Unlock1, Covıd 19, After The Unlock-1.0, We Will Have To Change Our Ways Of Living İn Life

Unlock1, Covıd 19

अनलॉक-1.0 के बाद पटरी पर लौटती जिंदगी में अब हमें अपने जीने के तरीकों को बदलना होगा

एम. वेंकैया नायडू का कॉलम / अनलॉक-1.0 के बाद पटरी पर लौटती जिंदगी में अब हमें अपने जीने के तरीकों को बदलना होगा #Unlock1 #COVID19 @MVenkaiahNaidu

02-06-2020 07:02:00

एम. वेंकैया नायडू का कॉलम / अनलॉक-1.0 के बाद पटरी पर लौटती जिंदगी में अब हमें अपने जीने के तरीकों को बदलना होगा Unlock1 COVID19 MVenkaiahNaidu

जब ‘छूना’ वर्जित हो जाए और जीवन के लिए जरूरी ‘सांस’ भी जोखिमभरी हो जाए तो पूरी मानवता ही मुश्किल में आ जाती है। | After the unlock-1.0, we will have to change our ways of living in life

Xएम. वैंकैया नायडू, उपराष्ट्रपतिदैनिक भास्करJun 02, 2020, 05:55 AM ISTजब ‘छूना’ वर्जित हो जाए और जीवन के लिए जरूरी ‘सांस’ भी जोखिमभरी हो जाए तो पूरी मानवता ही मुश्किल में आ जाती है। जब तक वायरस को रोक नहीं लिया जाता, ‘कोरोना के साथ जीने’ वाली स्थिति रहेगी। इसके लिए ‘पॉज’ बटन नहीं, ‘रीसेट’ बटन की जरूरत है। मन और जीने के तरीकों को रीसेट करना होगा।

न टायरों के निशान-न शीशों को नुकसान... कैसे पलटी विकास दुबे की गाड़ी? 12 घंटे तक कैमरे की जद में था STF का काफिला, 15 मिनट के लिए रोका और विकास दुबे खल्लास! विकास दुबे के अंतिम संस्कार के दौरान भड़की पत्नी रिचा, कहा- सबक जरूर सिखाऊंगी

प्यू रिसर्च सेंटर के एक सर्वे में 91% अमेरीकियों ने कहा कि वायरस ने उनके जीवन को बदल दिया है। करीब 77% रेस्त्रां नहीं जाना चाहते और 66% राष्ट्रपति चुनावों में वोट के लिए लाइन में लगने को लेकर सहज नहीं हैं। यह सब एक सूक्ष्म जीवाणु का असर है। जब देश में संक्रमण का आंकड़ा एक लाख के पार हुआ तो आजादी की एक तड़प दिखी।

इसलिए लॉकडाउन 4.0 पहले से पूरी तरह अलग रहा। यह तड़प बताती है कि हम शायद वायरस का सामना करने के लिए तैयार हैं क्योंकि जीवन बहुत लंबे समय तक बंधन में रहने से कहीं ज्यादा है। इस वायरस के फैलने से एक व्यक्ति के स्वास्थ्य के लिए दूसरे पर निर्भरता का जरूरी अंतरसंबंध सामने आया है।

यही अब हमारे रवैये और व्यवहार का आधार होगा। हमें सोशल डिस्टेंसिंग बनाए रखते हुए, एक दूसरे से सार्थक ढंग से जुड़े रहने और हर संभव मदद करने की जरूरत है। कोरोना के बाद क्लासरूम की जगह घरों ने ले ली है, सेमीनार वेबिनार में बदल गए हैं। एक स्वस्थ डिजिटल लाइफ उभर रही है, हालांकि इन साधनों तक सभी की बराबर पहुंच अभी मुद्दा है। नई आदतें कोरोना के साथ जीने के लिए जरूरी हैं।  

लोगों की जिंदगियां बचाते हुए अर्थव्यवस्था का पुनरुद्धार इस समय मुख्य चुनौती है। पिछली शताब्दी के महामंदी के बाद अब वैश्विक अर्थव्यव्स्था ऐसी गंभीर गिरावट देख रही है। उत्पादन के केंद्र और अन्य आर्थिक गतिविधियां, इनमें शामिल लोगों की पूरी सुरक्षा के साथ ही शुरू हों।

