Jammukashmirarticle 370, Kulgam, Crossborderterrorism, Jammu And Kashmir, Kupwara District News, 5 August 2020, Article 370, Article 35 A, Development Vaccine İn Jammu And Kashmir, Apple Cultivation, Border Cross Terrorism, Terrorism İn Jammu And Kashmir, Pakistan Sponsored Terrorism

Jammukashmirarticle 370, Kulgam

Jammu Kashmir Article 370: विकास की वैक्सीन से खत्‍म होगा जम्‍मू-कश्‍मीर में आतंक, नहीं चाहिए आजादी या स्वायत्तता

#JammuKashmirArticle370 : विकास की वैक्सीन से खत्‍म होगा जम्‍मू-कश्‍मीर में आतंक, नहीं चाहिए आजादी या स्वायत्तता #Kulgam #CrossBorderTerrorism

04-08-2020 23:57:00

JammuKashmirArticle370 : विकास की वैक्सीन से खत्‍म होगा जम्‍मू-कश्‍मीर में आतंक, नहीं चाहिए आजादी या स्वायत्तता Kulgam CrossBorderTerrorism

जम्‍मू कश्‍मीर के केंद्र शासित प्रदेश बनने के बाद इटली से उच्च उत्पादकता वाले सेव के पौधों को यहीं विकसित कर सब्सिडी पर इन्हें किसानों को उपलब्ध कराने की योजना परवान चढ़ी है।

अनुच्छेद 370 और 35ए के खात्मे और जम्मू-कश्मीर को केंद्र शासित राज्य बनने के बाद विकास की तेज हुई रफ्तार ने आतंकियों को हाशिये पर धकेलना शुरू कर दिया है। बड़ी संख्या में स्थानीय और विदेशी आतंकियों की सक्रियता के कारण कभी 'मिनी पाकिस्तान' कहे जाने वाले कुपवाड़ा में इसे साफ देखा जा सकता है। यहां एक भी व्यक्ति स्वायत्तता या आजादी की चर्चा करता नहीं मिला, बल्कि सभी विकास योजनाओं की कमी की शिकायत करते मिले। कुपवाड़ा के डिप्टी कमीश्नर अंशुल गर्ग इसे जनता की बढ़ी हुई उम्मीदों का परिणाम बताते हैं। 

अकाली दल ने एनडीए का 22 साल का साथ छोड़ा, हरसिमरत के इस्तीफे के 9 दिन बाद पार्टी गठबंधन से अलग हुई IPL 2020 - KKR vs SRH: शुभमन का बल्ला बोला, कोलकाता की जीत - BBC News हिंदी मोदी सरकार को झटका : किसान बिल मामले में अकाली दल ने NDA छोड़ा

कुपवाड़ा में अशांति फैलाने की हरसंभव कोशिश कर रहा है पाकिस्‍तान कुपवाड़ा जिले के हंदवाड़ा में तैनात एक वरिष्ठ पुलिस अधिकारी ने कहा कि कभी यह जिला स्थानीय आतंकियों की नर्सरी कहा जाता था। लेकिन आज के समय में यहां केवल तीन स्थानीय आतंकी ही बचे हैं। सुरक्षा एजेंसियां उन्हें भी तलाशने में जुटी है। उनके अनुसार पाकिस्तान के साथ सबसे लंबी 173 किलोमीटर की नियंत्रण रेखा वाले इस जिले से आतंकियों की घुसपैठ अब भी जारी है।

यह भी पढ़ेंमई के पहले हफ्ते में विदेशी आतंकियों के साथ मुठभेड़ में सेना के कर्नल और मेजर समेत पांच सुरक्षाकर्मियों की मौत इस बात का सबूत है कि पाकिस्तान कुपवाड़ा में अशांति फैलाने की हरसंभव कोशिश कर रहा है। लेकिन स्थानीय समर्थन के अभाव में आतंकी दूसरे जिलों का रूख कर लेते हैं। सबसे बड़ी बात यह है कि गोलियों और बमों के धमाके के साये में पले-बढ़े युवाओं ने अब इससे मुंह मोड़ना शुरू कर दिया है।

यह भी पढ़ेंखेलकूद, पढ़ाई और अन्य रचनात्मक कामों में लगना चाहते हैं युवा कुपवाड़ा के लंगेड़ ब्लॉक के ब्लॉक डवलपमेंट कमेटी के चेयरमैन शौकत हसन पंडित कहते हैं कि यहां के युवा खेलकूद, पढ़ाई और अन्य रचनात्मक कामों में लगना चाहते हैं। बीडीसी चेयरमैन बनने के बाद सरकार के सहयोग से पिछले एक साल भीतर शौकत पंडित लगभग आठ एकड़ में खेल का मैदान बनाने में सफल रहे। आज इसमें 40-50 गांव के हजारों बच्चे क्रिकेट और फुटबॉल खेलने आते हैं। हर दिन कोई न कोई मैच हो रहा होता है। अब वे यहां फ्लड लाइट लगाने की योजना बना रहे हैं, ताकि बच्चे शाम को वॉलीबॉल खेल सकें।

कुपवाड़ा जिला सेव की खेती के लिए भी जाना जाता है। यहां हर साल तीन लाख मीट्रिक टन सेव का उत्पादन होता है। लेकिन परंपरागत सेव के पौधों की उत्पादकता काफी कम होने के कारण किसानों की स्थिति दयनीय बनी हुई थी। परंपरागत सेव की जगह विदेशी सेव के पौधों को लगाने की अब तक की कोशिशें सफल नहीं रहीं।

