चीन के हाइपरसोनिक मिसाइलों से अमेरिका को क्यों है परेशानी? - BBC News हिंदी

चीन के हाइपरसोनिक मिसाइलों से अमेरिका को क्यों है परेशानी?

02-12-2021 19:18:00

चीन के हाइपरसोनिक मिसाइलों से अमेरिका को क्यों है परेशानी?

अमेरिका के रक्षा मंत्री ने कहा है कि हाइपरसोनिक हथियारों के पीछे चीन की दौड़ से क्षेत्र में तनाव पैदा हो रहा है. आखिर क्या है अमेरिकी चिंता की वजह और क्या है जानकारों का कहना?

एपिसोड्ससमाप्तउन्होंने इन हथियारों के बारे में अधिक जानकारी देने से मना कर दिया, हालांकि बताया कि इन हथियारों का रास्ता, उनकी तेज़ गति, हवा में अपनी चाल को नियंत्रित कर पाने की क्षमता मिसाइल को डिटेक्ट करने वाले सिस्टम से बच कर निकलने में इनकी मदद करेगा.

उन्होंने कहा कि जिस तरह का हाइपरसोनिक मिसाइल टेस्ट चीन ने किया है, अब तक उस तरह का टेस्ट अमेरिका नहीं कर सका है.वहीं सोमवार को रूस नेदावा किया थाकि उसकी नौसेना ने सफलतापूर्वक एक हाइपरसोनिक क्रूज़ मिसाइल का परीक्षण किया है.इस टेस्ट के बारे में रूस का कहना था कि ये ज़िरकॉन क्रूज़ मिसाइल थी जिसने अभ्यास के दौरान 400 किलोमीटर दूर मौजूद अपने लक्ष्य को भेदा.

रूसी राष्ट्रपति व्लादिमीर पुतिन ने कहा था कि ज़िरकॉन सिरीज़ की मिसाइलें आवाज़ की गति से नौ गुना तेज़ी से मार कर सकती हैं और एक हज़ार किलोमीटर दूर तक के लक्ष्य भी भेद सकती हैं. रूसी सेना जल्द ही इस सिरीज़ की मिसाइलों को सेना में शामिल करने वाली है.चीन की बैलेस्टिक मिसाइल से भारत को कितना ख़तरा? headtopics.com

Cryptocurrency Bill लाने की वकालत कर रहे एक्‍सपर्ट, बोले-बजट सत्र में ही पारित कराए सरकार

जानकार मानते हैं कि अमेरिका इस बात को लेकर चिंता में है कि हथियारों में रेस में वो कहीं रूस और चीन से पिछड़ न जाए.इस साल सितंबर में अमेरिका ने हाइपरसोनिक मिसाइलों का सफलतापूर्वक टेस्ट करने कादावा किया था.हाइपरसोनिक मिसाइलें माक 5 या उससे अधिक गति (आवाज़ की गति से 5 गुना या उससे अधिक की स्पीड) से जा सकती हैं और अपनी स्पीड और गति नियंत्रित करने की क्षमता के कारण मिसाइल डिफेन्स सिस्टम को चकमा देकर लक्ष्य को भेद सकती हैं.

हालांकि कुछ जानकारों का कहना है कि संभावित तनाव की स्थिति को टालने या जारी हथियारों की दौड़ को रोकने में हाइपरसोनिक मिसाइलों का शायद की कोई योगदान होगा.इमेज स्रोत,Getty Images'उत्तर कोरिया के साथ कूटनीतिक रास्ता अपनाने को तैयार'उत्तर कोरिया के बारे में लॉएड ऑस्टिन ने कहा कि उन्होंने इस बारे में दक्षिण कोरिया के रक्षा मंत्री सू वूक के विस्तृत चर्चा की है और द्विपक्षीय साझेदारी पर भी बात की है.

उन्होंने कहा कि मिसाइल बनाने की उत्तर कोरिया की कोशिशों से क्षेत्रीय सुरक्षा में अस्थिरता पैदा हो रही है.उन्होंने ज़ोर देकर कहा कि उत्तर कोरिया के मामले में अमेरिका और दक्षिण कोरिया दोनों कूटनीतिक बातचीत का रास्ता अपनाने के लिए प्रतिबद्ध हैं.इधर दक्षिण कोरिया के रक्षा मंत्री सू वूक ने कहा कि कोरियाई प्रायद्वीप पर स्थाई शांति स्थापित हो सके इसके लिए ज़रूरी है कि उसके सहयोगी को दक्षिण कोरिया-उत्तर कोरिया और उत्तर कोरिया-अमेरिका के बीच प्रतिबद्धताओं की समझ हो.

केरल में बेकाबू हो रही कोरोना की रफ्तार, 24 घंटे में 54 हजार से ज्यादा नए मामले, जानें अन्य राज्यों का क्या है हाल

गंभीर आर्थिक संकट और कोरोना महामारी के कारण पैदा हुई विपरीत परिस्थितियों के बावजूद उत्तर कोरिया बातचीत शुरू करने की अमेरिकी पेशकश को ठुकराता रहा है. उत्तर कोरिया का कहना है कि अमेरिका पहले उत्तर कोरिया को लेकर अपना रवैय्या बदले और उस पर लगे प्रतिबंध हटाए. headtopics.com

दूसरी तरफ बाइडन प्रशासन का कहना है कि उत्तर कोरिया पर लगाए गए गए अंतरराष्ट्रीय प्रतिबंध तब तक हटाए नहीं जाएंगे जब तक वो परमाणु निरस्त्रीकरण को लेकर प्रभावी कदम न उठाए.इस सप्ताह की शुरुआत में पेंटागन ने एकवैश्विक समीक्षा रिपोर्टजारी की थी जिसमें कहा गया था कि चीनी सेना के आक्रामक रवैय्ये और उत्तर कोरिया की तरफ़ से संभावित ख़तरे से निपटने के लिए अमेरिका को अपने सहयोगी मुल्कों के साथ साझेदारी बढ़ानी चाहिए.

