Singhuborder, Lynching, Nihangsikh, सिंघूबॉर्डर, लिंचिगं, निहंगसिख

Singhuborder, Lynching

सिंघू सीमा हत्या: एक निहंग सिख गिरफ़्तार, मृतक के परिवार ने की उच्चस्तरीय जांच की मांग

सिंघू सीमा हत्या: एक निहंग सिख गिरफ़्तार, मृतक के परिवार ने की उच्चस्तरीय जांच की मांग #SinghuBorder #Lynching #NihangSikh #सिंघूबॉर्डर #लिंचिगं #निहंगसिख

16-10-2021 21:30:00

सिंघू सीमा हत्या: एक निहंग सिख गिरफ़्तार, मृतक के परिवार ने की उच्चस्तरीय जांच की मांग SinghuBorder Lynching NihangSikh सिंघूबॉर्डर लिंचिगं निहंगसिख

दिल्ली-हरियाणा की सिंघू सीमा पर किसानों के प्रदर्शनस्थल के पास एक व्यक्ति की पीट-पीट कर हत्या के मामले में पुलिस ने एक निहंग सिख को गिरफ़्तार किया है. 15 दलित संगठनों ने राष्ट्रीय अनुसूचित जाति आयोग को एक ज्ञापन सौंपते हुए दोषियों को कड़ी सज़ा देने की मांग की. वहीं, राजनीतिक दलों ने भी इस घटना की निंदा करते हुए व्यापक जांच की मांग उठाई है.

तरणतारण/नई दिल्ली:गुरु ग्रंथ साहिब की बेअदबी के आरोप में सिखों के एक पंथ के सदस्यों द्वारा पीट-पीटकर जान से मारे गए दलित खेतिहर मजदूर लखबीर सिंह के परिवार ने शनिवार को कहा कि वह ईश्वर से डरने वाले व्यक्ति थे, जो कभी भी पवित्र ग्रंथ की बेअदबी करने के बारे में सोच भी नहीं सकते थे. लखबीर के परिवार ने सच्चाई सामने लाने के लिए उच्चस्तरीय जांच की मांग की.

लखनऊ: 69000 शिक्षक भर्ती में धांधली का आरोप लगाने वाले अभ्यर्थियों पर पुलिस ने किया लाठीचार्ज इंडोनेशियाई द्वीप में ज्वालामुखी विस्फोट, विमानों के लिए चेतावनी जारी - BBC Hindi बॉलीवुड: लाइमलाइट से दूर रहती हैं इन फेमस डायरेक्टर्स की पत्नियां, पार्टीज-इवेंट्स में भी पति संग नहीं आतीं नजर

लखबीर की पत्नी जसप्रीत कौर और 12, 11 तथा आठ साल की तीन बेटियां पवित्र शहर अमृतसर से करीब 50 किमी दूर गांव चीमा कलां में एक छोटे से कच्चे मकान में रहती हैं. उनके बेटे की दो साल पहले मौत हो गई थी.बताया गया है कि जब लखबीर जीवित थे तब परिवार मुश्किल से दिन में दो वक्त के भोजन का प्रबंध कर पाते थे और अपनी आजीविका के लिए गांव के खेतों में या तरनतारन जिले की अनाज मंडी में काम करते थे.

लखबीर की बहन राज कौर कहती हैं, ‘अब उनके परिवार की देखभाल के लिए कौन आगे आएगा और उनके बच्चों के भविष्य का क्या होगा..कौन उनकी मदद करेगा?’लखबीर (35) का शव सिंघू बॉर्डर के पास पुलिस अवरोधक से बंधा मिला था, जहां किसान तीन केंद्रीय कृषि कानूनों के विरोध में प्रदर्शन कर रहे हैं. घटना के कुछ घंटे बाद नीले वस्त्र पहने एक निहंग सिख सरबजीत सिंह ने दावा किया कि उसने गुरु ग्रंथ साहिब को ‘अपवित्र’ करने के लिए लखबीर को ‘दंडित’ किया था. headtopics.com

