यूपी: कांग्रेस अध्यक्ष अजय कुमार लल्लू को क्यों नहीं मिल पा रही है ज़मानत

अजय कुमार लल्लू पिछले दो हफ़्ते से लखनऊ की जेल में बंद हैं

03-06-2020 19:00:00

यूपी: कांग्रेस अध्यक्ष अजय कुमार लल्लू को क्यों नहीं मिल पा रही है ज़मानत

अजय कुमार लल्लू पिछले दो हफ़्ते से लखनऊ की जेल में बंद हैं

आपके सवालकोरोना वायरस क्या है?लीड्स के कैटलिन सेसबसे ज्यादा पूछे जाने वालेबीबीसी न्यूज़स्वास्थ्य टीमकोरोना वायरस एक संक्रामक बीमारी है जिसका पता दिसंबर 2019 में चीन में चला. इसका संक्षिप्त नाम कोविड-19 हैसैकड़ों तरह के कोरोना वायरस होते हैं. इनमें से ज्यादातर सुअरों, ऊंटों, चमगादड़ों और बिल्लियों समेत अन्य जानवरों में पाए जाते हैं. लेकिन कोविड-19 जैसे कम ही वायरस हैं जो मनुष्यों को प्रभावित करते हैं

चीन के खिलाफ अमेरिका की घेराबंदी, समंदर में उतारे तीन जंगी जहाज! देखें सिंधिया बोले- कमलनाथ और दिग्विजय को मिर्ची लग रही है, क्योंकि कुर्सी चली गई कार्ति चिदंबरम का ट्वीट- UP से निकलेगा कांग्रेस की वापसी का रास्ता, प्रियंका बनें CM कैंडिडेट

कुछ कोरोना वायरस मामूली से हल्की बीमारियां पैदा करते हैं. इनमें सामान्य जुकाम शामिल है. कोविड-19 उन वायरसों में शामिल है जिनकी वजह से निमोनिया जैसी ज्यादा गंभीर बीमारियां पैदा होती हैं.ज्यादातर संक्रमित लोगों में बुखार, हाथों-पैरों में दर्द और कफ़ जैसे हल्के लक्षण दिखाई देते हैं. ये लोग बिना किसी खास इलाज के ठीक हो जाते हैं.

लेकिन, कुछ उम्रदराज़ लोगों और पहले से ह्दय रोग, डायबिटीज़ या कैंसर जैसी बीमारियों से लड़ रहे लोगों में इससे गंभीर रूप से बीमार होने का ख़तरा रहता है.एक बार आप कोरोना से उबर गए तो क्या आपको फिर से यह नहीं हो सकता?बाइसेस्टर से डेनिस मिशेलसबसे ज्यादा पूछे गए सवाल

बाीबीसी न्यूज़स्वास्थ्य टीमजब लोग एक संक्रमण से उबर जाते हैं तो उनके शरीर में इस बात की समझ पैदा हो जाती है कि अगर उन्हें यह दोबारा हुआ तो इससे कैसे लड़ाई लड़नी है.यह इम्युनिटी हमेशा नहीं रहती है या पूरी तरह से प्रभावी नहीं होती है. बाद में इसमें कमी आ सकती है.

ऐसा माना जा रहा है कि अगर आप एक बार कोरोना वायरस से रिकवर हो चुके हैं तो आपकी इम्युनिटी बढ़ जाएगी. हालांकि, यह नहीं पता कि यह इम्युनिटी कब तक चलेगी.कोरोना वायरस का इनक्यूबेशन पीरियड क्या है?जिलियन गिब्समिशेल रॉबर्ट्सबीबीसी हेल्थ ऑनलाइन एडिटरवैज्ञानिकों का कहना है कि औसतन पांच दिनों में लक्षण दिखाई देने लगते हैं. लेकिन, कुछ लोगों में इससे पहले भी लक्षण दिख सकते हैं.

