Corona, Covid-19, Covid-19 News, Covid-19 Updates, Coronavirus News, Gulabo, कोरोना वायरस, कोविड-19, पद्म श्री, गुलाबो, कोरोना संक्रमण

Corona, Covid-19

Special Story: जन्म के साथ ही गड्‍ढे में दफन कर दिया था, प्रेरक और दिल दहलाने वाली कहानी है पद्मश्री गुलाबो की...

Covid-19, Covid-19 News, Covid-19 updates, coronavirus news, Gulabo, कोरोना वायरस, कोविड-19, पद्म श्री, गुलाबो, कोरोना संक्रमण

29-05-2020 09:57:00

राजस्थान के कालबेलिया नृत्य को विश्व के मानचित्र पर पहचान दिलाने वाली पद्मश्री गुलाबो कोरोना ( Corona ) संक्रमण के दौर में भी रचनात्मक एवं जनसेवा के कार्यों में जुटी हुई हैं corona

Covid-19 , Covid-19 News, Covid-19 updates, corona virus news, Gulabo , कोरोना वायरस , कोविड-19 , पद्म श्री , गुलाबो , कोरोना संक्रमण

शुक्रवार, 29 मई 2020 (11:57 IST)राजस्थान के कालबेलिया नृत्य को विश्व के मानचित्र पर पहचान दिलाने वाली पद्मश्री गुलाबो कोरोना (Corona) संक्रमण के दौर में भी रचनात्मक एवं जनसेवा के कार्यों में जुटी हुई हैं। वे सोशल मीडिया पर डांस के माध्यम से लोगों में कोविड-19 के खिलाफ जागरूकता फैला रही हैं, वहीं गरीब लोगों को राहत सामग्री भी वितरित कर रही हैं। हालांकि गुलाबो का अतीत किसी सनसनीखेज फिल्म की कहानी कम नहीं है। जन्म लेते ही उन्हें एक गड्‍ढे में दफन कर दिया गया था, लेकिन नियति तो उनसे कुछ और ही करवाना चाहती थी। 

चीन के खिलाफ अमेरिका की घेराबंदी, समंदर में उतारे तीन जंगी जहाज! देखें कार्ति चिदंबरम का ट्वीट- UP से निकलेगा कांग्रेस की वापसी का रास्ता, प्रियंका बनें CM कैंडिडेट सिंधिया बोले- कमलनाथ और दिग्विजय को मिर्ची लग रही है, क्योंकि कुर्सी चली गई

 वेबदुनिया से खास बातचीत में गुलाबो ने न सिर्फ वर्तमान में किए जा रहे कामों पर चर्चा की बल्कि अपने अतीत के पन्नों को भी खोला। उन्होंने बताया कि लॉकडाउन के दौरान करीब 2 लाख रुपए की राहत सामग्री अपने निजी कोष से वितरित की। उन्होंने नसीराबाद, चौमूं तहसील के बंदोल ग्राम, जयपुर में पानी पेंच तथा कलाकार कॉलोनी में करीब 1000 राशन किट वितरित किए हैं। इतना ही नहीं जयपुर स्थित घर के पास किराने की दुकान से भी गरीबों को सामग्री उपलब्ध करवा रही हैं।

 गुलाबो फेसबुक पर डांस के माध्यम से लोगों को कोरोना से बचने के उपाय बताती हैं। लॉकडाउन में लोगों को डांस भी सिखा रही हैं, साथ ही लोगों को मो‍टीवेट भी कर रही हैं। वे सोशल मीडिया पर डांस और संगीत के माध्यम से लोगों का मनोरंजन भी कर रही हैं। उनका कहना है कि कोरोना से डरें नहीं, कोरोना को डराओ। घर में रहकर सकारात्मक कार्यों में व्यस्त रहो। 

 गुलाबो का कोरोना गीत :उन्होंने कोरोना गीत भी तैयार किया है, जो लोगों में जागरूकता फैलाने का काम कर रहा  है। गुलाबो ने वेबदुनिया से बातचीत करते हुए इस गीत को भी गुनगुनाया- अरररररर..र... मैं तो नाचूं और गाऊं, कि मैं तो नांचू और गाऊं कोरोना ने भगाऊं रे, अरररररर..र.. मैं तो हाथ धोऊं और न्हाऊं, कोरोना ने भगाऊं रे...। उन्होंने कहा कि लोग हौसला रखें, कोरोना से डरें नहीं। सेनिटाइज करते रहें, हाथ धोते रहें, सोशल डिस्टेंसिंग का पालन करें। फोन पर बात करें, वीडियो कॉल करें, लोगों के घरों पर आएं-जाएं नहीं। 

