चीन अगले साल जनवरी से भारत की टेंशन और बढ़ाने जा रहा - BBC News हिंदी

चीन अगले साल जनवरी से भारत की टेंशन और बढ़ाने जा रहा- प्रेस रिव्यू

28-10-2021 06:04:00

चीन अगले साल जनवरी से भारत की टेंशन और बढ़ाने जा रहा- प्रेस रिव्यू

पिछले 17 महीनों से पूर्वी लद्दाख में भारत और चीन के बीच सैन्य गतिरोध जारी है. इसी बीच चीन एक जनवरी से ऐसा क़दम उठाने की तैयारी कर चुका है जो भारत के लिए बेहद चिंताजनक है.

ने पेगासस जासूसी में सुप्रीम कोर्ट के फ़ैसले को पहले पन्ने की लीड ख़बर बनाई है. अख़बार ने लिखा है, उच्चतम न्यायालय ने नेताओं, जजों, पत्रकारों और सामाजिक कार्यकर्ताओं समेत कई लोगों की कथित निगरानी के लिए इसराइली स्पाईवेयर पेगासस के इस्तेमाल के आरोपों की जाँच के आदेश दिए हैं.

यूपीए के अस्तित्व के सवाल के बीच: राहुल गांधी से मिलने के बाद संजय राउत ने कहा- विपक्ष का केवल एक मोर्चा होना चाहिए Anil Menon बनेंगे नासा एस्ट्रोनॉट, हो सकते हैं चांद पर जाने वाले पहले भारतवंशी! UAE में अब सरकारी कर्मचारियों को पांच दिन से भी कम समय करना होगा काम

अदालत ने इसके लिए बुधवार को साइबर विशेषज्ञों की तीन सदस्यीय स्वतंत्र समिति का गठन किया है. साथ ही कहा कि सरकार हर बार राष्ट्रीय सुरक्षा की दुहाई देकर बच नहीं सकती.सर्वोच्च अदालत के पूर्व जज जस्टिस आरवी रविंद्रन इस कमिटी के कामकाज़ की निगरानी करेंगे. वहीं, रॉ के पूर्व प्रमुख आलोक जोशी, इंटरनेशनल इलेक्ट्रो तकनीकी आयोग के अध्यक्ष संदीप ओबेरॉय निगरानी में उन्हें सहयोग देंगे. जस्टिस रविंद्रन उन पीठ का हिस्सा रहे हैं जिन्होंने केंद्रीय विश्वविद्यालयों में अन्य पिछड़ा वर्गों के लिए आरक्षण को लेकर विवाद और मुंबई बम विस्फोट जैसे बड़े मामलों में सुनवाई की.

इमेज स्रोत,Getty Imagesमुख्य न्यायाधीश एनवी रमन्ना, सूर्यकांत और हिमा कोहली की पीठ ने कहा, 'न्याय न केवल किया जाना चाहिए, बल्कि होते हुए दिखना भी चाहिए.' इसके साथ ही पीठ ने आरोपों की जाँच के लिए विशेषज्ञ समिति नियुक्त करने का केंद्र का अनुरोध ठुकरा दिया. अदालत ने कहा कि ऐसी कार्रवाई पक्षपात के ख़िलाफ़ स्थापित सिद्धांत के विरुद्ध होगी. headtopics.com

अख़बार के अनुसार, अदालत ने कहा कि वह छह बाध्यकारी परिस्थितियों को देखते हुए समिति की नियुक्ति कर रही है. निजता के अधिकार और बोलने की स्वतंत्रता को प्रभावित करने का आरोप है, जिसकी जाँच की ज़रूरत है.संभावित भयभीत करने वाले प्रभाव के कारण इस तरह के आरोपों से संपूर्ण नागरिक प्रभावित होते हैं. इन आरोपों के बारे में दूसरे देशों की गंभीरता और मामले में विदेशी पक्षों की संलिप्तता को भी देखने की ज़रूरत है. पीठ ने कहा कि निजता पत्रकारों या सामाजिक कार्यकर्ताओं की इकलौती चिंता नहीं है.

