Pitrupaksha 2021, Pitrupaksha, Patna-City-Jagran-Special, Pitru Paksha 2021, Worship Of Ancestors, Pitru Paksha, Shraddha Paksha, Pind Daan, Bhadrapada, Tarpan Vidhi, Shukla Purnima, Krishna Paksha, पितृपक्ष 2021, पितृपक्ष, पितरों के पूजन, कृष्ण पक्ष, शुक्ल पक्ष, भाद्रपद शुक्ल पूर्णिमा, Bihar-Top, Bihar News

Pitrupaksha 2021, Pitrupaksha

Pitru Paksha 2021: हमारे पितरों की आत्मा तभी तृप्त होगी जब हम स्वस्थ रहते हुए कर्मकांड करेंगे

#PitruPaksha2021: हमारे पितरों की आत्मा तभी तृप्त होगी जब हम स्वस्थ रहते हुए कर्मकांड करेंगे #Pitrupaksha

22-09-2021 17:00:00

PitruPaksha2021: हमारे पितरों की आत्मा तभी तृप्त होगी जब हम स्वस्थ रहते हुए कर्मकांड करेंगे Pitrupaksha

ध्यान रहे कि हमारे पितरों की आत्मा तभी तृप्त होगी जब हम स्वस्थ रहते हुए कर्मकांड करेंगे। कोरोना अभी तो नियंत्रण में है। आगे तीज-त्योहारों का जोर रहेगा। ऐसे में ध्यान देना होगा कि पर्व मनाएं परंतु कोरोना गाइडलाइन का कतई उल्लंघन न हो।

धार्मिक अनुष्ठानों और पर्वो का सिलसिला शुरू हो चुका है। आगे शादी-विवाह भी शुरू होने हैं, परंतु यह ध्यान देना होगा कि सरकार ने कोरोना गाइडलाइन के दायरे में ही सारे कामों को करने की छूट दी है। इसलिए इसे पूर्ण स्वतंत्रता न समझा जाए। हमारी मामूली भूल-चूक फिर बड़े खतरे को आमंत्रण दे सकती है। मोक्षनगरी गया में एहतियात बरतते हुए सरकार ने इस साल भी पितृपक्ष मेला के आयोजन की अनुमति नहीं दी है।

आर्यन खान ड्रग्स केसः आरोपों के बीच एनसीबी अधिकारी समीर वानखेड़े पहुंचे दिल्ली - BBC Hindi क्रिकेटर शमी के खिलाफ अपशब्दों को हटाने के लिए कदम उठाए गए हैं: फेसबुक क्रूज पर जाने से पहले गोसावी ने भेजी थी तस्वीरें, कहा था नजर रखना : NCB के गवाह नंबर-1 ने NDTV से कहा

दरअसल धार्मिक नगरी में पंडा समाज, कारोबारी और व्यवसायी और पूरे साल इस उम्मीद में रहते हैं कि पखवाड़े भर के मेले से उन्हें इतनी आय हो जाएगी कि पूरे साल आराम से गुजारा हो सकेगा। दो साल से मेला न लगने से उन्हें मायूसी तो रही है, परंतु जान की कीमत पर जोखिम नहीं लिया जा सकता। यह बात अब सभी समझ चुके हैं। इसीलिए पंडा समाज, व्यवसायी, कारोबारी और धर्मनगरी के वाशिंदे कोरोना गाइडलाइन के अनुपालन में सहयोग दे रहे हैं।

यह भी पढ़ेंसरकार ने कोरोना गाइडलाइन के साथ कर्मकांड करने पर रोक नहीं लगाई है। औपचारिक रूप से बाहरी श्रद्धालुओं से पितृपक्ष के दौरान गया न आने की अपील की गई है जिससे भीड़ न हो। फिर भी अपने पितरों को मोक्ष देने लोग आ रहे हैं तो उनके लिए कोरोना गाइडलाइन के तहत धर्मशालाओं, होटलों और गेस्ट हाउस में रुकने पर कोई प्रतिबंध नहीं लगाया गया है। headtopics.com

यह जरूर कहा गया है कि लोग टीकाकरण का सर्टिफिकेट लेकर यहां आएं। गया में हर साल भादो की पूर्णिमा से ही मोक्षदायिनी फल्गु के तट पर पितरों को तर्पण और पिंडदान का सिलसिला शुरू हो जाता है। सोमवार को पहले दिन सूर्योदय होते ही पिंडदानी कर्मकांड को लेकर देवघाट पर जुटे। पुरुषों के साथ महिलाएं भी पिंडदान के लिए आई हैं। मध्य प्रदेश, महाराष्ट्र, उत्तर प्रदेश, झारखंड, राजस्थान, हरियाणा, जम्मू-कश्मीर आदि राज्यों से पिंडदानी पहुंचे हैं। उम्मीद यही की जानी चाहिए कि ये कोरोना की भयावहता को जेहन में रखते हुए कोई ऐसी गलती न करें जिससे वायरस को बल मिले। 

और पढो: Dainik jagran »

भास्कर एक्सप्लेनर: IPL की 2 नई टीमों का ऐलान आज, अडानी से लेकर मेनचेस्टर यूनाइटेड के मालिक तक दावेदारों में, जानें कितना बदलेगा IPL?

