Jammu And Kashmir, Arms Licence Scam, India's Biggest Arms Licence Scam, Cbı, Jammu And Kashmir Hindi News, Arms Licence News

Jammu And Kashmir, Arms Licence Scam

भारत के सबसे बड़े गन लाइसेंस घोटाले में शामिल J&K के कई जिलाधिकारी, करीब 3 लाख लाइसेंस हुए जारी : CBI

भारत के सबसे बड़े गन लाइसेंस घोटाले में शामिल J&K के कई जिलाधिकारी, करीब 3 लाख लाइसेंस हुए जारी : CBI

24-07-2021 22:58:00

भारत के सबसे बड़े गन लाइसेंस घोटाले में शामिल J&K के कई जिलाधिकारी, करीब 3 लाख लाइसेंस हुए जारी : CBI

इस घोटाले का पता पहली बार 2017 में राजस्थान के आतंकवाद निरोधी दस्ते ने लगाया था. उन्होंने जम्मू-कश्मीर में अधिकारियों की ओर से जारी लाइसेंस के हथियारों के साथ अपराधियों को पकड़ा था.

नई दिल्ली: गन लाइसेंस रैकेट की जांच कर रही सीबीआई ने शनिवार को बताया कि जम्मू-कश्मीर में कई जिलाधिकारियों ने हथियार डीलरों की मिलीभगत से 2012 तक अवैध बंदूक लाइसेंस जारी किए थे. साथ ही बताया कि पैसे के लिए 2.78 लाख से ज्यादा अवैध बंदूक लाइसेंस जिलाधिकारियों द्वारा जारी किए गए हैं. इसे भारत का सबसे बड़ा हथियार लाइसेंस घोटाला माना जा रहा है.

'काउंसिल को लगा कि पेट्रोल-डीजल को GST दायरे में लाने का अभी वक्त नहीं' : निर्मला सीतारमण SCO में पीएम मोदी ने पाकिस्तान-चीन को दी 'अफगानी वैक्सीन', एक तीर से साधे कई निशाने ओवैसी ने कहा, तालिबान और कट्टरता पर क़दम उठाएं पीएम मोदी, सिर्फ़ बातों का कोई मोल नहीं - BBC Hindi

यह भी पढ़ेंबयान में सीबीआई ने कहा कि उन्होंने जम्मू-कश्मीर में गन लाइसेंस रैकेट से संबंधित एक मामले में 20 गन हाउस सहित 40 स्थानों पर छापेमारी की. जिनके यहां छापेमारी की, उनमें दो आईएएस अधिकारी शाहिद इकबाल चौधरी और नीरज कुमार भी शामिल हैं. चौधरी अभी जनजातीय मामलों के सचिव हैं, वे जम्मू और कश्मीर के छह जिलों में जिला मजिस्ट्रेट के तौर पर कार्यरत रहे हैं. उनका दावा है कि सीबीआई द्वारा उनके आवास पर तलाशी के दौरान कोई आरोपों को साबित करने वाली सामग्री नहीं मिली, लेकिन कुछ मामलों में अनियमितताओं को कबूल किया है. 

With ref to media reports I've to confirm that CBI did search my residence & found nothing incriminating in ongoing arms license probe. Media friends may note the probe covers 4 years across all distts. I am fully answerable to CBI for my tenure. Stats from my tenure are below 👇 pic.twitter.com/qhl60AFrGI headtopics.com

— Shahid Choudhary (@listenshahid) July 24, 2021इस घोटाले का पता पहली बार 2017 में राजस्थान के आतंकवाद निरोधी दस्ते ने लगाया था. उन्होंने जम्मू-कश्मीर में अधिकारियों की ओर से जारी लाइसेंस के हथियारों के साथ अपराधियों को पकड़ा था. एटीएस ने यह भी पाया था कि फर्जी दस्तावेजों के आधार पर सेना के जवानों के नाम पर 3,000 से अधिक लाइसेंस दिए गए थे.

जहां जम्मू-कश्मीर में तत्कालीन पीपुल्स डेमोक्रेटिक पार्टी-भाजपा गठबंधन की सरकार पर सतर्कता जांच की आड़ में आरोपियों को बचाने की कोशिश करने का आरोप लगाया गया है, वहीं 2018 में राज्यपाल शासन लागू होने के बाद तत्कालीन राज्यपाल एनएन वोहरा ने इस मामले को सीबीआई को सौंप दिया था. 