वर्ल्ड हेल्थ ऑर्गनाइजेशन (डब्ल्यूएचओ) का कहना है कि इसका इनक्यूबेशन पीरियड 14 दिन तक का हो सकता है. लेकिन कुछ शोधार्थियों का कहना है कि यह 24 दिन तक जा सकता है.इनक्यूबेशन पीरियड को जानना और समझना बेहद जरूरी है. इससे डॉक्टरों और स्वास्थ्य अधिकारियों को वायरस को फैलने से रोकने के लिए कारगर तरीके लाने में मदद मिलती है.

क्या कोरोना वायरस फ़्लू से ज्यादा संक्रमणकारी है?सिडनी से मेरी फिट्ज़पैट्रिकमिशेल रॉबर्ट्सबीबीसी हेल्थ ऑनलाइन एडिटरदोनों वायरस बेहद संक्रामक हैं.ऐसा माना जाता है कि कोरोना वायरस से पीड़ित एक शख्स औसतन दो या तीन और लोगों को संक्रमित करता है. जबकि फ़्लू वाला व्यक्ति एक और शख्स को इससे संक्रमित करता है.

भारत के खिलाफ पाकिस्तान और चीन के इस कदम को जर्मनी-अमेरिका ने रोका - World AajTak कैसे पतंजलि की दवा ‘कोरोनिल’ अब इम्यूनिटी बूस्टर के रूप में बिकेगी VIDEO: शिवराज सरकार के कैबिनेट विस्तार में सिंधिया के वफादारों को भी इनाम

फ़्लू और कोरोना वायरस को फैलने से रोकने के लिए कुछ आसान कदम उठाए जा सकते हैं.बार-बार अपने हाथ साबुन और पानी से धोएंजब तक आपके हाथ साफ न हों अपने चेहरे को छूने से बचेंखांसते और छींकते समय टिश्यू का इस्तेमाल करें और उसे तुरंत सीधे डस्टबिन में डाल दें.आप कितने दिनों से बीमार हैं?

मेडस्टोन से नीताबीबीसी न्यूज़हेल्थ टीमहर पांच में से चार लोगों में कोविड-19 फ़्लू की तरह की एक मामूली बीमारी होती है.इसके लक्षणों में बुख़ार और सूखी खांसी शामिल है. आप कुछ दिनों से बीमार होते हैं, लेकिन लक्षण दिखने के हफ्ते भर में आप ठीक हो सकते हैं.अगर वायरस फ़ेफ़ड़ों में ठीक से बैठ गया तो यह सांस लेने में दिक्कत और निमोनिया पैदा कर सकता है. हर सात में से एक शख्स को अस्पताल में इलाज की जरूरत पड़ सकती है.

End of कोरोना वायरस के बारे में सब कुछमेरी स्वास्थ्य स्थितियांआपके सवालअस्थमा वाले मरीजों के लिए कोरोना वायरस कितना ख़तरनाक है?फ़ल्किर्क से लेस्ले-एनमिशेल रॉबर्ट्सबीबीसी हेल्थ ऑनलाइन एडिटरअस्थमा यूके की सलाह है कि आप अपना रोज़ाना का इनहेलर लेते रहें. इससे कोरोना वायरस समेत किसी भी रेस्पिरेटरी वायरस के चलते होने वाले अस्थमा अटैक से आपको बचने में मदद मिलेगी.

