WHO ने कोरोना के नए वेरिएंट को 'Omicron' नाम दिया; US ने भी द अफ्रीका के लिए उड़ानों पर रोक लगाई

वर्ल्ड हेल्थ ऑर्गनाइजेशन (World Health Organisation) ने कोरोना के नए रूप B.1.1529 को 'वेरिएंट ऑफ कंसर्न' घोषित किया है. | @Milan_reports #ATCard #WHO #Coronavirus #Omicron पूरी खबर:

Atcard, Who

27-11-2021 07:00:00

वर्ल्ड हेल्थ ऑर्गनाइजेशन (World Health Organisation) ने कोरोना के नए रूप B.1.1529 को 'वेरिएंट ऑफ कंसर्न' घोषित किया है. | Milan_reports ATCard WHO Coronavirus Omicron पूरी खबर:

WHO ने अपने बयान में कहा, कोरोना पर टेक्निकल एडवाइजरी ग्रुप की बैठक हुई. इसमें कोरोना के नए वेरिएंट B.1.1.529 पर चर्चा हुई. इस दौरान ग्रुप ने वेरिएंट को 'वेरिएंट ऑफ कंसर्न' घोषित करने की सलाह दी. WHO ने कोरोना के अन्य वेरिएंट की तरह ही इसे 'ओमिक्रॉन' नाम दिया.

कोरोना का नया वेरिएंट B.1.1.529 24 नवंबर को पहली बार दक्षिण अफ्रीका में मिला. डब्ल्यूएचओ ने बताया कि दक्षिण अफ्रीका में बी.1.1.1.529 वेरिएंट के सामने आने के बाद संक्रमण में भारी वृद्धि देखी गई है.नए वेरिएंट पर WHO ने क्या क्या कहा?- WHO ने कहा, यह वेरिएंट कई म्यूटेशन वाला है, जिसमें से कई चिंता बढ़ाने वाले हैं.

- शुरुआती जांच में पता चला है कि इस वेरिएंट से संक्रमण फिर से बढ़ सकता है.- दक्षिण अफ्रीका के लगभग सभी प्रांतों में इस वेरिएंट के मामले बढ़ रहे हैं.- हालांकि, अभी मौजूद कोरोना (SARS-CoV-2) की जांच के तरीके से इस वेरिएंट का पता लगाया जा सकता है.अमेरिका और यूरोपीय देशों ने अफ्रीका की फ्लाइटों पर रोक लगाई

कोरोना के नए वेरिएंट को लेकर आ रहीं खबरों के बीच अमेरिका और यूरोपीय देशों ने दक्षिण अफ्रीका से आने वाली फ्लाइटों पर रोक लगा दी है. इतना ही नहीं अफ्रीका और आसपास के देश से आने वाले यात्रियों को क्वारंटीन किया जा रहा है. उधर, बाइडेन प्रशासन ने भी सोमवार से दक्षिण अफ्रीका के लिए फ्लाइटों पर बैन लगाने का फैसला किया है. कनाडा ने भी पिछले 14 दिन में अफ्रीका से आने वाले नागरिकों का कोरोना टेस्ट कराने का फैसला किया है. जब तक इनका कोरोना टेस्ट रिपोर्ट निगेटिव नहीं आती, इन्हें क्वारंटीन रहना होगा. headtopics.com

बिहार के टीचर अब शराब तस्करों और पियक्कड़ों की करेंगे निगरानी, सरकार को देंगे गुप्त सूचना

Live TV

और पढो: AajTak »

10तक: पश्च‍िमी यूपी की चुनावी जंग बीजेपी के ल‍िए क्यों बनी चुनौती?

चुनाव यूं तो कभी भी किसी दल के लिए हलवा नहीं होता, लेकिन 2014 के बाद देश में देखा गया कि बीजेपी राज्य दर राज्य आसानी से चुनाव जीतने लगी. यूपी में तो तीन चुनाव बीजेपी ने तमाम चुनौतियों के बाद जीत लिया. लेकिन क्या इस बार बहुत कठिन है डगर चुनाव की? इस सवाल के पीछे वजह कुछ इस प्रकार हैं. जैसे- पश्चिमी यूपी में पार्टी की रणनीति संभाल रहे अमित शाह कैराना से लेकर मथुरा तक गलियों में प्रचार कर रहे हैं. वोटर के घर-घर जाकर वोट मांग रहे हैं. दिल्ली में जाटों के साथ बैठक करते हैं. जाटों से कहते हैं कि डांटना है तो घर आ जाइए लेकिन वोट गलत जगह मत डालिए. इन सबकी नौबत क्यों आई है? और पढो >>

Milan_reports Milan_reports Jab naya 3rd wave aa hi gai he india me aur itne cases positive aa rahe he fir bhi school open kar diye desh ke bache jo desh kaa bhavisye kahe jate he unka kya hoga Milan_reports OfficeofUT uddhavthackeray CMOMaharashtra PMOIndia MCGM_BMC याबाबत त्वरित कार्यवाही करावी.

