Indian Caste System, Dalit, Untouchability, İndian Society, Social İssues, İndian Culture, Marimuthu Bharathan, Ammk Leader, President, Central Board Of Secondary Education, Tamil Nadu, Stalin, Secondary Education, Senior Board Official, Social Media

Indian Caste System, Dalit

कक्षा छह के पेपर में दलितों के अछूत होने संबंधी प्रश्न को लेकर विवाद, केवीएस ने पेपर को बताया फर्जी

कक्षा छह की परीक्षा में दलितों के अछूत होने संबंधी एक प्रश्न को लेकर तमिलनाडु में विवाद खड़ा हो गया है।

07-09-2019 23:30:00

कक्षा छह के पेपर में दलितों के अछूत होने संबंधी प्रश्न को लेकर विवाद, केवीएस ने पेपर को बताया फर्जी KVS_HQ mk stalin HRDMinistry PMOIndia narendramodi TTVDhinakaran cbseindia29

कक्षा छह की परीक्षा में दलितों के अछूत होने संबंधी एक प्रश्न को लेकर तमिलनाडु में विवाद खड़ा हो गया है।

हालांकि केवीएस ने पेपर को फर्जी करार दिया है। वहीं दूसरी ओर केंद्रीय माध्यमिक शिक्षा बोर्ड (सीबीएसई) ने कहा कि स्कूलों के आंतरिक परीक्षा के प्रश्न पत्र तैयार करने में उसकी कोई भूमिका नहीं होती है।डीएमके अध्यक्ष स्टालिन ने एक ट्वीट किया कि यह बहुत ही चौंकाने वाला है। केंद्रीय विद्यालय की कक्षा की परीक्षा में जाति से संबंधित ऐसे सवाल पूछे गए हैं जो जातिवाद के अलावा सांप्रदायिकता को बढ़ावा देते हैं।

बिहार चुनाव: किसानों की नाराज़गी क्या एनडीए पर भारी पड़ेगी - BBC News हिंदी 'मोदी जी को 'सपनों का सौदागर' इसीलिए तो कहते हैं', उदाहरण दे दिग्विजय सिंह ने कसा तंज सबसे प्रशंसनीय लोगों की लिस्ट आई सामने, पीएम मोदी सहित शाहरुख और अमिताभ का भी जलवा कायम

इस प्रश्न पत्र को तैयार करने वाले के खिलाफ कानून के तहत सख्त कार्रवाई की जानी चाहिए। उन्होंने अपने ट्वीट को केंद्रीय मानव संसाधन विकास मंत्रालय को भी टैग किया। दरअसल, बहु विकल्पीय प्रश्न में पूछा गया था कि दलित शब्द का मतलब क्या है? इसके उत्तर में विकल्प दिए गए थे, विदेशी, अछूत, उच्च वर्ग और मध्य वर्ग।

एएमएमके नेता टीटीवी दिनाकरण ने बयान जारी कर कहा कि वह इसकी कड़ी निंदा करते हैं। सीबीएसई ने बिना सोचे समझे कि इस संवेदनशील मुद्दे का बच्चों पर क्या असर पड़ेगा, यह सवाल कैसे पूछा। यह गलत परंपरा है। इसके लिए जिम्मेदार लोगों पर कार्रवाई होनी चाहिए।वहीं केंद्रीय विद्यालय संगठन ने कहा कि उसने सोशल मीडिया पर वायरल फर्जी प्रश्न पत्र का संज्ञान लिया है। इसे तमिलनाडु या पुडुचेरी के किसी केंद्रीय विद्यालय का बताया जा रहा है। हालांकि अभी तक इसके सुबूत नहीं मिले हैं कि यह केंद्रीय विद्यालय का प्रश्न पत्र है। हमारे आरओ ने रिपोर्ट दी है कि चेन्नई रीजन के 49 में से किसी में भी ऐसा प्रश्न नहीं पूछा गया।

दूसरी ओर, सीबीएसई ने कहा कि वह किसी भी स्कूल के लिए किसी कक्षा के आंतरिक परीक्षा का प्रश्न पत्र तैयार नहीं करता है। वह केवल कक्षा 10 और 12वीं की बोर्ड परीक्षा कराता है। इस प्रश्न पत्र को सीबीएसई से जोड़ा जाना बिल्कुल गलत और निराधार है।खास बातेंकेंद्रीय विद्यालय संगठन (केवीएस) ने पेपर का फर्जी करार दिया