अगर आपको अपने अस्थमा के बढ़ने का डर है तो अपने साथ रिलीवर इनहेलर रखें. अगर आपका अस्थमा बिगड़ता है तो आपको कोरोना वायरस होने का ख़तरा है.क्या ऐसे विकलांग लोग जिन्हें दूसरी कोई बीमारी नहीं है, उन्हें कोरोना वायरस होने का डर है?स्टॉकपोर्ट से अबीगेल आयरलैंड

बीबीसी न्यूज़हेल्थ टीमह्दय और फ़ेफ़ड़ों की बीमारी या डायबिटीज जैसी पहले से मौजूद बीमारियों से जूझ रहे लोग और उम्रदराज़ लोगों में कोरोना वायरस ज्यादा गंभीर हो सकता है.ऐसे विकलांग लोग जो कि किसी दूसरी बीमारी से पीड़ित नहीं हैं और जिनको कोई रेस्पिरेटरी दिक्कत नहीं है, उनके कोरोना वायरस से कोई अतिरिक्त ख़तरा हो, इसके कोई प्रमाण नहीं मिले हैं.

जिन्हें निमोनिया रह चुका है क्या उनमें कोरोना वायरस के हल्के लक्षण दिखाई देते हैं?कनाडा के मोंट्रियल से मार्जेबीबीसी न्यूज़हेल्थ टीमकम संख्या में कोविड-19 निमोनिया बन सकता है. ऐसा उन लोगों के साथ ज्यादा होता है जिन्हें पहले से फ़ेफ़ड़ों की बीमारी हो.लेकिन, चूंकि यह एक नया वायरस है, किसी में भी इसकी इम्युनिटी नहीं है. चाहे उन्हें पहले निमोनिया हो या सार्स जैसा दूसरा कोरोना वायरस रह चुका हो.

बर्थ कंट्रोल के नाम पर उइगर मुस्लिम महिलाओं पर चीन का दमन, UN से जांच की मांग नेपाल में सियासी भूचाल: PM केपी ओली की गैरमौजूदगी में हुई पार्टी की स्टैंडिंग कमेटी की बैठक नेपाल: बढ़ रही हैं केपी ओली की मुश्किलें, PM पद के बाद अब पार्टी प्रमुख की कुर्सी पर संकट

End of मेरी स्वास्थ्य स्थितियांअपने आप को और दूसरों को बचानाआपके सवालकोरोना वायरस से लड़ने के लिए सरकारें इतने कड़े कदम क्यों उठा रही हैं जबकि फ़्लू इससे कहीं ज्यादा घातक जान पड़ता है?हार्लो से लोरैन स्मिथजेम्स गैलेगरस्वास्थ्य संवाददाताशहरों को क्वारंटीन करना और लोगों को घरों पर ही रहने के लिए बोलना सख्त कदम लग सकते हैं, लेकिन अगर ऐसा नहीं किया जाएगा तो वायरस पूरी रफ्तार से फैल जाएगा.

फ़्लू की तरह इस नए वायरस की कोई वैक्सीन नहीं है. इस वजह से उम्रदराज़ लोगों और पहले से बीमारियों के शिकार लोगों के लिए यह ज्यादा बड़ा ख़तरा हो सकता है.क्या खुद को और दूसरों को वायरस से बचाने के लिए मुझे मास्क पहनना चाहिए?मैनचेस्टर से एन हार्डमैनबीबीसी न्यूज़

हेल्थ टीमपूरी दुनिया में सरकारें मास्क पहनने की सलाह में लगातार संशोधन कर रही हैं. लेकिन, डब्ल्यूएचओ ऐसे लोगों को मास्क पहनने की सलाह दे रहा है जिन्हें कोरोना वायरस के लक्षण (लगातार तेज तापमान, कफ़ या छींकें आना) दिख रहे हैं या जो कोविड-19 के कनफ़र्म या संदिग्ध लोगों की देखभाल कर रहे हैं.

मास्क से आप खुद को और दूसरों को संक्रमण से बचाते हैं, लेकिन ऐसा तभी होगा जब इन्हें सही तरीके से इस्तेमाल किया जाए और इन्हें अपने हाथ बार-बार धोने और घर के बाहर कम से कम निकलने जैसे अन्य उपायों के साथ इस्तेमाल किया जाए.फ़ेस मास्क पहनने की सलाह को लेकर अलग-अलग चिंताएं हैं. कुछ देश यह सुनिश्चित करना चाहते हैं कि उनके यहां स्वास्थकर्मियों के लिए इनकी कमी न पड़ जाए, जबकि दूसरे देशों की चिंता यह है कि मास्क पहने से लोगों में अपने सुरक्षित होने की झूठी तसल्ली न पैदा हो जाए. अगर आप मास्क पहन रहे हैं तो आपके अपने चेहरे को छूने के आसार भी बढ़ जाते हैं.

