Coronavaccine, भारत कोरोना टीका न्‍यूज, कोविड टीका लेटेस्‍ट न्‍यूज, कोविड टीका गाइडलाइंस, कोविड का टीका कब लगेगा, कोरोना वैक्‍सीन कैसे लगेगी, कोरोना वैक्‍सीन की गाइडलाइंस, कोरोना टीका की सरकारी गाइडलाइंस, कोरोना का टीका कब लगेगा, Vaccine Sop İndia, Sop Vaccine Management, New Covid Vaccine Sop, New Covid Vaccine Guidelines, Covid-19 Vaccine Guidelines, Covid Vaccine Guidelines İndia, Corona Vaccine Sop İndia, Corona Vaccine Guidelines İndia, भारत Samachar

Coronavaccine, भारत कोरोना टीका न्‍यूज

Corona Vaccine SOP: केंद्र की गाइडलाइंस जारी, कोरोना वैक्‍सीन आपको कब और कैसे मिलेगी ? डीटेल में जानें पूरा प्‍लान

कोरोना वैक्‍सीन आपको कब और कैसे मिलेगी ? डीटेल में जानें केंद्र की गाइडलाइंस #CoronaVaccine

15-12-2020 06:28:00

कोरोना वैक्‍सीन आपको कब और कैसे मिलेगी ? डीटेल में जानें केंद्र की गाइडलाइंस CoronaVaccine

भारत में कोरोना वायरस की वैक्‍सीन को मंजूरी मिलते ही टीकाकरण अभियान शुरू कर दिया जाएगा। केंद्र सरकार ने सोमवार को राज्‍यों के लिए कोविड-19 टीकाकरण से जुड़ी गाइडलाइंस जारी कर दी हैं। इसके मुताबिक, पहले चरण के अभियान में सरकार करीब 30 करोड़ लोगों को टीका लगाने की तैयारी कर रही है। इनमें हेल्‍थकेयर और फ्रंटलाइन वर्कर्स, 50 साल से ज्‍यादा उम्र वाले लोग और को-मॉर्बिडिटीज वाले 50 साल से कम उम्र वाले लोग शामिल होंगे। डॉक्‍युमेंट के अनुसार, वैक्‍सीन लगने के बाद 30 मिनट तक लोगों को मॉनिटर किया जाएगा। आइए जानते हैं कि केंद्र सरकार ने कोरोना टीकाकरण के लिए कैसा प्‍लान बनाया है।

स्‍वास्‍थ्‍य मंत्रालय के अनुसार, पहले चरण में 30 करोड़ लोगों को टीका लगेगा। इनमें एक करोड़ हेल्‍थवर्कर्स, 2 करोड़ फ्रंटलाइन वर्कर्स, 50 साल से ज्‍यादा उम्र वाले 26 करोड़ लोग और गंभीर बीमारियों से जूझ रहे 50 साल से कम उम्र वाले लोग (1 करोड़) शामिल होंगे। हेल्‍थकेयर और फ्रंटलाइन वर्कर्स को अस्‍पताल या क्लिनिक जैसी जगहों पर टीका लगेगा। बाकी ग्रुप्‍स के लिए अलग से इंतजाम किए जा सकते हैं। मोबाइल साइट्स भी ऑपरेट करने की तैयारी है।

वीडियो: सोनू ने खोला नया सुपरमार्केट, साइकिल पर अंडा और ब्रेड की होम डिलीवरी करते आए नजर जम्मू-कश्मीर पर बैठक: अनुच्छेद 370 हटाने के बाद पहली बार पीएम के सामने होंगे 14 कश्मीरी नेता, इनमें चार पूर्व सीएम Rahul Gandhi News: 'मोदी सरनेम' पर टिप्पणी को लेकर सूरत कोर्ट पहुंचे राहुल गांधी, पेशी से पहले किया ट्वीट

कैसे होगी वैक्‍सीन पाने वालों की पहचान?कोरोना वैक्‍सीन पहले चरण में किन्‍हें दी जानी है, इसके लिए सरकार मतदाता सूची खंगालेगी। इससे 50 साल से ज्‍यादा उम्र वाले आसानी से आइडेंटिफाई किए जा सकते हैं। गंभीर बीमारियों वाले लोगों का डेटा नैशनल फैमिली हेल्‍थ सर्वे या फिर स्‍वास्‍थ्‍य मंत्रालय से मिल जाएगा।