अख़बार के अनुसार, सुप्रीम कोर्ट ने कहा, 'राष्ट्रीय सुरक्षा से जुड़ी चिंता को उठाकर सरकार को हर बार 'फ़्रीपास' नहीं मिल सकता. बार-बार मौक़े देने के बाद भी केंद्र ने सीमित हलफ़नामा दिया. अगर केंद्र ने कुछ स्पष्ट किया होता तो हम पर बोझ कम होता. हालांकि, कोर्ट राष्ट्रीय सुरक्षा का अतिक्रमण नहीं करेगी पर वह मूकदर्शक भी नहीं बनी रहेगी.'

सर्वोच्च अदालत ने कहा कि अख़बारों की ख़बरों पर आधारित आधी अधूरी याचिकाओं और उतावलेपन को भी हतोत्साहित करने की ज़रूरत है.इमेज स्रोत,@yadavakhileshअखिलेश यादव और राजभर एक मंच पर आएसमाजवादी पार्टी प्रमुख अखिलेश यादव बुधवार को उत्तर प्रदेश के मऊ में सुहेलदेव भारतीय समाज पार्टी के नेताओं के साथ मंच पर आए. अखिलेश यादव ने कहा कि जिस दरवाज़े से 2017 में बीजेपी सत्ता में आई थी, उसे ओम प्रकाश राजभर ने अब बंद कर दिया है.

इंडियन एक्सप्रेसने इस ख़बर को प्रमुखता से जगह दी है.मऊ ज़िले में ओम प्रकाश राजभर की पार्टी के 19वें स्थापना दिवस पर आयोजित कार्यक्रम को संबोधित करते हुए अखिलेश यादव ने कहा कि जो बंगाल में हुआ वही यहाँ भी होगा. अखिलेश ने कहा कि बंगाल में खेला हुआ और यहाँ हम इन्हें खदेड़ेंगे. राजभर ने कहा कि बीजेपी में पिछड़ी जातियों के नेताओं को कोई तवज्जो नहीं दी जाती है. headtopics.com

राकेश टिकैत की दो टूक- संयुक्त किसान मोर्चा ही लेगा आंदोलन खत्म करने का आखिरी फैसला बांग्लादेशी एक्ट्रेस को रेप की धमकी: आरोपी मंत्री का इस्तीफा; पूर्व PM खालिदा जिया की पोती के बारे में भी की थी अश्लील टिप्पणी PhD दुल्हन के फेरे रोकने के मामले में नया मोड़: दूल्हा पक्ष बोला- लड़की वाले ही देना चाहते थे गाड़ी; ऑडियो सौंपने का दावा, पुलिस का इनकार और पढो: BBC News Hindi »

'लाल टोपी' पर Modi की टिप्पणी का क्या है मतलब? देखें स्पेशल रिपोर्ट

आज दो रैली उत्तर प्रदेश में हुई, लेकिन उसकी चर्चा पूरे देश में दिनभर होती रही. गोरखपुर में BJP ने दम दिखाया तो मेरठ में अखिलेश यादव और जयंत चौधरी का शक्तिप्रदर्शन दिखा. अखिलेश यादव की रैलियों में भारी भीड़ जुट रही है. पश्चिमी यूपी में किसानों की नाराजगी को भुनाने के लिए अखिलेश ने बड़ा दांव खेल दिया है. इसके अलावा आपको बताएगें कि बार-बार पूर्वांचल क्यों जा रहे हैं नरेंद्र मोदी? आज नरेंद्र मोदी ने गोरखपुर की धरती से यूपी चुनाव ने नया एजेंडा सेट कर दिया. मोदी कुल 34 मिनट बोले, लेकिन 8 मिनट जिस विषय पर बोले, जिस अंदाज में बोले, जिस तरीके से बोले, उसने उत्तर प्रदेश चुनाव की लड़ाई को मोदी बनाम अखिलेश की तरफ मोड़ दिया. देखिए स्पेशल रिपोर्ट का ये एपिसोड.

