विदेश मंत्री माइक पॉम्पियो, राजनाथ सिंह, रक्षा मंत्री मार्क एस्‍पर, मार्क एस्‍पर राजनाथ सिंह, माइक पॉम्पियो एस जयशंकर, भारत अमेरिका रक्षा समझौता 2020, भारत अमेरिका 2+2 वार्ता, भारत अमेरिका 2+2 बातचीत, बीईसीए क्‍या है, एस जयशंकर, Mike Pompeo İndia Visit 2020, Mike Pompeo And S Jaishankar, Mark Esper İndia Visit News, Mark Esper And Rajnath Singh, İndia Us News, İndia Us Beca Agreement, İndia Us 2+2 Dialogue 2020, İndia America Defence Deal, Beca Defence Deal, Beca Agreement İn Hindi, Beca Agreement Between İndia And Usa, 2+2 बातचीत, 2+2 Dialogue Between İndia And Usa, भारत Samachar

विदेश मंत्री माइक पॉम्पियो, राजनाथ सिंह

2+2 बातचीत: भारत और अमेरिका के बीच ऐतिहासिक BECA पर होंगे साइन, जानें क्‍या फायदा

2+2 बातचीत: आज अमेरिका संग होगा ऐतिहासिक करार BECA, जानें भारत को क्‍या फायदा

27-10-2020 06:42:00

2+2 बातचीत : आज अमेरिका संग होगा ऐतिहासिक करार BECA, जानें भारत को क्‍या फायदा

भारत-अमेरिका 2+2 बातचीत (India US 2+2 dialogue) शुरू हो गई है। अमेरिका के विदेश मंत्री माइक पॉम्पियो और रक्षा मंत्री मार्क एस्‍पर सोमवार को नई दिल्‍ली पहुंचे। स्‍वागत-सत्‍कार के बाद वह अपने-अपने समकक्षों, एस जयशंकर और राजनाथ सिंह के साथ बातचीत की मेज पर बैठे। सोमवार की बैठक में दोनों देशों के बीच रक्षा सहयोग बढ़ाने और इंटेलिजेंस शेयरिंग पर चर्चा हुई। इसके अलावा इंडो-पैसिफिक में बने ताजा हालात और पूर्वी लद्दाख में चीन के साथ जारी सैन्‍य तनाव का मुद्दा भी उठा। 2+2 बातचीत में मंगलवार यानी आज का दिन बेहद अहम है। दोनों देशों के बीच ऐतिहासिक BECA पर हस्‍ताक्षर होंगे। अमेरिकी चुनाव से महज कुछ दिन पहले BECA पर सहमति इस बात का साफ इशारा है कि दोनों देशों के रिश्‍ते कितने मजबूत हो चुके हैं।

भारत-अमेरिका के बीच आज बेसिक एक्‍सचेंज ऐंड कोऑपरेशन एग्रीमेंट फॉर जियोस्‍पेशियल कोऑपरेशन (BECA) पर हस्‍ताक्षर तो होंगे ही। दोनों देशों के बीच मैरिटाइम इंफॉर्मेशन शेयरिंग टेक्निकल एग्रीमेंट (MISTA) भी होगा। इससे दोनों नौसेनाओं के बीच सहयोग और बढ़ जाएगा।

मशहूर फ़ुटबॉलर डिएगो माराडोना नहीं रहे, 60 साल की उम्र में निधन - BBC News हिंदी बंगाल बीजेपी के अध्यक्ष दिलीष घोष की गाड़ी पर हुआ पथराव, 15 दिन में दूसरा हमला Rape के दोषियों पर Pakistan सख्त, अब देगा नपुंसक बनाने की सजा