केंद्रीय विद्यालय और सीबीएसई का अपने यहां का प्रश्न पत्र होने से किया इनकारडीएमके अध्यक्ष स्टालिन ने की कार्रवाई की मांग, यह प्रश्न पत्र सोशल मीडिया में वायरल हो गया है। इसे केंद्रीय विद्यालय संगठन (केवीएस) स्कूलों में से एक का बताया जा रहा है।विज्ञापन

हालांकि केवीएस ने पेपर को फर्जी करार दिया है। वहीं दूसरी ओर केंद्रीय माध्यमिक शिक्षा बोर्ड (सीबीएसई) ने कहा कि स्कूलों के आंतरिक परीक्षा के प्रश्न पत्र तैयार करने में उसकी कोई भूमिका नहीं होती है।डीएमके अध्यक्ष स्टालिन ने एक ट्वीट किया कि यह बहुत ही चौंकाने वाला है। केंद्रीय विद्यालय की कक्षा की परीक्षा में जाति से संबंधित ऐसे सवाल पूछे गए हैं जो जातिवाद के अलावा सांप्रदायिकता को बढ़ावा देते हैं।

इस प्रश्न पत्र को तैयार करने वाले के खिलाफ कानून के तहत सख्त कार्रवाई की जानी चाहिए। उन्होंने अपने ट्वीट को केंद्रीय मानव संसाधन विकास मंत्रालय को भी टैग किया। दरअसल, बहु विकल्पीय प्रश्न में पूछा गया था कि दलित शब्द का मतलब क्या है? इसके उत्तर में विकल्प दिए गए थे, विदेशी, अछूत, उच्च वर्ग और मध्य वर्ग।

'ड्रग्स कनेक्शन' में सितारों पर कसता शिकंजा, NCB कर रही दीपिका, सारा और श्रद्धा कपूर से पूछताछ बिहार चुनाव : CM नीतीश कुमार से मिले पूर्व DGP गुप्तेश्वर पांडेय, JDU में जल्द शामिल होने के आसार ड्रग्स मामले में एक और गिरफ्तारी, NCB ने धर्मा प्रोडक्शन के क्षितिज प्रसाद को किया अरेस्ट

एएमएमके नेता टीटीवी दिनाकरण ने बयान जारी कर कहा कि वह इसकी कड़ी निंदा करते हैं। सीबीएसई ने बिना सोचे समझे कि इस संवेदनशील मुद्दे का बच्चों पर क्या असर पड़ेगा, यह सवाल कैसे पूछा। यह गलत परंपरा है। इसके लिए जिम्मेदार लोगों पर कार्रवाई होनी चाहिए।वहीं केंद्रीय विद्यालय संगठन ने कहा कि उसने सोशल मीडिया पर वायरल फर्जी प्रश्न पत्र का संज्ञान लिया है। इसे तमिलनाडु या पुडुचेरी के किसी केंद्रीय विद्यालय का बताया जा रहा है। हालांकि अभी तक इसके सुबूत नहीं मिले हैं कि यह केंद्रीय विद्यालय का प्रश्न पत्र है। हमारे आरओ ने रिपोर्ट दी है कि चेन्नई रीजन के 49 में से किसी में भी ऐसा प्रश्न नहीं पूछा गया।

दूसरी ओर, सीबीएसई ने कहा कि वह किसी भी स्कूल के लिए किसी कक्षा के आंतरिक परीक्षा का प्रश्न पत्र तैयार नहीं करता है। वह केवल कक्षा 10 और 12वीं की बोर्ड परीक्षा कराता है। इस प्रश्न पत्र को सीबीएसई से जोड़ा जाना बिल्कुल गलत और निराधार है। और पढो: Amar Ujala »

पहले अकेले फिर करिश्मा के साथ दीपिका पादुकोण से NCB करेगी पूछताछ

बॉलीवुड के ड्रग्स के दलदल की जांच कर रही एनसीबी कल सुबह तीन बड़ी हीरोइनों से पूछताछ करेगी. इनमें सबसे बड़ा नाम दीपिका पादुकोण का है जिनको एनसीबी ने कल सुबह 10 बजे अपने गेस्ट हाउस में बुलाया है. इनके अलावा सारा अली खान और श्रद्धा कपूर को पूछताछ के लिए एनसीबी ने कल सुबह ही साढ़े दस बजे बुलाया है. आज क्वान कंपनी की मैनेजर करिश्मा प्रकाश से सीबीआई ने पूछताछ की लेकिन कल भी उन्हें बुलाया है और कल उन्हें दीपिका के साथ आमने सामने बिठाकर भी पूछताछ की जाएगी. उससे पहले एनसीबी दीपिका से अकेले में पूछताछ करेगी. देखें 10तक.