यह सुनिश्चित कीजिए कि आप अपने इलाके में अनिवार्य नियमों से वाकिफ़ हों. जैसे कि कुछ जगहों पर अगर आप घर से बाहर जाे रहे हैं तो आपको मास्क पहनना जरूरी है. भारत, अर्जेंटीना, चीन, इटली और मोरक्को जैसे देशों के कई हिस्सों में यह अनिवार्य है.अगर मैं ऐसे शख्स के साथ रह रहा हूं जो सेल्फ-आइसोलेशन में है तो मुझे क्या करना चाहिए?

लंदन से ग्राहम राइटबीबीसी न्यूज़हेल्थ टीमअगर आप किसी ऐसे शख्स के साथ रह रहे हैं जो कि सेल्फ-आइसोलेशन में है तो आपको उससे न्यूनतम संपर्क रखना चाहिए और अगर मुमकिन हो तो एक कमरे में साथ न रहें.सेल्फ-आइसोलेशन में रह रहे शख्स को एक हवादार कमरे में रहना चाहिए जिसमें एक खिड़की हो जिसे खोला जा सके. ऐसे शख्स को घर के दूसरे लोगों से दूर रहना चाहिए.

End of अपने आप को और दूसरों को बचानामैं और मेरा परिवारआपके सवालमैं पांच महीने की गर्भवती महिला हूं. अगर मैं संक्रमित हो जाती हूं तो मेरे बच्चे पर इसका क्या असर होगा?बीबीसी वेबसाइट के एक पाठक का सवालजेम्स गैलेगरस्वास्थ्य संवाददातागर्भवती महिलाओं पर कोविड-19 के असर को समझने के लिए वैज्ञानिक रिसर्च कर रहे हैं, लेकिन अभी बारे में बेहद सीमित जानकारी मौजूद है.

यह नहीं पता कि वायरस से संक्रमित कोई गर्भवती महिला प्रेग्नेंसी या डिलीवरी के दौरान इसे अपने भ्रूण या बच्चे को पास कर सकती है. लेकिन अभी तक यह वायरस एमनियोटिक फ्लूइड या ब्रेस्टमिल्क में नहीं पाया गया है.गर्भवती महिलाओंं के बारे में अभी ऐसा कोई सुबूत नहीं है कि वे आम लोगों के मुकाबले गंभीर रूप से बीमार होने के ज्यादा जोखिम में हैं. हालांकि, अपने शरीर और इम्यून सिस्टम में बदलाव होने के चलते गर्भवती महिलाएं कुछ रेस्पिरेटरी इंफेक्शंस से बुरी तरह से प्रभावित हो सकती हैं.

मैं अपने पांच महीने के बच्चे को ब्रेस्टफीड कराती हूं. अगर मैं कोरोना से संक्रमित हो जाती हूं तो मुझे क्या करना चाहिए?मीव मैकगोल्डरिकजेम्स गैलेगरस्वास्थ्य संवाददाताअपने ब्रेस्ट मिल्क के जरिए माएं अपने बच्चों को संक्रमण से बचाव मुहैया करा सकती हैं.अगर आपका शरीर संक्रमण से लड़ने के लिए एंटीबॉडीज़ पैदा कर रहा है तो इन्हें ब्रेस्टफीडिंग के दौरान पास किया जा सकता है.

