Aarey Forest, Cm Uddhav Thackeray, Aarey Protest, Mumbai Police, Aarey Protesters Case, आरे जंगल, उद्धव ठाकरे, आरे बचाओ आंदोलन, मुंबई पुलिस, आरे केस, आज की खबरें, मुंबई की खबरें

Aarey Forest, Cm Uddhav Thackeray

उद्धव ठाकरे का ऐलान भी बेअसर, अब तक नहीं वापस हुए आरे जंगल बचाने वालों के केस

अब तक नहीं वापस हुए आरे जंगल बचाने वालों के केस

11-06-2021 16:24:00

अब तक नहीं वापस हुए आरे जंगल बचाने वालों के केस

महाराष्ट्र सरकार (Maharashtra Govt) ने बीते सोमवार आरे ( Aarey Forest ) के 812 एकड़ इलाके को जंगल घोषित कर दिया, लेकिन इस जंगल को बचाने के आंदोलन से जुड़े लोगों पर दर्ज मामले अब तक वापस नहीं लिए गए हैं, जबकि मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे (Uddhav Thackeray) ने दिसंबर 2019 में खुद इसका ऐलान किया था. CM ठाकरे ने तब कहा था, आरे में कारशेड बनाने पर रोक मैंने लगा दी है, लेकिन उस वक्त जब पेड़ काटे जा रहे थे, वो नहीं काटे जाएं, उसके लिए लोगों के खिलाफ केस दर्ज किए गए थे. उन मामलों को वापस लेने के लिए मैंने आदेश दिए हैं, तो अभी उनके ऊपर कोई केस नहीं है.

खास बातेंमुंबई: महाराष्ट्र सरकार (Maharashtra Govt) ने बीते सोमवार आरे (Aarey Forest) के 812 एकड़ इलाके को जंगल घोषित कर दिया, लेकिन इस जंगल को बचाने के आंदोलन से जुड़े लोगों पर दर्ज मामले अब तक वापस नहीं लिए गए हैं, जबकि मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे (Uddhav Thackeray) ने दिसंबर 2019 में खुद इसका ऐलान किया था. CM ठाकरे ने तब कहा था, 'आरे में कारशेड बनाने पर रोक मैंने लगा दी है, लेकिन उस वक्त जब पेड़ काटे जा रहे थे, वो नहीं काटे जाएं, उसके लिए लोगों के खिलाफ केस दर्ज किए गए थे. उन मामलों को वापस लेने के लिए मैंने आदेश दिए हैं, तो अभी उनके ऊपर कोई केस नहीं है.'

PAK ने अफगानिस्तान में क्या किया ये दुनिया जानती है, पकिस्तानी मंत्री को भारत का जवाब ज्येष्ठ पूर्णिमा के शुभ अवसर पर हुई बाबा अमरनाथ की प्रथम पूजा 'पाकिस्तान से बात करना कश्मीरियों को सुकून देता है', PM के साथ बैठक के बाद महबूबा ने फिर अलापा PAK का राग

यह भी पढ़ेंमुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे ने दिसंबर 2019 में यह घोषणा कर दी लेकिन डेढ़ साल बाद भी प्रमिला भोईर सहित 29 लोगों को अपने ऊपर से एफआईआर हटाए जाने का इंतजार है. प्रमिला कहती हैं, 'इस आंदोलन में हमें जेल में डाला गया और अब आरे को जंगल घोषित किया गया, लेकिन उद्धव ठाकरे साहब ने इन मामलों को वापस लेने कहा था लेकिन वो हुआ नहीं. मैं काम पर नहीं जाती लेकिन कई कॉलेज में जाने वाले लोग हैं, जिन्हें परेशानी हो रही है. इसे वापस लेना चाहिए.'

आरे कॉलोनी में पेड़ कटने से बचाने वालों के साथ पुलिस ने किया अपराधियों जैसे सलूकमहाराष्ट्र के पर्यावरण मंत्री आदित्य ठाकरे ने 7 जून को ट्वीट कर बताया कि आरे के 812 एकड़ इलाके को औपचारिक तौर पर जंगल घोषित कर दिया गया है, लेकिन पेड़ों को कटने से बचाने के लिए मुकदमा झेल रहे 'आरे बचाओ' मुहिम आकाश पाटणकर पर केस बना हुआ है. फिल्मों में आर्ट डायरेक्शन करने वाले आकाश को इस वजह से विदेश जाना टालना पड़ा. headtopics.com

आकाश ने कहा, 'अभी दो साल होने आया लेकिन अब तक कुछ हुआ नहीं है. यह सोचकर हमें चिंता हो रही है कि हमने इतना बड़ा क्या किया था कि मुख्यमंत्री के कहने के बावजूद इसे वापस नहीं किया गया. विदेश जाने वाले मौके को मैं फेस नहीं कर पाया क्योंकि मुझे डर था कि अगर वो रिजेक्ट हो जाए तो वापस मिलने में दिक्कत ना हो.'

