Sanitationworkers, Covid 19, Lockdown, सफाईकर्मी, कोविड19, लॉकडाउन

Sanitationworkers, Covid 19

दिल्ली: कोविड लॉकडाउन के दौरान ज़रूरी उपकरणों के अभाव में 25 सफाईकर्मियों की मौत

दिल्ली: कोविड लॉकडाउन के दौरान ज़रूरी उपकरणों के अभाव में 25 सफाईकर्मियों की मौत #SanitationWorkers #Covid19 #Lockdown #सफाईकर्मी #कोविड19 #लॉकडाउन

29-07-2021 16:01:00

दिल्ली: कोविड लॉकडाउन के दौरान ज़रूरी उपकरणों के अभाव में 25 सफाईकर्मियों की मौत SanitationWorkers Covid19 Lockdown सफाईकर्मी कोविड19 लॉकडाउन

दिल्ली हाईकोर्ट की पीठ उस जनहित याचिका पर सुनवाई कर रही थी, जिसमें सफाईकर्मियों की लंबित तनख़्वाह जारी करने, उन्हें चिकित्सा सुविधा के साथ-साथ निजी सुरक्षा उपकरण भी उपलब्ध कराने का आग्रह किया गया है. याचिका में आरोप लगाया गया है कि इन सफाई कर्मचारियों और उनके परिवारों के इलाज और देखभाल के साथ-साथ चिकित्सा बीमा की कोई सुविधा प्रतिवादियों- केंद्र, दिल्ली सरकार और सफाई कर्मचारी आयोगों द्वारा उपलब्ध नहीं कराई गई है.

नई दिल्ली:दिल्ली सफाई कर्मचारी आयोग (डीसीएसके) ने बुधवार को दिल्ली उच्च न्यायालय को सूचित किया कि उसने कोविड-19 लॉकडाउन की अवधि के दौरान जरूरी उपकरणों के अभाव में 25 सफाई कर्मचारियों की मौत का संज्ञान लिया है और मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने उनके आश्रितों के लिए उचित मुआवजे का ऐलान किया है.

हवाई सफर के दौरान भारतीय प्रधानमंत्रियों की चार बार ली गई थी तस्‍वीर', देखें PHOTOS दिग्विजय बोले: हिंदुओं की तुलना में कम बच्चे पैदा कर रहे मुस्लिम, 2028 तक जन्म दर हो जाएगी बराबर एंट्रेस निकालकर भी नहीं पढ़ा MBBS, मौलाना कलीम ऐसे चलाता था धर्मांतरण-हवाला का नेटवर्क

आयोग ने कहा कि उसने इन व्यक्तियों की मृत्यु के मामले में मुआवजे और अनुकंपा नियुक्ति की सिफारिश की है और कुछ मामलों में एक करोड़ रुपये से 10 लाख रुपये तक के मुआवजे का भुगतान किया गया है.आयोग ने मुख्य न्यायाधीश डीएन पटेल और जस्टिस ज्योति सिंह की पीठ के समक्ष दायर हलफनामे में यह सूचना दी है.

पीठ उस जनहित याचिका पर सुनवाई कर रही थी, जिसमें सफाईकर्मियों की लंबित तनख्वाह जारी करने, उन्हें चिकित्सा सुविधा के साथ-साथ निजी सुरक्षा उपकरण भी उपलब्ध कराने का आग्रह किया गया है.याचिकाकर्ता हरनाम सिंह का प्रतिनिधित्व कर रहे अधिवक्ता महमूद प्राचा ने आयोग के हलफनामे पर जवाब दाखिल करने के लिए समय मांगा, जिसके बाद अदालत ने मामले को आगे की सुनवाई के लिए 13 सितंबर को सूचीबद्ध कर दिया. headtopics.com

आयोग ने कहा कि याचिका वेतन और सुरक्षा उपकरणों से संबंधित है, लेकिन संबंधित अधिकारियों- तीनों नगर निगमों (एमसीडी) नई दिल्ली नगर पालिका परिषद और दिल्ली छावनी बोर्ड- को याचिका में पक्षकार नहीं बनाया गया है.आयोग ने कहा कि सफाई कर्मचारियों को वेतन का भुगतान न करने का स्वत: संज्ञान लेते हुए उसने एमसीडी को समय पर बकाये का भुगतान करने का निर्देश दिया है, क्योंकि कर्मचारी वित्तीय कठिनाई का सामना कर रहे हैं.

