Rajasthan, Ashokgehlot, Jaipur-Politics, Ashok Gehlot, Governor Kalraj Mishra, Rajasthan Politics, राजस्थान के राज्यपाल कलराज मिश्र, अशोक गहलोत से मुलाकात, Rajasthan News

Rajasthan, Ashokgehlot

Rajasthan: राज्यपाल कलराज मिश्र से अशोक गहलोत ने की मुलाकात

राज्यपाल कलराज मिश्र से अशोक गहलोत ने की मुलाकात #Rajasthan #AshokGehlot

25-10-2021 17:20:00

राज्यपाल कलराज मिश्र से अशोक गहलोत ने की मुलाकात Rajasthan AshokGehlot

Rajasthan राजस्थान के राज्यपाल कलराज मिश्र से सोमवार को राजभवन में मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने मुलाकात की। राज्यपाल मिश्र से मुख्यमंत्री की यह शिष्टाचार भेंट थी। दोनों नेताओं के बीच कई मसलों पर बात हुई। हालांकि अभी तक इस संबंध में कुछ नहीं रहा जा सकता है।

यह भी पढ़ेंपिछले साल पारित हुआ था विधेयकविधानसभा में सात मार्च,2020 को एडवोकेट वेलफेयर फंड अमेंडमेंट विधेयक पारित हुआ था। 24 मार्च को राज्यपाल के पास मंजूरी के लिए भेजा गया। इस विधेयक में वेलफेयर फंड में वकीलों से लिए जाने वाले पैसे को बढ़ाया था। लाइफटाइम सदस्यता को 17,500 से बढ़ाकर एक लाख किया गया था। वकालात नाम पर लगने वाली टिकट का पैसा बढ़ाकर जिला कोर्ट में 100 रुपये और हाईकोर्ट के लिए 200 रुपये करने का प्रावधान किया गया था। वकील इन दोनों प्रावधानों का विरोध कर रहे थे। अब सरकार प्रावधानों में संशोधन कर विधानसभा में एक बार फिर विधेयक पारित करवा कर राज्यपाल के पास भेजेगी।

उत्तर प्रदेश के डिप्टी सीएम केशव प्रसाद मौर्य बोले-मथुरा की तैयारी, छिड़ी बहस - BBC News हिंदी 'इन बैठकों से कुछ नहीं होने वाला' : ममता बनर्जी की मुंबई में एनसीपी, शिवसेना नेताओं से भेंट पर बीजेपी का तंज.. कार्टून: आंकड़े कहां से आएंगे? - BBC News हिंदी

यह भी पढ़ेंविधानसभा बुलाने को लेकर हो चुका है टकरावपिछले साल कांग्रेस में सचिन पायलट खेमे की बगावत के समय गहलोत सरकार विधानसभा का सत्र तत्काल बुलाना चाहती थी, लेकिन उस समय राज्यपाल ने 21 दिन का नोटिस दिए बिना अचानक सत्र बुलाने पर आपत्ति जताते हुए मंजूरी नहीं दी थी। इस पर कांग्रेस और गहलोत सरकार को समर्थन दे रहे निर्दलीय विधायकों ने राजभवन के लान में जाकर धरना दिया था। इस मुद्दे पर काफी विवाद हुआ था। हालांकि बाद में राज्यपाल ने सत्र आहूत करने की मंजूरी दे दी थी। आमतौर पर विधानसभा के किसी भी सत्र की कार्यवाही अनिश्चितकाल के लिए स्थगित करने के बाद सत्रावसान के लिए राज्यपाल के पास फाइल भेजी जाती है। 

और पढो: Dainik jagran »

दंगल: क्या अब्बाजान और चिलमजीवी ही यूपी चुनाव के मुद्दे हैं?

उत्तर प्रदेश में चुनाव का माहौल जैसे-जैसे गर्माता जा रहा है, नेताओं की जुबान तीखी होती जा रही है. समाजवादी पार्टी के प्रमुख अखिलेश यादव ने योगी सरकार को एक बार फिर चिलमजीवी कह के घेरा है. अखिलेश अक्सर चिलम फूंकने का आरोप लगाकर योगी आदित्यनाथ को घेरते रहे हैं. लेकिन चिलम के नाम पर अखिलेश को जवाब संत समाज की ओर से मिला है. कुछ साधु संतों ने इसे संतों का अपमान बताकर अखिलेश से माफी की मांग की है. आज दंगल में देखें क्या चिलम वाले बयान पर अखिलेश ने संतों की नाराजगी मोल ले ली है? और क्या 2022 के चुनाव में इसका असर पड़ेगा? देखें वीडियो.

