भारत को शामिल करने जा रहा रूस, जयशंकर की कोशिश हुई कामयाब? - BBC News हिंदी

भारत को शामिल करने जा रहा रूस, जयशंकर की कोशिश हुई कामयाब?

21-07-2021 15:55:00

भारत को शामिल करने जा रहा रूस, जयशंकर की कोशिश हुई कामयाब?

इससे पहले रूस ने भारत ने भारत को छोड़ पाकिस्तान और चीन को शामिल किया था लेकिन अब रूस का रुख़ बदलता दिख रहा है. आख़िर क्या है इसके पीछे का कारण?

इमेज कैप्शन,अफ़ग़ानिस्तान के राष्ट्रीय सुरक्षा सलाहकार के साथ भारत के राष्ट्रीय सुरक्षा सलाहकार अजीत डोभालरूस ने तरीक़ा सुझायाइंडियन एक्सप्रेस की रिपोर्ट के अनुसार, इस नए मैकेनिज़म को अमेरिका ने सुझाया है वहीं रूस ने जो योजना सुझायी थी उसमें भारत को इन देशों की सूची में शामिल नहीं किया गया था.

संयुक्त राष्ट्र में बोले बाइडन- एक और शीत युद्ध नहीं चाहते, अपनी नाकामी का नतीजा भुगत चुके - BBC Hindi PBKS vs RR IPL 2021: राजस्थान ने पंजाब के खिलाफ दर्ज की रोमांचक जीत, 2 रन से जीता मुकाबला योगी आदित्यनाथ ने कहा- यूपी में 'गौमाता को छेड़ने वाला' सुरक्षित महसूस नहीं करेगा - BBC Hindi

सूत्रों ने द इंडियन एक्सप्रेस को बताया था कि रूस और चीन के दरमियान बढ़ती नज़दीकी के बीच रूस ने जो तरीका सुझाया था, उसमें रूस, चीन, अमेरिका, पाकिस्तान और ईरान को बातचीत के मेज पर रखे जाने की बात कही गई थी.एक अधिकारी ने अख़बार से बताया था कि ऐसा पाकिस्तान के कहने पर किया गया था जो नहीं चाहता कि भारत इस इलाक़े में शांति के लिए तैयार किए जा रहे रोडमैप का हिस्सा बने.

लेकिन भारत इस पर लंबे वक़्त से काम कर रहा था और इसके लिए सभी भारत ने अफ़गानिस्तान और उससे बाहर सभी अहम किरदारों से संपर्क साधा ताकि वह बातचीत की इस टेबल का हिस्सा बन सके. हालांकि रूस ने इंडियन एक्सप्रेस की रिपोर्ट को ख़ारिज कर दिया था.इमेज स्रोत,Getty Images headtopics.com

अब इस टीम का हिस्सा होने के कारण भारत को उम्मीद है कि वह विशेष रूप से आतंकवाद, हिंसा, महिलाओं के अधिकारों और लोकतांत्रिक मूल्यों को लेकर नियमों को तय करने में अहम भूमिका निभाएगा.भारत का यह मानना है कि वह एक अफ़ग़ानिस्तान-नेतृत्व वाली, अफ़ग़ानिस्तान-नियंत्रित और अफ़ग़ानिस्तान के स्वामित्व वाली प्रणाली चाहता है, लेकिन अफ़ग़ानिस्तान में ज़मीनी हक़ीक़त कुछ ऐसी रही है कि यहाँ ऐसा हो नहीं सका है.

टोलो न्यूज़ में मार्च महीने में छपी एक रिपोर्ट के अनुसार, अमेरिकी विदेश मंत्री एंटनी ब्लिंकन ने पिछले सप्ताह अफ़ग़ानिस्तान के राष्ट्रपति अशरफ़ ग़नी और हाई काउंसिल फोर नेशनल रिकंसिलिएशन के अध्यक्ष अब्दुल्ला अब्दुल्ला को एक चिट्ठी भेजी थी जिसमें संयुक्त राष्ट्र के संरक्षण में एक रिजनल कॉन्फ्रेंस के गठन का प्रस्ताव दिया गया था.

इसके अंतर्गत अमेरिका, भारत, रूस, चीन, पाकिस्तान और ईरान के विदेश मंत्री एक साथ मिलकर अफ़गानिस्तान में बेहतरी लाने की कोशिश करेंगे. और पढो: BBC News Hindi »

गुजरात में सियासी भूचाल, कौन होगा अगला मुख्यमंत्री? देखें दंगल में बड़ी बहस

गुजरात में शनिवार को बड़ा सियासी उलटफेर हुआ है. विजय रुपाणी (Vijay Rupani) ने मुख्यमंत्री (Chief Minister) के पद से इस्तीफा (Resign) दे दिया. उन्होंने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी, गृह मंत्री अमित शाह और पार्टी आलाकमान को आभार प्रकट किया. कुछ देर पहले ही रुपाणी ने राज्यपाल आचार्य देवव्रत से मुलाकात करते हुए उन्हें इस्तीफा सौंप दिया. गुजरात के मुख्यमंत्री पद से विजय रुपाणी के इस्तीफा देने के बाद अब यह सवाल उठने लगा है कि राज्य का अगला मुख्यमंत्री कौन होगा? देखें दंगल में बड़ी बहस.