Co-WIN पर रजिस्‍ट्रेशन कराना होगा, वर्ना वैक्‍सीन नहींकोविड वैक्‍सीन इंटेलिजेंस नेटवर्क (Co-WIN) सिस्‍टम तैयार किया गया है। इस डिजिटल प्‍लेटफॉर्म पर वैक्‍सीन के स्‍टॉक और डिस्‍ट्रीब्‍यूशन की रियल-टाइम अपडेट्स तो मिलेंगी ही। वैक्‍सीन के लिए किन्‍होंने रजिस्‍टर किया है और उन्‍हें कब वैक्‍सीन दी जानी है या टीका लगा या नहीं, ये सब Co-WIN में अपडेट होता रहेगा। वैक्‍सीन पाने के लिए आपको पहले से रजिस्‍टर करना होगा। ऑन-द-स्‍पॉट रजिस्‍ट्रेशन नहीं हो जाएगा। सरकार ने 12 तरह के पहचान-पत्रों को मान्‍यता दी है जिनके जरिए आप Co-WIN वेबसाइट पर रजिस्‍टर कर पाएंगे। इसके लिए वोटर आईडी, आधार, ड्राइविंग लाइसेंस, पासपोर्ट, पेंशन डॉक्‍युमेंट जैसे दस्‍तावेज मान्‍य होंगे। headtopics.com

5 लोगों की टीम देगी वैक्‍सीन, अधिकतम सीमा तयजहां कोविड वैक्‍सीन दी जाएगी, वहां तीन कमरे होना जरूरी है। एक वेटिंग रूम होगा, एक वैक्सीनेशन रूम और तीसरा ऑब्‍जर्वेशन रूम। गाइडलाइंस के अनुसार, टीकाकरण की एक साइट पर दिनभर में केवल 100 लोगों को टीका लगेगा। अगर लॉजिस्टिक्‍स की सुविधा अच्‍छी है तो इसे बढ़ाकर 200 भी किया जा सकता है। किसी भी केस में एक दिन में एक जगह पर 200 से ज्‍यादा लोगों को टीका नहीं लगेगा। वैक्‍सीन देने वाली टीम में एक वैक्‍सीन ऑफिसर और चार वैक्‍सीनेशन ऑफिसर्स होंगे।

वैक्‍सीन की सेफ्टी के लिए क्‍या हैं इंतजाम?कोरोना वैक्‍सीन का टीकाकरण देश का सबसे बड़ा टीकाकरण अभियान शामिल होने वाला है। राज्‍यों को एक जिले में एक मैनुफैक्‍चरर की वैक्‍सीन ही सप्‍लाई करने को कहा गया है ताकि अलग-अलग वैक्‍सीन मिक्‍स होने से बचा जा सके। वैक्‍सीन कैरियर, वायल्‍स और आइस पैक्‍स को सूरज की सीधी रोशनी से बचाने के सभी इंतजाम किए जाएंगी। जब तक कोई टीका लगवाने नहीं आता, तब तक वैक्सीन और डाइलुएंट्स को वैक्‍सीन कैरियर के भीतर लिड बंद करके रखा जाएगा।

Navbharat Times News App: और पढो: NBT Hindi News »

Galwan Valley में हुई हिंसक झड़प के एक साल बाद LaC पर क्या बदला? देखें खबरदार

आज 15 जून है यानि गलवान घाटी में चीन और भारत के बीच हुई हिंसक झड़प का एक साल पूरा हो गया है, जिसमें भारत के 20 सैनिकों ने अपनी शहादत दी थी और चीन को करारा जवाब दिया था. गलवान घाटी में हुई हिंसक झड़प के एक साल बाद LaC पर क्या बदला है? पिछले एक साल में चीन और उसकी सेना को भारत की तरफ से क्या मैसेज दिया गया है? और इस वक्त LaC पर क्या हालात हैं? देखें खबरदार का ये एपिसोड.

ममता की मोदी को चिट्ठी: केंद्र सरकार की नई टीकाकरण नीति को बताया 'खोखला'ममता की मोदी को चिट्ठी: केंद्र सरकार की नई टीकाकरण नीति को बताया 'खोखला' WestBengal Coronavirus Covid19 PMOIndia MoHFW_INDIA ICMRDELHI MamataOfficial PMOIndia MoHFW_INDIA ICMRDELHI MamataOfficial क्या न्यूज़ चैनल के एंकर को न्यूज़ दिखाते वक्त मास्क नहीं पहनना चाहिए जागरूकता अभियान यहीं से तो शुरू होगा RahulGandhi PearsonUPSC ModiResignOrRepeal StopUPPanchayatElection Rudra PMOIndia MoHFW_INDIA ICMRDELHI MamataOfficial 2 मई ममता गई PMOIndia MoHFW_INDIA ICMRDELHI MamataOfficial फिर आप ठोस नीति बताएं केंद्र को। साहियाकार की भूमिका तो कोई भी निभा सकता है।

