Delhi, Delhincr, Hospital, Crimenews, Delhi News, Delhi Police, Rape Victim, Exclusive, Delhi Hospital, Crime İn Delhi, दिल्ली समाचार, Delhi Crime News İn Hindi, Latest Delhi Crime News İn Hindi

Delhi, Delhincr

राजधानी फिर शर्मसार: लहूलुहान थी दुष्कर्म पीड़ित बच्ची, पांच अस्पतालों में घंटों चक्कर काटता रहा पिता

राजधानी में एक बार फिर इंसानियत शर्मसार हो गई है।

24-10-2021 03:45:00

राजधानी फिर शर्मसार: लहूलुहान थी दुष्कर्म पीड़ित बच्ची, पांच अस्पतालों में घंटों चक्कर काटता रहा पिता Delhi Delhi NCR Hospital CrimeNews Delhi Police ArvindKejriwal PMOIndia

राजधानी में एक बार फिर इंसानियत शर्मसार हो गई है।

सरदार पटेल अस्पताल से लेडी हार्डिंग अस्पताल, आगे कलावती, फिर लेडी हार्डिंग..., खून से लथपथ बच्ची को लेकर नई दिल्ली और मध्य दिल्ली में स्थित इन अस्पतालों के बीच उसे एंबुलेंस से भटकना पड़ा। आखिरकार, डॉ. राम मनोहर लोहिया अस्पताल में वह अपनी बेटी को भर्ती करा पाया। आईसीयू में भर्ती मासूम की 36 घंटे बाद भी हालत नाजुक बनी हुई है।

टीवी पत्रकारिता का एक शानदार पन्ना आज अलग हो गया... विनोद दुआ: आने वाली नस्लें याद रखेंगी, एक ऐंकर ऐसा भी था - BBC News हिंदी भारत में 'Omicron'का एक और केस आया, जिम्बाब्वे से लौटा था शख्स, कुल संख्या हुई तीन

बच्ची की सेहत पर सवाल करते ही शनिवार को पिता रो पड़े। सिसकते हुए बताया कि शुक्रवार सुबह करीब साढ़े 10 बजे पत्नी ने घटना की जानकारी दी तो भागकर घर पहुंचा। घर के बाहर भीड़ जमा थी और किसी ने घटना की जानकारी पुलिस और एंबुलेंस को दे दी थी। एंबुलेंस के मौके पर पहुंचते ही वह बच्ची को लेकर अस्पताल भागा। करीब 11 बजे सरदार पटेल अस्पताल पहुंचा। वहां कहा गया कि बच्ची का इलाज यहां संभव नहीं है, लेडी हार्डिंग अस्पताल जाना पड़ेगा। इस दौरान अस्पतालकर्मियों से मिन्नतें करता रहा, लेकिन किसी ने उसकी नहीं सुनी। थक हारकर करीब 12 बजे लेडी हार्डिंग अस्पताल पहुंचा। वहां से कलावती अस्पताल जाने की सलाह दी गई।

कलावती अस्पताल में कहा गया कि दूसरे इलाके का मामला है। उसे वापस लेडी हार्डिंग जाने को कहा गया। इस बीच बच्ची दर्द से बेहाल थी। बेटी का सिर थामे पिता उसे वापस लेडी हार्डिंग अस्पताल ले गया, जहां से उसे राम मनोहर लोहिया अस्पताल ले जाने की सलाह दी गई। दोपहर करीब 1:30 बजे राम मनोहर लोहिया अस्पताल में भर्ती करा पाया। पहले बच्ची को स्थिर करने के लिए प्राथमिक इलाज किया और फिर शाम छह बजे ऑपरेशन करने के बाद रात 11:00 बजे उसे गहन चिकित्सा कक्ष में भेज दिया गया। बच्ची की हालत अब भी गंभीर है। headtopics.com

यूं लगाया 15 किमी का चक्कररणजीत नगर से सरदार पटेल अस्पताल, पटेल नगर करीब 2.8 किमीसरदार पटेल अस्पताल से लेडी हार्डिंग अस्पताल करीब 8.8 किमीलेडी हार्डिग अस्पताल से कलावती अस्पताल करीब 5.50 किमीकलावती से लेडी हार्डिंग अस्पताल करीब 5.50 किमीलेडी हार्डिंग से राम मनोहर लोहिया अस्पताल करीब 2.5 किमी

