Curfewımposedınafghanistan, Talibanafghanconflict, Other, Curfew İmposed İn Afghanistan, Taliban, Afghanistan, Us Army, Taliban Afghan Conflict, Taliban Militants, Other

Curfewımposedınafghanistan, Talibanafghanconflict

तालिबान को रोकने के लिए अफगानिस्तान ने पूरे देश में लगाया कर्फ्यू, राजधानी काबुल को मिली छूट

तालिबान को रोकने के लिए अफगानिस्तान ने पूरे देश में लगाया कर्फ्यू, राजधानी काबुल को मिली छूट #CurfewImposedInAfghanistan #TalibanAfghanConflict

25-07-2021 08:30:00

तालिबान को रोकने के लिए अफगानिस्तान ने पूरे देश में लगाया कर्फ्यू, राजधानी काबुल को मिली छूट CurfewImposedInAfghanistan TalibanAfghanConflict

अंतरराष्ट्रीय सैनिकों के देश से वापस जाने की घोषणा के बाद से तालिबान और अफगान सरकारी बलों के बीच पिछले दो महीनों में लड़ाई तेज हो गई है। माना जा रहा है कि आतंकवादी समूह ने देश के कई हिस्सों पर अपना कब्जा जमा लिया है।

अफगानिस्तान सरकार ने तालिबान के आतंकियों को शहरों पर हमला करने से रोकने के लिए शनिवार को लगभग पूरे देश में कर्फ्यू लगा दिया है। राजधानी काबुल और दो अन्य प्रांतों के अलावा रात 10 बजे से सुबह 4 बजे के बीच किसी भी तरह की आवाजाही की अनुमति नहीं होगी। एक आकलन के अनुसार, कुछ अमेरिकी खुफिया विश्लेषकों को डर है कि तालिबान छह महीने के भीतर देश पर नियंत्रण कर सकता है।

Exclusive : 'चार दिनों तक हुई पूछताछ, मैंने कोई कानून नहीं तोड़ा' NDTV से IT रेड पर बोले सोनू सूद उमा भारती का विवादित बयान- ब्यूरोक्रेसी की औकात ही क्या, चप्पल उठाती है हमारी धांधली के आरोपों के बीच एक बार फिर जीत की ओर पुतिन की पार्टी - BBC Hindi

बता दें कि अमेरिका सेना की वापसी के बीच तालिबान ग्रामीण क्षेत्रों में तेजी से आगे बढ़ा है और प्रमुख सड़कों पर कब्जा जमा लिया है। तालिबान एक कट्टरपंथी इस्लामी संगठन है, जिसे लगभग 20 साल पहले अमेरिका ने सत्ता से बाहर कर दिया था।तालिबानी लड़ाके अभी तक किसी भी बड़े शहर पर कब्जा नहीं कर पाए हैं। हिंसा को रोकने और तालिबान की गतिविधियों को सीमित करने के लिए 31 प्रांतों में एक रात का कर्फ्यू लगाया गया है। आंतरिक मंत्रालय ने एक बयान में कहा कि काबुल, पंजशीर और नंगरहार को कर्फ्यू से छूट दी गई है।

जैसे-जैसे तालिबान आगे बढ़ रहा है, कंधार शहर के बाहरी इलाके में सुरक्षाबलों के साथ भीषण झड़पें हो रही हैं। इसके जवाब में अमेरिका ने गुरुवार को इलाके में आतंकवादी ठिकानों के खिलाफ हवाई हमले किए। हालांकि अफगानिस्तान में अमेरिकी ऑपरेशन आधिकारिक तौर पर 31 अगस्त को समाप्त हो जाएगा। headtopics.com

यह भी पढ़ेंअमेरिका के नेतृत्व वाली सेनाओं ने अक्टूबर 2001 में अफगानिस्तान में तालिबान को सत्ता से बेदखल कर दिया था। तालिबान पर अमेरिका में हुए हमलों के आरोपी ओसामा बिन लादेन और अन्य अल-कायदा के आतंकियों को शरण देने का आरोप था। इस महीने की शुरुआत में, अमेरिकी सैनिकों ने बगराम हवाई क्षेत्र को खाली कर दिया, जो अफगानिस्तान में अमेरिकी अभियानों का बड़ा केंद्र था।

और पढो: Dainik jagran »

अमेठी में स्मृति ने पकौड़ी संग चाय पर की चर्चा: दुकानदार से पूछा- क्या हाल है, बोला- बेटे के दिल में छेद है, बोलीं- दिल्ली लेकर आइए, इलाज की चिंता मत करिए

