Jeemains

Jeemains

JEE Mains Result: मिलिए दिल्ली के AIR-1 टॉपर से, जानें- कैसे 300 में पाए 300 नंबर

देश भर में कुल 44 ऐसे बच्चे हैं जिन्होंने 100 परसेंटाइल हासिल किया है | #JEEMains

15-09-2021 18:28:00

देश भर में कुल 44 ऐसे बच्चे हैं जिन्होंने 100 परसेंटाइल हासिल किया है | JEEMains

JEE Mains Result: देश भर में कुल 44 ऐसे बच्चे हैं जिन्होंने 100 परसेंटाइल हासिल किया है. बात करें दिल्ली की तो दिल्ली में दो ऐसे बच्चे हैं जिन्होंने 300 अंक हासिल किए हैं और साथ ही ऑल इंडिया रैंक वन पर कब्जा किया है. टॉपर रुचिर की जर्नी जानिए.

(अपडेटेड 15 सितंबर 2021, 8:42 PM IST)देशभर में आईआईटी एस्पिरेंट्स को जेईई मेंस के परीक्षा के नतीजों का इंतजार था अब उस परीक्षा के नतीजे घोषित हो चुके हैं. पूरे देश में 18 ऐसे बच्चे हैं जिन्होंने ऑल इंडिया रैंक वन हासिल की है. इसके साथ ही 300 में से 300 अंक प्राप्त किए हैं. ये वो बच्चे हैं जिन्होंने 100 परसेंटाइल हासिल किया है. साथ ही पहली रैंक पर इन्होंने कब्जा जमाया है.

Petrol, Diesel Price Today : आज फिर तेल में 35-35 पैसों की बढ़ोतरी, दिल्ली में 106 के पार हुआ पेट्रोल गुड़गाँव में खुले में नमाज़ पढ़ने का मुद्दा नहीं सुलझ पा रहा - BBC News हिंदी भारत, इसराइल, संयुक्त अरब अमीरात और अमेरिका का नया गठजोड़ - BBC News हिंदी

इसके अलावा देश भर में कुल 44 ऐसे बच्चे हैं जिन्होंने 100 परसेंटाइल हासिल किया है. बात करें दिल्ली की तो दिल्ली में दो ऐसे बच्चे हैं जिन्होंने 300 अंक हासिल किए हैं और साथ ही ऑल इंडिया रैंक वन पर कब्जा किया है.इन्हीं में से एक हैं 18 साल के रुचिर बंसल जिन्होंने करीब 10 से 12 घंटे की पढ़ाई करके यह मुकाम हासिल किया. रुचिर के चेहरे की खुशी से हिसाब से लगता है कि उन्होंने इतनी मेहनत और लगन के साथ अपने आप को पढ़ाई में पूरी तरह से झोंक दिया पर आज यह उनकी मेहनत का नतीजा है.

रुचिर ने बताया कि इस परीक्षा की तैयारी उन्होंने 11वीं कक्षा से ही शुरू कर दी थी. 11वीं में वो पढ़ाई के साथ रोजाना छह से सात घंटे की तैयारी करते थे. लेकिन, 12वीं में उन्होंने तैयारी का समय बढ़ा कर 10 घंटे कर दिया था. जेईई मेन्स में टॉप करने के बाद रुचिर का लक्ष्य अब जेईई एडवांस परीक्षा में टॉप करना है. headtopics.com

उन्होंने बताया कि वो आगे चलकर कंप्यूटर के क्षेत्र में कार्य करना चाहते हैं ताकि समाज की जरूरत को देखते हुए नई तकनीकों को विकसित कर सके। रुचिर ने चाणक्यपुरी स्थित संस्कृति स्कूल से 12वीं की परीक्षा उत्तीर्ण की है.रुचिर के लिए कोविड -19 महामारी का दौर काफी तनावपूर्ण था, क्योंकि एंट्रेस एग्ज़ाम की तारीखों को टालने से तैयारी में अनिश्चितता आ गई थी. हालांकि महामारी अनिश्चितता पैदा करती है, लेकिन इसने तैयारी में कोई बाधा नहीं डाली. यह वास्तव में काफी फायदेमंद था क्योंकि यात्रा और बाहरी गतिविधियों पर खर्च किया जाने वाला समय पूरी तरह से पढ़ाई में लगा दिया.