आईटी सेक्टर में काम करने वाले कमलेश श्यामनतुल्ला के सामने अपनी नौकरी खोने का डर बना हुआ है. इनके दफ्तर में रोजाना काम करने वाले कर्मचारियों के बैकग्राउंड चैक किए जाते हैं. इनके ऊपर एक ही FIR दर्ज है, पेड़ बचाने के मामले में. कमलेश ने कहा, 'आज भी दिल में धक-धक रहती है कि ऑफिस के लेवल पर कभी वेरिफिकेशन होगा तो मेरे खिलाफ पुलिस केस है, जिसके वजह से वेरिफिकेशन में दिक्कत होगी.'

आरे में पेड़ों की कटाई पर रोक के आदेश को शिवसेना ने बताया पर्यावरणविदों की नैतिक जीतसरकार की ओर से इन लोगों के खिलाफ मामले वापस लेने के लिए एक कमेटी बनाई गई और मामले वापस लेने का फैसला भी लिया गया, लेकिन न ही पुलिस को इसकी जानकारी दी गई और न ही आगे कुछ कदम उठाया गया, जिससे जंगल बचाने वाले लोग अब भी परेशान हैं.

आरे के 812 एकड़ इलाके को जंगल घोषित करने के लिए लोगों ने दिन-रात लड़ाई लड़ी. शिवसेना ने इस मुद्दे पर चुनाव लड़ा, वो अब सत्ता में हैं और अब इसे जंगल घोषित कर दिया गया, लेकिन जो लोग इस पूरे आंदोलन के पीछे थे, वो अब भी परेशान हैं. उनके खिलाफ मामले दर्ज हैं और मुख्यमंत्री की ओर से किए गए वादों के बावजूद अब तक मामले वापस नहीं लिए गए हैं. headtopics.com

ममता बनर्जी की राह पर अखिलेश यादव, कानपुर में लगीं 'अब यूपी में खेला होई' की होर्डिंग्स शरद पवार क्या नरेंद्र मोदी के सामने किसी तरह का ‘मोर्चा’ खड़ा कर सकते हैं - BBC News हिंदी नीति: भारत ने ओपेक देशों पर बढ़ाया दबाव, कच्चे तेल के दाम कम रखने के लिए उठाया कदम

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.comVIDEO: मुंबई : आरे के 27 गांव हैं टीके से दूरAarey forestCM Uddhav ThackerayAarey protestmumbai policeAarey protesters caseटिप्पणियां पढ़ें देश-विदेश की ख़बरें अब हिन्दी में (Hindi News) | कोरोनावायरस के लाइव अपडेट के लिए हमें फॉलो करें |

लाइव खबर देखें: और पढो: NDTVIndia »

Galwan Valley में हुई हिंसक झड़प के एक साल बाद LaC पर क्या बदला? देखें खबरदार

आज 15 जून है यानि गलवान घाटी में चीन और भारत के बीच हुई हिंसक झड़प का एक साल पूरा हो गया है, जिसमें भारत के 20 सैनिकों ने अपनी शहादत दी थी और चीन को करारा जवाब दिया था. गलवान घाटी में हुई हिंसक झड़प के एक साल बाद LaC पर क्या बदला है? पिछले एक साल में चीन और उसकी सेना को भारत की तरफ से क्या मैसेज दिया गया है? और इस वक्त LaC पर क्या हालात हैं? देखें खबरदार का ये एपिसोड.