समाचार एजेंसीपीटीआईके मुताबिक, उच्च न्यायालय ने इससे पहले नोटिस जारी कर याचिका पर सामाजिक न्याय और अधिकारिता मंत्रालय, दिल्ली सरकार के साथ-साथ राष्ट्रीय और दिल्ली सफाई कर्मचारी आयोग से जवाब मांगा था.दिल्ली निवासी हरनाम सिंह, जो एक सामाजिक कार्यकर्ता हैं और दिल्ली सफाई कर्मचारी आयोग के पूर्व अध्यक्ष की याचिका में आरोप लगाया गया है कि जिस समय महामारी की संख्या अनियंत्रित रूप से बढ़ रही थी, उस समय सफाई कर्मचारियों को आवश्यक सुरक्षात्मक उपकरण के बिना काम करने के लिए मजबूर किया गया था.

उन्होंने यह भी आरोप लगाया है कि सफाई कर्मचारियों के कल्याण के लिए गठित दो आयोगों ने भी अपने कर्तव्यों का पालन नहीं किया.याचिका में दावा किया गया है, ‘इसके अलावा इन सफाई कर्मचारियों और उनके परिवारों के इलाज और देखभाल के साथ-साथ चिकित्सा बीमा की कोई सुविधा प्रतिवादियों (केंद्र, दिल्ली सरकार और आयोगों) द्वारा उपलब्ध नहीं कराई गई है.’

इसने यह भी दावा किया है, ‘उक्त स्थिति के कारण उत्तरी दिल्ली नगर निगम के कर्मचारी जनवरी 2021 की शुरुआत से हड़ताल पर हैं, जबकि पूर्वी दिल्ली नगर निगम के कर्मचारियों ने भी हाल ही में हड़ताल की घोषणा की है.’उन्होंने कहा, ‘चूंकि सफाई कर्मचारियों को कठोर कदम उठाने के लिए मजबूर किया गया है, इसका स्वच्छता और आम जनता की सुरक्षा के लिए गंभीर प्रभाव पड़ेगा.’ headtopics.com

बिहार: पति की हत्या कर शव केमिकल से गला रही थी पत्नी, चार दिन बाद हो गया ब्लास्ट IPL: आज MI-KKR आमने-सामने, रोहित पर जीत दिलाने की जिम्मेदारी महंत नरेंद्र गिरि केस: आनंद गिरि की जान को खतरा, विशेष सुरक्षा दी जाए, वकील का दावा

(समाचार एजेंसी भाषा से इनपुट के साथ) और पढो: द वायर हिंदी »

Delhi में बड़े Terror Module का पर्दाफाश, जांच एजेंसियों ने 6 को दबोचा, देखें स्पेशल रिपोर्ट

दिल्ली में पाकिस्तान की बड़ी साजिश का खुलासा करते हुए एजेंसी ने 6 लोगों को गिरफ्तार किया है. जानकारी के मुताबिक इस पाकिस्तानी आतंकी मॉड्यूल के लिए काम करने वाले 6 लोगों में से दो ने पाकिस्तान में ट्रेनिंग हासिल की थी. जांच एजेंसियों ने पाकिस्तान द्वारा पोषित एक आतंकी मॉड्यूल का भंडाफोड़ किया है. इस मामले में जांच एजेंसियों ने 6 लोगों को गिरफ़्तार किया है. पकड़े गए संदिग्ध भारत में इस आतंकी मॉड्यूल को ऑपरेट कर रहे थे. इन सभी से लगातार पूछताछ की जा रही है. एजेंसी का दावा है कि पकड़े गए इन संदिग्ध आतंकियों के पास से बड़ी मात्रा में हथियार और विस्फोटक बरामद हुए हैं. देखिए स्पेशल रिपोर्ट का ये एपिसोड.