ब्रेस्टफीड कराने वाली माओं को भी जोखिम से बचने के लिए दूसरों की तरह से ही सलाह का पालन करना चाहिए. अपने चेहरे को छींकते या खांसते वक्त ढक लें. इस्तेमाल किए गए टिश्यू को फेंक दें और हाथों को बार-बार धोएं. अपनी आंखों, नाक या चेहरे को बिना धोए हाथों से न छुएं.

बच्चों के लिए क्या जोखिम है?लंदन से लुइसबीबीसी न्यूज़हेल्थ टीमचीन और दूसरे देशों के आंकड़ों के मुताबिक, आमतौर पर बच्चे कोरोना वायरस से अपेक्षाकृत अप्रभावित दिखे हैं.ऐसा शायद इस वजह है क्योंकि वे संक्रमण से लड़ने की ताकत रखते हैं या उनमें कोई लक्षण नहीं दिखते हैं या उनमें सर्दी जैसे मामूली लक्षण दिखते हैं.

हालांकि, पहले से अस्थमा जैसी फ़ेफ़ड़ों की बीमारी से जूझ रहे बच्चों को ज्यादा सतर्क रहना चाहिए. और पढो: BBC News Hindi »

Because his voice against attrocities on underprivileged ,sourceless common person in UP can not b pressed if he is among peoples ruling party thinks it would b pressed by puttin him into jail. Unki agyanta hai . कोरोना न बढे इस लिए कोरोनाकाल में धरना प्रदर्शन करने वालों को कतई बर्दाश्त नहीं किया जा सकता

अपने ही देश के गरीब मजदूर भाई बहनों की मदद करने का भयंकर भयानक गुनाह जो किया है kyo ki jab tak upar se order nahi ayega tab tak hamari desh ki nyaypalika me baithe huye log kam nahi karthe sarkar ki gulami karna hi inka kam hai ya achhe achhe balatkari jamanat pe bahar athe aisa konsa gunaha kiya lalluji ne ya yogi sarkar ke dabao me kam kar rahi hai

🤔🤔🤔 Greeb majdoor ke haq ki ladai ladege to yhi hal BJP kregi बाहर आकर कचरा ही करना है। राजनितिक कारण है अजय कुमार यू पी में अच्छा रसूख रखते है तो भगवों को खतरा महसूस हो रहा है लल्लू से तुम्ही जोर लगाओ । अब इसका जबाब तो ल्लू जी को काग्रेस प्रार्टी कि बहना ही दे सकती हैं कि बस से शुरु नाटक का पटाक्षेप ल्लु जी के जेल भेजे जाने के आगे का सीन फिल्माने के लिए तैयार किया जा रहा है और उसके बाद अगला हिस्सा जनता के सामने आयेगा फिलहाल इंतजार करना चाहिए।

क्योंकि वह लल्लू है क्योंकि ये अन्तर्राष्ट्रिय आतंकी संगठन का एजेंट है । Andar hi utpaat karne do PAPPU KA BHAI LALU दोस्तों, क्या आपको पता है अंग्रेजों के दलाल बीबीसी न्यूज को चाइना ने इनके पिछवाड़े पर लात मारकर इन्हें देश से बाहर भगा दिया क्योंकि ये लोग उनके देश की जासूसी और अराजकता फैलाने में लिप्त थे और यहीं काम अब ये भारत मे करते हैं... बीबीसी_भगाओ_देश_बचाओ बीबीसी_भारत_छोड़ो

desh drohi ko jmanat nhi milni chahiye.Jai shri ram अब ये भी मीडिया ही तय करेगा कुछ तो कार्य और भी संस्था को करने दो ये तो UP में आम हो चला हे जेल जाने के बाद योगी जी बाहर न आने देते हे बहुत जल्द इनको गैस चेम्बर भी बनने लगेंगे UP में Sala BBC v congress ka chamcha nikla. Now perhaps he will get bail since BBC has started pleading his has started behaving like East India Company of yore.

