Karnataka, Goa, Rajasthan, Rajasthan Leader Of Opposition Gulabchand Kataria, Rajasthan Government, Karnataka Political Crisis

Karnataka, Goa

राजपाटः उलट पुलट

राजपाटः उलट पुलट

13.7.2019

राजपाटः उलट पुलट

राजस्थान की कांग्रेस सरकार के मुखिया मुख्यमंत्री अशोक गहलोत बसपा और निर्दलीय विधायकों के साथ ही अपने दल के कई वरिष्ठ विधायकों का दबाव भी महसूस कर रहे हैं। विधानाससभा का बजट सत्र चल रहा है, इसमें ही कई विधायकों की पीड़ा उजागर भी हो रही है।

वरिष्ठ विधायकों में से एक दर्जन तो ऐसे हैं जो पूर्व में मंत्री रह चुके हैं। ऐसे हालात में राजस्थान की कांग्रेस सरकार में अब शासन में सब कुछ उलट पुलट के माहौल में बदल गया है। कांग्रेस की सरकार में वैसे भी सत्ता के दो गुट पहले से ही हैं। कांग्रेस में एक खेमा तो पूरी तरह से मुख्यमंत्री गहलोत के साथ है तो दूसरा खेमा उपमुख्यमंत्री और प्रदेश अध्यक्ष सचिन पायलट के साथ खड़ा हुआ है।

मुख्यमंत्री गहलोत अपने विधायकों को साथ लेकर चलने में माहिर हैं। उन्होंने तो बसपा और निर्दलीय विधायकों को एक रखा हुआ है। राज्य की कांग्रेस सरकार और संगठन में दो खेमों की भिड़ंत को भाजपा पूरे मजे लेकर देख रही है। राज्य में सत्ताधारी दल के अंदर जो उलट-पुलट की खबरें घूम रही हैं उसका असर तो प्रशासनिक कामकाज में भी दिख रहा है। राहुल गांधी के इस्तीफे के बाद तो अब प्रदेश के विधायकों की निगाहें इस पर टिकी हुई है कि आलाकमान में क्या होगा। कांग्रेस अध्यक्ष अगर गैर गांधी बना तो फिर विवाद भी तय है और उसका असर राजस्थान की सियासत पर पड़ेगा। उसके बाद प्रदेश में कांग्रेस नेताओं की निष्ठा में बदलाव देखने को मिलेगा।

Hindi News से जुड़े अपडेट और व्‍यूज लगातार हासिल करने के लिए हमारे साथ फेसबुक पेज और ट्विटर हैंडल के साथ लिंक्डइन पर जुड़ें और डाउनलोड करें Hindi News App

और पढो: Jansatta

कर्नाटक का सियासी घमासान : सुप्रीम कोर्ट के आदेश के बाद बागी विधायकों ने की स्पीकर से मुलाकात Karnataka Crisis: कर्नाटक के 10 बागी विधायकों ने बृहस्पतिवार को भारी सुरक्षा के बीच अपना इस्तीफा कन्फर्म करने के लिए विधानसभा में स्पीकर के आर रमेश (K R Ramesh kumar) से मुलाकात की.बता दें कि इससे पहले आज ही सुप्रीम कोर्ट ने गुरुवार को कांग्रेस और जेडीएस के 10 बागी विधायकों की एक याचिका पर सुनवाई करते हुए कहा था कि स्पीकर को उनके इस्तीफों पर आज ही फैसला लेना होगा. इसके साथ ही सुप्रीम कोर्ट ने बागी विधायकों से कहा है कि वे आज शाम छह बजे तक स्पीकर के सामने पेश हों.

