Uttarakhandtourism, Dehradun-City-Jagran-Special, Uttarakhand Tourism, Lansdown Tourism, Best Tourist Place Of India, Best Tourist Place Of Uttarakhand, How To Reach Lansdown, When To Reach Lansdown, Uttarakhand Unseen Tourist Place, Uttarakhand Top, Dehradun-City-Jagran-Special, उत्तराखंड टूरिज्म, लैंसडौन टूरिज्म, कैसे पहुंचे लैंसडौन, कब आएं लैंसडौन, उत्तराखंड न्यूज, देहरादून न्यूज, Uttarakhand News

Uttarakhandtourism, Dehradun-City-Jagran-Special

Uttarakhand Tourism: सर्दियों की गुनगुनी धूप बैठ देखिए हिमराज की दिलकश वादियां, जानें- कैसे पहुंचे लैंसडौन

सर्दियों की गुनगुनी धूप बैठ देखिए हिमराज की दिलकश वादियां, जानें- कैसे पहुंचे लैंसडौन #UttarakhandTourism

26-10-2021 20:10:00

सर्दियों की गुनगुनी धूप बैठ देखिए हिमराज की दिलकश वादियां, जानें- कैसे पहुंचे लैंसडौन UttarakhandTourism

Uttarakhand Tourism घूमने का प्लान बना रहे हैं तो उत्तराखंड में बहुत सी ऐसे पर्यटन स्थल हैं जो आपको सुकून और आनंद की अनुभूति के साथ ही रोमांच का भी सफर कराएंगे। इन्हीं में से एक है लैंसडौन। यहां के अद्भुद नजारें देख दोबारा यहां आने का मन करेगा।

हर किसी को घूमने का शौक होता है। छुट्टी मिलते ही वे बेहतरीन टूरिस्ट स्पाट का रुख करने लगते हैं। अगर आप भी घूमने का प्लान बना रहे हैं या आगे बनाएंगे तो उत्तराखंड को न भूलें। यहां बहुत सी ऐसे पर्यटन स्थल हैं, जो आपको सुकून और आनंद की अनुभूति के साथ ही रोमांच का भी सफर कराएंगे। इन्हीं में से एक है लैंसडौन। यहां के अद्भुद नजारें देख दोबारा यहां आने का मन करता है। इनदिनों यहां पर्यटकों की आवाजाही तेज होने लगी है। वीकेंड पर क्षेत्र के होटलों में ढूंढे से कमरे नहीं मिल रहे। पर्यटक लैंसडौन की सुंदर वादियों में गुनगुनी धूप में बैठ हिमालय की विभिन्न पर्वतश्रृंखलाओं के नजारों का लुत्फ उठा रहे हैं।

अखिलेश यादव से मिलने पहुंचे भीम आर्मी चीफ चंद्रशेखर, गठबंधन पर हो सकती है बात मन की बात LIVE: मोदी बोले- मुझे सत्ता में रहने का आशीर्वाद मत दीजिए, मैं हमेशा सेवा में जुटा रहना चाहता हूं UPTET Paper leak: सपा-कांग्रेस ने योगी सरकार को घेरा, अखिलेश बोले-बेरोजगारों का इंकलाब होगा

यह भी पढ़ेंजानिए लैंसडौन के बारे मेंलैंसडौन गढ़वाल राइफल्स रेजीमेंटल सेंटर का मुख्यालय है। 1887 में बसाए गए इस शहर का नाम तत्कालीन वायसराय लार्ड लैंसडाउन के नाम पर रखा गया था। चीड़, बांज और बुरांस से घिरे इस पर्यटक स्थल में वर्ष भर पर्यटकों की आवाजाही जारी रहती है।

लैंसडौन आएं तो यहां जरूर घूमें भुल्ला तालयह भी पढ़ेंभुल्ला ताल एक बेहद ही खूबसूरत जगह है। ये सेना की ओर से बनाई गई झील है, जो पर्यटकों को अपनी ओर खींच लाती है। बाहर से आने वाले पर्यटक झील में नौकायान करने के साथ ही यहां के सुंदर प्राकृतिक नजारों का लुत्फ उठाते हैं। headtopics.com

टिफ-इन-टॉपलैंसडौन में टिफ-इन-टॉप को भी पर्यटक बेहद पसंद करते हैं। यहां से हिमालय के ऊंचे हिमाच्छादित शिखरों की एक लंबी पर्वत श्रृंखला पूरब से पश्चिम तक नजर आती है। इतना ही नहीं इसकी दूसरी ओर बनी घाटियों का खूबसूरत नजारा भी मनमोह लेता है। बताया जाता है कि यहां आवाजाही का साधन नहीं था और लोग यहां टिफिन लेकर पहुंचते थे और सुंदर नजारों के बीच दोपहर का खाना खाते थे। इसी कारण इसका नाम टिफ-इन-टॉप पड़ा।