 कोरोना काल में किए कार्यों के लिए सम्मान :लॉकडाउन के दौरान आपके द्वारा किए गए कार्यों के लिए हैल्पिंग हैंड  सोसायटी, ऑल इंडिया इंस्टीट्यूट ऑफ पब्लिक एंड फिजिकल हैल्थ साइंस, अखिल भारतीय भ्रष्टाचार निर्मूलन संघर्ष समिति, भारतीय नमो संघ, मदर टरेसा फाउंडेशन संस्थान, संकल्प सेवा संस्थान, फिल्म एंड टीवी मीडिया एसोसिएशन, शक्ति फिल्म प्रोडक्षन सहित अनेक संस्थानों की ओर से सम्मानित किया गया। 

 गुलाबो के जनसेवा के कार्यों में राजस्थानी फिल्म अभिनेत्री राखी पूनम सपेरा, फीचर ग्रुप के निदेशक दिनेश कुमार, भवानीसिंह, हेमा, रूपा, सुरेश सेरावत सहित अन्य लोगों ने भी बढ़-चढ़कर हिस्सा लिया।  गुलाबो की कहानी प्रेरक भी है और दिल दहलाने भी

: वह धनतेरस का दिन था जब गुलाबो ने इस दुनिया में पहली  बार आंखें खोली थीं। राजस्थान के अजमेर जिले में कालबेलिया जनजाति में चौथी पुत्री के रूप में जन्म लेने के  तत्काल बाद माता-पिता की इच्छा के विरुद्ध समुदाय के दबाव गुलाबो को जमीन में दफन कर दिया गया। ममता ने जोर मारा और मां तथा मौसी करीब 5 घंटे बाद जमीन से निकाल लाईं और आपका जीवन बच गया। 

भारत के खिलाफ पाकिस्तान और चीन के इस कदम को जर्मनी-अमेरिका ने रोका - World AajTak कैसे पतंजलि की दवा ‘कोरोनिल’ अब इम्यूनिटी बूस्टर के रूप में बिकेगी VIDEO: शिवराज सरकार के कैबिनेट विस्तार में सिंधिया के वफादारों को भी इनाम

 ...और धनवंती गुलाबो बन गई :होश संभालने के बाद पिता के साथ सड़कों पर सांपों के साथ बीन की धुन पर  नाचना शुरू कर दिया। नृत्य के प्रति जुनून को देखकर पिता ने भी समुदाय की आपत्ति के बावजूद आपको प्रोत्साहित किया। एक बार स्वास्थ्य खराब हो जाने के बाद उन्हें ख्वाजा मोइनुद्दीन चिश्ती के दरबार ले जाया गया, जहां उनके ऊपर गुलाब का फूल गिरा। इसके बाद धनवंती को गुलाबो के नाम से जाना जाने लगा। 

 झेला सामाजिक बहिष्कार :गुलाबो के जीवन में कई उतार-चढ़ाव भी आए। सात साल की उम्र में 1981 में पुष्कर मेले में समुदाय की महिलाओं के साथ नृत्य कर रही थीं, नृत्य को देखकर पर्यटन विभाग के अधिकारी काफी प्रभावित हुए। इसके बाद उनसे विदेशियों के एक समूह के सामने नृत्य करने की पेशकश की गई, जिसे काफी प्रशंसा मिली। हालांकि सार्वजनिक रूप से किए इस नृत्य से समुदाय के लोग काफी नाराज हुए और उनके परिवार का सामाजिक  बहिष्कार कर दिया। इसके बाद परिवार अजमेर छोड़कर जयपुर आकर रहने लगा। 

 इस तरह शुरू हुआ कला का अंतरराष्ट्रीय प्रदर्शन :1985 में आप को अमेरिका के एक संस्कृतिक दल में शामिल होने का प्रस्ताव मिला। लेकिन, दल के साथ रवाना होने से एक दिन पहले ही पिता का निधन हो गया। लेकिन, पिता एवं परिवार के सपनों को साकार करने और अपने समुदाय की कला 'कालबेलिया नृत्य' को पहचान दिलाने के उद्देश्य से यूएसए के लिए उड़ान भरी। वहां नृत्य से प्रभावित होकर वॉशिंगटन में स्थायी रूप से रहने एवं वहां के लोगों नृत्य  सिखाने का प्रस्ताव भी मिला, जिसे आपने विनम्रतापूर्वक ठुकरा दिया। अमेरिका व्यापक प्रदर्शन से राजस्थान की लोक विरासत के एम्बेसेडर के रूप में भी आपको मान्यता दिलाई। गुलाबो 153 देशों में आयोजित विभिन्न उत्सवों, कार्यक्रमों में अपनी कला का प्रदर्शन कर चुकी हैं। 

 राजीव गांधी ने बंधवाई राखी :भारत के तत्कालीन प्रधानमंत्री राजीव गांधी ने आपकी कला का सम्मान किया एवं इसे और विस्तृत रूप देने के लिए प्रोत्साहित भी किया। उन्होंने आपसे अपनी कलाई पर राखी भी बंधवाई। इस प्रकार गांधी परिवार से आपके पारिवारिक संबंध भी स्थापित हो गए। 