वैसे तो रूचिर को उनसे परिवार से ही प्रेरणा मिलती है क्योंकि उनके पिता, संजय बंसल एक आईआरएस अधिकारी हैं और दिल्ली में सीमा शुल्क आयुक्त के रूप में तैनात हैं. उनके बड़े भाई ने भी 2016 में जेईई मेन्स में टॉप किया था और बाद में जेईई एडवांस क्वालिफाई करके और आईआईटी दिल्ली में सीट पाकर अव्वल आए. वो यहीं नहीं रुके उनके भाई राजस अब स्टैनफोर्ड यूनिवर्सिटी से एमएस करने के लिए कैलिफोर्निया जाने की तैयारी कर रहे हैं.

रुचिर ने अपने बड़े भाई राजस बंसल द्वारा निभाई गई भूमिका को भी श्रेय दिया. रुचिर ने कहा कि उनके भाई ने एक होम ट्यूटर की भूमिका निभाई, जिसने उनकी शंकाओं को दूर करने में मदद की और प्रवेश द्वार में चमकने के लिए तरकीबें प्रदान कीं.एक गृहिणी के रूप में उनकी मां लक्ष्य को प्राप्त करने में उनकी सबसे बड़ी ताकत और सहयोगी रही हैं. वो कहती हैं कि यह केवल रूचिर की ही परीक्षा नहीं थी लेकिन उनके लिए भी यह दौर किसी परीक्षा से कम नहीं था, लेकिन कहीं न कहीं मन में उन्हें विश्वास था कि रूचिर कुछ न कुछ अच्छा कर ही लेगा.

Live TV और पढो: आज तक »

लखीमपुर खीरी से ग्राउंड रिपोर्ट: नाराज किसान बोले- आज हमारे बच्चों को कुचला तो 45 लाख में समझौता हो गया, कल कोई और कुचलेगा तो 50 लाख में मामला निपट जाएगा

पिछले कुछ दिनों से चर्चा में रहे लखीमपुर खीरी के तिकुनिया में अब खामोशी है। जली हुई गाड़ियां, थके हुए पुलिसकर्मी और सच तलाशते गिने-चुने पत्रकारों को देखने के बाद ये अहसास ही नहीं होता कि 48 घंटे पहले यहां हुए उपद्रव में 8 लोगों की जान गई है। मन में सवाल कौंधता है कि आखिर इतनी जल्दी स्थिति कैसे काबू हो गई। लोग इतने सामान्य क्यों दिखाई दे रहे हैं? सरकार ने इस पूरे मामले को कैसे कंट्रोल किया? | UP Lakhimpur Kheri Violence Ground Report; Farmers On Rs 45 Lakh Compensation जब हमने चश्मदीद प्रदर्शनकारी से घटना को लेकर सवाल किया तो वे किसानों पर गाड़ी चढ़ाने के बारे में तो खुलकर बात कर रहे थे,

अफगानिस्तान: काबुल में बंदूक की नोक पर भारतीय नागरिक का अपहरण, दिल्ली में रहता है परिवारअफगानिस्तान: काबुल में बंदूक की नोक पर भारतीय नागरिक का अपहरण, दिल्ली में रहता है परिवार Afganistan Taliban PMOIndia MEAIndia PMOIndia MEAIndia Freind ab telbun Ko money ke jurath key key apni old thinks ke survath ker de bus chinia Mey yey loge es peker ke herkth n in deshio key negrike Ko pereysion nhi kerthey ok PMOIndia MEAIndia दुनिया ने आतंकवादियों के सामने आत्मसमर्पण किया है। तालिबान, चीन और पाकिस्तान का अमानवीय हथियार है जिसे शांतिप्रिय देशों के खिलाफ क्रूर कम्युनिस्ट और इस्लामिक कट्टरपंथी द्वारा अशांत करने का प्रयास है। फिर भी दुनिया खामोश है। ऐसे देशों का बहिष्कार क्यों नहीं