Phir bhi maafinaame walon pe koi asar nhi padega पापा ने टेंसन बड़ा दिया है सच तो ये है। BBC ko bta diya kya Cheen Ne...... ye Cheeni sab ko khaate hai pr Chaon Chaon ko khaa jaynge Indian..... Bol dena BBC😃😃 चुनाव जो है यूपी में Sabse bada darpok to China hai samne se war karne ke fatti hai uski India samne se war karna janta hai esliye tum bbc wale faltu ki news mat dala kro

बहुत खुब क्या ? वो कैसे ? तो भारत ने भी चूड़ियाँ नहीं पहन रखी है 😠😠😠😠bsdk BBC अगर उनको लाल आँख नही दिखा सकते तो प्यार से बुला कर, झूले पर झूला कर, नारियल का पानी पिला कर मना तो सकते हैं…!! टेंशन एक दो धारी तलवार है आप किसी को दोगे तो उससे ज्यादा आपको प्राप्त होगी समझे मिस्टर बीबीसी इस्लाम के ऊपर दोहरा रवैया उसके गले की फांस बनने जा रहा है एक तरफ पाकिस्तान अफ़गानिस्तान टर्की भिकारी की झोली में छेद की तरह उसे पनपने नहीं देंगे भारत अमेरिका जापान उसे संभलने नहीं देंगे

सुना है बीबीसी बिक रही है

भारत-पाक के खेल भाईचारे से प्रभावित हैं हेडन, शाहीन अफरीदी के लिए कही यह बातभारत रविवार को खेले गए सुपर 12 के इस मैच में 10 विकेट से हार गया था। यह पाकिस्तान की आईसीसी विश्व कप में भारत पर पहली जीत है। विराट कोहली का विजेता टीम के नायक मोहम्मद रिजवान को गले लगाना मैच की सबसे अच्छी तस्वीरों में एक थी।

हमारे साहब तो टेंशन फ्री है। उनको कुछ नही होगा । तब तक यहां चुनाव की गहमा गहमी रहे गी फिर चाटूकार मीड़ीया और बी जे पी के नेताओं को हिन्दू मुस्लिम, पाकिस्तान करने से ही फुरसत नहीं रहे गी मोदी ने सीमा पर दी अदूरदर्शिता से अशांति सदा के लिऐ! और बातचित इनको हटाऐ बिना बढ सकती नही ,आगे!! चीन के तो अगले साल का पता नहीं, पर चीन अभी से टेंशन में पड़ा हुआ है।कल ही अग्नि-5 इंटरकॉन्टिनेंटल मिसाइल के परीक्षण और S-400 मिसाइल सिस्टम अगले महीने आने के साथ ही चीन की चिंता बढ़ जाएगी।

Kaesi tenson or kisko tenson?jab aadmi surrender hi kar de toh tenson kaahe ko?🤔😉 हिन्द महासागर में क्वीन एलिजाबेथ खड़ा है कौन चिंतित है ? काहे की टेंशन? कोई अंदर नही आया बोलो और सेना की कॉस्ट्यूम पहनकर भक्तों का काटो 😀🧐🤔😂 गलवान ka swad abhi दोबारा चाहिए क्या😊 India has no problem but face with both China and Pakistan is its entertainment.

Ummid karenge ki humare 56' kuchh kaam aayenge...