BBC dalal dilwayega anilpricha Kyunki Naarangi santre ab sad Gaye hai क्योंकि पिंकी नही चाहती...! अगर इतनी जल्दी और आसानी से जमानत मिल जाएगी तो आम जनता को भी पता चल जाएगा कि भाजपा और कांग्रेस पर्दे की आड़ में दोनों सगे भाई हैं कुछ भी हो जाए लेकिन गांव की प्रधानी इन्हीं दोनों भाइयों के बीच में रहेगी महाराज, अजय कुमार लल्लू की बढ़ती लोकप्रियता से डर गई

स्व रामकृष्ण द्विवेदी जी का श्राप और अपमानित कर कांग्रेस से निकाले गए ब्राह्मणों की बद्दुआ है जो असर दिखा रही है घोटाले भाजपा करे और जेल जाए ईमानदार दान गरीब के नाम पर लिया और खायेगा भाजपा दल लालू को छोड़ो मुझे तो यह समझ में नहीं आ रहा कि राहुल और सोनिया को जमानत क्यों मिली हुई है 🤔 Desh ko uljhaane kaa kaam congress krte...apne up president ko chudhaa ni paa rhe kya mazak hai...saaf pta chal rhA karyakarta ko bargala rhe...congress desh ko fsa kr mza krte hai...idhar sahara india ke investors ko fsa ke khud to nikal le...ar jo fasaya vo khud fsa hai

Saare to bade lawyer congress ke pass hai...unhi se puchooo...baat ye hai congress hr baar nautanki karti hai.. Jab tak Yogi Sarkar hai....tab tak mushqil hi rahegi. Up men jangal raj chal raha hai Court knows अनपढ़ गवार ओ के हाथ में आ गई है सत्ता की कमान इसीलिए अंधे भक्तों 4 साल अभी और चिल्ला लो जय श्री राम

AjayLalluINC Acha hai jail mai hai UP mai party ke haar ke bare mai Sochenge nikal ke kon sa 7 mla se 403 MLA pr pahucha denge , kuch ho bhi tao nhi rha hai IYC_UPEast फर्जी वाड़ा है । गांड़ तोड़ो साले की क्यु कि वो लल्लु है इस्लिय उत्तर प्रदेश कांग्रेस के अध्यक्ष अजय कुमार लल्लू की आननफानन में कई गई गिरफ्तारी राजनीतिक कारणों से की गई है ,इसका करार जबाब यूपी की जनता चुनाव मेंजरूर देगी ।

Lallu ji ko Congress ne ullu banaa Diya BBC दिलवाये जमानत Kyoki judiciary government ki printing machine bn chuki ha Har kutte ke din ate hain akhir 70 saal se jeeb latkaye ghum rahe the kuch to kuttagiri dikhayeinge hi Keyon inki galti yeh hai ki, yeh BJP mein abhi tak shaamil nahi ho paye hein, jaise hi Congress se alvida leke BJP mein jayenge, inke sare kast har lenge Modi ji....🤣

Jai baba gorakhnath 🙏 Taheer Hussen ke bare me bolege ye Desh Virodhi Channel Police department of u.p is busy ख़ुदी को कर बुलंद इतना कि हर तक़दीर से पहले ख़ुदा बंदे से ख़ुद पूछे बता तेरी रज़ा क्या है ~ अल्लामा इक़बाल Jail me ekdam ghar jaisa lagta hoga na sab yaar dost ke sath ☝️😉😜 Tmko chunna kyu kat rha h😂😂😂

ashutosh83B कालिया बताएगा, कलंक की कलम से रंगबाज कानुन मै भराेसा करते हाे? क्योंकि वो सरकार की नाक में दम करते रहींगे इसलिए नहीं मिल रही ज़मानत Uske naam mei lallu hai.. can u blame any1 fr that? Bhagg bbc ashwaniattrish तुम लोगों की पनौती लग गयी हैं न्याय व्यवस्था पर सवाल खड़े किए जा रहे हैं?😥 याद रहे ' न्याय नहीं शांति नहीं '