IPL की दो नई टीमों का ऐलान थोड़ी देर में होगा। इसके साथ ही 2022 के IPL में कुल 10 टीमें एक-दूसरे के खिलाफ खेलती हुई दिखाई देंगी। ऐसा पहली बार नहीं होगा जब IPL में 10 टीमें होंगी, इससे पहले 2011 में हुए IPL के तीसरे सीजन भी 10 टीमें थीं। उस वक्त कोच्ची टस्कर केरला और पुणे वॉरियर्स नाम की फ्रेंचाईजी IPL का हिस्सा बनी थीं। इस बार की नई टीमें किस शहर की होंगी और इनका मालिक कौन होगा, ये आज तय हो जाएगा। | BCCI Will announce two new team of IPL today, Know all about It,how much IPL will change after this?\r\nनई टीमें कौन से शहर की हो सकती है? नई टीमों के लिए कौन-कौन से दावेदार मैदान में हैं? BCCI को नई टीमों के लिए कितनी बोली लगने की उम्मीद है?

Also 7 Adhaye Bhakti yog also to be enchanted, om ji Follow me gays Follow_back confirm

Pitru Paksha 2021: क्या होता है श्राद्ध और कैसे करें पितरों को तृप्त? इसमें है दीर्घायु, वंश वृद्धि, धन, राजसुख एवं मोक्ष का मार्ग Pitru Paksha 2021 देशकाल परिस्थिति के अनुसार श्रद्धापूर्वक जो कर्म काला तिल जौ और कुश (दर्भ) के साथ मन्त्रों के द्वारा किया जाए वही श्राद्ध है। श्राद्ध से सन्तुष्ट होकर पितृगण श्राद्धकर्ता को दीर्घ आयु सन्त्तति धन विद्या राज्यसुख एवं मोक्ष प्रदान करते हैं।

UNGA में बाइडेन का संबोधन: चीन का जिक्र कर कहा- अमेरिका नया कोल्ड वॉर नहीं चाहता, आतंकवाद का सहारा लेने वाले हमारे सबसे बड़े दुश्मनचीन से तनातनी के बीच अमेरिकी राष्ट्रपति जो बाइडेन ने कहा कि हम एक नया शीत युद्ध (Cold War) नहीं चाहते हैं, जहां पर दुनिया का बंटवारा हो जाए। अमेरिकी उन सभी देशों के साथ काम करने को तैयार है, जो शांति के साथ आगे बढ़ना चाहते हैं, क्योंकि हम सभी अपनी असफलताओं के परिणाम भुगत चुके हैं। | Referring to China, said - America does not want a new cold war, ready to work together with everyone

Pitru Paksha 2021: क्या होता है श्राद्ध और कैसे करें पितरों को तृप्त? इसमें है दीर्घायु, वंश वृद्धि, धन, राजसुख एवं मोक्ष का मार्ग Pitru Paksha 2021 देशकाल परिस्थिति के अनुसार श्रद्धापूर्वक जो कर्म काला तिल जौ और कुश (दर्भ) के साथ मन्त्रों के द्वारा किया जाए वही श्राद्ध है। श्राद्ध से सन्तुष्ट होकर पितृगण श्राद्धकर्ता को दीर्घ आयु सन्त्तति धन विद्या राज्यसुख एवं मोक्ष प्रदान करते हैं।

Pitru Paksha 2021: पितृ पक्ष में खरीदारी करने से नहीं लगता है दोष, जानें इससे जुड़ी महत्वपूर्ण बातें Pitru Paksha 2021 पितृ पक्ष या श्राद्ध पक्ष का प्रारंभ 21 सितंबर से प्रारंभ हो गया है। पितृ पक्ष को लेकर एक बात लोगों के मन में रहती है कि इस समय में खरीदारी करें या न करें। बहुत लोग पितृ पक्ष को अशुभ मानकर खरीदारी नहीं करते हैं। ashokgehlot51 GovindDotasra जी रीट भर्ती 2018 के शेष रहे अभ्यर्थियों द्वारा अपनी नियुक्ती की मांग को लेकर शिक्षा निदेशालय बीकानेर पर 70वें दिन धरना जारी है,उच्च न्यायालय में पैरवी करवाकर इन्हें जल्द नियुक्ति दिलवाए REET2018_JOINING_DO Sos_Sourabh Piter- Paksh m DAAN Krne ki liye BUY KR skte h g , Omji

कोरोना: पांच दिनों के बाद संक्रमण के मामले 30 हजार से कम, 252 लोगों की मौत, 34 हजार से अधिक लोग हुए स्वस्थकोरोना: पांच दिनों के बाद संक्रमण के मामले 30 हजार से कम, 252 लोगों की मौत, 34 हजार से अधिक लोग हुए स्वस्थ coronaupdates Coronavirus

IPL 2021: केकेआर ने आरसीबी को किया चारों खाने चित, इन पांच धुरंधरों ने निकाली विराट की टीम की हवाIPL 2021: केकेआर ने आरसीबी को किया चारों खाने चित, इन पांच धुरंधरों ने निकाली विराट की टीम की हवा KKRiders RCBTweets IPL IPL2021 KKRvRCB venkateshiyer VarunChakravarthy ShubmanGill KKRiders RCBTweets IPL Winer kkr KKRiders RCBTweets IPL Kkr winer