सीएम अरविंद केजरीवाल ने पीएम मोदी को लिखा पत्र, कहा नए स्ट्रेन से बचाव के लिए रोकी जाएं उड़ानें

सीएम अरविंद केजरीवाल ने पीएम मोदी को लिखा पत्र, कहा नए स्ट्रेन से बचाव के लिए रोकी जाएं उड़ानें #CMArvindKejriwal #PMNarendraModi #NewStrain #Coronavirus

Cmarvindkejriwal, Pmnarendramodi

28-11-2021 15:50:00

सीएम अरविंद केजरीवाल ने पीएम मोदी को लिखा पत्र, कहा नए स्ट्रेन से बचाव के लिए रोकी जाएं उड़ानें CMArvindKejriwal PMNarendraModi NewStrain Coronavirus

केजरीवाल ने ट्वीट कर कहा कि बड़ी मुश्किल से हमारा देश कोरोना से उबर पाया है। सीएम ने नए स्ट्रेन के खतरे के मद्देनजर उठाए जाने वाले कदमों पर चर्चा के लिए सोमवार को दिल्ली आपदा प्रबंधन प्राधिकरण (डीडीएमए) की बैठक बुलाई है।

मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने कोरोना के नए स्ट्रेन की ओर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी का ध्यान आकृष्ट कराने के एक दिन बाद ही उन्हें पत्र लिखा है। सीएम ने पत्र में उन सभी देशों से आने वाली अंतरराष्ट्रीय उड़ानों को रोकने का आग्रह किया जहां कोविड-19 के मामले बढ़ रहे हैं। पीएम मोदी को लिखे पत्र में केजरीवाल ने कहा है कि हमारा देश कोरोना से रिकवर हो रहा है। वहीं दिल्ली सरकार इस मामले में अपने स्तर पर भी सतर्क हो गई है। इसे लेकर सरकार ने सोमवार को दिल्ली आपदा प्रबंधन प्राधिकरण (डीडीएमए) की बैठक बुलाई है। बैठक में इस मामले में विशेषज्ञों के सुझाव लिए जाएंगे। जिसमें डीडीएमए द्वारा इस मामले में नए स्ट्रेन प्रभावित देशों से आने वाले हवाई यात्रियों की आरटी-पीसीआर जांच और उन्हें क्वारंटाइन किए जाने पर फैसला लिया जाने की उम्मीद है।

'सपा वाशिंग मशीन है, जिसमें संघी सेक्युलर बन जाते हैं, हम पर तो B टीम का ठप्पा...' : ओवैसी का तंज

यह भी पढ़ेंकेजरीवाल ने शनिवार को ट्वीट कर पीएम से कोरोना के नए स्ट्रेन प्रभावित देशों से आने वाली उड़ानों पर प्रतिबंध लगाने की मांग की थी।इसके बाद सीएम ने इसे लेकर रविवार को पत्र लिखा है। पीएम को लिखे पत्र में सीएम ने कहा है कि कोविड-19 के नए स्ट्रेन को को भारत में प्रवेश करने से रोकने के लिए हमें हर जरूरी कदम उठाने की जरूरत है। केजरीवाल ने कहा कि यूरोपीय यूनियन समेत कई देश नए स्ट्रेन ओमीक्रोन प्रभावित क्षेत्र पर यात्रा प्रतिबंध लगा चुके हैं। सीएम ने पत्र में अनुरोध किया है कि इन क्षेत्रों के लिए उड़ानों पर रोक लगाई जाए। अगर इसमें देर की जाती है तो कोई संक्रमित व्यक्ति भारत में प्रवेश कर सकता है तो नुकसान पहंच सकता है।

यह भी पढ़ेंबता दें कि कोरोना के नए स्ट्रेन ओमीक्रोन को सबसे पहले दक्षिण अफ्रीका में डिटेक्ट किया गया है।कोरोना के पहले के स्ट्रेन की तुलना में यह ज्यादा खतरनाक बताया जा रहा है और यह तेजी से फैलता भी है। कोविड के नए स्वरूप बी.1.1.529 का सबसे पहले इस सप्ताह दक्षिण अफ्रीका में पता चला जिसे शुक्रवार को विश्व स्वास्थ्य संगठन ने चिंताजनक वैरिएंट की श्रेणी में रखा है एवं उसका नाम ओमीक्रोन रखा है। पहले 24 नवंबर को दक्षिण अफ्रीका में पता चलने के बाद बोत्सवाना, बेल्जियम, हांगकांग और इजराइल में भी इस स्ट्रेन की पहचान की गई है। दक्षिण अफ्रीका में पाए जाने के महज कुछ दिनों बाद ही कोरोना के संभवत: अधिक संक्रामक नए स्वरूप ओमीक्रोन ने कई और यूरोपीय देशों को अपनी चपेट में ले लिया है। headtopics.com

और पढो: Dainik jagran »