political crisis in karnataka and goa, live updates - कांग्रेस-जेडीएस के बागी विधायकों के साथ मुलाकात के बाद कर्नाटक के विधानसभा स्पीकर केआर रमेश कुमार प्रेस कॉन्फ्रेंस का आयोजन करेंगे। | Navbharat Timesकर्नाटक का सियासी ड्रामा अभी खत्म भी नहीं हुआ कि गोवा में भी सियासी नाटकबाजी शुरू हो गई है। कर्नाटक में संकट में घिरी कांग्रेस को गोवा में भी बड़ा झटका लगा है। बुधवार को यहां कांग्रेस के 10 विधायक अचानक बीजेपी में शामिल हो गए। गोवा के सीएम प्रमोद सावंत ने कांग्रेस के सभी 10 बागी विधायकों से मुलाकात कर उन्हें बीजेपी में शामिल कराया। दूसरी तरफ कर्नाटक में कांग्रेस-जेडीएस के बागी विधायकों के इस्तीफों पर कार्यवाही को लेकर सुनवाई करते हुए सुप्रीम कोर्ट ने बागी विधायकों को शाम 6 बजे तक स्पीकर के सामने पेश होने के लिए कहा। पल-पल के अपडेट के लिए बने रहिए हमारे साथ....

गोवा: 10 कांग्रेस MLA बीजेपी में, गोवा फॉरवर्ड पार्टी के दबाव से मुक्त हुई सरकारगोवा में 10 कांग्रेसी विधायकों के बीजेपी में शामिल होने के बाद पार्टी बहुमत के जादुई आंकड़े से ज्यादा विधायकों की संख्या हासिल करने में कामयाब हो गई है. साथ ही जीएफपी और निर्दलीय विधायकों के दबाव से भी बीजेपी सरकार को मुक्ति मिल गई है. Congratulations Paisa ho to kya kuch nhi ho sakta h BC congress end is near

कर्नाटक संकट: विधायकों के इस्तीफे पर बोले देवगौड़ा- उन्हें पैसा दिया गया, हालात इमरजेंसी से भी बदतर16 विधायकों के इस्तीफे पर देवगौड़ा ने कहा कि बीजेपी किसी भी तरह दक्षिण के राज्य में सत्ता में आना चाहती है. देवगौड़ा ने कहा, जब से कुमारस्वामी ने कांग्रेस के समर्थन से सीएम पद संभाला है तभी से राज्य के बीजेपी नेता बीएस येदियुरप्पा हमारे विधायकों को तोड़ने की कोशिश कर रहे हैं. येदियुरप्पा 2009 से ऑपरेशन कमल को खींचने की कोशिश कर रहे हैं. हालांकि भाजपा के पास बहुमत नहीं है, तब उन्होंने हमारे 10 विधायकों से इस्तीफा दिलवा दिया. waw ishko sab kuch patahe pahelai aye kam karchukahe, congress ne inko kina paisa diya tha bjp ke sath na janeki, Right NDTV और कांग्रेस और देवेगौड़ा के पास इसके अलावा कोई कहानी नही। पैसा दिया गया। 😜😂😂

स्पाइसजेट के टेक्नीशियन की मौत के मामले की जांच करेगा DGCAस्पाइसजेट के टेक्नीशियन की मौत के मामले की जांच नागर विमानन महानिदेशालय (डीजीसीए) करेगा. बता दें कि कोलकाता में बुधवार (10 जुलाई) को टेक्नीशियन रोहित पांडेय एयरक्राफ्ट में काम कर रहा था. तभी वह मेन लैंडिंग गियर डोर में फंस गया और मौत हो गई थी.

मनोहर परिकर के बेटे उत्पल भाजपा से निराश, कहा- अलग राह पर चल रही है पार्टीगोवा में कांग्रेस के 10 विधायकों के भाजपा में शामिल किए जाने के कदम की सत्तारूढ़ पार्टी के अंदर ही कुछ लोग निंदा कर रहे भाजपा देश हित में कार्य कर रही है और करती रहेगी । BJP4India Sahi kaha

टिप्पणी लिखें

Thank you for your comment.
Please try again later.

ताज़ा खबर

समाचार

13 जुलाई 2019, शनिवार समाचार

पिछली खबर

दुनिया मेरे आगेः सांध्य बेला में

अगली खबर

राजपाटः आसमान से गिरे