Rajyasabha, Congress, Rajya Sabha, Congress İn Rajya Sabha, राज्यसभा, कांग्रेस, राज्यसभा में कांग्रेस, Chhattisgarh, Rajasthan, Madhya Pradesh, Priyanka Gandhi

Rajyasabha, Congress

राज्यसभा : अप्रैल में खाली हो रही सीटों के लिए कांग्रेस नेताओं ने शुरू की जोड़तोड़

राज्यसभा में पहुंचने के लिए कांग्रेस नेताओं ने जोड़तोड़ शुरू कर दी है। अप्रैल में कांग्रेस शासित राज्यों छत्तीसगढ़,

22-02-2020 01:45:00

अप्रैल में कांग्रेस शासित राज्यों छत्तीसगढ़, राजस्थान और मध्यप्रदेश से कुल आठ सीटें खाली हो रही हैं। INCIndia priyankagandhi RahulGandhi rajyasabha

राज्यसभा में पहुंचने के लिए कांग्रेस नेताओं ने जोड़तोड़ शुरू कर दी है। अप्रैल में कांग्रेस शासित राज्यों छत्तीसगढ़,

छत्तीसगढ़ के बाद राजस्थान ने भी महासचिव प्रियंका गांधी वाड्रा को राज्यसभा भेजने की पेशकश की है। हालांकि प्रियंका के करीबियों का कहना है कि वह उत्तर प्रदेश पर ही फोकस रखना चाहती हैं।राजस्थान और मध्यप्रदेश से तीन-तीन और छत्तीसगढ़ से दो सीटों पर चुनाव होने हैं। कांग्रेस नेताओं के मुताबिक छत्तीसगढ़ की दोनों सीटें जीतने की पूरी संभावना है जबकि एक साथ चुनाव कराए जाने की स्थिति में राजस्थान और मध्यप्रदेश से दो-दो सीट जीतना पक्का है। विधायकों के प्राथमिकता के आधार पर वोटिंग से नफा-नुकसान हो सकता है।

Rang De India, A Campaign By Rang De and NDTV फ्रांस ने कहा, भारत को कोरोना दवा के उत्पादन में बड़ी भूमिका निभानी होगी कोरोना को लेकर आने वाले हफ्ते बहुत कठिन, कुछ जगह सामुदायिक संक्रमण हो रहा: एम्स निदेशक

जिन नेताओं को राज्यसभा भेजा जाना है उनमें महासचिव संगठन केसी वेणुगोपाल हैं जो लोकसभा का चुनाव नहीं लड़े थे। वहीं, लोकसभा चुनाव हारने वाले ज्योतिरादित्य सिंधिया भी इस कोशिश में हैं।पार्टी के सभी पदों का छोड़ने वाले सिंधिया मध्य प्रदेश में सक्रियता बनाए हैं। मध्यप्रदेश से दिग्विजय सिंह का नाम है लिहाजा उनकी कोशिश भी अपनी सीट बरकरार रखने की होगी।

राजस्थान से रिटायर होने वाले तीनों सदस्य भाजपा के श्रीराम नारायण, विजय गोयल और नारायण लाल पंचारिया हैं। राजस्थान से कांग्रेस के दो उम्मीदवार जीत सकते हैं। बिहार और दिल्ली के कार्यकारी प्रभारी शक्ति सिंह गोहिल भी राज्यसभा जाने नेताओं की सूची में हैं। झारखंड में पार्टी को जिताने वाले आरपीएन सिंह को राज्यसभा सीट का पुरस्कार मिल सकता है।

सारअप्रैल में कांग्रेस शासित राज्यों छत्तीसगढ़, राजस्थान और मध्यप्रदेश से कुल आठ सीटें खाली हो रही हैं। इन पर पांच से छह नेताओं को राज्यसभा भेजा जा सकता है।विस्तार राजस्थान और मध्यप्रदेश से कुल आठ सीटें खाली हो रही हैं। इन पर पांच से छह नेताओं को राज्यसभा भेजा जा सकता है।

विज्ञापनछत्तीसगढ़ के बाद राजस्थान ने भी महासचिव प्रियंका गांधी वाड्रा को राज्यसभा भेजने की पेशकश की है। हालांकि प्रियंका के करीबियों का कहना है कि वह उत्तर प्रदेश पर ही फोकस रखना चाहती हैं।राजस्थान और मध्यप्रदेश से तीन-तीन और छत्तीसगढ़ से दो सीटों पर चुनाव होने हैं। कांग्रेस नेताओं के मुताबिक छत्तीसगढ़ की दोनों सीटें जीतने की पूरी संभावना है जबकि एक साथ चुनाव कराए जाने की स्थिति में राजस्थान और मध्यप्रदेश से दो-दो सीट जीतना पक्का है। विधायकों के प्राथमिकता के आधार पर वोटिंग से नफा-नुकसान हो सकता है।

जिन नेताओं को राज्यसभा भेजा जाना है उनमें महासचिव संगठन केसी वेणुगोपाल हैं जो लोकसभा का चुनाव नहीं लड़े थे। वहीं, लोकसभा चुनाव हारने वाले ज्योतिरादित्य सिंधिया भी इस कोशिश में हैं।पार्टी के सभी पदों का छोड़ने वाले सिंधिया मध्य प्रदेश में सक्रियता बनाए हैं। मध्यप्रदेश से दिग्विजय सिंह का नाम है लिहाजा उनकी कोशिश भी अपनी सीट बरकरार रखने की होगी।