रिक्शा चलाता है पिताबच्ची का पिता माल ढोने वाला रिक्शा चलाता है, जबकि मां घरों में साफ-सफाई का काम करती है। बच्ची की 11 महीने की छोटी बहन है। पिता ने बताया कि शुक्रवार सुबह बेटी गुरुद्वारे में लंगर लेने गई थी। एक बार लंगर लेकर घर पहुंचाया और उसके बाद दोबारा चली गई। वापस लौटने पर खून से लथपथ थी। पूछताछ में मां को बताया कि रास्ते में 20 से 25 साल का युवक उसे कॉपी-किताब देने का लालच देकर अपने साथ एक कमरे में ले गया, जहां उसके साथ गलत काम किया। युवक के वहां से जाने के बाद बच्ची किसी तरह घर पहुंची।

सीसीटीवी में कैद हुआ आरोपीअस्पताल से घटना की जानकारी मिलने के बाद पुलिस ने मामला दर्ज कर इलाके में लगे सीसीटीवी कैमरे की फुटेज को खंगाला। एक कैमरे में आरोपी कैद हो गया है। हालांकि उसने मास्क लगा रखा था। वह बच्ची को अपने साथ ले जाता दिख रहा है। ।बेटे की मौत के गम से उबरा नहीं कि टूटा दुखों का पहाड़

पिछले साल दिल में छेद होने की वजह से सात साल के बेटे की मौत हो गई थी। जीबी पंत अस्पताल में ऑपरेशन के बाद भी उसे बचा नहीं पाए।आरोपी की गिरफ्तारी न होने पर प्रदर्शनघटना के करीब 36 घंटे बाद भी आरोपी की गिरफ्तारी नहीं हो सकी है। पुलिस को मामले में कोई ठोस सुबूत नहीं मिल सका है। परिजनों समेत स्थानीय लोगों में भी रोष है। देर शाम आरोपी की गिरफ्तारी न होने पर आक्रोशित परिजनों ने स्थानीय थाने पर प्रदर्शन किया। headtopics.com

भास्कर LIVE अपडेट्स: वरिष्ठ पत्रकार विनोद दुआ का 67 साल की उम्र में निधन, पोस्ट कोविड बीमारियों के कारण ICU में भर्ती थे सियासी किस्सा- 5 : UP का एक ऐसा मुख्यमंत्री जिसका पता ढूंढने में पुलिस को लग गए थे 2 घंटे गुजरात में ओमिक्रॉन का पहला मामला: जिम्बाब्वे से जामनगर लौटे 72 वर्षीय शख्स के जीनोम सैंपल में पुष्टि, देश में तीन हुए ओमिक्रॉन वैरिएंट के मामले

दिल्ली महिला आयोग ने पुलिस को दिया नोटिसदिल्ली महिला आयोग ने मामले का संज्ञान लेते हुए दिल्ली पुलिस को नोटिस जारी किया है। आयोग ने पुलिस से मामले में तत्काल कार्रवाई करने को कहा है। साथ ही दर्ज प्राथमिकी का ब्योरा मांगा है। दिल्ली महिला आयोग की अध्यक्ष स्वाति मालीवाल ने कहा कि वह घटना से काफी दुखी हैं। यह बड़ी चिंता और शर्म की बात है कि हमें छोटे बच्चों के साथ बार-बार होने वाले यौन हमले के ऐसे मामलों से गुजरना पड़ रहा है। यह व्यवस्था की पूर्ण विफलता है।

विस्तार रणजीत नगर इलाके में एक युवक ने छह साल की मासूम को बंधक बनाकर न सिर्फ दुष्कर्म किया, बल्कि विरोध करने पर मारपीट भी की। दर्द से कराहती बच्ची की पीड़ा यहीं खत्म नहीं हुई। बेटी को लेकर बेबस पिता दिल्ली के 5 नामचीन अस्पतालों के बीच करीब 15 किमी और ढाई घंटे तक चक्कर काटता रहा, लेकिन इलाज देने के बजाय उसे दूसरे अस्पतालों में टरकाया जाता रहा।

विज्ञापनसरदार पटेल अस्पताल से लेडी हार्डिंग अस्पताल, आगे कलावती, फिर लेडी हार्डिंग..., खून से लथपथ बच्ची को लेकर नई दिल्ली और मध्य दिल्ली में स्थित इन अस्पतालों के बीच उसे एंबुलेंस से भटकना पड़ा। आखिरकार, डॉ. राम मनोहर लोहिया अस्पताल में वह अपनी बेटी को भर्ती करा पाया। आईसीयू में भर्ती मासूम की 36 घंटे बाद भी हालत नाजुक बनी हुई है।