उसके दावे पर सवाल उठाते हुए जसप्रीत कौर और राज कौर ने कहा कि लखबीर सिंह के दिल में ‘पवित्र गुरु ग्रंथ साहिब के प्रति गहरा सम्मान था’.जसप्रीत कौर ने कहा, ‘वह ईश्वर से डरने वाले व्यक्ति थे, जो कभी पवित्र पुस्तक को अपवित्र करने के बारे में सोच भी नहीं सकते थे. जब भी वह किसी गुरुद्वारे में जाते थे, तो वह अपने परिवार और समाज की भलाई के लिए प्रार्थना करते थे.’

पीड़ित परिवार ने कहा कि उनका कोई आपराधिक रिकॉर्ड नहीं था और उनके खराब चरित्र की कोई रिपोर्ट नहीं थी. परिवार ने सच्चाई सामने लाने के लिए पूरे प्रकरण की उच्चस्तरीय जांच की मांग की.जसप्रीत और राज कौर ने कहा कि अगर एक पल के लिए भी मान लिया जाए कि लखबीर ने कुछ गलत किया है, तो जिन लोगों ने उनकी इतनी बर्बरता से हत्या की, उन्हें लखबीर को उनकी बेगुनाही साबित करने के लिए समय देना चाहिए था, या वे उन्हें पुलिस के हवाले कर सकते थे.

लखबीर की भाभी सिमरनजीत कौर और सास सविंदर कौर सहित उनके परिवार के सदस्यों ने मीडिया को बताया कि लखबीर और उनकी बहन राज कौर को एक सेवानिवृत्त सैन्यकर्मी हरनाम सिंह ने गोद लिया था, जो बिना किसी समस्या के साथ रह रहे थे. हालांकि हरनाम सिंह अब इस दुनिया में नहीं रहे.

परिवार ने दावा किया कि लखबीर का किसी भी राजनीतिक संगठन से कोई संबंध नहीं था और वह कभी भी किसी राजनीतिक व्यक्ति के समर्थन में किसी राजनीतिक रैली में नहीं गए.उनकी बहन राज कौर ने कहा, ;मेरे भाई के पास घर से निकलने वक्त केवल 50 रुपये थे और इतने पैसे सिंघू सीमा तक पहुंचने के लिए पर्याप्त नहीं थे, लेकिन हो सकता है कि वह किसी ट्रैक्टर ट्रॉली या ट्रक से लिफ्ट लेकर वहां पहुंचा हो.’ headtopics.com

कोरोना काल में सिर्फ बीजेपी कार्यकर्ता लोगों के लिए काम कर रहे थेः जेपी नड्डा टीवी पत्रकारिता का एक शानदार पन्ना आज अलग हो गया... अखिलेश यादव का दावा, बीयर गोदाम के पते पर छपा यूपी टीईटी का पेपर - BBC Hindi

कौर ने दावा किया, ‘इसके अलावा, घटना से पहले मेरा भाई तीन दिनों से उन लोगों के साथ रह रहा था, जो लोग उसकी हत्या में संलिप्त हैं.’यह पूछे जाने पर कि लखबीर सिंघू बॉर्डर क्यों गए थे, तो राज कौर ने कहा, ‘हो सकता है कि किसी ने उसे (श्रम के लिए) अधिक पैसे की पेशकश की हो.’

मालूम हो कि दिल्ली-हरियाणा की सीमा (सिंघू बॉर्डर) पर किसानों के प्रदर्शनस्थल के पास एक व्यक्ति कीपीट-पीट कर हत्याकर दी गई और उनका हाथ काट दिया गया था.पुलिस ने बताया कि मृतक लखबीर सिंह पंजाब के तरणतारण जिले के चीमा खुर्द के रहने वाले और पेशे से मजदूर थे. उनकी आयु 35 वर्ष के आसपास है.