 पद्मश्री से बिग बॉस तक : और पढो: Webdunia Hindi »

कोरोना अपडेट: कोविड-19 के कितने वैक्सीन पर भारत में चल रहा है शोध - BBC Hindiकर्नाटक ने पाँच राज्यों - महाराष्ट्र, गुजरात, तमिलनाडु, मध्य प्रदेश और राजस्थान से हवाई जहाज़, ट्रेन और वाहनों के आने पर रोक लगा दी है. P.C. Getty Images HardeepSPuri Sir , does Karnataka falls outside your authority ? why is this happening ? Good step taken by Gov. raidulshekh

COVID-19 recovery rate reaches to 42.75 percent in IndiaHealth and Family Welfare Ministry has said that a total 67 thousand 692 people affected with corona virus have cured and the recovery rate reached to 42.75 per cent in the country.

covid-19 in india : एशिया में पहले और विश्व में 9वें स्थान पर पहुंचा भारत covid-19 in india : एशिया में पहले स्थान पर पहुंचा भारत WHO DrHVoffice drharshvardhan AyushmanNHA ICMRDELHI MoHFW_INDIA PMOIndia Corona VirusUpdates Corona virusLockdown Covid_19india COVID19Pandemic WHO DrHVoffice drharshvardhan AyushmanNHA ICMRDELHI MoHFW_INDIA PMOIndia My request to delhi police vigilance Deptt is to file legal case on all people who are responsible for spoiling privacy by making noise outside j47 lajpat nagar 3 and to lodge fir All responsible for my mother death WHO DrHVoffice drharshvardhan AyushmanNHA ICMRDELHI MoHFW_INDIA PMOIndia Russia , bhi asia mai aata hai bhai. There are 350000+ cases COVID19 india9thPositionCovid WHO DrHVoffice drharshvardhan AyushmanNHA ICMRDELHI MoHFW_INDIA PMOIndia जब तक भारत में ऐसा विपक्ष रहेगा तो भारत नंबर वन पर भी आ जाए कोई बड़ी बात नहीं है यहां सरकार का कोई साथ नहीं देता है सारे अपनी-अपनी राजनीति करते हैं

COVID-19 : भारत में Corona से हो सकती हैं 18000 लोगों की मौत Covid-19 , Covid-19 News, Covid-19 updates, Pandemic of COVID-19, Covid-19 death, corona virus news, Lockdown in India, कोरोना वायरस , कोविड-19 , भारत में कोरोना वायरस , भारत में कोरोना वायरस से मौत

केंद्रीय कर्मचारियों के लिए जारी हुईं Covid-19 मैनेजमेंट गाइडलाइंस7th Pay Commission: रिपोर्टिंग ऑफिसर्स और विभागाध्यक्षों को आदेश दिया गया है कि वे बीमार और कोरोना के लक्षणों वाले कर्मचारियों को वर्क फ्रॉम होम करने के लिए कहें। ऐसे कर्मचारियों और अधिकारियों को वर्किंग आवर्स के दौरान अथॉरिटी के संपर्क में रहना होगा।\n

Nepal reports fifth COVID-19 fatality; 156 more persons tested positive todayNepal has reported fifth COVID-19 fatality. According to the Ministry of Health and Population a 56 year old man died of corona virus from Lalitpur district.

टिकटॉक के ये सितारे अब कहां दिखाएंगे अपना टैलेंट टिकटॉक बैन पर बोलीं नुसरत जहां- ये नोटबंदी की तरह, बेरोजगारों का क्या होगा? ग्लोबल टाइम्स ने लिखा- भारत और चीन जवानों को बैच में हटाने पर राजी हुए, कमांडर लेवल की तीसरी बैठक में फैसला हुआ चीनी दूतावास बोला- ऐप्स बैन से हम चिंतित, WTO के नियमों का है उल्लंघन राहुल ने विदेशों में भारतीय नर्सों से कोरोना पर की चर्चा, कल वीडियो होगा जारी CM कैप्टन अमरिंदर की गुजारिश- प्रियंका के फैसले पर फिर से विचार करे केंद्र PM मोदी के भाषण पर बोले ओवैसी- चीन पर बोलना था, चना पर बोल गए, ईद भी भूले योगी सरकार का एक्शन, लखनऊ में सीएए-NRC के खिलाफ 2 प्रदर्शनकारियों की संपत्ति कुर्क राजस्थान के स्वास्थ्य मंत्री बोले- कोरोनिल को लेकर माफी मांगे रामदेव पीएम मोदी ने संबोधन में किया त्योहारों का जिक्र, कार्ति चिदंबरम ने पूछा- साउथ के त्योहार कहां हैं? 59 चीनी ऐप्स बैन होने से बौखलाया चीन, कहा- दोनों देशों के बीच बढ़ेगा तनाव