बच्ची की सेहत पर सवाल करते ही शनिवार को पिता रो पड़े। सिसकते हुए बताया कि शुक्रवार सुबह करीब साढ़े 10 बजे पत्नी ने घटना की जानकारी दी तो भागकर घर पहुंचा। घर के बाहर भीड़ जमा थी और किसी ने घटना की जानकारी पुलिस और एंबुलेंस को दे दी थी। एंबुलेंस के मौके पर पहुंचते ही वह बच्ची को लेकर अस्पताल भागा। करीब 11 बजे सरदार पटेल अस्पताल पहुंचा। वहां कहा गया कि बच्ची का इलाज यहां संभव नहीं है, लेडी हार्डिंग अस्पताल जाना पड़ेगा। इस दौरान अस्पतालकर्मियों से मिन्नतें करता रहा, लेकिन किसी ने उसकी नहीं सुनी। थक हारकर करीब 12 बजे लेडी हार्डिंग अस्पताल पहुंचा। वहां से कलावती अस्पताल जाने की सलाह दी गई। headtopics.com

कलावती अस्पताल में कहा गया कि दूसरे इलाके का मामला है। उसे वापस लेडी हार्डिंग जाने को कहा गया। इस बीच बच्ची दर्द से बेहाल थी। बेटी का सिर थामे पिता उसे वापस लेडी हार्डिंग अस्पताल ले गया, जहां से उसे राम मनोहर लोहिया अस्पताल ले जाने की सलाह दी गई। दोपहर करीब 1:30 बजे राम मनोहर लोहिया अस्पताल में भर्ती करा पाया। पहले बच्ची को स्थिर करने के लिए प्राथमिक इलाज किया और फिर शाम छह बजे ऑपरेशन करने के बाद रात 11:00 बजे उसे गहन चिकित्सा कक्ष में भेज दिया गया। बच्ची की हालत अब भी गंभीर है।

यूं लगाया 15 किमी का चक्कररणजीत नगर से सरदार पटेल अस्पताल, पटेल नगर करीब 2.8 किमीसरदार पटेल अस्पताल से लेडी हार्डिंग अस्पताल करीब 8.8 किमीलेडी हार्डिग अस्पताल से कलावती अस्पताल करीब 5.50 किमीकलावती से लेडी हार्डिंग अस्पताल करीब 5.50 किमीलेडी हार्डिंग से राम मनोहर लोहिया अस्पताल करीब 2.5 किमी

उत्तराखंड में मोदी की मेगा रैली: प्रधानमंत्री ने 18 हजार करोड़ की योजनाओं का शिलान्यास किया, बोले- विकास की वजह से केदारनाथ में श्रद्धालु बढ़े Elon Musk के ट्वीट से पता चला क्यों उनका फेवरेट क्रिप्टो टोकन है Dogecoin कोरोना देश में LIVE: दक्षिण अफ्रीका से चंडीगढ़ लौटी महिला के खिलाफ FIR, होम क्वारैंटाइन नियमों को तोड़ने का आरोप

रिक्शा चलाता है पिताबच्ची का पिता माल ढोने वाला रिक्शा चलाता है, जबकि मां घरों में साफ-सफाई का काम करती है। बच्ची की 11 महीने की छोटी बहन है। पिता ने बताया कि शुक्रवार सुबह बेटी गुरुद्वारे में लंगर लेने गई थी। एक बार लंगर लेकर घर पहुंचाया और उसके बाद दोबारा चली गई। वापस लौटने पर खून से लथपथ थी। पूछताछ में मां को बताया कि रास्ते में 20 से 25 साल का युवक उसे कॉपी-किताब देने का लालच देकर अपने साथ एक कमरे में ले गया, जहां उसके साथ गलत काम किया। युवक के वहां से जाने के बाद बच्ची किसी तरह घर पहुंची।

सीसीटीवी में कैद हुआ आरोपीअस्पताल से घटना की जानकारी मिलने के बाद पुलिस ने मामला दर्ज कर इलाके में लगे सीसीटीवी कैमरे की फुटेज को खंगाला। एक कैमरे में आरोपी कैद हो गया है। हालांकि उसने मास्क लगा रखा था। वह बच्ची को अपने साथ ले जाता दिख रहा है। ।बेटे की मौत के गम से उबरा नहीं कि टूटा दुखों का पहाड़

पिछले साल दिल में छेद होने की वजह से सात साल के बेटे की मौत हो गई थी। जीबी पंत अस्पताल में ऑपरेशन के बाद भी उसे बचा नहीं पाए।आरोपी की गिरफ्तारी न होने पर प्रदर्शनघटना के करीब 36 घंटे बाद भी आरोपी की गिरफ्तारी नहीं हो सकी है। पुलिस को मामले में कोई ठोस सुबूत नहीं मिल सका है। परिजनों समेत स्थानीय लोगों में भी रोष है। देर शाम आरोपी की गिरफ्तारी न होने पर आक्रोशित परिजनों ने स्थानीय थाने पर प्रदर्शन किया।