यूपी सरकार ने बहुत अच्छा काम किया है, जब अदालते बिक जाती है तो फिर इंसाफ किया नही करती..बेचा करती है। Tumhare kue gaon fat raha hai🤔 बहुत सही काम किया था इसलिए तुम्हें क्यों दर्द हो रहा Karm hi aise hain 😡😡😡 Bhogi ji Congress fighting for existence

निसर्ग तूफान को लेकर अलर्ट पर NDRF, अक्षय कुमार ने लोगों से की ये अपीलदो हफ्ते में देश को दूसरे समुद्री तूफान का सामना करना पड़ रहा है. पहले अम्फान ने पश्चिम बंगाल और ओडिशा में तबाही मचाई अब महाराष्ट्र और गुजरात में तबाही मचाने के लिए अरब सागर में उठा है एक और तूफान. इस तूफान का नाम है निसर्ग जिसकी लहरें मुंबई पर भारी चोट पहुंचा सकती है. अरब सागर में उठा निसर्ग अब चक्रवाती तूफान में बदल चुका है. इसके दोपहर या शाम तक अलीबाग में तट से टकराने की उम्मीद है, जो मुंबई से 94 किमी. दूर है. लेकिन मुंबई पर इसका भारी असर होना तय है. 100 से 120 किमी. प्रति घंटे की तूफानी हवाएं और समंदर में उठने वाली 6 फीट ऊंची लहरें मुंबई को फिर से पानी-पानी कर सकती है. मुंबई में तूफान से निपटने और जान माल के नुकसान को रोकने के लिए पक्के इंतजाम किए गए हैं. मुंबई में धारा 144 लगाई गई है. लोगों से सैर-सपाटे के लिए समुद्री तटों पर नहीं जाने को कहा गया है, पार्कों में जाने पर रोक है, लोगों से घरों में रहने की अपील की गई है. इस वीडियो में तूफान से निपटने के लिए देखें कितनी तैयार है मुंबई. भाई लोग अक्षय कुमार को bjp जोइंड करवा दो इसको मालूम पड़ जायेगा कि पड़ा लिखे bjp से नही परन्तु वर्तमान मुखियाओं से इतनी नफरत क्यों करते हैं बाहर से सब अच्छा दिख रहा है भई को Akshy sir ko dekh ke lagta hai jaise really me to sirf kuch he hero bacche hai. jaise.. akshy sir or sonu sir.. baki sb to bs kamar matka ke he naam kamaye hai

कुमार संगकारा ने इन 2 भारतीयों को बताया दुनिया के बेस्ट बल्लेबाज - Sports AajTakश्रीलंका के पूर्व कप्तान कुमार संगकारा ने दो भारतीय बल्लेबाजों को बेहतरीन बताया है और उनकी तुलना सौरव गांगुली और राहुल द्रविड़ से tsrawatbjp In 2016 NO PCS Recruitment in uttarakhand , In 2017 NO PCS Recruitment in uttarakhand In 2018 NO PCS Recruitment in uttarakhand In 2019 NO PCS Recruitment in uttarakhand More than 1/3th of 2020 has gone still no HOPE 2016सेPCSपरीक्षानहीं who cares! ask 100 cricketer they will have 100 opinion..