कल से दिल्ली में उत्तर प्रदेश के बीजेपी सांसदों की बड़ी बैठकयह बैठक दो दिन होगी- 28 और 29 जुलाई. 28 को बृज, पश्चिम और कानपुर क्षेत्र के सांसदों की बैठक होगी. वहीं 29 को अवध, काशी और गोरखपुर क्षेत्र कि बैठक होगी. इस बैठक में मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ, उत्तरप्रदेश बीजेपी अध्यक्ष स्वतंत्र देव , प्रदेश संगठन मंत्री सुनील बंसल और प्रभारी राधामोहन सिंह भी मौजूद रहेंगे.

जिम्मेदारी: दिल्ली पुलिस के नए कमिश्नर बने राकेश अस्थाना, मोदी सरकार ने की नियुक्तिदिल्ली पुलिस के नए कमिश्नर बने राकेश अस्थाना, मोदी सरकार ने की नियुक्ति Delhi DelhiPolice rakeshasthana HMOIndia DelhiPolice HMOIndia DelhiPolice Amar Ujala सोशल मीडिया के मेरे फेसबुक, इंस्टाग्राम और ट्विटर पेज को लाइक और फॉलो करे फेसबुक - इंस्टाग्राम - ट्विटर - व्हाट्सएप्प - समीर श्रीवास्तव HMOIndia DelhiPolice आउटसोर्स कर्मचारी ने अपने जीवन समय विभागो में सेवा को दिया हैउन्हें विभाग द्वारा नियमित आधार पर अन्य कर्मचारी की नियुक्ति पर आउटसोर्स को विभाग से निकालने का डर रहता है तब उम्र के हिसाब से आउटसोर्स वालोंको काम मिलने के अवसर नहि होते है व उनके परिवार को पालन पोषण बहुत ही कठिन है

राकेश अस्थाना की नियुक्ति के खिलाफ दिल्ली विधानसभा में प्रस्ताव, केंद्र पर बरसे AAP नेतादिल्ली विधानसभा में राकेश अस्थाना की नियुक्ति के खिलाफ प्रस्ताव पारित किया गया है. गुरुवार शाम को दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल विधानसभा में इस मसले पर संबोधन देंगे. KumarKunalmedia KumarKunalmedia डरने लगे हैं सब

मिशन 2022: बीजेपी के शीर्ष नेतृत्व का UP के सांसदों के साथ दिल्ली में मंथन, 2017 जैसे नतीजे दोहराने की चुनौतीकार्यकर्ताओं को जिम्मेदारी सौंपने के बाद बीजेपी अब सांसदों को यूपी मिशन में लगाने जा रही है. इसी के तहत पार्टी के राष्ट्रीय नेतृत्व में यूपी चुनाव को लेकर दिल्ली में दो दिवसीय बैठक बुधवार से शुरू हो रही है, जिसमें यूपी के सभी सांसद शामिल होंगे. माना जा रहा है कि बीजेपी सांसदों से फीडबैक लेने के साथ ही 2022 के चुनाव का खाका तैयार करेगी. abhishek6164 End of BJP from India very soon.

दिल्ली पहुंचे ब्लिंकेन, अमेरिका ने कहा- 'भारत के विश्व शक्ति बनने के पक्ष में' - BBC Hindiअमेरिकी विदेश मंत्रालय की ओर से ये बयान तब आया है जब अमेरिकी विदेश मंत्री एंटनी ब्लिंकेन अपनी दो दिवसीय भारत यात्रा पर मंगलवार को दिल्ली पहुंचे हैं. Yahi ki pok India ka hai, bina mar khay doge to fayde me rahoge meena773397 SureshChavhanke ये टीआरपी जुगाड रहा है रोज लफंगु

राकेश अस्थाना बने दिल्ली पुलिस के नए कमिश्नर, गुजरात कैडर के हैं IPSगृह मंत्रालय ने राकेश अस्थाना को दिल्ली पुलिस का नया कमिश्नर नियुक्त करने के संबंध में आदेश जारी कर दिया है. अस्थाना इस समय सीमा सुरक्षा बल (बीएसएफ) के महानिदेशक (डीजी) पद पर तैनात हैं. TanseemHaider और चुनावी चंदा..? यूँही पुरस्कृत नहीं करता हैं तडीपार TanseemHaider शुभ कामनाएं TanseemHaider चोर भी रहेगा और बीजेपी को मदद करेगा तो उसको इनाम मिलेगा ही