और पढो: BBC News Hindi »

सरकारी टीचर ने 2.25 करोड़ में खरीदा REET पेपर: स्ट्रॉन्ग रूम से पेपर खरीदकर दोस्त भजनलाल को दिया, करोड़ों की डील करने वाला BPL परिवार से

REET पेपर लीक मामले में जालोर के भजन लाल की गिरफ्तारी के बाद एसओजी रोज नए खुलासे कर रही है। एसओजी ने गुरुवार देर रात एक ओर सरकारी टीचर को गिरफ्तार किया है। आरोपी ग्रेड सेकंड टीचर है और सवा दो करोड़ में पेपर खरीद कर अपने दोस्त भजनलाल को दिया था। पेपर लीक मामले के दोनों गुनहगार एक ही गांव के पड़ोसी निकले। जालोर के रणोदर गांव निवासी उदाराम विश्रोई सेकंड ग्रेड शिक्षक है। वह अभी जालोर जिले के ही लूणियासर... | REET Paper Out; Both the criminals are neighbors of a village, Udram's family who bought BPL for 2.25 crores और पढो >>

Kisi bhi bade desh ka jhagda karobar amir garib ka aage pichhe vikas ka hai hathiyar to khali naam ke liye hota hai टेलीकॉम जियो जैसी कंपनीयाँ रोज अपने प्लान महंगा करते जा रही हैं सरकार रोक थाम करे, इस पर भी कानून बना चाहिए इसका भी MSP होना चाहिए कंपनियों की मनमानी नहीं चलनी चाहिए आये दिन लोगों की जेब पर डाका पड़ रहा है। अमीर,अमीर होता जा रहा है और गरीब, गरीब होता जा रहा है।

हिमाचल: चीन बॉर्डर के लिए बनेगा देश का सबसे ऊंचा तीसरा डबल लेन मार्गसामरिक दृष्टि से महत्वपूर्ण ग्रांफू-काजा-समदो मार्ग जल्द ही देश का तीसरा सबसे अधिक ऊंचाई पर बनने वाला डबललेन मार्ग

स्मार्टफोन में क्या है DRE टेक्नोलॉजी और कैसे करता है यह कामयह एक ऐसी तकनीक है जो फोन के इंटरनल स्टोरेज को वर्चुअल रैम में बदल देती है। वर्चुअल रैम वास्तव में फोन के इंटरनल स्टोरेज को अस्थायी रैम के रूप में उपयोग करती है। इसका मुख्य काम मेमोरी मैनेजमेंट को बेहतर बनाना है।

कोरोना टीका बिना आधार कार्ड के भी लग सकता है, जानिए कैसेबिहार स्वास्थ्य विभाग द्वारा दी गई जानकारी के मुताबिक, राज्य में कोरोना वैक्सीन लेने के लिए अब आधार कार्ड की अनिवार्यता खत्म कर दी गई है।

केशव प्रसाद मौर्य के 'मथुरा की तैयारी है' बयान पर बोलीं मायावती - BBC Hindiउत्तर प्रदेश की पूर्व मुख्यमंत्री और बहुजन समाज पार्टी सुप्रीमो मायावती ने उत्तर प्रदेश के वर्तमान उपमुख्यमंत्री केशव प्रसाद मौर्य के बयान पर आपत्ति जताई है. ई तो सेल्फ गोल करने लगा Please support YOUTHS 2 crore aspirants waiting for Exame and Result From 1000 days ? JusticeForRailwayStudents आज टेक सहारे बड़ी असानी से ले सकते परीक्षा सुरक्षित, बच्चो की! पर अडिजिटल इंडिया! जीवन लेने को कोरोना हो या किसान!! डिजिटल इंडिया वसूली सरकार कोई मामला हो!

टंट्या मामा के ताबीज से मिलता है स्वास्थ्य लाभ : मध्य प्रदेश की मंत्री का अजीबोगरीब बयानमध्यप्रदेश की पर्यटन मंत्री उषा ठाकुर (Usha Thakur) अक्सर अपने विवादित बयानों के चलते सुर्खियों में रहती हैं. इस बार फिर से मंत्री उषा ठाकुर ने अजीबोगरीब बयान दिया है और लोगों को ताबीज धारण करने की सलाह दी है. शिवराजसिंह टंट्या मामा कब से हो गए .... Please watch this video

Gold Rate Today : Omicron के डर के बावजूद फिसले सोना-चांदी, सिल्वर फ्यूचर 900 रुपये गिराGold Price Today on 2nd December, 2021 : Omicron के डर के बावजूद बुलियन मार्केट में गिरावट दर्ज हो रही है. गुरुवार यानी 2 दिसंबर, 2021 को सोना मल्टी कमोडिटी एक्सचेंज पर 100 रुपये के लगभग की गिरावट दिखा रहा था. गोल्ड फ्यूचर की कीमत 47,791 रुपये प्रति ग्राम दर्ज हो रही थी. JusticeForRailwayStudents JusticeForRailwayStudents JusticeForRailwayStudents No jumalebaazi, बीके हुए मीडिया वालों तुम्हारी मरी हुई आत्मा को शांति PMOIndia ravishndtv AshwiniVaishnaw