आत्महत्या के लिए उकसाने के मामले में अर्नब को मिली आरोपपत्र को चुनौती देने की अनुमतिआत्महत्या के लिए उकसाने के मामले में अर्नब को मिली आरोपपत्र को चुनौती देने की अनुमति SupremeCourt BombayHighCourt Mumbai ChargeSheet ArnabGoswami

मिज़ोरम के मुख्यमंत्री ने प्रधानमंत्री मोदी से म्यांमार के नागरिकों को शरण देने की अपील कीमिज़ोरम के मुख्यमंत्री जोरमथंगा ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को चिट्ठी लिखकर म्यांमार में सैन्य तख़्तापलट के चलते राज्य में आ रहे वहां के नागरिकों को मानवीय आधार पर शरण देने के लिए व्यक्तिगत रूप से हस्तक्षेप करने का अनुरोध किया है. Dear द वायर हिंदी इस होली पर आप रंगो के साथ अपने प्यार का रंग भी बिखेरिये। आपको ये दुनिया ओर भी रंगीन और खूबसूरत नजर आएगी। होली की हार्दिक शुभकामनाये Please Follow me on Twitter AieplSachin तुम्हारे और उनके बाप की जगह हैं जिसको चाहे इसको यहा का नागरिक बना दे RoadSafetyWorldSeries लाउडस्पीकर_मुक्त_अजान boycottrohigya जब वहाँ के और लोगों के साथ पहले हुआ था मुँह क्यों बन था

किसानों की आय दोगुना करने के प्रधानमंत्री के संकल्प को साकार करने के लिए बढ़ते कदमकृषि निवेशों पर किसानों को देय अनुदान को डीबीटी के माध्यम से भुगतान करने वाला उत्तर प्रदेश देश का पहला राज्य है। किसानों के लिए बाजार को व्यापक बनाने के दृष्टिकोण से मंडी अधिनियम में संशोधन करने वाला भी उत्तर प्रदेश देश का पहला राज्य है। UPGovt up_agriculture CMOfficeUP navneetsehgal3 ShishirGoUP MrityunjayUP dchaturvedi2013 spshahibjp ये फिर चूतियों को चूतिया बनायेगा। 😂😂😂 UPGovt up_agriculture CMOfficeUP navneetsehgal3 ShishirGoUP MrityunjayUP dchaturvedi2013 spshahibjp सब जुमले है आधा सीजन समाप्त हो गया है अभी तक गन्ने का मूल्य घोषित किया है,पिछले साल पेमेंट अभी तक बाकी है,खेती के लिए ट्यूबल कनेक्शन की सामान्य योजना दो साल से बन्द कर रखी है, खेती के कनेक्शन नाम पर 1 लाख तक किसानों लूटे जा रहे है, 2 साल से इस्टीमेट जमा करके इंतजार कर रहे हैं UPGovt up_agriculture CMOfficeUP navneetsehgal3 ShishirGoUP MrityunjayUP dchaturvedi2013 spshahibjp मीडिया की और नेताओ की कितनी बढत!

म्यांमार के बाद इस देश में तख्तापलट की कोशिश, राष्ट्रपति की हत्या की कोशिश के आरोपराष्ट्रपति जुवानेल मोसे ने दावा किया कि पुलिस ने 20 से अधिक लोगों को गिरफ्तार किया है, जिन पर उनकी हत्या की कोशिश करने का आरोप है और ये सभी लोग उनकी सरकार को उखाड़ फेंकने की कोशिश में जुटे हुए है. 👇🏻👇🏻 👇🏻👇🏻

Reliance Foundation की बड़ी पहल, कोविड मरीजों के लिए की 875 बेड के संचालन की घोषणाReliance Foundation ने देश की औद्योगिक राजधानी मुंबई में कोविड के बढ़ते मामलों को देखते हुए मरीजों को बेहतर चिकित्सा सेवाएं मुहैया कराने की अपनी मुहिम तेज कर दी है। फाउंडेशन मुंबई में 875 कोविड बेड्स का संचालन अपने हाथों में ले लिया है। ril_foundation Kidhar. Inka sirf ghoshna hi sunta hoon. Dekha nahi kabhi kichh kaam. reliancegroup ril_foundation अब समस्या ये है कि वे लोग यहाँ भर्ती होने आएँगे या नहीं जो इस ग्रुप का विरोध कर रहे हैं ? ril_foundation अब कहाँ मर गए वो लोग जो कल इस अम्बानी के टावर उखाड़ रहे थे।डूब मरो चुल्लू भर पानी मे