कम समय में तेजी से पुराने उत्पादन स्तर को पाने की कोशिश की जगह धीरे-धीरे काम की नीति बेहतर होगी। इस वायरस ने स्वास्थ्य इंफ्रास्ट्रक्चर की अपर्याप्तता को सामने लाकर जनस्वास्थ्य पर जरूरी निवेश की आवश्यकता को भी रेखांकित किया है।वायरस का फैलाव हमारे देश के आपसी सहयोग वाले संघवाद को भी सामने लाया है, जहां केंद्र और राज्य स्तर के नेतृत्व ने एक-दूसरे की बिंदुओं को लॉकडाउन 1.0 से 4.0 तक में समायोजित किया। यही भावना आर्थिक पुनरुद्धार के लिए उठाए जाने वाले कदमों का भी मार्गदर्शन करेगी। ऐसी परिस्थिति का सामना करने में बेहतर नतीजों के लिए शासन के तीसरे स्तर और स्थानीय समुदायों को भी और सशक्त करने की जरूरत है। 

इतिहासकार और लेखक युवाल नोआ हरारी ने दुख जताया है कि कोविड-19 को लेकर वैश्विक प्रतिक्रिया आदर्श नहीं रही है। हर देश वायरस के खिलाफ अपनी खुद की लड़ाई लड़ रहा है, जबकि जरूरत सामूहिक वैश्विक प्रतिक्रिया की थी। इससे वे देश प्रभावित हो रहे हैं, जहां संसाधन कम हैं।

योगी सरकार का अपराधियों के खिलाफ ‘ऑपरेशन क्लीन’, अबतक 117 की मौत विकास दुबे के एनकाउंटर पर बीजेपी प्रवक्ता से सवाल- खुश तो बहुत होंगे आप विकास दुबे: 'मुठभेड़' में इतने इत्तेफ़ाक़! ऐसा कैसे?

वायरस के विस्फोट की वजह से तकनीक तक पहुंच, आय के स्तर और जीविका से जुड़ी असुरक्षा आदि से संबंधित मौजूदा असमानताओं पर भी ध्यान गया है। कुल मिलाकर कोरोना वायरस हमारे लिए ‘शॉक ट्रीटमेंट’ की तरह है। यह हमें सामाजिक, राजनीतिक, आर्थिक और वैश्विक दृष्टिकोणों को रीसेट करने के अलावा एक-दूसरे और प्रकृति संग एकता से रहने की भी याद दिला रहा है।

आज का राशिफलपाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना और पढो: Dainik Bhaskar »

देश में Lockdown के चौथे चरण में सामने आए Corona के आधे मामलेनई दिल्ली। कोरोना वायरस (Corona virus) कोविड-19 को फैलने से रोकने के लिए 18 मई को लागू किए गए चौथे चरण के लॉकडाउन के दौरान रविवार सुबह आठ बजे तक संक्रमण के 85,974 मामले सामने आए जो देश में अब तक आए कुल मामलों का तकरीबन आधा है।

LPG के बाद अब CNG के दाम में हुआ इजाफा, जानें- दिल्ली में हुआ क्या रेटCNG rate in Delhi: अब तक सीएनजी दिल्ली में 42 रुपये प्रति किलो में थी, जो अब बढ़कर 43 रुपये प्रति किलो हो गई है। इसके अलावा दिल्ली से सटे गाजियाबाद, नोएडा और ग्रेटर नोएडा में सीएनजी की कीमत अब 48.75 रुपये प्रति किलो हो गई है।