यह भी पढ़ेंसंग्रहालयलैंसडौन में प्राकृतिक नजारों के साथ ही कई ऐतिहासिक स्थल भी हैं घूमने के लिए। इन्हीं में से एक है गढ़वाल राइफल्स रेजीमेंटल सेंटर का संग्रहालय, जो पर्यटकों के आकर्षण का केंद्र बना रहता है। आपको बता दें कि इसकी स्थापना 1983 में हुई थी। सबसे पहले इसे रेजीमेंट के सूचना केंद्र के रूप में स्थापित किया गया था।

यह भी पढ़ेंदेवदार के जंगल से घिरा ताड़केश्वर धामपर्यटन नगरी लैंसडौन धार्मिक पर्यटन के लिहाज से भी मुफीद जगह है। यहां आएं और ताड़केश्वर धाम न जाएं तो यात्रा को अधूरा माना जाता है। ताड़केश्वर धाम देवदार के जंगलों से घिरा हुआ है। पर्यटक इस स्थल पर शांति और सुकून की भी तलाश में पहुंचते हैं। गर्मियों में यहां का वातावरण मन को आनंदित कर देता है।

यह भी पढ़ेंटूरिस्ट को भाता है सेंट मेरी चर्चसेंट मेरी चर्च भी टूरिस्ट को बहुत भाता है। रायल इंजीनियर्स के एहेचबी ह्यूम ने 1895 में इस चर्च को बनाया था। इसे सौ साल से भी ज्यादा का समय हो चुका है। पुरानी इमारतों को देखने के शौकीन पर्यटक इसके साथ सेल्फी लेना नहीं नहीं भूलते हैं। headtopics.com

SC के आदेश पर एक्टिव हुई दिल्ली सरकार, निर्माण श्रमिकों के खाते में भेजे 5-5 हजार Ground Report: अमृतसर में CM चन्नी का चलेगा जादू या केजरीवाल करेंगे कमाल, क्या कहते हैं लोग पत्नी तलाक के ल‍िए कर रही थी एक करोड़ की ड‍िमांड, वीड‍ियो में दर्द बयान कर पत‍ि ने क‍िया सुसाइड

यह भी पढ़ेंलैंसडौन आने के लिए मुफीद समयआप लैंसडौन बरसात को छोड़ किसी भी मौसम में पहुंच सकते हैं। अक्टूबर से फरवरी का महीना बेहद ही अच्छा समय है यहां आने के लिए। इस दौरान आप गुनगुनी धूप के बीच हिमालय के दिलकश नजारे का दीदार कर सकते हैं। स्नो फाल के शौकीन जनवरी और फरवरी में पर्यटन नगरी और आसपास के क्षेत्रों में बर्फबारी का लुत्फ उठा सकते हैं।

जानिए कैसे पहुंचे लैंसडौनयह भी पढ़ेंलैंसडौन कोटद्वार से करीब चालीस किलोमीटर दूर है। यहां तक चौपहिया अथवा दुपहिया वाहन के जरिए करीब एक घंटे में पहुंचा जा सकता है। कोटद्वार तक रेल अथवा बस से पहुंचा जा सकता है। हवाई जहाज से आने वाले यात्रियों को जौलीग्रांट एयरपोर्ट में लैंडिंग के बाद टैक्सी से लैंसडौन आना पड़ेगा।

और पढो: Dainik jagran »

वारदात: तेज हो गई समीर-नवाब की तकरार, क्या है स्कूल सर्टिफिकेट की सच्चाई?

नारकोटिक्स कंट्रोल ब्यूरो (एनसीबी) के मुंबई के जोनल हेड समीर वानखेड़े के बर्थ सर्टिफिकेट और मैरिज सर्टिफिकेट के बाद महाराष्ट्र सरकार में मंत्री नवाब मलिक कथित रूप से उनके ये दो नए सर्टिफिकेट लेकर आए हैं. नवाब मलिक के मुताबिक समीर दादर के सेंट पॉल हाईस्कूल से प्राथमिक शिक्षा ली थी. इस सर्टिफिकेट में समीर वानखेड़े का नाम वानखेड़े समीर दाऊद लिखा है. यहां ये भी लिखा है कि छात्र की जाति और उपजाति तभी बताई जाए जब वो पिछड़े वर्ग, या अनुसूचचित जाति-जनजाति से आए. जबकि धर्म के कॉलम में लिखा है मुस्लिम. इसके बाद समीर वडाला के सेंट जॉसेफ हाईस्कूल में पढने गए. यहां के स्कूल लीविंग सर्टिफिकेट में समीर का नाम वानखेड़े समीर दाऊद लिखा है. और धर्म के कॉलम में लिखा है मुस्लिम. दरअसल नवाब मलिक समीर वानखेड़े को मुसलमान साबित करने के लिए इसलिए जुटे हैं क्योंकि अगर उनकी बात सही साबित हो गई तो समीर वानखेड़े के नौकरी खतरे में पड़ जाएगी. देखें वीडियो.