Lakhimpur Kheri Violence: पुलिस रिमांड के बीच मुख्य आरोपी आशीष मिश्र को हुआ डेंगू, जिला अस्पताल में कराया गया भर्तीLakhimpur Kheri Violence: पुलिस रिमांड के बीच मुख्य आरोपी आशीष मिश्र को हुआ डेंगू, जिला अस्पताल में कराया गया भर्ती LakhimpurKheri AshishMishra Dengue Bahut achcha dimag lagaya hai..waha par khana pani me thodi si problem aa rahi hogi. To jila hospital me achchai si dekhbhal ho jayegi ..dimag bahut hai logo me..😆 चलो इससे कुछ दिन तो जेल से बाहर रहने का मौका तो मिलेगा ही। UP police to encounter karne mein mahire hai to is hathiyare ki encounter kyon nahin kar di

दिल्ली में 6 साल की बच्ची के साथ रेप, निजी अंगों में भी चोट, हॉस्पिटल में चल रहा इलाजदिल्ली महिला आयोग ने कड़ी कार्रवाई की मांग करते हुए दिल्ली पुलिस को नोटिस जारी किया है। दिल्ली महिला आयोग की टीम ने पीड़ित से मुलाकात भी की है। गृहमंत्री इस्तीफ़ा दो केजरीवाल जैसा लाचार और बेचारा मुख्यमंत्री शायद ही दिल्ली में कोई रहा हो अभी तक ?

आर्यन ख़ान ड्रग केस - मुंबई पुलिस कमिश्नर से मिले गवाह प्रभाकर, राउत ने कहा - वेट ऐंड वॉच - BBC Hindiआर्यन ख़ान ड्रग्स मामले में एक स्वतंत्र गवाह प्रभाकर साईल ने सोमवार को मुंबई के पुलिस आयुक्त हेमंत नागराले से मुलाक़ात की. महाराष्ट्र सरकार को तुरंत संज्ञान लेते हुए इस मामले की जांच मुंबई पुलिस को सौंप देनी चाहिए। कुछ नही गवाह को खरीद लिया गया हैं, हकले द्वारा ! Ye kitne mai kharida waha ki police ne ye sala jabse mar raha tha jo politician ke bolne ke baad niklna ye sala mila hua hai ye gov se waha ki

रिश्वत आरोप के बाद मलिक ने कहा- सबको पता है कि कश्मीर में आरएसएस प्रभारी कौन थामेघालय के राज्यपाल सत्यपाल मलिक ने कहा था कि जब वे जम्मू कश्मीर के राज्यपाल थे तो उन्हें ‘अंबानी’ और ‘आरएसएस से संबद्ध’ एक व्यक्ति की दो फाइलों को मंज़ूरी देने के बदले में 300 करोड़ रुपये की पेशकश की गई थी, हालांकि उन्होंने ऐसा करने से इनकार कर दिया था. जब आरएसएस नेता राम माधव से कहा गया कि वह उस समय जम्मू कश्मीर में थे, तो उन्होंने कहा कि आरएसएस का कोई भी व्यक्ति ऐसा कुछ नहीं करेगा. Ram madhav? Ram Madhav ? हे राम! हे माधव!

विराट उपलब्धि: कोहली ने बनाया कीर्तिमान, टी-20 विश्व कप में बने सर्वाधिक अर्धशतक जड़ने वाले बल्लेबाजविराट उपलब्धि: कोहली ने बनाया कीर्तिमान, टी-20 विश्व कप में बने सर्वाधिक अर्धशतक जड़ने वाले बल्लेबाज IndiavsPakistan INDvsPAK T20WorldCup T20WorldCup2021 ViratKohli देशभक्तों से ही देश की शान है देशभक्तों से ही देश का मान है हम उस देश के फूल हैं यारों जिस देश का नाम हिंदुस्तान है Panaoti captan He is becoming more like sachin_rt who had all the records for SELF and not beneficial for the team. More than half of Sachin’s centuries never resulted in a win for India.

Aryan Khan Drugs Case: अनन्या पांडे को एनसीबी का समन, आज तीसरी बार अभिनेत्री से होगी पूछताछAryan Khan Drugs Case: अनन्या पांडे को एनसीबी का समन, आज तीसरी बार अभिनेत्री से होगी पूछताछ ananyapandayy NCB AryankhanDrugsCase