कोरोना टीकाकरण को और रफ्तार देने के लिए केंद्र ने कसी कमर, जल्‍द ही शुरू होगा 'हर घर दस्तक' अभियान

कोरोना टीकाकरण को और रफ्तार देने के लिए केंद्र ने कसी कमर, जल्‍द ही शुरू होगा 'हर घर दस्तक' अभियान

27-10-2021 20:53:00

कोरोना टीकाकरण को और रफ्तार देने के लिए केंद्र ने कसी कमर, जल्‍द ही शुरू होगा 'हर घर दस्तक' अभियान

केंद्र के साथ राज्यों के स्वास्थ्य मंत्रियों की बैठक में यह बात सामने आई कि देश मे कोरोना की पहली डोज़ 77 फ़ीसदी लोगों को लगी है जबकि 33 फीसदी लोगों को दोनों डोज़ लगी है.कोरोना टीका के लिए जल्द हर घर दस्तक महाअभियान की शुरुआत की गई जिसे राज्यों को अमल में लाने के लिए कहा गया.

नई दिल्‍ली : सरकार जल्द ही पूरे देश में टीकाकरण को और  बढ़ाने के लिए 'हर घर दस्तक' योजना शुरू करेगी. केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्री मनसुख मंडाविया ( Health Minister Mansukh Mandaviya)के साथ बुधवार को विज्ञान भवन में राज्यों के स्‍वास्‍थ्‍य मंत्रियों की हुई बैठक में वैक्सीनेशन (Vaccination) बढ़ाने के साथ ही कोविड टीका की दूसरी डोज़ को तेज गति से बढ़ाने पर भी चर्चा हुई. इसके लिए केंद्र सरकार ने राज्यों से"हर घर दस्तक" कार्यक्रम शुरू करने के लिए कहा जिसमें इस पर जोर दिया जाएगा कि जिन्होंने कोरोना वैक्सीन की एक भी डोज नहीं ली है उन्हें डोज दिया जाए और जिन्होंने दूसरी डोज़ नहीं ली है उन्हें दूसरी डोज दी जाए.  भारत मे ऐसे लोगों की संख्या 10 करोड़ से ज्यादा है।

मन की बात LIVE: मोदी बोले- मुझे सत्ता में रहने का आशीर्वाद मत दीजिए, मैं हमेशा सेवा में जुटा रहना चाहता हूं BJP सांसद गौतम गंभीर को पिछले छह दिन में तीसरी बार मिली जान से मारने की धमकी त्रिपुरा नगर निकाय चुनावों में बीजेपी का दबदबा, टीएमसी बना मुख्य विपक्षी दल - BBC Hindi

यह भी पढ़ेंअभियान के तहत एक महीने तक घर-घर जाकर टीकाकरण किया जाएगा. यही नहीं, जिन लोगों ने पहली डोज़ नहीं ली है, उनको पहली डोज़ दी जाएगी और जिनको दूसरी डोज़ लगनी है उनको दूसरी डोज़ लगाई जाएगी. इसके लिए 10 करोड़ से ज्यादा लोगों की पहचान की गई है जिन्होंने दूसरी डोज़ नही ली है उनको दूसरी डोज़ लगाई जाएगी.टीकाकरण के दौरान उन 48 जिलों में रहेगा विशेष ध्यान जहां वैक्सीन की पहली डोज 50% से कम हुई. केंद्र का नवंबर के आखिर तक 18 साल से ऊपर के सभी लोगों को कोरोना के टीके का पहला डोज देने का लक्ष्य है.

बैठक में इस बात पर जोर दिया गया कि त्यौहार के सीजन में कोविड के केस न बढ़ें,  इसकी तैयारी पर भी चर्चा हुई.  राजधानी दिल्ली के विज्ञान भवन में कोरोना महामारी के बाद पहली बार राज्यों के स्वास्थ्य मंत्रियों के साथ केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्री की फिजिकल बैठक हुई. बैठक में 13 राज्यों और केंद्रशासित प्रदेशों के स्वास्थ्य मंत्री शामिल हुए, इसमें उत्तराखंड ,अरुणाचल प्रदेश, सिक्किम, छत्तीसगढ़, बिहार, तमिलनाडु, उत्तर प्रदेश, गुजरात, मध्य प्रदेश, झारखंड और असम शामिल हैं.बाकी के राज्यों ने अपने स्वास्थ्य विभाग के अधिकारियों को बैठक में शामिल होने के लिए भेजा. headtopics.com