पेट्रोल-डीजल महंगाई की नीम पर चढ़ा चोरी-मिलावट का करेला; पब्लिक पस्त, अफसर मस्तअमेठी में डीजल और पेट्रोल की बिक्री के लिए 62 पेट्रोल पंप हैं, पर इनकी जांच-पड़ताल के नाम पर सिर्फ खानापूर्ति होती है। राज्य सरकारें टेक्स कम कर दें दाम कम हो जायेगा केद्र को भी अच्छा संदेश जायेगा BBCHindi BBCBreaking

Ind vs Pak T20WC 2021: बाबर और रिजवान का अर्धशतक, पाकिस्तान ने दर्ज की एकतरफा जीतIndia vs Pakistan Live match update T20 world cup 2021भारत को पाकिस्तान के खिलाफ आइसीसी टी20 विश्व कप के मुकाबले में 10 विकेट की करारी हार मिली। भारत ने 7 विकेट पर 151 रन बनाए थे। पाकिस्तान ने 17.5 ओवर में बिना विकेट गंवाए जीत हासिल की। ये हार नहीं बेज़्ज़ती है 😡 Yana fakt IPL khelava.......Tya thikani paisa bhato n...India sathi thodich khelanar....Laaj vatayla havi हमारे कुछ रन कम बने पाकिस्तान अच्छा खेली रता रताया डायलॉग मारेगा अभी

कार इंश्योरेंस लेते समय किन बातों का रखें ध्यान, ये है एक्सपर्ट की रायआपके लिए यह एक जिम्मेदारी है कि आपने कार की सुरक्षा कैसे प्लान की हुई है। कार इंश्योरेस हमेशा आपको एक्सीडेंट या चोरी जैसी घटनाओं से होने वाली परेशानियों से बचाता है। इसलिए कार का इंश्योरेंस कराने से पहले कुछ बातों पर खासतौर पर ध्यान देना चाहिए।

ऑस्कर पुरस्कार समारोह में भारत का प्रतिनिधित्व करेगी तमिल भाषा की फिल्म ‘कुड़ांगल’‘कुड़ांगल’ अगले साल ऑस्कर पुरस्कारों में अंतरराष्ट्रीय फीचर फिल्म की श्रेणी में भारत का प्रतिनिधित्व करेगी. निर्देशक पीएस विनोदराज की तमिल भाषा की इस फिल्म में एक बिगड़ैल शराबी पति को दिखाया गया है, जो लंबे समय से परेशान पत्नी के घर से चले जाने के बाद अपने छोटे बेटे के साथ उसे खोजने के लिए निकलता है.

Aryan Khan Case: NCB गवाह केपी गोसावी का पता लगाने में जुटीं पुलिस की टीमेंकेपी गोसावी (KP Gosavi) 2018 में दर्ज धोखाधड़ी के मामले में वांछित है. पुणे पुलिस गोसावी की सहायक को पहले ही इस मामले में गिरफ्तार कर चुकी है. mybmc CPMumbaiPolice DGPMaharashtra should capture goswami before the UP police capture him because we know they have excellence in doing fake encounter like they did of vikas dubey!! Photo dekh 25 bhej भाजपाई फरार है

नया खुलासा : धार्मिक पहचान मिटा रहा चीन, शिनिंग शहर की ऐतिहासिक डोंगगुआन मस्जिद का गुंबद तोड़ानया खुलासा : धार्मिक पहचान मिटा रहा चीन, शिनिंग शहर की ऐतिहासिक डोंगगुआन मस्जिद का गुंबद तोड़ा China Religion ReligiousIdentity Dome Mosque XiningCity ews Agerelaxation4EWS NakulKNath OfficeOfKNath jitupatwari INCMP INCIndiaLive digvijaya_28 IYCMadhya ChouhanShivraj BJP4MP DrMohanYadav51 ChitnisArchana drnarottammisra vdsharmabjp MFA_China क्या यह सच है? अब हिंदुस्तान में होना बाकी है,, ध्यान रहे,,अब आग जलती रहें,