पुतिन ने अमेरिका को दिया करारा जवाब, पेश किया सुखोई चेकमेट फाइटर जेट, भारत को ऑफरदुनिया के हथियारों के बाजार में तेजी से पिछड़ रहे रूस ने अब अमेरिकी बादशाहत को चुनौती देने के लिए अपना सबसे घातक 'सुखोई चेकमेट' फाइटर जेट पेश किया है। पांचवीं पीढ़ी का यह सुखोई चेकमेट लड़ाकू विमान आकाश में अमेरिका के सबसे आधुनिक F-35 विमानों को टक्‍कर देगा। रूस का कहना है कि यह फाइटर जेट दुश्‍मन के अत्‍याधुनिक रेडॉर को चकमा देने में सक्षम है और सुपरसोनिक स्‍पीड से उड़ान भर सकता है। सुखोई चेकमेट की अहमियत का अंदाजा इस बात से लगाया जा सकता है कि खुद रूस के राष्‍ट्रपति व्‍लादिमीर पुतिन ने MAKS-2021 एयर शो के दौरान इस घातक विमान का जायजा लिया। इस विमान को रूस की चर्चित कंपनी सुखोई ने बनाया है। यही नहीं रूस ने अपने भरोसेमंद दोस्‍त भारत को भी इस घातक विमान को बेचने का ऑफर दे डाला है। आइए जानते हैं कितना शक्तिशाली है रूस का यह नया हवाई योद्धा सुखोई चेकमेट....

गुजरात: निखिल सवानी AAP में शामिल, हार्दिक पटेल को लेकर अटकलें तेजनिखिल सवानी से जब पूछा गया कि क्या आपके दोस्त हार्दिक पटेल भी आम आदमी पार्टी में आएंगे? इसपर सवानी ने कहा कि यह तो हार्दिक पटेल ही साफ कर सकते हैं. Mere Hindu bhaiyo se ek appeal hai BJP4India hum logo ko bewakuf banarahi hai Hamare mudde Mahengai Jobs Health aur Education hai Ye CAA NRC TripleTalaq Article370 RamMandir ye hamare mudde nahi hai Vote daalne se pehle sochna BHAGWA 🚩🚩ya TIRANGA 🇮🇳🇮🇳 Silent dogs कांग्रेस तो इसी हो गई है जेसे डूबता जहाज़ कोई रहना ही नहीं चाहता... वैसे भी राहुल जी ने बोला है जो डरते है वो सब कांग्रेस छोड़ कर चले जाए....

ड्रैगन की चाल: भारत को घेरने के लिए लद्दाख के पास चीन विकसित कर रहा एयरबेसड्रैगन की चाल: भारत को घेरने के लिए लद्दाख के पास चीन विकसित कर रहा एयरबेस China Ladakh Airbase IndianArmy adgpi adgpi narendramodi जी ये क्या हो रहा

Tokyo Olympics: 19 साल के सौरभ चौधरी से बड़ी उम्मीद, भारत को दिला सकते हैं मेडलसौरभ के हालिया प्रदर्शनों की चर्चा भारत ही नहीं, पूरे विश्व में है. यही वजह है कि टाइम मैगजीन ने ओलंपिक से पहले जो 48 खिलाड़ियों की लिस्ट जारी की, उसमें सौरभ चौधरी का भी नाम शामिल है.

भारत में जासूसी: मोदी सरकार को देना होगा जवाबवीडियो: द वायर समेत 16 मीडिया संगठनों द्वारा की गई पड़ताल दिखाती है कि इज़रायल के एनएसओ ग्रुप के पेगासस स्पायवेयर द्वारा स्वतंत्र पत्रकारों, स्तंभकारों, क्षेत्रीय मीडिया के साथ हिंदुस्तान टाइम्स, द हिंदू, इंडियन एक्सप्रेस, द वायर, न्यूज़ 18, इंडिया टुडे, द पायनियर जैसे राष्ट्रीय मीडिया संस्थानों को भी निशाना बनाया गया था. इस मुद्दे पर द वायर के संस्थापक संपादक सिद्धार्थ वरदराजन और इंटरनेट फ्रीडम फाउंडेशन के अपार गुप्ता से आरफ़ा ख़ानम शेरवानी की बातचीत. Keep up the good work.....we support you. Pegasus spyware se the Wire ka bhi nata hai? जब जब ढोंगी लोगो को छलता हैं। परदे के पिछे छुपकर बाते सुनता। दूसरो से कम अब अपनो से ज्यादा डरता हैं। Pegasus भारतीय_जासूस_पार्टी

'भारत को अस्थिर करने की अंतरराष्ट्रीय साजिश', देखें जासूसी के आरोपों पर क्या बोले Yogiसंसद के मॉनसून सत्र (Monsoon Session) में विपक्ष के निशाने पर केंद्र सरकार है. हाल ही में फोन हैकिंग मामले के खुलासे को लेकर विपक्ष एकजुट है और सरकार से जवाब मांग रहा है. कांग्रेस, लेफ्ट समेत अन्य पार्टियों द्वारा अब इस मसले पर ज्वाइंट पार्लियामेंट्री कमेटी (JPC) जांच कराने की मांग की गई है. वहीं, संसद के दोनों सदनों में भी विपक्ष की ओर से इस मसले को उठाया जा रहा है. इस पर उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने विपक्ष पर हमला बोला है. योगी ने इसे भारत को अस्थिर करने की अंतरराष्ट्रीय साजिश करार दिया. देखें योगी आदित्यनाथ की प्रेस कॉन्फ्रेंस.