LicypriyaK SwethaSbhashyam UNYouthEnvoy And yet india is moving towards Vishvaguru munawar0018 kunalkamra88 ravishndtv taapsee TrollerBabua RVCJ_FB CPMumbaiPolice MumbaiPolice shanu_sab All are same under the clothes सबसे कम TRP का चैनल अब PSL की कवरेज कर रहा है । अब वो बीते समय की बात हो गई कि मारने वाले से बचाने वाला ज्यादा बड़ा होता है।

घबराएं नहीं: प्रतिरक्षा की ज्यादा सक्रियता के कारण दिखते हैं टीके के साइड इफेक्टघबराएं नहीं: प्रतिरक्षा की ज्यादा सक्रियता के कारण दिखते हैं टीके के साइड इफेक्ट Coronavirus covid19 Coronavaccine SideEffect drharshvardhan MoHFW_INDIA PMOIndia ICMRDELHI drharshvardhan MoHFW_INDIA PMOIndia ICMRDELHI Where is the vaccine jairamthakurbjp satpalsattibjp ianuragthakur ?

चीनी आक्रामकता के साए में आसियान के साथ संबंधों के तीस साल | DW | 09.06.2021चीन और दक्षिण एशियाई देशों के संगठन आसियान के दस देश अपने संबंधों की तीसवीं सालगिरह मनाने के लिए चीन के चोंगचिंग शहर में इकट्ठा हुए थे. लेकिन माहौल दोस्ती और उमंग से कहीं ज्यादा संदेह और छल के अहसास का था. rahulmishr_ Excellent

रिजर्व बैंक के डिप्टी गवर्नर एम के जैन का कार्यकाल दो साल के लिए बढ़ाया गयाकेंद्र सरकार ने 21 जून 2021 को महेश कुमार जैन का मौजूदा कार्यकाल समाप्त होने के बाद उन्हें 22 जून 2021 से दो साल के लिए या अगला आदेश आने तक के लिए इनमें से जो भी पहले होगा फिर से डिप्टी गवर्नर नियुक्त किया है। सर सादर प्रणाम मेरी एक छोटी सी प्रार्थना है? कि आर बी आई के डिप्टी गवर्नर साहब से पूँछ कर बताये कि किस किताब में लिखा है? क्या इस बिद ड्राल फार्म आठ लाख रूपये की रकम निकाली जा सकती है?और वो भी बिना पीछे कोई भी हस्ताक्षर के यूनियन बैंक ऑफ इंडिया ने ये कारनामा कर दिखाया गया है?

Coronavirus Live Updates: पुरी में कोविड नियमों के साथ निकलेगी रथ यात्रा, श्रद्धालु नहीं होंगे शामिलकोरोना वायरस की दूसरी लहर से अभी राहत के संकेत ही मिल रहे थे कि कोरोना से होने वाली मौतों ने सबको चौंका दिया है। कोरोना ने मौतों के मामले में अबतक का सारा रेकॉर्ड तोड़ दिया है। बीते 24 घंटे के दौरान कोरोना संक्रमण के चलते 6,148 लोगों ने अपनी जान गंवाई है। एक दिन में कोरोना से हुई इतनी मौतों ने एक बार फिर लोगों को परेशानी में डाल दिया है। ऐसा माना जा रहा है कि मौतों की संख्या में यह उछाल बिहार में मौतों की संख्या संशोधन की वजह से आया है। पल-पल के अपडेट के लिए बने रहिए हमारे साथ... आपका चेनल ईद पर कहा मर गया था? जय जगन्नाथ जी

चीनी टीका: डब्ल्यूएचओ की अनुमति के बाद भी विरोध, सऊदी जैसे देश नहीं दे रहे मंजूरीचीनी टीका: डब्ल्यूएचओ की अनुमति के बाद भी विरोध, सऊदी जैसे देश नहीं दे रहे मंजूरी LadengeCoronaSe Coronavirus Covid19 CoronaVaccine OxygenCrisis OxygenShortage PMOIndia MoHFW_INDIA ICMRDELHI PMOIndia MoHFW_INDIA ICMRDELHI WHO ने चीन से रिश्वत लिया होगा

जितिन प्रसाद बोले: किसी व्यक्ति की वजह से या किसी पद के लिए नहीं छोड़ी कांग्रेसजितिन प्रसाद बोले: किसी व्यक्ति की वजह से या किसी पद के लिए नहीं छोड़ी कांग्रेस Politics JitinPrasad BJP4India INCIndia BJP4India INCIndia लालची आदमी BJP4India INCIndia तो भाजपा की सभाओं मे दरी बिछाने के लिये छोड़ी हे क्या कांग्रेस वैसे यही काम मिलेगा आपको JitinPrasada भाजपा में सिंधिया जी को क्या मिला चौकीदार बन कर रह गये BJP4India INCIndia कोई मोटा ऑफर मिला होगा