दिल्ली महिला आयोग ने पुलिस को दिया नोटिसदिल्ली महिला आयोग ने मामले का संज्ञान लेते हुए दिल्ली पुलिस को नोटिस जारी किया है। आयोग ने पुलिस से मामले में तत्काल कार्रवाई करने को कहा है। साथ ही दर्ज प्राथमिकी का ब्योरा मांगा है। दिल्ली महिला आयोग की अध्यक्ष स्वाति मालीवाल ने कहा कि वह घटना से काफी दुखी हैं। यह बड़ी चिंता और शर्म की बात है कि हमें छोटे बच्चों के साथ बार-बार होने वाले यौन हमले के ऐसे मामलों से गुजरना पड़ रहा है। यह व्यवस्था की पूर्ण विफलता है।

आपकी राय हमारे लिए महत्वपूर्ण है। खबरों को बेहतर बनाने में हमारी मदद करें।खबर में दी गई जानकारी और सूचना से आप संतुष्ट हैं?हांखबर की भाषा और शीर्षक से आप संतुष्ट हैं?हांखबर के प्रस्तुतिकरण से आप संतुष्ट हैं?हांखबर में और अधिक सुधार की आवश्यकता है? और पढो: Amar Ujala »

शंखनाद: Samajwadi Party की साइकिल पर बैठेंगी कितनी सवारी?

जैसे जैसे दिन बीत रहे हैं, उत्तर प्रदेश का रण धारदार होता जा रहा है, सत्ता पक्ष और विपक्ष अपने-अपने दल को बढ़ाने में लगे हुए हैं, गठबंधनों का दौर चल रहा है. इसी कड़ी में आज कांग्रेस की बागी नेता अदिति सिंह आज बीजेपी में शामिल हुईं तो दूसरी ओर आम आदमी पार्टी के संजय सिंह ने अखिलेश यादव से मुलाकात की. साथ ही कृष्णा पटेल वाली अपना दल पार्टी ने भी समाजवादी का दामन थाम लिया. यूं समझिए कि गठबंधन वाली राजनीति बहुत तेजी से विस्तारित हो गई है, ताकि पार्टियां अपने विरोधियों को मात दे सकें. देखिए शंखनाद का ये एपिसोड.

DelhiPolice ArvindKejriwal PMOIndia Free Minister Mr Kejriwal ji ko pkdo or pucho DelhiPolice ArvindKejriwal PMOIndia जिस मरीज की जान बच सकती हैं सरकारी हॉस्पिटल में चक्कर काटकर अपना प्राण त्याग देता हैं। DelhiPolice ArvindKejriwal PMOIndia भारत में सरकारी हॉस्पिटल की व्यवस्था बहुत खराब हैं। मरीज से पहले पर्ची कटवाना जरूरी हैं x- ray, diagnostic, CT scane etc हर के चेकअप के लिए अलग-अलग विंडो में जा कर पर्ची कटवानी पडती हैं। सरकारी हॉस्पिटल में सफाई देख कर 🤮 होती हैं।

DelhiPolice ArvindKejriwal PMOIndia जय केजरीवाल की सब दल सब नेता एक ही डाई के बने है DelhiPolice ArvindKejriwal PMOIndia दिल्ली सरकार के अस्पताल इलाज नही कर सके और गरीब को परेशान करते रहे। और महिला आयोग दिल्ली पुलिस को नोटिस दे रही है। सिर्फ कागजी कार्यवाही और कुछ नही। SwatiJaiHind DelhiPolice ArvindKejriwal PMOIndia ArvindKejriwal

यूपी में फिर से प्रशासनिक फेरबदल, 14 IPS अधिकारियों के हुए ट्रांसफरउत्तर प्रदेश में योगी सरकार ने एक बार फिर से बड़ा प्रशासनिक फेरबदल किया है. सरकार ने प्रदेश में 14 आईपीएस अधिकारियों का ट्रांसफर कर दिया है. अनुराग वत्स को बाराबंकी का एसपी बनाया गया है.