भारत-अमेरिका के बीच चौथा अहम समझौताभारत और अमेरिका के बीच अबतक तीन बड़े समझौते हो चुके हैं और BECA चौथा है। 2002 में दोनों देशों के बीच जनरल सिक्‍योरिटी ऑफ मिलिट्री इंफॉर्मेशन एग्रीमेंट (GSOMIA) हुआ था। इसके बाद 2016 में लॉजिस्टिक्‍स एक्‍सचेंज मेमोरेंडम ऑफ एग्रीमेंट (LEMOA) हुआ और 2018 में कम्‍युनिकेशंस, कम्‍पैटिबिलिटी एंड सिक्‍योरिटी अरेंजमेंट (COMCASA) पर हस्‍ताक्षर हुए। पूर्ववर्ती यूपीए सरकार ने LEMOA, COMCASA और BECA को अपने 10 साल के कार्यकाल के दौरान अधर में रखा। शुरुआत में उसका तर्क था कि इससे भारत की 'रणनीतिक स्‍वायत्‍तता' खतरे में पड़ जाएगी। बाद में लेफ्ट दलों के विरोध के चलते समझौते नहीं हो सके। एनडीए ने 2014 में सत्‍ता में आने के बाद इन समझौतों पर आगे बढ़ना शुरू किया।

BECA से भारत को कई फायदेBECA बेहद खास समझौता है जो अमेरिका अपने करीबी देशों के साथ ही करता है। चूंकि इससे बेहद संवेदनशील और क्‍लासिफाइड जानकारी साझा करने के रास्‍ते खुलते हैं, ऐसे में BECA काफी अहम हो जाता है। BECA का मकसद नॉटिकल और एयरोनॉटिकल चार्ट्स समेत जियोस्‍पेशियल डेटा की साझेदारी है। एक बार समझौते पर हस्‍ताक्षर हो गए तो भारत को US के सैटेलाइट्स से सटीक डेटा मिलेगा जिसका सैन्‍य इस्‍तेमाल हो सकता है। इसके अलावा मैप्‍स, नॉटिकल और एयरोनॉटिकल चार्ट्स, कॉमर्शियल व अन्‍य अनक्‍लासिफाइड इमेजरी, जियोडेटिक, जियो फिजिकल, जियो मैग्‍नेटिक और ग्रेविटी डेटा भी साझा होगा।

क्‍या BECA के बिना नहीं चलता काम?BECA को लेकर कुछ सवाल भी उठ रहे हैं क्‍योंकि भारत के पास मजबूत सैटेलाइट इमेजिंग क्षमता है। हालांकि एक अधिकारी ने इसकी अहमियत समझाते हुए कहा, "लेकिन हमारे पास वो क्षमताएं नहीं हैं जो लॉन्‍ग-रेंज मिसाइल टारगेटिंग और नेविगेशन के लिए रियल-टाइम और सटीक डेटा दें।"

चीन की वजह से और करीब आए हैं भारत और अमेरिकासाल 2020 में जिस तरह चीन के तेवर पूरी दुनिया ने देखे, उससे ग्‍लोबल लेवल पर चीन के खिलाफ माहौल बना है। अमेरिका एक तरह से चीन विरोधी गुट की अगुवाई कर रहा है। भारत के साथ पूर्वी लद्दाख में सैन्‍य तनाव पैदा कर चीन ने BECA पर हस्‍ताक्षर की प्रक्रिया को तेज ही किया है। भारत को अमेरिका से इस वक्‍त भी मिलिट्री इंटेलिजेंस मिल रही है। ठीक उसी तरह जैसे जुलाई-अगस्‍त 2017 में डोकलाम विवाद के वक्‍त मिली थी। एक अधिकारी के मुताबिक, BECA से इंटेलिजेंस और डेटा शेयरिंग का प्रॉसेस और 'स्‍मूद' हो जाएगा।

Navbharat Times News App: और पढो: NBT Hindi News »

Coronavirus: मुख्यमंत्रियों के साथ बैठक में पीएम मोदी ने कोरोना पर क्या दिया मंत्र? देखें स्पेशल रिपोर्ट

देश में कोरोना संकट पर आज प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने प्रदेश के मुख्यमंत्रियों से बातचीत की. मोदी ने साफ कहा कि अभी दवाई आई नहीं है और दवाई आएगी कब ये वैज्ञानिक बताएंगे. लिहाजा राज्य पूरी सावधानी बरतें. मोदी ने वैक्सीन के वितरण पर केंद्र और राज्य के सहयोग पर जोर दिया. इस दौरान हरियाणा के मुख्यमंत्री मनोहर लाल खट्टर की क्लास भी लग गई. कोरोना संकट पर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी आठ राज्यों के मुख्यमंत्रियों के साथ नौवीं बार बैठक की तो कोरोना के बारे में चेता भी दिया. राज्यों को सतर्कता बरतने के लिए कहा तो ये भी साफ कर दिया कि उन्हें नहीं पता कि कोरोना की दवाई कब आएगी, कितनी डोज देनी होगी. ये सब सिर्फ वैज्ञानिकों को ही पता है. देखिए स्पेशल रिपोर्ट, अंजना ओम कश्यप के साथ.

