Jansatta Ravivari Stambh Vaqt Ki Nabz, Ravivari Stambh, Ravivari Tavleen Singh's Special Article, Ravivari Stambh Article, Sunday Special Article, Sunday Special Page, Sunday Discussion, Sunday Topic, Sunday Special Column, Sunday Special Column On Special İssues

Jansatta Ravivari Stambh Vaqt Ki Nabz, Ravivari Stambh

मोहब्बत और नफरत का खेल

मोहब्बत और नफरत का खेल

19-09-2021 02:22:00

मोहब्बत और नफरत का खेल

कांग्रेस पार्टी के ‘सेक्युलर’ राजनेताओं ने मुसलमानों का उतना ही इस्तेमाल किया, जितना भारतीय जनता पार्टी कर रही है। कांग्रेस ने झूठी मोहब्बत दिखाई इस कौम को वोट बैंक बनाने के लिए और भाजपा के राजनेता अब सच्ची नफरत दिखाते हैं।

बार-बार तुष्टीकरण की बातें होंगी। बार-बार नफरत फैलाने की कोशिश होगी और अगर यह नफरत हिंसा में बदल जाए तो यह रणनीति और भी सफल हो सकती है, इसलिए कि उत्तर प्रदेश के मतदाता शायद भूल जाएंगे कि कोविड के दूसरे भयानक दौर में उनके मुख्यमंत्री अदृश्य हो गए थे जब अस्पतालों के सामने कतारें लग गई थीं ऑक्सीजन और बिस्तरों के लिए। जब श्मशानों में दिन-रात जलती थीं चिताएं, जब गंगाजी में लाशें बहती थीं। योगी आदित्यनाथ ने इन सब बातों को शुरू से अस्वीकार किया है यह कह कर कि ऐसा कुछ नहीं हुआ था और यह सब झूठा प्रचार है विपक्ष का।

महंगे पेट्रोल पर प्रियंका गांधी का तंज, हवाई चप्पल वालों का सड़क पर सफर भी मुश्किल पश्चिम बंगाल में बीजेपी नेता की गोली लगने से मौत, राजनीतिक विवाद तेज - BBC Hindi पाकिस्तान में महिला ने एक साथ सात बच्चों को दिया जन्म - BBC News हिंदी

सत्य को असत्य कहने में माहिर हैं योगी। पिछले हफ्ते हाथरस की उस दलित बेटी की दर्दनाक मौत के बाद एक साल पूरा हुआ। याद कीजिए किस तरह योगी के अधिकारियों ने उस बच्ची की लाश को आधी रात को जला दिया बिना अंतिम संस्कार की रस्मों के।याद कीजिए किस तरह योगी सरकार ने साबित करने की कोशिश की थी कि हाथरस में जो कुछ हुआ उसके पीछे एक अंतरराष्ट्रीय साजिश थी उत्तर प्रदेश को बदनाम करने के लिए। इन सारी बातों को भुलाने के लिए योगी सरकार ने प्रचार की ऐसी मुहिम चलाई है जैसे कि शायद ही पहले किसी विधानसभा चुनाव के समय दिखी हो।

टीवी पर मुश्किल से कोई शो होगा, जिसमें नहीं दिखते हैं योगी के इश्तेहार कम से कम एक बार। ये ऐसे इश्तेहार हैं जो पेश आते हैं समाचार के रूप में, प्रचार के रूप में नहीं, ताकि भोली-भाली जनता समझ न पाए प्रचार और समाचार का अंतर। सबका साथ, सबका विकास, सबका विश्वास के पर्दे के पीछे योगी की चुनावी रणनीति कुछ और ही है। headtopics.com

और पढो: Jansatta »

