia China tiesIndian OceanChina militaryMalabar Exerciseटिप्पणियां भारत में कोरोनावायरस महामारी के फैलाव पर नज़र रखें, और NDTV.in पर पाएं दुनियाभर से COVID-19 से जुड़ी ताज़ातरीन ख़बरें.

लाइव खबर देखें: और पढो: NDTVIndia »

भक्तिमय हुई अयोध्या नगरी, मुस्लिम पक्षकार को मिला भूमि पूजन का पहला न्यौता

अयोध्या में भूमिपूजन की जबरदस्त तैयारियां चल रही हैं. पूरा अयोध्या राम मय हो गया है. तीन दिनों के पूजन कार्यक्रम की शुरुआत हो गई है. आज सीएम योगी दोपहर दो बजे के करीब अयोध्या पहुंच रहे हैं. जहां वो तैयारियों का जायजा लेंगे. असली चुनौती सुरक्षा का है क्योंकि 5 अगस्त को पीएम मोदी अयोध्या आ रहे हैं. मेहमानों की लिस्ट भी फाइनल हो रही है. पहला न्यौता इकबाल अंसारी को गया है. वही इकबाल अंसारी जो पक्षकार रहे और मंदिर निर्माण का विरोध करते रहे. देखें एक और एक ग्यारह.

NDTV ऐसा चैनल है जो केन्द्र सरकार के दबाव मे काम नही करता ये अच्छी बात है।यदि सत्ता की गुलामी करने और राजनीतिक दलों में भेदभाव करने पर रोक लगे तो आधे से ज्यादा मीडिया वाले भूखे मर जाएंगे और केन्द्र मे बहुमत तो दूर भाजपा के लिए मिली-जुली सरकार बनाना भी मुश्किल हो जाएगा। ndtvfeed Good desh sena k sath khadi hai, Hett off to all our respected indian solders

BringbackindianstudentsfromKYRGYSTAN We re medical students studying in kyrgyzstan We stuck here please evacuate us from here they took money from us but they canceled flights we re stucked at airport. IndiaInKyrgyz is not helping us not talking to us ndtv tell your father China that be careful as India is going to start Malwar exercise.

विकास दुबे के साथियों की पुलिस मुठभेड़ में मौत के खिलाफ सुप्रीम कोर्ट में याचिका दायरविकास दुबे के साथियों की पुलिस मुठभेड़ में मौत के खिलाफ सुप्रीम कोर्ट में याचिका दायर VikashDubey SupremeCourt myogioffice myogioffice Bhut accha myogioffice विकास_दुबे की मौत का कोई अफसोस नही है ! आतंकी को कड़ी से कड़ी सजा मिलनी चाहिए मगर VikasDubeyEncountered से एक बात ये हुई कि सिस्टम में जो जयचंद है और जो नेताओं के रूप में भेड़िये है वो इस एनकाउंटर की वजह से बच जाएंगे , दूसरे शब्दों में कहु तो उनको बचाया गया एनकाउन्टर कर के ! myogioffice बधाई हो अपराधी मारा गया 👌

तेजस्वी के बाद चिराग भी बिहार चुनाव टालने के पक्ष में, आखिर क्या है वजह?प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और अमित शाह के बाद मुख्यमंत्री नीतीश कुमार भी वर्चुअल रैली के जरिए बिहार चुनाव अभियान में जुटे हुए हैं. ऐसे में आरजेडी नेता तेजस्वी यादव के बाद अब एनडीए के सहयोगी लोक जनशक्ति पार्टी (एलजेपी) प्रमुख चिराग पासवान ने भी कोरोना संक्रमण के बीच चुनाव कराने के पक्ष में नहीं दिख रहे हैं. Suggestions Should be taken by election commission if they think and our assured than they should talk to concern political parties and move forward this is a right way Good

केरल के गांव में कोरोनावायरस का विस्फोट, लॉकडाउन की सख्ती के लिए तैनात हुए कमांडोतिरुवनंतपुरम। देश में कोरोनावायरस संक्रमण के मामले तेजी से बढ़ रहे हैं। देश के कई राज्यों में कोरोना संक्रमण रोकने के लिए अभी भी लॉकडाउन लगाया गया है। केरल के पुन्थुरा गांव में लॉकडाउन का पालन कराने के लिए 25 कमांडो को तैनात किया गया है। यहां एसएपी के 25 कमांडो की तैनाती की गई है।

VIDEO: WHO ने कोरोना पर काबू के लिए मुंबई के धारावी मॉडल की तारीफ कीविश्व स्वास्थ्य संगठन ने कोरोना रोकने में धारावी मॉडल की तारीफ की है. डब्ल्यूएचओ ने कहा है कि धारावी मॉडल ने दिखा दिया कि कोरोना जैसी महामारी को रोका जा सकता है. डब्ल्यूएचओ के महानिदेशक ट्रेडोस एडहानम गेब्रेयेसेस ने कहा कि दुनिया भर में कई उदाहरण हैं जिन्होंने दिखाया है कि भले ही प्रकोप कितना भी ज्यादा हो, फिर भी इसे नियंत्रण में लाया जा सकता है और इन उदाहरणों में से कुछ इटली, स्पेन और दक्षिण कोरिया, और यहां तक कि धारावी में भी हैं. देखें वीडियो. चूतिये पहले फैलाते हैं , Gjsgbjxvjcd T

मुंबई के धारावी में टूटी कोरोना ट्रांसमिशन की चेन, WHO चीफ ने की तारीफWHO प्रमुख ने इस बात पर जोर दिया कि लोगों को एकजुट होकर ही इसके खिलाफ लड़ना होगा. इसमें देशों का सक्षम नेतृत्व भी बड़ा रोल अदा करेगा. टेडरॉस ने कहा, कई देश जिन्होंने इस संक्रमण को हल्के में लिया और लोगों को बाहर आने-जाने की ढील दी, वहां अब मामले फिर बढ़ने लगे हैं. कुल मिलाकर विपक्षी मॉडल ही ठीक है? 👍 This is a lesson and answer to those ignorant elite and privileged people who underestimated Dharavi people because they live in slum.

विकास दुबे 'मुठभेड़': उत्तर प्रदेश पुलिस की 'ठोक देंगे' परंपरा में क़ानून की जगह कहाँ है?कानपुर में आठ पुलिसवालों की मौत के मुख्य अभियुक्त विकास दुबे की मौत ने पुलिस की भूमिका पर सवाल उठाए हैं. क्या कहते हैं जानकार और वकील. don hai to mumkin hai Oh my god