भारत-चीन तनाव: खौफ में लद्दाख के लोग, बताया- 1962 जैसी हो रही सैन्य हलचलIndia News: लद्दाख में जारी भारत-चीन तनाव को खत्म करने के लिए दोनों ओर से बातचीत का सिलसिला जारी है। लेकिन बढ़ते तनाव से सीमावर्ती इलाकों में रहने वाले ग्रामीण दहशत में हैं। चुशुल के सीमावर्ती गांवों के लोगों ने बताया कि 1962 के बाद पहली बार भारतीय सेना की इतने बड़े पैमाने पर हलचल दिख रही है। सब नौटंकी है। DivinePlay_Of_GodKabir Once Kabir Paramatma discussed knowledge with 104-year-old Ramananda at the age of 5. Introduced himself to him, and showed Satlok. Then Ramananda was determined that Kabir Sahib is the complete Brahman. 3DaysLeft_KabirPrakatDiwas आज गुप्ताजी भीकहे समाचारपत्र में मै भी कई बार आगाह की J&Kमें सरकारके किऐका साईडइफेक्ट हैये! मै कही बौद्धवाद हमें बर्बाद कर देगा! भारतीयो ने समय से इसे देश बहर किया !! शर्मा जी कहे तो मै यह भी कही इतना बड़ा क्त्र 5लाख बौद्ध निवास लद्दाख में जनता बसाओ मोदी सुनते नहीं सुनाते

सात दिन के लिए सील हो गए दिल्ली के बॉर्डर, जानें- NCR पर क्या होगा असरदिल्ली सरकार ने सोमवार को राज्य के सभी बॉर्डर सील करने का फैसला लिया है. इसी के साथ एक बार फिर दिल्ली से सटे इलाकों से रोज काम करने आने वालों के सामने संकट खड़ा हो गया है. Border sealed se sirph aam adami ko paresani hai politician Ka kya jata hai unnhe to bas politics karni hai marta kaun aam nagrik

मानसून ने दी केरल में दस्तक, जल्द ही देश के दूसरे हिस्सों में पहुंचेगादो महीने की चिलचिलाती गर्मी के बाद देश को अब राहत मिलने के आसार हैं। भारतीय मौसम विज्ञान विभाग ने बताया है कि मानसून

बिहार: महावीर मंदिर में बजरंग बली के दर्शन के लिए करनी होगी ऑनलाइन बुकिंगराजधानी पटना के सबसे प्रसिद्ध महावीर मंदिर में अब भगवान के दर्शन करने के लिए ऑनलाइन बुकिंग करानी पड़ेगी. जानकारी के मुताबिक पटना रेलवे स्टेशन के पास स्थित महावीर मंदिर में भक्तों की भीड़ बेकाबू न हो इसके लिए ऑनलाइन बुकिंग के प्रावधान किए जा रहे हैं. rohit_manas School kyu nhi kole jaa rhe h . Jbbb mall or shoping complex khul gye h to. Kya education se jada important h mall or complexes. rohit_manas कोरोना मोदी जी के डर से भारत में नहीं आना चाहता था लेकिन जमातियों ने लाया ट्रम्प के सामने सिष झुकाने के लिए १ करोड़ लोगो को मोदी जी ने कोरोना दिखाने के लिए बुलाया था

विकास दुबे की मुठभेड़ में मौत, कानपुर लाते समय गाड़ी पलटने पर की थी भागने की कोशिशः उत्तर प्रदेश पुलिस VIDEO: आजतक की टीम से STF की बदसलूकी, कार से निकालकर फेंकी चाबी VIDEO: एनकाउंटर में विकास दुबे के मारे जाने की खबर विकास दुबे की गिरफ्तारी या आत्मसमर्पण, योगी सरकार करे साफ: अखिलेश आज तक @aajtak VIDEO: भीगी सड़क पर फिसलने के निशान नहीं, कैसे पलटी विकास दुबे की कार? यूपी में फिर से लॉकडाउन, जानें- वीकेंड पर क्या कर सकेंगे और क्या नहीं विकास दुबे के एनकाउंटर पर बोले अखिलेश यादव- 'कार नहीं पलटी है, राज़ खुलने से सरकार पलटने से बचाई गई है' VIDEO: विकास दुबे के एनकाउंटर की खबर मिलते ही बिगड़ी मां की तबीयत, देखें घर का हाल महाकाल मंदिर में बुधवार रात पहुंचे थे उज्जैन के DM और SP, की थी मीट‍िंग महाकाल मंदिर के नजदीक खुलेआम घूमता रहा विकास दुबे, फोटो भी खिंचवाई!