स्मृति ईरानी अमेठी में हैं। केंद्रीय मंत्री गुरुवार सुबह अचानक नहर कोठी चौराहा पर राम नरेश की दुकान पर पहुंच गईं। वहां उन्होंने पकौड़ी खाई और चाय पी। दुकानदार से उसका हालचाल पूछा। साथ ही क्षेत्र की समस्याओं के बारे में जाना। रामनरेश ने केंद्रीय मंत्री को बताया कि क्षेत्र में सब ठीक चल रहा है, लेकिन वह निजी समस्या से परेशान हैं। उनके बच्चे के दिल में छेद है, जिसका इलाज कराने में वह असमर्थ है। | Discussion on Smriti Irani's tea in Amethi, After drinking tea at the shop, ate dumplings, asked - how are you; After hearing the problem of Ram Naresh called to Delhi, amethi news, political news, यूपी चुनाव से पहले गांधी परिवार अमेठी से दूर है, इसका फायदा स्मृति ईरानी बखूबी उठा रही हैं। बुधवार की रात अमेठी पहुंची केंद्रीय मंत्री गुरुवार सुबह अचानक नहर कोठी चौराहा पर राम नरेश की दुकान पर पहुंच गईं। यहां उन्होंने चाय पीकर और पकौड़ी खाकर चर्चा की। दुकानदार से उसका हालचाल पूछा। साथ ही क्षेत्र की समस्याओं के बारे में जाना। रामनरेश ने केंद्रीय मंत्री को बताया कि क्षेत्र में सब ठीक चल रहा है, लेकिन वह निजी समस्या से परेशान है। उसने बताया कि उसके बच्चे के दिल में छेद है। जिसका इलाज कराने में वह असमर्थ है।

अमन के लिए अफ़ग़ानिस्तान के राष्ट्रपति को पद छोड़ना होगा: तालिबान - BBC Hindiसमाचार एजेंसी एसोसिएटेड प्रेस को दिए इंटरव्यू में तालिबान के प्रवक्ता सुहैल शाहीन ने अफ़ग़ानिस्तान के भविष्य को लेकर तालिबान का स्टैंड स्पष्ट किया है. Up ke sichha mitra ko bahal kara dijeeye sarkar Pure Afghan me independent vote hone Chahiye... Election commission The best at murder are those who preach against it and the best at hate are those who preach love and the best at war finally are those who preach peace.

तालिबान को रोकने के लिए ताजिकस्तान ने दिखाई ताकत, रूस ने भी लिया ये फैसलारूस ने तालिबान के संभावित खतरों को रोकने के लिए ताजिकिस्तान और अफगानिस्तान के बीच सीमावर्ती क्षेत्रों में सैन्य उपकरण भेजे हैं. जबकि ताजिकिस्तान ने भी अफगानिस्तान सीमा पर सुरक्षा सुनिश्चित करने के लिए अब तक अपना सबसे बड़ा सैन्य अभ्यास किया है.

जीत के बाद मीराबाई चानू बोलीं- 'यह सपना सच होने जैसा', देश को समर्पित किया मेडलटोक्यो ओलंपिक 2020 (Tokyo Olympic 2020) में वेटलिफ्टिंग प्रतिस्पर्धा में सिल्वर मेडल जीतने के बाद देश की बेटी मीराबाई चानू (Mirabai chanu) ने सभी का धन्यवाद किया है. उन्होंने कहा कि यह एक सपने जैसा था जो सच हो गया. बहुत अच्छा है आप का सपना Congratulations ❤️ Ye north east wale hi jada naam roshan krte hai desh ka,,,,,

मीराबाई ने मां को किया याद: सिल्वर मेडल जीतने के बाद मीरा बोलीं- मां के त्याग से सफल हुई, यह मेडल मेरे देश और वहां के लोगों के नामभारत की वेटलिफ्टर मीराबाई ने इतिहास रच दिया है। वे टोक्यो ओलिंपिक में भारत के लिए मेडल जीतने वाली भारत की पहली एथलीट बन गई हैं। वेटलिफ्टिंग में मीरा मेडल जीतने वाली भारत की दूसरी एथलीट हैं। इससे पहले कर्णम मल्लेश्वरी ने 2000 सिडनी ओलिंपिक में ब्रॉन्ज मेडल जीता था। जीत के बाद मीराबाई ने मां को याद किया। | Mirabai Chanu, Mirabai Tokyo Olympic Medal, Weightlifting, Weightlifting News, Tokyo Olympics Congratulations बहुत-बहुत बधाई एवं हार्दिक शुभकामनाएं

टीएमसी ने प्रसार भारती के पूर्व सीईओ जवाहर सरकार को राज्यसभा के लिए किया नामितटीएमसी ने अपने राज्यसभा के उम्मीदवार का ऐलान कर दिया है। जवाहर सरकार को पार्टी ने उम्मीदवार बनाया है। वह पूर्व आईएएस अधिकारी और प्रसार भारती के पूर्व सीईओ हैं।

EU वॉचडॉग ने 12 से17 आयु वर्ग के बच्चों के लिए Moderna वैक्सीन को मंजूरी दीयूरोपीय दवाओं की निगरानी करने वाली संस्था यूरोपियन मेडिसिन एजेंसी (EMA) ने शुक्रवार को 12 से 17 वर्ष की आयु के बच्चों के लिए मॉडर्ना की कोरोना वायरस वैक्सीन के उपयोग को मंजूरी दे दी. इससे यह महाद्वीप पर किशोरों के कोरोना वायरस से बचाव में उपयोग के लिए दूसरी वैक्सीन बन गई.यूरोपियन मेडिसिन एजेंसी (ईएमए) ने मॉडर्न के ब्रांड नाम का इस्तेमाल करते हुए कहा कि 12 से 17 साल की उम्र के बच्चों में स्पाइकवैक्स वैक्सीन का इस्तेमाल 18 साल और उससे अधिक उम्र के लोगों की तरह ही होगा.