भारत में पिछले 24 घंटे में 13,451 नए COVID-19 केस, कल से 8.2 प्रतिशत ज़्यादापिछले 24 घंटे में 14,021 लोग कोरोना से ठीक हुए. वहीं अब तक कुल 3,35,97,339 लोग कोरोना से ठीक हो चुके हैं. वहीं देश में कोरोना के सक्रिय मामलों की संख्या 1,62,661 है. आर्यन खान की ड्रग्स रैकेट की बात भी कर लिया करो,एनडीटीवी बिल्कुल गायनेक तरह है पूरी दुनिया जो मजा ले रही हो उसमे तुम खामियां ही ढूंढते हो😀😀 60 = 200 के बाद खुश हैं ढोंगी उर्फ झोलाछाप 😝😜😁😂🤪🤪😆😆🤑🤑😅😅😄😄🤣🤣 ढोंगी के चेले बहुत खुश हैं क्युकी 60 = 200 😝😜😂😂😂

ModiHaiTohMumkinHai BBC is systematically working against India. Their documentary on Kashmir is recent example. मोदी जी हैं तो सब मुमकिन है चिंता की कोई बात नहीं है देश की आन और बान की शान के लिए जो किया जा रहा है वह लाजवाब है हमें क्या हमारा 56' झूमले फेंक कर खुश कर देता है देश को। बड़नगर से वुहान तक रिश्तेदारी निकाल कर ना कोई आया है ना कोई घुसा है वाला बयान दे दिया जाएगा। 🏹🏹

तो क्या हुआ। हम व्हाट्सएप पर 'चीनी को पानी में घोल देंगे' का स्टेटस लगा लेंगे। सब चीनी डर जाएंगे। सौ झमेले से बेहतर हैं इक जंग होती हैं अठारह बार पता नहीं आदरणीय मोदी चीनी राष्ट्रपति से क्या बतियाते रहें Will be a useless Chinese try.

'योगी जी से कुछ सीख ले लेते तो पाकिस्तान से हार का दाग नहीं लगता'योगी जी से कुछ सीख ले लेते तो पाकिस्तान से हार का दाग नहीं लगता, विराट कोहली का नाम ले पूर्व IAS ने योगी-मोदी पर साधा निशाना exias suryapratapsingh pmmodi cmyogi

चीन का नया सीमा कानून: छह देशों से टकराने को तैयार ड्रैगन, भारत के खिलाफ तिब्बत में बसे लोगों के इस्तेमाल की क्या है साजिश?चीन का नया सीमा कानून: छह देशों से टकराने को तैयार ड्रैगन, भारत के खिलाफ तिब्बत में बसे लोगों के इस्तेमाल की क्या है साजिश? China BorderLaw IndiavsChina BorderDispute LAC Ladakh

टिकटॉक की सफाई: वीडियो शेयरिंग ऐप ने अमेरिकी सांसदों से कहा- चीन सरकार से डाटा शेयर नहीं करतेभारत और अमेरिका में बैन किए जा चुके चीन के वीडियो शेयरिंग ऐप टिकटॉक ने कहा है कि वो किसी तरह का डाटा चीन की सरकार के साथ शेयर नहीं करता। टिककॉट के एक बड़े अफसर ने यह बात अमेरिकी सांसदों के सामने सुनवाई के दौरान कही। अमेरिका में टिकटॉक पर बैन है। डोनाल्ड ट्रम्प सरकार ने पिछले साल टिकटॉक पर आरोप लगाया था कि वो चीन सरकार के इशारे पर अमेरिकी लोगों का डाटा वहां की सरकार और फौज को देती है। | TikTok | video-sharing app faced tough questions of US lawmakers in congressional hearing

दिल्ली में लोग सार्वजनिक रूप से मना सकेंगे छठ, 1 नवंबर से खुलेंगे स्कूल; डीडीएमए से मिली मंजूरीSchool Reopen Chhath Puja in Delhi उपराज्यपाल अनिल बैजल की अध्यक्षता में दिल्ली आपदा प्रबंधन प्राधिकरण (डीडीएमए) की एक अहम बैठक के बाद बुधवार को उप मुख्यमंत्री मनीष सिसोदिया ने बताया कि दिल्ली में छठ पूजा की इजाजत दी जाएगी।