ऑनलाइन गेम खेलने के लिए कक्षा 4 के बच्चे ने पिता को लगाया हजारों का चूनापीड़ित पिता का यह बच्चा कक्षा 4 का छात्र है और वह अक्सर ऑनलाइन गेम खेलता रहता है. कई ऑनलाइन गेम खेलने के लिए अपने पिता के मोबाइल से चुपचाप पेटीएम अकाउंट पैसे ट्रांसफर कर दिए.

मध्य प्रदेश में स्कूली बच्चों को 'आनंद सभा' के जरिये सिखाएंगे 'हैप्पीनेस' के गुरमध्य प्रदेश में स्कूली बच्चों को 'आनंद सभा' के जरिये सिखाएंगे 'हैप्पीनेस' के गुर MadhyaPradesh HappynessClass

छत्तीसगढ़ के पूर्व CM अजीत जोगी गुरुग्राम के मेदांता अस्पताल के आइसीयू में भर्तीछत्तीसगढ़ के पूर्व मुख्यमंत्री अजीत जोगी को बृहस्पतिवार रात 1 बजे दिल्ली से सटे गुरुग्राम के मेदांता अस्पताल में दाखिल कराया गया है।

जमीन घोटाले में पूर्व सीएम कुमारस्वामी को पूछताछ के लिए समन, 4 अक्टूबर को पेश होंगेएम महादेव स्वामी ने 2012 में लोकायुक्त के समक्ष कुमारस्वामी के खिलाफ मामला दर्ज कराया था कुमारस्वामी पर बेंगलुरु की एक जमीन की अधिसूचना अवैध तरीके से वापस लेने का आरोप था | HD Kumaraswamy News: Bengaluru Court issued summons HD Kumaraswamy in illegal denotification case hd_kumaraswamy कोई शरीफ नहीं है........सबको फूल डोज देना ही पड़ेगा hd_kumaraswamy Kumar Swamy good days come... be prepared to enjoy the deeds done in PAST.... Its India and now you will hear Karnataka Sangeet,Music.... Jai Hind. hd_kumaraswamy BJP4India BSYBJP कैसे बच गए इंटी घोटाले करने के बाद

यूएपीए अधिनियम में संशोधन के खिलाफ याचिका पर सुनवाई को तैयार सुप्रीम कोर्ट, केंद्र को नोटिससुप्रीम कोर्ट ने यूएपीए अधिनियम को असंवैधानिक घोषित करने वाली याचिका पर केंद्र को भेजा नोटिस UAPA SupremeCourt HMOIndia HMOIndia Sleeper cells apni garden bacahne ki koshish karte hue HMOIndia सबसे ज्यादा कट्टरपंथी , आतंकप्रेमी , टुकड़े टुकड़े गैंग और मुस्लिम तुष्टिकरण प्रेमी नकली सेक्यूलरों में खलबली है इस कानून से .... जय माँ भारती HMOIndia court notice ke aage kabhi action mat lena bhigi billi ki tarah chup ja

कर्नाटक विधायकों को अयोग्य करार देने पर सुप्रीम कोर्ट में 11 सितंबर को सुनवाईजस्टिस एनवी रमण और अजय रस्तोगी की बेंच इन सभी याचिकाओं पर 11 सितंबर को सुनवाई करेगी. कर्नाटक के 14 अयोग्य बागी विधायकों ने स्पीकर के फैसले के तुरंत बाद सुप्रीम कोर्ट का दरवाजा खटखटाया था. इन सभी बागी विधायकों को कर्नाटक विधानसभा के तत्कालीन स्पीकर केआर रमेश ने अयोग्य घोषित कर दिया था.