Milan_reports आज भी 300 400कोरोना से मर रहे रोज़! इतना फेलियर !! फिर भी कोई आवाज़ नही उठाता! नया वैरिऐंट ढा सकता कहर लगा सकता लाषों का ढेर बरते सतर्कता!

खतरा अभी टला नहीं: दक्षिण अफ्रीका में कोरोना का नया वैरिएंट मिला, वैज्ञानिकों ने दी चेतावनीखतरा अभी टला नहीं: दक्षिण अफ्रीका में कोरोना का नया वैरिएंट मिला, वैज्ञानिकों ने दी चेतावनी CoronaVirus CoronaVariant

Coronavirus: डब्ल्यूएचओ ने कोरोना के नए वैरिएंट का नामकरण किया, जानें इसके बारे में सबकुछ Coronavirus : डब्ल्यूएचओ ने कोरोना के नए वैरिएंट का नामकरण किया, जानें इसके बारे में सबकुछ LadengeCoronaSe Coronavirus Covid19 CoronaVaccine PMOIndia MoHFW_INDIA ICMRDELHI WHO

तुर्की : इस्तांबुल में महिला प्रदर्शनकारियों को रोकने के लिए पुलिस ने आंसू गैस के गोले दागेतुर्की के इस्तांबुल में महिला प्रदर्शनकारियों को रोकने के लिए पुलिस ने आंसू गैस के गोले दागे। महिलाओं को हिंसा से बचाने

गुरुग्राम में फिर विवाद, नमाज पढ़ने के दौरान दूसरे पक्ष ने लगाए 'जय श्रीराम' के नारेगुरुग्राम के सेक्टर 37 में मुस्लिम समुदाय के लोग नमाज अदा करने के लिए जुटे थे. इस दौरान कुछ हिंदू समूह के लोगों द्वारा व्‍यवधान डालने की कोशिश की गई. तनाव उस वक्‍त बढ़ गया जब हिंदू संगठनों ने वहां पर एक प्रार्थना की. मुट्ठी भर लोगों ने देश का माहौल ख़राब कर रखा है, लेकिन हमारे अमन पसंद हिंदू समाज के बाक़ी लोगों को आगे आकर मुसलमानों का साथ देना चाहिए आख़िर हिंदू मुस्लिम भाईचारे की बातें क्या सिर्फ हवा हवाई है? BJP Needs riots जब एक पक्श रस्ता रोक कर नमाज पढने लगे तो विवाद नहि पर कोई जय श्रीराम के नारे लगाए तो विवाद!!ndtv आदतन अपारधी है सुधरेगा नहिं!

हिमालय के नीचे प्लेटों के खिसकने से उत्तराखंड में ग्लेशियर ने बदला था रास्ताः स्टडीहिमालय की गोद में स्थित उत्तराखंड के पिथौरागढ़ में करीब 10 से 20 हजार साल पहले टेक्टोनिक हलचल की वजह से एक बड़े ग्लेशियर ने अपना रास्ता बदल लिया. ये कोई एक बार में होने वाली घटना नहीं थी. टेक्टोनिक हलचल और जलवायु परिवर्तन की वजह से धीरे-धीरे एक अनजान ग्लेशियर ने रास्ता बदलकर पहाड़ के दूसरी तरफ मौजूद ग्लेशियर का हाथ थाम लिया. इस समय इस अनजान ग्लेशियर की लंबाई 5 किलोमीटर है.

ग्रीनपार्क में लगे पाकिस्तान मुर्दाबाद के नारे, बाबर के फैंस ने ऐसे निकाला गुस्सा; देखें Videoसोशल मीडिया पर कुछ पाकिस्तानी फैंस ने आईसीसी टी20 वर्ल्ड कप 2021 में भारत के खिलाफ मैच का भी हवाला दिया। उस मैच में पाकिस्तानी टीम ने बिना एक भी विकेट गंवाए मैच अपने नाम कर लिया था।