Narendragiri, Naredragirisuicide, Anandgir, Anand Giri, Narendra Giri Suicide Case, Up Police, Bagambhari Math

Narendragiri, Naredragirisuicide

आनंद गिरि का सनसनीखेज दावा: नरेंद्र गिरि की हत्या हुई है, मेरा भी हो सकता है कत्ल

नरेंद्र गिरि की संदिग्ध मौत के बाद आनंद गिरि ने कई सनसनीखेज दावे किए हैं। आनंद गिरी ने कहा कि असली दोषियों को सजा मिलनी

20-09-2021 18:55:00

आनंद गिरि का सनसनीखेज दावा: नरेंद्र गिरि की हत्या हुई है, मेरा भी हो सकता है कत्ल NarendraGiri NaredraGiriSuicide AnandGir

नरेंद्र गिरि की संदिग्ध मौत के बाद आनंद गिरि ने कई सनसनीखेज दावे किए हैं। आनंद गिरी ने कहा कि असली दोषियों को सजा मिलनी

विज्ञापन- फोटो : अमर उजालाख़बर सुनेंख़बर सुनेंअखाड़ा परिषद के अध्यक्ष महंत नरेंद्र गिरि की संदिग्ध मौत के मामले में आरोपों में घिरे उनके शिष्य आनंद गिरि का बयान सामने आया है। आनंद गिरि ने कहा कि उन्होंने आत्महत्या नहीं की है, उनकी हत्या की गई है। गुरुजी ऐसा नहीं कर सकते, उन्हें मारा गया है और मुझे फंसाने की कोशिश हो रही है।

गोवा में ममता बनर्जी की बढ़ी दिलचस्पी की वजह क्या है? - BBC News हिंदी PHOTOS: बेटे आर्यन खान को जमानत मिलने के बाद अपनी लीगल टीम के साथ मुस्‍कुराते दिखे शाहरुख खान आर्यन खान को ड्रग्स केस में जमानत मिलते ही नवाब मलिक ने किया ट्वीट, 'पिक्चर अभी बाकी है मेरे दोस्त'

हिरासत में लिए जाने से पहले एक न्यूज चैनल से बात करते हुए आनंद गिरि ने कहा कि गुरुजी साजिश का शिकार हुए हैं, असली दोषियों को सजा मिलनी चाहिए। वे मेरी भी हत्या करवा सकते हैं। आनंद गिरी ने कहा कि गुरुजी ने कभी अपने हाथ से पत्र ही नहीं लिखा था, वो इतना लंबा पत्र लिख ही नहीं सकते।

आनंद गिरि ने कहा कि मैं हर जांच के लिए तैयार हूं, भाग नहीं रहा हूं, अगर दोषी हूं तो मुझे जरूर सजा मिले। आनंद गिरि ने कुछ लोगों पर उंगली उठाते हुए कहा कि उनके कुछ शिष्यों के पास 5-5 करोड़ के बंगले तक हैं, आखिर ये कहां से आया।बताया जा रहा है कि कथित सुसाइड नोट में आनंद गिरि के अलावा दो और लोगों के नाम हैं। इस नोट को वसीयतनामा के रूप में लिखा गया है। headtopics.com

नरेंद्र गिरि की संदिग्ध मौतबता दें कि अखाड़ा परिषद के अध्यक्ष महंत नरेंद्र गिरि ने सोमवार को संदिग्ध परिस्थितियों में मौत हो गई। बताया जा रहा है कि उन्होंने फांसी लगाकर खुदकुशी की है। उनका शव अल्लापुर स्थित बाघंबरी मठ स्थित उनके आवास में मिला। उनका शव पंखे में लिपटा हुआ मिला था। शिष्यों ने रस्सी काटकर उनका शव नीचे उतारा।

इसकी सूचना मिलते ही हड़कंप मच गया। पुलिस ने सूचना मिलते ही मठ को सीज कर दिया। जिले के आला अधिकारी मौके पर पहुंच गए। पुलिस के मुताबिक यहां से एक सुसाइड नोट बरामद हुआ है जिसमें उन्होंने अपने शिष्य आनंद गिरि पर परेशान करने का आरोप लगाया है। ये पत्र 6-7 पन्नों का है।

