Ishmadhutalwar, Ish Madhu Talwar, Death, About Ish Madhu Talwar, Hindi Writer, Writer Ish Madhu Talwar, Journalist Ish Madhu Talwar, Hindi Literature

Ishmadhutalwar, Ish Madhu Talwar

साहित्‍यकार और पत्रकार ईशमधु तलवार का निधन, पत्रकारिता और साहित्य जगत में शोक

राजस्थान के मुख्यमंत्री अशोक गहलौत समेत कई राजनेताओं, साहित्यकारों और पत्रकारों ने उनके निधन पर शोक व्यक्त किया #IshMadhuTalwar

17-09-2021 12:51:00

राजस्थान के मुख्यमंत्री अशोक गहलौत समेत कई राजनेताओं, साहित्यकारों और पत्रकारों ने उनके निधन पर शोक व्यक्त किया IshMadhuTalwar

ईशमधु पूरी तरह से स्वस्थ्य थे। रात ही उनकी तबीयत अचानक खराब होने लगी। दो दिन पहले उन्होंने अलवर में प्रगतिशील लेखक संघ एवं जनवादी लेखक संघ के कार्यक्रम में शिरकत की थी। उनके साथ वरिष्ठ साहित्यकार उदय प्रकाश भी मंच पर थे। कार्यक्रम की तस्वीरें उन्होंने अपने फेसबुक पेज पर भी शेयर की थीं।

और पढो: Webdunia Hindi »

Kashmir दौर के पहले दिन गृहमंत्री Amit Shah ने क्या-क्या किया? खबरदार में देखें विश्लेषण

जम्मू-कश्मीर दौरे के आज पहले दिन गृहमंत्री अमित शाह ने एक ही संबोधन में सरकार और देश के विरोधियों को कड़ा संदेश दे दिया. उन्होंने साफ कर दिया कि सरकार कश्मीर के लोगों के लिए सोच रही है. अपने राजनीतिक विरोधियों को उन्होंने बता दिया कि 370 हटाया जाना जम्मू कश्मीर के विकास के लिए जरूरी था. उन्होंने देश के दुश्मनों को भी बता दिया कि आतंकी घटनाओं से भारत डरने वाला नहीं है और आतंक की हर नई चुनौती को वो अपने अंदाज में जवाब देगा और करार जवाब देगा. अमित शाह अपने इस दौरे में सबसे पहले शहीद परवेज़ अहमद के घर गए और उनके परिवार को सांत्वना दी. उनके इस कदम की सराहना हर वो परिवार कर रहा है, जिसका कोई अपना देश की सुरक्षा के लिए सीमाओं पर तैनात है. ये कदम एक संदेश है कि देश सबसे पहले अपने सीमा रक्षकों की परवाह करता है. देखिए खबरदार का ये एपिसोड.

तालिबान में हिंसक झड़प और मौत की खबरों पर क्या बोले मुल्ला बरादर और हक्कानी?अफगानिस्तान पर कब्जा जमाने के बाद क्या तालिबान में दरार आ गई है? लगातार उठ रहे ऐसे कई सवालों का अब खुद मुल्ला बरादर और अनस हक्कानी ने जवाब दिया है.

Time Magazine की 100 'सबसे प्रभावशाली लोगों' की सूची में मोदी-ममता और अदार पूनावालापीएम मोदी के अलावा पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी और सीरम इंस्टीट्यूट ऑफ इंडिया के मुख्य कार्यकारी अधिकारी अदार पूनावाला को भी टाइम ने सबसे प्रभावशाली लोगों की लिस्ट में जगह दी है. अगर देश SonuSood साथ नहीं देगा तो समझ लीजिये हम बहुत ज्यादा स्वार्थी है जिसने लोगों की मदद की उस पर Income tax छापा, लज्जा नहीं आती 😡😡😡😡 सोनू सूद का साथ दो IStandswithSonusood SonuSood हाहा दीदी ओ दीदी MamataBanerjee 👌 Listen in earphones, sung by me

Gujarat में बारिश की मार, जामनगर, राजकोट और जूनागढ़ के 22 गांवों में बिजली ठपगुजरात के जामनगर, जूनागढ़ और राजकोट में कुदरत का कोप बरस रहा है. चार दिन की मूसलाधार बारिश और नदियों के उफान ने जामनगर और जूनागढ़ की हालत खस्ता कर दी है. बारिश थम गई है, लेकिन यहां गांव के गांव डूबे हैं. शहर में भी कई मुहल्लों के घरों का पहला मंजिला जलमग्न है. सैलाब ने यहां की जिंदगी को जहन्नुम बना दिया है. गांव के गांव डूबे हुए हैं, खेत खलिहान डूबे हुए हैं और फसलें पानी में समा गई हैं. जूनागढ़ में ओजत, भादर और उबेन नदियों के भीषण सैलाब में आसपास के इलाके जलमग्न हो गए हैं. बारिश की मार से जामनगर, राजकोट और जूनागढ़ के 22 गांवों में बिजली ठप पड़ी है. देखें ये वीडियो. Mai

गाजियाबाद में पिता और पुत्र की धारदार हथियार से हत्या, पुलिस जुटी तफ्तीश में | ghaziabadगाजियाबाद। गाजियाबाद में पिता और पुत्र की धारदार हथियार से हत्या कर दी गई। इस डबल मर्डर से क्षेत्र में हड़कंप मचा हुआ है। इन दोनों का शव सुबह घर के अंदर बिस्तर पर पड़ा हुआ मिला। पुलिस ने मौके पर पहुंच कर शव पोस्टमार्टम के लिए भेज दिए हैं और मौके से साक्ष्य जुटाकर जांच कर रही है।

मानसून की बारिश से बाढ़ की आफत, ओडिशा और गुजरात समेत कई राज्यों की हालत खराबइस बार मानसून जाने का नाम नहीं ले रहा और तो और अंतिम समय में भी देश के कई इलाकों में भारी बारिश करवा रहा है। इससे देश के कई राज्यों में बाढ़ आ गई है। वहीं हिमाचल प्रदेश और उत्तराखंड में भूस्खलन हुआ है।

केंद्र ने पर्यावरण और बाल अधिकारों पर काम कर रहे 10 एनजीओ की फंडिंग रोकीः रिपोर्टभारतीय रिज़र्व बैंक के इस साल जुलाई के नोटिस में कहा गया है कि विदेशी एनजीओ को विदेशी योगदान विनियमन अधिनियम, 2010 की पूर्व संदर्भ श्रेणी (पीआरसी) में रखा गया है. इसका अर्थ है कि जब कोई विदेशी दानकर्ता भारत में प्राप्तकर्ता एसोसिएशन को राशि भेजेगा, तब इसके लिए उसे केंद्रीय गृह मंत्रालय से पूर्व में मंज़ूरी लेनी होगी.