Jammu-Kashmir: गन लाइसेंस घोटाले में सीबीआई ने 22 जगहों पर छापेमारी की, सीनियर IAS के घर भी रेडभाजपा ने सीबीआई के छापे का स्वागत किया और देश भर में अवैध हथियार फैलाने वाले भ्रष्टाचारियों के खिलाफ कार्रवाई के लिए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को धन्यवाद दिया. भाजपा प्रवक्ता अल्ताफ ठाकुर ने कहा, 'ये लाइसेंस पिछली सरकारों के दौरान जारी किए गए थे. सीबीआई को इसकी तह तक जाना चाहिए कि किसे बंदूक के लाइसेंस दिए गए थे. देश और जम्मू-कश्मीर के विभिन्न हिस्सों में ये लोग कौन हैं. इसे उजागर किया जाना चाहिए.'

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.comपिछले साल मार्च में, सीबीआई ने आईएएस अधिकारी कुमार राजीव रंजन और इतरत रफीकी को गिरफ्तार किया था, जिन्होंने कुपवाड़ा के जिला मजिस्ट्रेट के रूप में अपने कार्यकाल के दौरान हजारों लाइसेंस जारी किए थे. Jammu and KashmirArms Licence newsटिप्पणियां पढ़ें देश-विदेश की ख़बरें अब हिन्दी में (Hindi News) | कोरोनावायरस के लाइव अपडेट के लिए हमें फॉलो करें | headtopics.com

अमेठी में स्मृति ने पकौड़ी संग चाय पर की चर्चा: दुकानदार से पूछा- क्या हाल है, बोला- बेटे के दिल में छेद है, बोलीं- दिल्ली लेकर आइए, इलाज की चिंता मत करिए प्रियंका चोपड़ा ने मांगी 'माफ़ी', कहा- मेरे फ़ैसले से कइयों को दुख पहुंचा - BBC News हिंदी बंटवारे के समय बरती जाती सावधानी तो भारत में होता करतारपुर साहिब: राजनाथ सिंह

लाइव खबर देखें: और पढो: NDTVIndia »

आज की पॉजिटिव खबर: IIT से पढ़े बिहार के विकास ने बिना बिजली-फ्यूल के चलने वाली ऐसी मशीन बनाई, जिसमें पूरे हफ्ते ताजा रहेंगी सब्जियां, कंपनी का टर्नओवर 2 करोड़

किसानों के लिए सबसे बड़ी चुनौती अपने प्रोडक्ट को सुरक्षित रखना होता है। खास कर के हरी सब्जियां और फल। ये बहुत जल्द खराब हो जाते हैं। ज्यादातर किसानों के पास अपने प्रोडक्ट को सुरक्षित स्टोर करने की जगह नहीं होती है। इस वजह से उन्हें अपने प्रोडक्ट औने-पौने दामों पर बेचना पड़ता है। इस परेशानी को दूर करने के लिए बिहार के मधुबनी जिले में रहने वाले विकास झा ने एक पहल की है। उन्होंने अपने दोस्तों के साथ ... | Bihar's development has prepared vegetable cooler machine, which will keep fruits and vegetables fresh for 7 days without electricity and fuel

साले NDTV वाले हरामी है ही यह अगर कोई हिन्दू किया होता तो साले लिखते उसमे हिन्दू लिखना कभी नहीं भूलते दोगले ndtv ndtv बलात्कारी_का_धर्म_बताओ Up m bi huya h . Jara pata kry DELHI There is no drinking water in three streets of WZ 336 in Naraina Village Delhi for a long time. The MLA of this area is Raghav Chadha who is also the vice chairman of Delhi jal board

BJP is responsible. First in elected government and thereafter direct rule. Na khaunga ba khane dunga.