विस्तारअखाड़ा परिषद के अध्यक्ष महंत नरेंद्र गिरि की संदिग्ध मौत के मामले में आरोपों में घिरे उनके शिष्य आनंद गिरि का बयान सामने आया है। आनंद गिरि ने कहा कि उन्होंने आत्महत्या नहीं की है, उनकी हत्या की गई है। गुरुजी ऐसा नहीं कर सकते, उन्हें मारा गया है और मुझे फंसाने की कोशिश हो रही है।

विज्ञापनहिरासत में लिए जाने से पहले एक न्यूज चैनल से बात करते हुए आनंद गिरि ने कहा कि गुरुजी साजिश का शिकार हुए हैं, असली दोषियों को सजा मिलनी चाहिए। वे मेरी भी हत्या करवा सकते हैं। आनंद गिरी ने कहा कि गुरुजी ने कभी अपने हाथ से पत्र ही नहीं लिखा था, वो इतना लंबा पत्र लिख ही नहीं सकते। headtopics.com

Prime Time With Ravish Kumar: आरोप-प्रत्‍यारोप का चलेगा काम, असली मुद्दों से भटकाना है ध्‍यान पूर्व सीएजी विनोद राय ने संजय निरुपम से किस बात के लिए माँगी माफ़ी - BBC Hindi 'भारत का खाकर पाक‍िस्तान का गाओगे तो जेल जाओगे', बोले संब‍ित पात्रा

आनंद गिरि ने कहा कि मैं हर जांच के लिए तैयार हूं, भाग नहीं रहा हूं, अगर दोषी हूं तो मुझे जरूर सजा मिले। आनंद गिरि ने कुछ लोगों पर उंगली उठाते हुए कहा कि उनके कुछ शिष्यों के पास 5-5 करोड़ के बंगले तक हैं, आखिर ये कहां से आया।बताया जा रहा है कि कथित सुसाइड नोट में आनंद गिरि के अलावा दो और लोगों के नाम हैं। इस नोट को वसीयतनामा के रूप में लिखा गया है।

नरेंद्र गिरि की संदिग्ध मौतबता दें कि अखाड़ा परिषद के अध्यक्ष महंत नरेंद्र गिरि ने सोमवार को संदिग्ध परिस्थितियों में मौत हो गई। बताया जा रहा है कि उन्होंने फांसी लगाकर खुदकुशी की है। उनका शव अल्लापुर स्थित बाघंबरी मठ स्थित उनके आवास में मिला। उनका शव पंखे में लिपटा हुआ मिला था। शिष्यों ने रस्सी काटकर उनका शव नीचे उतारा।

इसकी सूचना मिलते ही हड़कंप मच गया। पुलिस ने सूचना मिलते ही मठ को सीज कर दिया। जिले के आला अधिकारी मौके पर पहुंच गए। पुलिस के मुताबिक यहां से एक सुसाइड नोट बरामद हुआ है जिसमें उन्होंने अपने शिष्य आनंद गिरि पर परेशान करने का आरोप लगाया है। ये पत्र 6-7 पन्नों का है।

और पढो: Amar Ujala »

पूरी हुई मन्नत...Aryan Khan के पक्ष में मुकुल रोहतगी ने पेश की ये दलील

तो 26 दिन का इंतजार आखिरकार गुरूवार शाम ठीक चार बज कर 35 मिनट पर खत्म हुआ. आर्यन खान को आखिरकार बॉम्बे हाईट कोर्ट ने रिहाई का परवाना थमा ही दिया. यानी उन्हें ज़मानत पर रिहा करने का हुक्म सुना दिया. पर इस फैसले के बाद भी आर्यन को गुरूवार की रात आर्थर रोड जेल में ही काटनी पड़ेगी. क्योंकि अदालत ने जमानत तो दे दी मगर जमानत देने के फैसले की कॉपी नहीं दी. ये कॉपी शायद शुक्रवार को मिलेगी और इस फैसले की कॉपी के आर्थर रोड जेल पहुंचने के बाद ही आर्यन जेल से बाहर आ पाएंगे. वैसे आर्यन के साथ-साथ अदालत ने अरबाज और मुनमुन को भी ज़मानत पर रिहा कर दिया है. देखें वारदात.