दिल्ली में पकड़े गए आतंकी का UP कनेक्शन: बहराइच के अबु बकर की शुरुआती पढ़ाई सऊदी अरब में हुई; 2013 में देवबंद में दाखिला लिया, जमात के लिए गया था दिल्लीदिल्ली में पकड़ा गया आतंकी मोहम्मद अबु बकर बहराइच का रहने वाला है। एक हफ्ते पहले वह दिल्ली जमात में गया था। वहीं ATS ने उसे गिरफ्तार कर लिया। अबु बकर के पकड़े जाने के बाद स्थानीय लोगों का कहना है कि उन्हें कभी इस बात की भनक तक नहीं लगी कि अबु बकर किसी आतंकी संगठन से जुड़ा है। वहीं, परिवार का कहना है कि अबु बकर निर्दोष है। पुलिस को मामले की ठीक से छानबीन करनी चाहिए। | bahraich hindi news, bahraich terrorist abu bakkar, bahraich police, delhi ats, terrorist abu bakkar, दिल्ली में पकड़ा गया आतंकी मोहम्मद अबु बक्कर बहराइच का रहने वाला है। एक हफ्ते पहले आतंकी दिल्ली जमात में गया हुआ था। वहीं से एटीएस ने उसको गिरफ्तार किया है। Ab ghar wale kahenge ki mujhe to kuch bhi pata nahi chala ki beta is raah par chal para he.... Tum log agar bachcho ko pahle se hi achchi siksa dete to beta bam ki jagah school beg lekar jata... Sawaaliya nishan to tumhari siksa par he Devban atankiyo ka adda hai

भारत में पिछले 24 घंटे में नए COVID-19 केसों में 6.8 फीसदी कमीभारत में पिछले 24 घंटे में नए COVID-19 केसों में 6.8 फीसदी कमी CoronavirusUpdates Cancel_Neet2021 Neet_Paper_Leak_2021 BJP सरकार भरस्टाचार का दूसरा नाम बन गई है कारण यह पेपर लीक पर भी NEET कैंसिल कर दुबारा नही करवा रही। पेपर कहा कहा गया यह जांच का विषय है कारण कोटा कोचिंग से पूरे भारत के छात्र आते है। It's bcoz of Saturday n sunday s rtpcr reports. As maximum govt Institute don't take samples on second Saturday n sunday so low numbers. No testing no covid

झारखंड में बड़ा हादसा: रामगढ़ में बस और वैगन आर में टक्कर, पांच लोग जिंदा जलेझारखंड में बड़ा हादसा: रामगढ़ में बस और वैगन आर में टक्कर, पांच लोग जिंदा जले jharkhand HemantSorenJMM

हादसा: दिल्ली के इंद्रलोक स्थित फैक्टरी में भीषण आग, दमकल की कई गाड़ियां मौके परराजधानी दिल्ली के इंद्रलोक इलाके में बड़े हादसे की खबर है। यहां की एक फैक्टरी में भीषण आग लग गई है।

दिल्‍ली में जर्जर मकान गिरने से दो भाइयों की मौतसब्जी मंडी थाना क्षेत्र के मलका गंज इलाके में सोमवार सुबह एक जर्जर मकान भरभरा कर ढह गया। मकान के मलबे की चपेट में आने से वहां से रिक्शा पर गुजर रहे दो भाइयों की मौत हो गई। ये दर्दनाक घटना भाजपा शासित दिल्ली नगर निगम में रचे बसे भ्रष्टाचार का जीवंत उदाहरण है । भाजपा ने बर्बाद कर दिया दिल्ली नगर निगम को १५ साल के कुशासन से दिल्ली नगर नगर निगम को भ्रष्टाचार से खोखला कर दिया है भाजपा ने