इंडियन एक्सप्रेसके मुताबिक, पुलिस ने शनिवार को कहा कि उन्होंने मामले में एक निहंग सिख सर्वजीत सिंह को गिरफ्तार किया है.पुलिस ने कहा कि सिंह ने लिंचिंग में कथित भूमिका के लिए शुक्रवार रात पुलिस के सामने आत्मसमर्पण करने के बाद उसे हिरासत में ले लिया.पुलिस सूत्रों ने बताया कि सिंह पिछले साल दिसंबर के पहले सप्ताह में उस समय सिंघू सीमा पर आए थे जब निहंग सिखों का दल वहां पहुंचा था. सीमा पर वह एक इकाई का नेता था जो घोड़ों की देखभाल करता था.

सोनीपत के पुलिस अधीक्षक (एसपी) जशनदीप सिंह रंधावा ने कहा, ‘एक निहंग सिख को हिरासत में लिया गया है. उसे अदालत में पेश किया जाएगा. हम हत्या में उसकी भूमिका की जांच कर रहे हैं. सिंघू सीमा पर पवित्र ग्रंथ को अपवित्र करने के दावे की अभी पुष्टि नहीं हुई है. यह जांच का विषय है.’ headtopics.com

शुक्रवार रात सामने आए कई वीडियो में सर्वजीत सिंह ने कथित तौर पर लखबीर सिंह की हत्या की जिम्मेदारी लेते हुए आरोप लगाया कि उन्होंने पवित्र ग्रंथ की बेअदबी की है.अन्य निहंगों ने दावा किया कि उसने पुलिस के समक्ष ‘आत्मसमर्पण’ कर दिया है, जबकि पुलिस का कहना है कि उक्त व्यक्ति को गिरफ्तार कर लिया गया है और उससे पूछताछ की जा रही है.

पुलिस के एक अधिकारी ने कहा, ‘कश्मीर सिंह के बेटे सरबजीत सिंह को गिरफ्तार कर लिया गया है जो पंजाब के गुरदासपुर जिले के विटवहा का रहने वाला है.’ अधिकारी ने कहा कि प्रारंभिक पूछताछ में सरबजीत ने दावा किया कि वह ‘पवित्र धार्मिक ग्रंथ की बेअदबी’ बर्दाश्त नहीं कर सका.’

हिमाचल प्रदेश ने मारी बाजी, देश में सौ प्रतिशत कोविड टीकाकरण वाला पहला राज्य बना कोरोना वायरस: भारत में अब तक ओमिक्रॉन संक्रमण के चार मामले सामने आए - BBC Hindi विदेश से आने वाले लिखवा रहे गलत पते-नंबर: बेंगलुरु, मेरठ, पटना और छत्तीसगढ़ में विदेश से आए 556 लोग लापता, ये लापरवाही ला सकती है तीसरी लहर

वायरल हुई वीडियो क्लिप में दिख रहा है कि निहंग उस व्यक्ति से पूछ रहे हैं कि वह कहां से आया है. व्यक्ति को मरने से पहले पंजाबी में कुछ कहते हुए और निहंगों से माफ करने की गुहार लगाते हुए सुना जा सकता है. वीडियो में दिखाई देता है कि निहंग लगातार उससे पूछ रहे हैं कि बेअदबी करने के लिए किसने उसे भेजा था.

उनमें से एक व्यक्ति यह कहते सुनाई दे रहा है कि व्यक्ति ‘पंजाबी’ है न कि बाहरी और इस मुद्दे को हिंदू-सिख का रंग नहीं दिया जाना चाहिए, जबकि अन्य धार्मिक नारे लगा रहे हैं.पुलिस ने शुक्रवार को अज्ञात लोगों के खिलाफ हत्या और सामान्य मंशा के आरोप में प्राथमिकी दर्ज की थी. पुलिस ने कहा था कि उन्हें शुक्रवार सुबह करीब 5 बजे सूचना मिली थी कि निहंगों ने एक व्यक्ति को फांसी पर लटकाकर बैरिकेड्स से बांध दिया है. पुलिस मौके पर पहुंची तो पीड़िता की मौत हो चुकी थी. निहंग सिखों और प्रदर्शनकारियों ने शुरू में शव पुलिस को सौंपने से इनकार कर दिया था.