इटली से उच्च उत्पादकता वाले सेव के पौधे लगाए जाएंगे केंद्र शासित प्रदेश बनने के बाद इटली से उच्च उत्पादकता वाले सेव के पौधों को यहीं विकसित कर सब्सिडी पर इन्हें किसानों को उपलब्ध कराने की योजना परवान चढ़ी है। कुपवाड़ा के बागबानी विभाग के प्रमुख फारूख अहमद के अनुसार परंपरागत सेव के पौधों में आठ साल में फल लगते हैं, इटली से लाए गए ये पौधे दो साल में ही फल देने लगते हैं। प्रति एकड़ उत्पादकता भी परंपरागत पौधों से 10 गुना अधिक है। सरकार की योजना आनेवाले सालों में सेव की परंपरागत पौधों को नए पौधों से पूरी तरह बदलने की है।

और पढो: Dainik jagran »

Delhi Riots 2020 में बड़े नामों पर शिकंजा, चार्जशीट में Yogendra Yadav और Yechury के नाम शामिल

दिल्ली दंगे से फरवरी के महीने में दहक उठी थी. दंगे में 53 लोगों की जान जली गई थी और 581 लोगों घायल हो गए. पीड़ितों के जिस्म से नासूर की तरह ये जख्म ताउम्र रिसता रहेगा. लेकिन इस जख्म पर अब दिल्ली पुलिस ने एडिशनल चार्जशीट का नमक छिड़का है. दिल्ली दंगे से अब जुड़े हैं कई सियासी दिग्गजों के नाम. दिल्ली दंगे में दिल्ली पुलिस के निशाने पर हैं सीपीएम महासचिव सीताराम येचुरी, स्वराज अभियान के कर्ताधर्ता योगेंद्र यादव और दिल्ली विश्वविद्यालय के प्रोफेसर अपूर्वानंद समेत कई दिग्गज. देखें वीडियो.

सत्या नडेला से बातचीत के बाद टिक टॉक के विरोध से पीछे हटे ट्रंपमाइक्रोसॉफ्ट अमरीका में टिक-टॉक का कारोबार ख़रीदना चाहता है. राष्ट्रपति ट्रंप इसके पक्ष में नहीं थे पर सत्या नडेला के साथ बात के बाद उन्होंने अपना मन बदल लिया. Sir/Madam,Government of India means Public of India including Govt. employees. We all are responsible for the welfare of poor & nation. Around 50% of public funds are under misuse therefore dismiss the corruptors and establish corruption free India. Jai hind🙏🌼🙏 RSS वालों ने कराया है दिल्ली में दंगा आप खुद इस प्रकार से जरूर सुने एक बार इनके साथ क्या हुआ Kiya tiktok sirf india ka hi personal data churati thi? Other countries me aisa kuch nhi hai kiya?

डीसीजीआई ने कोविड-19 के टीके के दूसरे-तीसरे चरण के मानव परीक्षण की इजाजत दीदेश के ड्रग कंट्रोलर ने सीरम इंस्टीट्यूट ऑफ इंडिया की ओर से बनाई जा रही कोविड-19 वैक्सीन के दूसरे और तीसरे चरण के परीक्षण It's good news

सुशांत सिंह राजपूत की मौत की सीबीआई जांच करवाने की बिहार सरकार ने की सिफारिशअभिनेता सुशांत सिंह राजपूत की मौत का मामला हर दिन नया मोड़ लेता जा रहा है। अभिनेता की मौत के मामले में मुंबई और बिहार Ek popular star ki CBI enquiry jisko politics media sabhi ka support hai jab uski enquiry me itni badi problem as Rahi h..to ek Aam admi ki kya haisiyat bechare ki..yahi sochkar Gareeb khoon k ghoot pikar chup baith jata h Cbi जाँच से ही सत्य उजागर होगा सी बी आई जांच होनी चाहिए दूध का दूध पानी का पानी होना चाहिए

पांच अगस्त से पहले जम्मू-कश्मीर में फिदायीन हमले की फिराक में पाकिस्तानपांच अगस्त को जैसा कि जम्मू-कश्मीर को केंद्र शासित प्रदेश बने एक वर्ष पूरा हो रहा है। अनुच्छेद 370, 35ए टूटने की पहली वर्षगांठ मनाई जाएगी। prodefencejammu JammuAndKashmir fidayeenattack Terrorism Article370

जम्मू कश्मीरः स्थानीय नागरिक की पिटाई के खिलाफ प्रदर्शन,आरोपी गार्ड गिरफ्तारsunilJbhat Most of the toll plaza are being operated by Goons , who regularly misbehave with common people .

भूमि पूजन से पहले रामलला के एक और पुजारी को कोरोना, बढ़ते मामलों से बढ़ी हलचलभूमि पूजन से पहले रामलला के एक और पुजारी को कोरोना, बढ़ते मामलों से बढ़ी हलचल COVID19 coronavirus AyodhyaBhumiPujan RamMandir AyodhyaRamTemple CMOfficeUP ICMRDELHI PMOIndia MoHFW_INDIA CMOfficeUP ICMRDELHI PMOIndia MoHFW_INDIA Where's our tax money going?! CMOfficeUP ICMRDELHI PMOIndia MoHFW_INDIA पुजारी क्या है, सरकार जनता की बलि कर चुकी है पहले ही.. सरकार को अपना मकसद पूरा करना है जिसके दम पर वो चुनाव में उतरे उसके लिए बाकी मुद्दे गौड़ है चाहे कोई भी हो, एक एक लाश एक एक दिन भारी है इस महामारी में CMOfficeUP ICMRDELHI PMOIndia MoHFW_INDIA