और पढो: Amar Ujala

राहुल गांधी को अप्रैल में फिर सौंपी जा सकती है कांग्रेस की कमानराहुल गांधी को कई बार मांग उठाए जाने के बाद 2017 में निर्विरोध अध्यक्ष चुना गया था, लेकिन 2019 के आम चुनावों में पार्टी की करारी हार के बाद उन्होंने अपने पद से इस्तीफा दे दिया था. Congratulations AmitShah ji भाई ये decide नहीं हुआ , ये तो लिखा हुआ है 50 साल पहले ही !! नियति है , सर्व विदित ।। की राहुल गांधी बनेंगे, फिर से बनेंगे , और बनते रहेंगे !! April Fool banane ke liye

राज्यसभा में सख्त होंगे नियम, हंगामा करने वाले सांसदों से छिन सकता है वोटिंग का अधिकारलोकसभा के मुकाबले बीते दिनों राज्यसभा में ज्यादा हंगामा देखने को मिला, जिसका सीधा असर उच्च सदन के सरकारी कामकाज और उत्पादकता पर पड़ा है. ऐसे में अगर नए नियम लागू होते हैं तो सदन में हंगामा करने वालों सांसदों को इसके गंभीर परिणाम भुगतने पड़ सकते हैं. Rahulshrivstv वोटिंग ही नही सदस्यता भी निरस्त होनी चाहिए Rahulshrivstv Chud jaye Indian democracy,,,mujhe kya frak parta he Rahulshrivstv जे बात।

राज्‍यसभा में किया हंगामा तो छिन सकता है माननीयों का किसी विधेयक पर वोटिंग का अधिकारसंसद के उच्‍च सदन (Upper House) की कार्यवाही में रुकावट बड़ी समस्‍या है. वहीं, संख्‍याबल के मामले में लोकसभा (Lok Sabha) से राज्‍यसभा में ज्‍यादा मजबूत विपक्ष आए दिन हंगामा करता नजर आता है. अब राज्‍यसभा ( Rajya Sabha ) सदस्‍यों को सदन में हंगामा करना भारी पड़ सकता है. राज्यसभा की जनरल परपज कमेटी (JPC) ने उच्च सदन से जुड़े नियमों में प्रस्तावित संशोधनों की सिफारिशों की समीक्षा कर बदलाव पर विचार किया. | nation News in Hindi - हिंदी न्यूज़, समाचार, लेटेस्ट-ब्रेकिंग न्यूज़ इन हिंदी 👍👍👍👍 बहुत बढिया। ये लोगों ने नही चुने हुए पिछले दरवाजे से आते है। हंगामा करके कामकाज के लाखो रुपये बर्बाद करते है। इनकी सदस्यता भी रद होनी चाहिए। साहब कुछ टैक्स रेट ही बढ़ा कर एक करोड़ तक के व्यापारी की जीएसटी लेट फीस व्याज पेनाल्टी कम कर दो क्यों छोटे व्यापारी को मारने मे लगे हो |

40 केंद्रीय मंत्री अप्रैल में फिर करेंगे जम्मू-कश्मीर का दौरा, विकास योजनाओं की लेंगे जानकारीकरीब 40 केंद्रीय मंत्री अप्रैल में फिर से जम्मू-कश्मीर का दौरा कर सकते हैं। ये मंत्री केंद्र सरकार और केंद्र शासित प्रशासन

अप्रैल में फिर से राहुल गांधी संभाल सकते हैं कांग्रेस की कमान, पार्टी में उठी चुनाव की मांगपार्टी के मुख्य प्रवक्ता रणदीप सुरजेवाला ने कहा कि दीक्षित और बयानबाजी करने वाले अन्य नेता ज्ञान देने की बजाय अपने क्षेत्र में ध्यान दें और इस बारे में सोचें कि वे चुनावों में क्यों हारे ?

भोपाल में कांग्रेस विधायक आरिफ मसूद ने घरों के बाहर लगाए CAA विरोधी पोस्टरभोपाल मध्य विधानसभा सीट से कांग्रेस विधायक आरिफ मसूद ने अपने विधानसभा क्षेत्र की कॉलोनियों में जाकर घरों के बाहर CAA विरोधी पेम्पलेट लगवाए और लोगों से नागरिकता संशोधन कानून का विरोध करने को भी कहा. ReporterRavish १९४७ में किसीने सोचा होगा कि, कुछ लोग जिस थालीमे खाते हैं और ऊसीमे छेद करेंगे? उनकी मर्ज़ी लेकिन, फिर ईतना ध्यान रखे कि गलती दोबारा दोहरायी नहीं जायेंगीं. भारतमाता की जय, वंदे मातरम्, जय श्रीराम, छत्रपति शिवाजी महाराज की जय, जयहिंद 🇮🇳🇮🇳🇮🇳 ReporterRavish मध्य प्रदेश में भाजपा की सरकार जाते ही यहां पर जिहादियों का प्रभाव बढ़ गया है। ReporterRavish Hey hey Anpadh log (mansikta se)