देश के कई हिस्सों में बाढ़ से तबाही: महाराष्ट्र में बाढ़ से जुड़े हादसों में 136 मौतें, कर्नाटक के 7 जिलों में रेड अलर्ट; गोवा के कई शहर पानी में डूबेमहाराष्ट्र में शनिवार को भी बारिश का कहर जारी है। गुरुवार शाम से लेकर अब तक बारिश से जुड़ी अलग-अलग घटनाओं में 136 लोगों की मौत हो चुकी है। बुरी तरह प्रभावित ठाणे, रायगढ़, रत्नागिरी, सतारा, सांगली और कोल्हापुर जिलों से 8 हजार से ज्यादा लोगों को NDRF, नेवी और आर्मी ने रेस्क्यू किया है। 200 से ज्यादा गांवों का प्रमुख इलाकों से संपर्क टूट गया है। | heavy rain in maharashtra: NDRF, Army and Navy have rescued more than 8 thousand people so far, 129 people died in the state; Red alert of rain for the next two days in many districts नर्सेज भर्ती 2018 को अस्थायी पदस्थान को 1 साल से ऊपर हो गया फ़ाइल मंत्री RaghusharmaINC के पास पड़ी है वो ध्यान नही दे रहे है मंत्री जी आम नर्सेज को कार्य बहिष्कार के लिए मजबूर नही करें 12000 नर्सेज में बहुत आक्रोश है ajaymaken RahulGandhi SachinPilot ashokgehlot51

विश्वविद्यालय समाचार : डीयू में स्नातकोत्तर में प्रवेश के लिए नहीं होंगे साक्षात्कारविश्वविद्यालय समाचार : डीयू में स्नातकोत्तर में प्रवेश के लिए नहीं होंगे साक्षात्कार DelhiUniversity Admission

रिपोर्ट में खुलासा: इस वर्ष तकनीक के जरिये धोखाधड़ी के सबसे ज्यादा शिकार बने भारतीयमाइक्रोसॉफ्ट की ग्लोबल टेक सपोर्ट स्कैम रिसर्च की रिपोर्ट के अनुसार भारत में 2021 में ऐसे मामलों की संख्या 69 प्रतिशत के

टोक्यो ओलंपिक में कोरोना संक्रमण के मामले अब 100 के पार, 19 नए मामलेटोक्यो ओलंपिक में कोरोना संक्रमण के मामले बढ़कर 100 से अधिक हो गए. आयोजकों ने शुक्रवार को 19 नए मामले सामने आने की घोषणा की.

Tokyo Olympics 2020: ये हैं भारत के होनहार जो हैं ओलंपिक में पदक जीतने के दावेदारTokyo Olympics 2020 के लिए 127 भारतीय एथलीटों ने क्वालीफाई किया है लेकिन ये भी सच है कि सभी खिलाड़ी पदक नहीं हासिल कर पाएंगे लेकिन जो खिलाड़ी पदक जीत सकते हैं उनके बारे में टूर्नामेंट से पहले जान लीजिए। दैनिक जागरण का लोग बहिष्कार कर रहे हैं क्योंकि यह आम जनता किसान बेरोजगार मजदूर आम आदमी से जुड़े सवाल नहीं दिखाता नहीं उठाता है और सरकार की झूठी प्रशंसा में लगा रहता है, खबरों को छुपाता है लगता है और जनता को भ्रमित करता है शुभकामनायें। Arrest_Ramkesh_Meena Arrest_Ramkesh_Meena Arrest_Ramkesh_Meena Arrest_Ramkesh_Meena Arrest_Ramkesh_Meena Arrest_Ramkesh_Meena Arrest_Ramkesh_Meena Arrest_Ramkesh_Meena Arrest_Ramkesh_Meena Arrest_Ramkesh_Meena Arrest_Ramkesh_Meena Arrest_Ramkesh_Meena

Sawan 2021: सावन के महीने में इन कामों की मनाही, खान-पान में भी बरतें सावधानीसावन का महीना 25 जुलाई से शुरू होने वाला है. सावन का पहला सोमवार 26 जुलाई को है. सावन के महीने में भगवान शिव की विशेष पूजा-अर्चना की जाती है. भोले भक्त इस पूरे महीने शिव को प्रसन्न करने के प्रयत्न करते हैं. इस महीने में कुछ खास कार्य शुभ माने जाते हैं वहीं कुछ कार्य करने की मनाही है. पंडित प्रवीन मिश्रा बता रहे हैं कि सावन के महीने में कौन से काम करने चाहिए और किन कामों को करने से बचना चाहिए.