इस मामले में करीब 15 दलित संगठनों ने राष्ट्रीय अनुसूचित जाति आयोग को एक ज्ञापन सौंपा और दोषियों को कड़ी सजा देने की मांग की.अखिल भारतीय खटीक समाज, अखिल भारतीय बेरवा विकास संघ, धनक कल्याण संघ और दलित कर्मचारियों और पेशेवरों के अन्य संगठनों समेत 15 दलित सगंठनों ने राष्ट्रीय अनुसूचित जाति आयोग के अध्यक्ष विजय सांपला को ज्ञापन सौंपा.

उन्होंने आयोग से इस मामले की निष्पक्ष जांच होने और दोषियों को कड़ी सजा सुनिश्चित करने की मांग की. राजनीतिक पार्टियों ने इस घटना की निंदा की और व्यापक जांच की मांग की.भाजपा नेताओं ने दावा किया कि यह घटना यह ‘उद्घाटित’ करती है कि ‘अराजकतावादी’ खुद को किसान नेता बता रहे हैं.

राष्ट्रीय अनुसूचित जाति आयोग ने शुक्रवार को हरियाणा पुलिस को किसान प्रदर्शन स्थल पर दलित व्यक्ति की हत्या के दोषियों के खिलाफ सख्त कार्रवाई करने को कहा है. सांपला ने हरियाणा पुलिस से 24 घंटे के भीतर प्राथमिक रिपोर्ट भी मांगी है.कृषि कानूनों के खिलाफ दिल्ली से लगती सीमाओं पर प्रदर्शन कर रहे किसान संगठनों की शीर्ष इकाई संयुक्त किसान मोर्चा (एसकेएम) ने बताया कि इस नृशंस हत्या की जिम्मेदारी निहंगों के समूह ने ली है.

गौरतलब है कि पिछले साल सितंबर में केंद्र द्वारा बनाए गए तीन कृषि कानूनों को वापस लेने की मांग को लेकर हजारों की संख्या में किसान दिल्ली सीमा के तीन जगहों- टिकरी, सिंघू और गाजीपुर- पर गत 10 महीने से प्रदर्शन कर रहे हैं. इन किसानों में अधिकतर पंजाब, हरियाणा और पश्चिमी उत्तर प्रदेश के हैं.

(समाचार एजेंसी भाषा से इनपुट के साथ) और पढो: द वायर हिंदी »

शंखनाद: Samajwadi Party की साइकिल पर बैठेंगी कितनी सवारी?

जैसे जैसे दिन बीत रहे हैं, उत्तर प्रदेश का रण धारदार होता जा रहा है, सत्ता पक्ष और विपक्ष अपने-अपने दल को बढ़ाने में लगे हुए हैं, गठबंधनों का दौर चल रहा है. इसी कड़ी में आज कांग्रेस की बागी नेता अदिति सिंह आज बीजेपी में शामिल हुईं तो दूसरी ओर आम आदमी पार्टी के संजय सिंह ने अखिलेश यादव से मुलाकात की. साथ ही कृष्णा पटेल वाली अपना दल पार्टी ने भी समाजवादी का दामन थाम लिया. यूं समझिए कि गठबंधन वाली राजनीति बहुत तेजी से विस्तारित हो गई है, ताकि पार्टियां अपने विरोधियों को मात दे सकें. देखिए शंखनाद का ये एपिसोड.