दिल्ली BJP अध्यक्ष पद से मनोज तिवारी की छुट्टी, आदेश कुमार गुप्ता को मिली जिम्मेदारीभारतीय जनता पार्टी (BJP) ने मंगलवार  को कई राज्यों के प्रदेश अध्यक्षों की नियुक्ति की. पार्टी ने मनोज तिवारी (Manoj Tiwari) की जगह आदेश कुमार गुप्ता को दिल्ली BJP का अध्यक्ष बनाया है. उत्तर प्रदेश मे नौकरी का मतलब सिर्फ 69000 शिक्षक भर्ती और सिपाही भर्ती से है क्योंकि इनकी संख्या 60-70 हजार होती है | बाकियो से सरकार और मीडिया को मतलब नहीं अगर कम संख्या की भर्ती है तो. सरकार का वोट बैंक खराब नहीं होगा और मीडिया की TRP नहीं मिलती- जी आप मदद करे। Galat hua Gram Panchayat Adhikari

फिनलैंड में भारत के अगले राजदूत के तौर पर हुई रवीश कुमार की नियुक्तिरवीश कुमार को फिनलैंड में भारत के अगले राजदूत के रूप में नियुक्त किया गया है। वर्तमान में वह विदेश मंत्रालय में संयुक्त

कोरोना: अजय माकन का सवाल- क्या 2 दिन में 6 गुना बढ़ी वेंटिलेटर पर मरीजों की संख्या?कांग्रेस नेता अजय माकन ने बुधवार को ट्वीट कर दिल्ली सरकार से कोरोना मरीजों को लेकर सवाल पूछा. कांग्रेस नेता ने पूछा कि क्या दिल्ली में वेंटिलेटर पर मरीजों की संख्या 6 गुना बढ़ गई है. ajaymaken यदि हम भी सोनू जी को कुछ देना चाहते हैं तो कृपया पूरी वीडियो देखें। आप उनके लिए बहुत कुछ कर सकते हो। SonuSood ajaymaken Delhi me president rules laga dena chahiye

Meri Aashiqui Review: कुमार शानू के गाने से बड़ी लकीर खींचने की कोशिश में फेल हुए जुबिन नौटियालMeri Aashiqui Review: कुमार शानू के गाने से बड़ी लकीर खींचने की कोशिश में फेल हुए जुबिन नौटियाल MeriAashiqui JubinNautiyal TSeries TSeries JubinNautiyal TSeries JubinNautiyal 🇮🇳दोस्तो fŕee में paisa कमाए abhi अपने møbilè से PIAYSTọRE से do w n l o a d करे Mall91 नाम का ápplicatiọn और 30,000 से 50,000 ṭak par mọńth incọme करे दोस्तो Rẹalदमदार appṣ है Rẹfar Code मांगने M5BYSFE dalẹ So frẹndz try zàrùr karẹ join hone ke bad Apne Ref Cod se log

टिकटॉक के ये सितारे अब कहां दिखाएंगे अपना टैलेंट टिकटॉक बैन पर बोलीं नुसरत जहां- ये नोटबंदी की तरह, बेरोजगारों का क्या होगा? चीनी दूतावास बोला- ऐप्स बैन से हम चिंतित, WTO के नियमों का है उल्लंघन राहुल ने विदेशों में भारतीय नर्सों से कोरोना पर की चर्चा, कल वीडियो होगा जारी CM कैप्टन अमरिंदर की गुजारिश- प्रियंका के फैसले पर फिर से विचार करे केंद्र ग्लोबल टाइम्स ने लिखा- भारत और चीन जवानों को बैच में हटाने पर राजी हुए, कमांडर लेवल की तीसरी बैठक में फैसला हुआ PM मोदी के भाषण पर बोले ओवैसी- चीन पर बोलना था, चना पर बोल गए, ईद भी भूले योगी सरकार का एक्शन, लखनऊ में सीएए-NRC के खिलाफ 2 प्रदर्शनकारियों की संपत्ति कुर्क राजस्थान के स्वास्थ्य मंत्री बोले- कोरोनिल को लेकर माफी मांगे रामदेव पीएम मोदी ने संबोधन में किया त्योहारों का जिक्र, कार्ति चिदंबरम ने पूछा- साउथ के त्योहार कहां हैं? 59 चीनी ऐप्स बैन होने से बौखलाया चीन, कहा- दोनों देशों के बीच बढ़ेगा तनाव