शिवसेना न छोड़ते तो राज्यसभा में होते, पत्रकार रहे हो फिर भी कर रहे 'थेथरई'टीवी डिबेट में भाजपा प्रवक्ता और कांग्रेस प्रवक्ता के बीच की जुबानी जंग काफी तेज हो गई। एंकर ने दोनों को रोकने की भी कोशिश की लेकिन दोनों नहीं रुके।

China Covid Cases: चीन में भारत से दोगुने से भी ज्यादा वैक्सीनेशन, फिर कोरोना के मामले बढ़ क्यों रहे? टेंशन में दुनियाचीन में कोरोना के तेजी से बढ़ते मामलों से हड़कंप मचा हुआ है। राजधानी बीजिंग समेत कई शहरों में बड़े पैमाने पर लोगों की जांच की जा रही है। जिन व्यक्तियों को संक्रमित पाया जा रहा है, उनके संपर्क में आए लोगों की जांच की जा रही है। वहीं ऐसे लोगों और उनके रहने वाले इलाकों को सील भी किया जा रहा है। Bhasmasur getting out of control. Bhasm to ab hona padega. koi tension nahi chinese vaccine tha toh yehi hoga जय हिन्द🇮🇳😂जैसे भारत ने खटारा वैक्सिन का श्रेय भाजपा नेतृत्व ने लिया है वैसी ही खटारा वैक्सीन चीन में भी लगी है जो १२ माह से १६ माह तक कारगर है अगर आगे कि विकसित वैक्सिन नहीं लगाई तो भारत में ख़तरा ज़्यादा होगा😂😂😂

ट्रेन में पेंट्री सर्विस: ट्रेनों में 18 महीने बाद फिर परोसा जाएगा ताजा खाना, पिछले साल कोरोना के चलते रोक लगी थीरेल यात्रियों के लिए अच्छी खबर हैं। जल्द ही ट्रेनों में सफर करते हुए आप गर्म खाने का मजा ले सकेंगे। रेलवे की यात्री सुविधा कमेटी ट्रेनों में ऑन बोर्ड कैटरिंग सर्विस समेत कई दूसरी सुविधाएं एक बार फिर बहाल करने जा रही है। ट्रेनों में कोरोना की पहली लहर के बाद से ही पेंट्री की केटरिंग पर रोक है। अब 18 महीने बाद इसे फिर से शुरू किया जा सकता है। | railway to provide Food will soon be available through pantry car SriSri DrewBarrymore RNTata2000 Swamy39 please help me baba. I am in very much pain. Please help me., यह तो काफी दिन पहले शुरू हो गई थी आप यह सोच ना अब दे रहे हैं नविन। लोहमार्ग किती झाले? नवीन रेल्वेस्थानक किती।

UN में पाक ने फिर से उठाया कश्मीर में मानवाधिकार हनन का मुद्दा, भारत ने दिया करारा जवाबसंयुक्त राष्ट्र महासभा की तृतीय समिति की बैठक में पाकिस्तान पर भारत ने करारा पलटवार किया है। इस मीटिंग में पहली बार संयुक्त राष्ट्र क्षेत्रीय समूह ने चीन के शिंजियांग में मानवाधिकार हनन रोकने और वहां संयुक्त राष्ट्र जांचकर्ताओं को फौरन जाने देने की मांग की है।

BJP ने हिंदुस्तान को बांटा, Farooq Abdullah ने फिर अलापा धारा 370 का रागअमित शाह के कश्मीर दौरे पर फारुख अब्दुल्ला ने आज तक संवाददाता सुनील जी भट्ट से एक्सक्लूसिव बात की है. फारुख अब्दुल्ला ने कहा कि जब तक धारा 370 की वापसी नहीं होती, घाटी में शांति नहीं लौटने वाली है. शाह के दौरे पर बोले फारुख- वो आए हैं तो यहां की स्थिति देखें. जो लोग कहते थे 370 हटने के बाद स्थिति ठीक हो गई है, उन्हें अब जवाब देने की जरूरत है. बीजेपी जो कहती थी वो घाटी में कर नहीं सकी. शाह को उन मुस्लमानों के घर जाना चाहिए जिन्हें आतंकियों ने मारा है. बीजेपी ने हिंदुस्तान को बांटा है. आज चुनाव जीतने के लिए बीजेपी हिंदू को अलग और मुस्लमान को अलग कर रहे हैं. देखें वीडियो. फ़ारुक अब्दुल्ला कितने हिंदूओ के घर गये जिनकी हत्या जिहादीओ द्वारा की गई बताओ फ़िर ग्रहमन्त्री को मुस्लिम परिवारो मे जाने की नशीहत देना पैर कब्र में निगाहें तख्त पर Iska matlab kashmir pakistan me Mila diya jaye to tumhe shanti milegi?