FATF के फैसले पर पाकिस्तान में संग्राम, विपक्ष और इमरान सरकार के बीच 'जंग'पाकिस्तान न्यूज़: Pakistan FATF Report Card: फाइनेंशियल ऐक्शन टास्क फोर्स के हालिया फैसले को लेकर पाकिस्तान में इमरान खान सरकार और विपक्ष के बीच जुबानी जंग जारी है। विपक्षी पार्टियां इमरान खान पर विदेशी मोर्चे पर फेल होने का आरोप लगा रही हैं, वहीं सरकार इसे अपनी जीत के रूप में प्रस्तुत कर रही है। यार घर के भेदी लंका ढाए हैं

अमेजॉन की अपील पर रिलायंस और फ्यूचर ग्रुप की डील पर लगी रोकमामले की सीधे तौर पर जानकारी रखने वाले एक सूत्र ने आर्बिट्रेशन पैनल के फैसले को लेकर कहा कि रिलायंस और फ्यूचर की डील पर आया यह निर्णय अमेजॉन के लिए व्यापक जीत की तरह है। अब उसे इस डील को रोके जाने के लिए एक तरह से एक आदेश मिल गया है।

अपनी ज़मीन पर भी लड़ेंगे और विदेशी ज़मीन पर भी: अजीत डोभाल - BBC News हिंदीराष्ट्रीय सुरक्षा सलाहकार अजीत डोभाल का बड़ा बयान. कश्मीर पर कॉर्प्स कमांडर का बयान. आज के अख़बारों की सुर्खियाँ. Kuch bhi घर में खाने को नहीं और अम्मा चली है भुनाने मगर कब?🤔🤔🤔🤔

दशहरे पर सोनिया गांधी का संदेश, 'नेतृत्वकर्ता के जीवन में अहंकार और वादाखिलाफी की जगह नहीं'दशहरे पर सोनिया गांधी का संदेश, 'नेतृत्वकर्ता के जीवन में अहंकार और वादाखिलाफी की जगह नहीं' Dussehra SoniaGandhi rssurjewala rssurjewala rssurjewala She is right. She has all these attributes. rssurjewala

कंगना रनौत संग काम के अनुभव पर बोले हंसल मेहता, सेट पर करती थीं सबको कंट्रोलहंसल मेहता ने कई इंटरव्यू में बताया है कि उनका कंगना संग काम करने का एक्सपीरियंस अच्छा नहीं था. उनकी नजरों में सेट पर सबकुछ कंगना के मुताबिक करना पड़ता था. Who is this B grade actress why trying to give publicity that this woman doesn't deserve विजयादशमी का महापर्व मनुष्य को अधर्म, अहंकार और असत्य का परित्याग कर धर्म, विवेक और सत्य के मार्ग पर चलने की प्रेरणा व शिक्षा देने वाला पर्व है। ashokgehlot51 सदाचार का अनुसरण करते हुए 826 के लिए वेटिंग लिस्ट जारी करें withdraw_SLP_Reet2016 अरे 27 October को तक वाले माफी मांगों गे ना. केसे मांगों गे. शर्म तो आयेगा जरूर. 18 सालों से No एक थे फिर भी माफी मांगने को कहा थू है तुम पर. माफी नामा प्रस्तुत कर दिया. अछे से करना. मुहँ पर तो काली लग गया है अब जिंदगी भर एसे ही रहेगा. 🤣🍼😝😜🤐😭🤣😜😝😁😁😜😝😜🤐😭😝😁🍼🍼🍼

सुप्रीम कोर्ट ने मध्यप्रदेश हाईकोर्ट के आदेश पर लगाई रोक, चुनाव आयोग लेगा रैलियों पर फैसलासुप्रीम कोर्ट ने मध्यप्रदेश हाईकोर्ट के आदेश पर लगाई रोक, चुनाव आयोग लेगा रैलियों पर फैसला MadhyaPradesh byelection ChouhanShivraj OfficeOfKNath