कुलगाम में फिर आतंकियों का निशाना बने गैर-कश्मीरी, अबतक 11 लोगों की हत्या

जम्मू कश्मीर के कुलगाम में आतंकियों ने एक बार फिर से गैर कश्मीरी को निशाना बनाया है. एक तरफ कश्मीर में आतंकी लगातार टार्गेट किलिंग कर रहे हैं और दूसरी तरफ 24 अक्टूबर को वर्ल्ड कप में पाकिस्तान से क्रिकेट मैच होने जा रहा है, इस क्रिकेट मैच को लेकर भी अब सियासत गरमा गई है. सवाल उठ रहे हैं कि जब पाकिस्तान से लगातार आतंकियों की खेप कश्मीर को दहलाने की साजिश रच रही है तो फिर पाकिस्तान से क्रिकेट मैच खेलने का क्या मतलब है और ये सवाल अकेले कांग्रेस नहीं उठा रही खुद केंद्रीय मंत्री गिरिराज सिंह का भी यही मानना है कि पाकिस्तान से मैच खेलने को लेकर विचार किया जाना चाहिए. देखिए शंखनाद का ये एपिसोड.

साहित्‍यकार और पत्रकार ईशमधु तलवार का निधन, पत्रकारिता और साहित्य जगत में शोकईशमधु पूरी तरह से स्वस्थ्य थे। रात ही उनकी तबीयत अचानक खराब होने लगी। दो दिन पहले उन्होंने अलवर में प्रगतिशील लेखक संघ एवं जनवादी लेखक संघ के कार्यक्रम में शिरकत की थी। उनके साथ वरिष्ठ साहित्यकार उदय प्रकाश भी मंच पर थे। कार्यक्रम की तस्वीरें उन्होंने अपने फेसबुक पेज पर भी शेयर की थीं।

फ़्रांस हुआ और सख़्त, अमेरिका और ऑस्ट्रेलिया से अपने राजदूतों को वापस बुलाया - BBC News हिंदीअमेरिका, ब्रिटेन और ऑस्ट्रेलिया के बीच हुए एक सुरक्षा समझौते से फ़्रांस बेहद नाराज़ है जिसके बाद उसने इतना बड़ा क़दम उठाया है. वहीं अमेरिका और ऑस्ट्रेलिया समझ नहीं पा रहे कि फ़्रांस को कैसे मनाया जाए. फिरंगी तो दुनिया को आपस में लड़ाते हैं अराजकता फैलाते हैं अब अपने मे ही लड़ रहे हैं वैसे दुनिया को दो विश्व युद्ध फिरंगियों की ही देन है जो बाइडेन ने पहले अफगानिस्तान में गलत फैसला लेकर अराजकता फैलाई अब मित्र राष्ट्रों के बीच तकरार करा दी पता नहीं क्या चाहते हैं जो बाइडेन Bold step by the nation with renewed nationalism..

डेविस कप: भारत का फिनलैंड से मुकाबला आज, गुणेश्वरन और रामनाथन पर रहेगा दारोमदारडेविस कप में भारत आज से आगाज करने जा रहा है। एकल मुकाबलों में भारत के खिलाड़ी प्रजनेश गुणेश्वरन और रामकुमार रामनाथन

चीन ने अमेरिका, ब्रिटेन और ऑस्ट्रेलिया की गुटबंदी का निकाला ये तोड़ - BBC News हिंदीअमेरिका, ब्रिटेन और ऑस्ट्रेलिया ने एक दिन पहले ही एशिया-प्रशांत क्षेत्र के लिए एक समझौता किया था जिससे चीन की चिंताएं बढ़ गई थीं लेकिन उसने इसका तोड़ निकालना शुरू कर दिया है.

पाकिस्तान को तालिबान से यारी अभी और पड़ेगी भारी, लग गया पहला जोर का झटका18 साल बाद कोई टीम पाकिस्तान का दौरा करती है और बिना कोई मैच खेले ही वापस लौटने वाली है। किसी भी देश के लिए इससे अधिक शर्म की बात क्या हो सकती है। पाकिस्तान के पीएम इमरान खान ने लाख भरोसा दिलाया लेकिन किसी को उस भरोसे पर कहां यकीन है।

Bigg Boss OTT: कैसे और कब देख पाएंगे बिग बॉस ओटीटी का फिनाले, जानिए पूरी डिटेल्सBigg Boss OTT: कैसे और कब देख पाएंगे बिग बॉस ओटीटी का फिनाले, जानिए पूरी डिटेल्स BiggBossOTT DivyaAgarwal PratikSehajpal NishantBhat RaqeshBapat ShamitaShetty BiggBossFinale