दिमाग पर भी हो रहा कोरोना का असर, ऑक्सफोर्ड यूनिवर्सिटी की रिपोर्टListen to the latest songs, only on JioSaavn.comCovid vaccination driveGovernmentdoor-to-door vaccination driveMansukh Mandaviyaटिप्पणियां पढ़ें देश-विदेश की ख़बरें अब हिन्दी में (Hindi News) | कोरोनावायरस के लाइव अपडेट के लिए हमें फॉलो करें |

लाइव खबर देखें: और पढो: NDTVIndia »

वारदात: तेज हो गई समीर-नवाब की तकरार, क्या है स्कूल सर्टिफिकेट की सच्चाई?

नारकोटिक्स कंट्रोल ब्यूरो (एनसीबी) के मुंबई के जोनल हेड समीर वानखेड़े के बर्थ सर्टिफिकेट और मैरिज सर्टिफिकेट के बाद महाराष्ट्र सरकार में मंत्री नवाब मलिक कथित रूप से उनके ये दो नए सर्टिफिकेट लेकर आए हैं. नवाब मलिक के मुताबिक समीर दादर के सेंट पॉल हाईस्कूल से प्राथमिक शिक्षा ली थी. इस सर्टिफिकेट में समीर वानखेड़े का नाम वानखेड़े समीर दाऊद लिखा है. यहां ये भी लिखा है कि छात्र की जाति और उपजाति तभी बताई जाए जब वो पिछड़े वर्ग, या अनुसूचचित जाति-जनजाति से आए. जबकि धर्म के कॉलम में लिखा है मुस्लिम. इसके बाद समीर वडाला के सेंट जॉसेफ हाईस्कूल में पढने गए. यहां के स्कूल लीविंग सर्टिफिकेट में समीर का नाम वानखेड़े समीर दाऊद लिखा है. और धर्म के कॉलम में लिखा है मुस्लिम. दरअसल नवाब मलिक समीर वानखेड़े को मुसलमान साबित करने के लिए इसलिए जुटे हैं क्योंकि अगर उनकी बात सही साबित हो गई तो समीर वानखेड़े के नौकरी खतरे में पड़ जाएगी. देखें वीडियो.

Covaxin ko mila WHO aproval अब जो लोग स्पूतनिक के लिए रुके है उन्हें भी ज़बरदस्ती टीका लगवाएगी ये सरकार?😏😏😏 Bakwas, 7 mahine me 2 bar documents Jama diya, registration karaya phir bhi netaon se minnate karni padati hai. 100 करोड़ बैक्सीन लग गई है तो 35 करोड़ के लिए घर घर क्यों यह तो साहब चुटकी में लगवा देंगे।

Kathiyawadi ch*r SaveTripuraMuslims SaveTripuraMosques सर, सबसे पहले यह प्रस्ताव मुंबई महानगरपालिकाने आपके मंत्रायल को भेजा था.. लेकिन पहले हम की राजनीती मे वह थंडे बस्ते पड गया था .. OfficeofUT mybmc LoksattaLive ANI bbcnewsmarathi rajeshtope11 PawarSpeaks Aur kitna raftar doge bhai. Ab kya ghar ghar jakar zabardasti lagwaoge vaccine

It means petrol diesel or mehnga hone wala hai..kyo ki ab pakad pakad ke free vaccine Di jayegi🤣🤣🤣 थोड़ा कुछ इलाक़े में safety से जाना नहि तो पता हे ना testing करने वालों के साथ क्या क्या हुआ था पिछले साल Lokar Kara

मतलब पेट्रोल डीजल और मंहगा होगा ! ModiRuiningFarmersFuture PetrolDieselPriceHike एक गुहार -केंद्रीय सड़क परिवहन मंत्रालय व प्रधानमंत्री जी से NH56लखनऊ से वाराणसी फोरलेन सीमेंटेड कंक्रीट मिस्रणयुक्त सड़क निर्माण में विगत6 वर्षों से लगातार लाखो करोड़ो लीटर सीमित भूगर्भजल की बर्बादी क्यों -जलनायक संदीप अग्रहरि की अपील -मो.9935230146