सिद्धू से कितना नुक़सान ? चरणजीत सिंह चन्नी EXCLUSIVE, देखिए #DNAWeekendEdition LIVE Sudhir Chaudhary के साथ

कोविड-19 के नए स्वरूप ‘ओमीक्रॉन’ के डर से दुनिया के देशों ने लगाईं यात्रा पाबंदियांविश्व स्वास्थ्य संगठन (डब्ल्यूएचओ) की एक समिति ने कोरोना वायरस के नए स्वरूप को ‘ओमीक्रॉन’ नाम दिया है और इसे ‘बेहद संक्रामक चिंताजनक स्वरूप’ क़रार दिया है. इस वायरस की सबसे पहले जानकारी 24 नवंबर को दक्षिण अफ्रीका में मिली. इससे संक्रमण के मामले बोत्स्वाना, बेल्जियम, हांगकांग और इज़रायल में भी मिले हैं. उoप्रo में त्रिस्तरीय पंचायत चुनाव 8 माह पूर्व अप्रैल 2021 में संपन्न हुआ था जिसमें लगे 10,000 प्रांतीय रक्षक दल के पीआरडी जवानों नें ड्यूटी किया था जिसका मानदेय अभी तक नहीं मिला l युवा_कल्याण विभाग व सरकार से निवेदन है कि भुगतान करने की कृपा करें❗

कोरोना के नए वैरिएंट से दुनिया भर में दहशत, डेल्टा से कितना खतरनाक है Omicron?कोरोना वायरस के नए वैरिएंट पर, इंडिया टुडे टीवी ने मुंबई के फोर्टिस हॉस्पिटल के क्रिटिकल केयर के डायरेक्टर और स्टेट कोविड-19 टास्क फोर्स के सदस्य डॉ राहुल पंडित से बात की. उन्होंने ओमाइक्रॉन के बारे में काफी महत्वपूर्ण जानकारी दी. pankajcreates My seventh sense tells me this new omicron will last for 6 months will be very horrible but after 6 months Maxx June 2022 it will vanish never comeback.only way to avoid getting infected is to getting tested and wear mask and use sanitiser and distance plus maintaining gud hygine pankajcreates pankajcreates Intention of governments and media houses and doctors scienists all have only goal that is public health safety and awareness. GOODLUCK TO ALL.GOD BLESS ALL.

'बैन हों फ्लाइट्स', Corona के New Variant पर CM Kejriwal ने PM Modi से की मांगजब देश में कोरोना को लेकर लोग थोड़ी राहत में हैं. न्यू ईयर और क्रिसमस पर देश और विदेश घूमने का प्लान बना रहे हैं तब कोरोना का सबसे भयानक खतरा सामने आया है. दक्षिण अफ्रीका में कोरोना का सबसे खतरनाक वेरिएंट मिला है जो तेजी से फैल रहा है. भारत और दुनिया में जिस कोरोना के डेल्टा वेरिएंट ने सबसे ज्यादा तबाही मचाई, ये उससे 30 गुना से भी ज्यादा खतरनाक है. इस पर दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी से मांग की है कि जिन देशों में कोरोना के नए वेरिएंट का खतरा मंडरा रहा है, उन देशों से उड़ानों पर पाबंदी लगाई जाए. देखें लेकिन ये वैरिएंट तो इंडिया में पाया जाता है। narendramodi AmitShah for ONGOING meeting on CORONA. for considering ban on foreign flights New business started..

वैज्ञानिकों ने खोजी 41,500 साल पुरानी 'ज्वेलरी', हाथी के दांत से बनाया गया था पेंडेंटOldest Jewelry: शोधकर्ताओं ने कहा कि पेंडेंट ऐसे समय में बनाया गया था जब शारीरिक रूप से आधुनिक मानव दुनिया भर में पहली बार गहने और शरीर के आभूषणों के अन्य रूपों का विकास कर रहे थे।

बाबा रामदेव ने बताया कोरोना के नए वैरियंट से निपटने का तरीकारामदेव ने कहा कि प्राणायाम और आत्मबल से अपने शरीर को इतना सक्षम बनाना होगा कि कोरोना का कोई भी वैरिएंट आए, हमें कोई नुकसान न पहुंचा सके। इसकी बातों पर विश्वास ना करें हिंदुस्तान की धरती पर सबसे बड़ा फ़्रॉड है ये

संसद के शीतकालीन सत्र से पहले सर्वदलीय बैठक, क्या है सरकार के सामने चुनौती?नई दिल्ली। संसद का शीतकालीन सत्र सुचारू रूप से चलाने के उद्देश्य से लोकसभा अध्यक्ष ओम बिरला 29 नवंबर को संसद में विभिन्न राजनीतिक दलों के नेताओं के साथ बैठक की अध्यक्षता करेंगे। बैठक में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी समेत सत्ता पक्ष और विपक्ष के बड़े नेताओं के शामिल होने की संभावना है।