Follow the twitter handles of 'All India Trinamool Congress' from all over India 👇👇👇 AITC4Assam AITC4Delhi AITC4Bihar AITC4Jharkhand AITC4Tripura AITC4UP AITC4Gujarat AITCofficial AITC_Parliament BanglarGorboMB SAB ZAMEEN AUR PAISE KI MAYA/ KHEL HAI. GOLAK KO LEKAR KABZE KI LADAI HAI. Ommmmmmmmm Shantiiiiiiiiiiiii 🇮🇳🕉️🙏🏻🙌🏻🥺😔😭

आनंद गिरि बोले- महंत नरेंद्र गिरि की हत्या हुई, मैं दोषी तो सजा भुगतने को तैयारमहंत नरेंद्र गिरी के शिष्य आनंद गिरि ने आजतक से बातचीत में कहा कि उनके खिलाफ साजिश रची जा रही है. उन्होंने ये भी कहा कि अगर मैं दोषी साबित होता हूं तो सजा भुगतने के लिए तैयार हूं. आरोप निराधार नही हो सकते।मर्डर की कडी प्रतिसोध हो सकती है ।इसके तार लंबे हो सकते है।चौनाव का समय करीब और चुनाव सहादत मांगता है।सीबीआई जांच से पता चल सकेगा ।

महंत नरेंद्र गिरि : अपने गुरु की पीएम तक शिकायत लेकर पहुंच गए थे शिष्य आनंद गिरि, गुरु पूर्णिमा पर दर्शन करने भी नहीं आएमहंत नरेंद्र गिरि: अपने गुरु की पीएम तक शिकायत लेकर पहुंच गए थे शिष्य आनंद गिरि, गुरु पूर्णिमा पर दर्शन करने भी नहीं आए Mahant narendragiri UPPolice No power in Ganesh Vihar, Rajawas, Jaipur from last 10 hours without any reason by JVVNLCCare DrBDKallaINC please publish

Narendra Giri: महंत नरेंद्र गिरि की संदिग्ध परिस्थितियों में मौत, सूइसाइड नोट में शिष्य आनंद गिरि का नाममहंत नरेंद्र गिरि (Narendra Giri news) के अचानक निधन की खबर से उनके समर्थकों और शिष्यों में तनाव फैल गया। नरेंद्र गिरि का बीते दिनों उनके शिष्य आनंद गिरि से विवाद हुआ था, एनबीटी ऑनलाइन से बातचीत में आनंद ने गुरु की मौत को साजिश करार दिया है।

2019 में दूसरी बार अखाड़ा परिषद के अध्यक्ष बने थे महंत नरेन्द्र गिरिनई दिल्ली। अखाड़ा परिषद के अध्यक्ष महंत नरेन्द्र गिरि का प्रयागराज में सोमवार को संदिग्ध परिस्थितियों में निधन हो गया। शुरुआती जांच में पुलिस जहां महंत गिरि की मौत को आत्महत्या का मामला मान रही है, वहीं उनके शिष्य का कहना है कि ‍महंत की हत्या हुई है।

प्रयागराज: अखाड़ा परिषद अध्यक्ष नरेंद्र गिरि का शव संदिग्ध परिस्थितियों में फंदे से लटकता मिलाप्रयागराज : अखाड़ा परिषद अध्यक्ष नरेंद्र गिरी का शव फांसी के फंदे पर लटकता मिला Prayagraj Ajay Bisht😓 : Aajse UP ka naam Maharashtra hoga शत शत नमन Bhagwan unki aatma ko shanti de

प्रयागराज में अखाड़ा परिषद के अध्यक्ष महंत नरेंद्र गिरि की संदिग्ध हालात में मौतसोमवार को महंत नरेंद्र गिरी का निधन हो गया है. वो अखाड़ा परिषद के अध्यक्ष थे. प्रयागराज के श्री मठ बाघंबरी गद्दी में हुआ निधन. किस वजह से नरेंद्र गिरी का निधन हुआ है ये स्पष्ट नहीं हुआ है. नरेंद्र गिरी का निधन संदेहास्पद है क्योंकि उनका शव लटकता मिला है. पुलिस इस मामले में तफ्तीश में जुटी है. नरेंद्र गिरी को बड़े सम्मान से देखा जाता था. तमाम जो अखाड़ा परिषद है उसमें सर्वोच्च जो भारतीय अखाड़ा परिषद है. उसके नरेंद्र गिरी अध्यक्ष थे. देखें वीडियो. 😥😥😥😥😥🙏🙏 अखाड़ा परिषद के अध्यक्ष महंत। नरेंद्र गिरि का निधन। सुन के दुःखी हूआ। महंत संत समाज के लिए बुलंद आवाज थे। भगवान महंत नरेंद्र गिरि को आत्मा को शान्ति प्रदान करे भावपूर्ण श्रध्दांजलि 😢😢😢😢