अगर धार्मिक आस्तिक में मानवता होता तो देश में दंगा जातिय हिंसा नरसंहार बलात्कार न होता, नास्तिक खुद भी जीता है दूसरों कोभी जीने देता है

अफगानिस्तान : कंधार की एक शिया मस्जिद में एक साथ तीन विस्फोट, 32 की मौत, 53 जख्मीएक चश्मदीद ने बताया कि शहर के केंद्र में मौजूद मस्जिद में शुक्रवार की नमाज के दौरान तीन विस्फोट हुए हैं. भारत की भुखमरी’ की ख़बरें, विश्व की सुर्ख़ियाँ बनने लगी हैं… क्या यही “नरेंद्र मोदी” और अमित शाह” की उपलब्धियां है…? अपने मजहब के शिया, अहमदिया बर्दाश्त नहीं हैं, इन्हें? कौन से इस्लाम का राज चाहिए इन्हें ,आतंकियों को जब शिया सुन्नी एक साथ नहीं रह सकते, तब अन्य धर्मों के साथ इन आतंकियों का गुजारा कैसे होगा

दशहरा उत्सव के बीच मथुरा के एक मंदिर में हुई रावण की आराधना, जानें पूरा मामलादशहरा उत्सव के बीच मथुरा के एक मंदिर में हुई रावण की आराधना, आयोजक बोले- राम को दिया था जीत का आशीर्वाद Dussehra

अनिश्चितकालीन ब्रेक के बाद स्टोक्स ने शुरू की ट्रेनिंग, एशेज से पहले वापसी की अटकलें तेजइंग्लैंड क्रिकेट टीम के ऑलराउंडर बेन स्टोक्स ने एक बार फिर से नेट्स में ट्रेनिंग शुरू कर दी है। यही कारण है कि एक बार फिर आगामी एशेज सीरीज में उनकी वापसी की अटकलें तेज हो गई हैं। वहीं इसी को लेकर उनकी टीम के साथी तेज गेंदबाज मार्क वुड ने बयान दिया है।

राजभर की BJP के साथ आने की अटकलें, यूपी में 'ब्रेकअप' की तैयारी में AIMIMभारतीय सुहेलदेव समाज पार्टी के अध्यक्ष ओमप्रकाश राजभर के अगुवाई में बने भागीदारी संकल्प मोर्चा 2022 के चुनावी मैदान में उतरने से पहले ही दरार पड़ती दिख रही है. बीजेपी के साथ राजभर के जाने के आसार के साथ ही असदुद्दीन ओवैसी की पार्टी ने भागीदारी मोर्चा से अलग होने की धमकी दे दी है.

आतंकियों ने दो गैर कश्मीरियों की हत्या की: श्रीनगर में बिहार के रेहड़ीवाले को गोली मारी, पुलवामा में यूपी के मिस्त्री की हत्या कीजम्मू-कश्मीर में आतंकियों ने शनिवार को एक बार फिर बाहरी नागरिकों की हत्या कर दी। आतंकियों ने श्रीनगर के ईदगाह इलाके में बिहार के एक रेहड़ीवाले को गोली मार दी। गंभीर स्थिति में उसे श्रीनगर के SMHS अस्पताल ले जाया गया, जहां डॉक्टरों ने उसे मृत घोषित कर दिया। मारे गए व्यक्ति का नाम अरविंद कुमार साह है। वह बिहार के बांका जिले का रहने वाला है। | Kashmir Terrorist Attack News and Updates; A Non Local Vendor From Bihar Killed By Terrorists In Srinagar NitishKumar ImRavinderRaina Aatngwadi ka jat aur dharm yehi hai. Puri duniy ko bata do. NitishKumar ImRavinderRaina बहुसंख्यक समाज मे नफरत फैलाने में ये अखबार का बहुत बड़ा हाथ है कश्मीर में अब तक 22 मुसलमानों को आतंकवादी ने मार डाला क्या वो भारतीय नही है या ये अखबार उन्हें मानता नही वरना इसकी फुटेज मुस्लिम की हत्या वाला भी हो सकता था

कोविड-19: एक दिन में संक्रमण के 15,981 नए मामले, 166 लोगों की जान गईभारत में कोविड-19 संक्रमण के कुल मामलों की संख्या 3,40,53,573 हो गई है और मृतक संख्या 4,51,980 है. विश्व में संक्रमण के कुल मामले बढ़कर 24 करोड़ से ज़्यादा हो गए हैं और अब तक 48.89 लाख से अधिक लोगों की जान जा चुकी है.