Samsung के एंट्री और मिड रेंज स्‍मार्टफोन्‍स भी होंगे वॉटरप्रूफ‍, शुरुआत गैलेक्‍सी A33 से

कंपनी गैलेक्सी S21 और कुछ हाइ-मिड रेंज डिवाइसेज में वाटरप्रूफ फीचर देती है।

Samsung, Samsunggalaxy

02-12-2021 13:07:00

Samsung के एंट्री और मिड रेंज स्‍मार्टफोन्‍स भी होंगे वॉटरप्रूफ‍, शुरुआत गैलेक्‍सी A33 से! Samsung Samsung Galaxy waterproof phone Samsung India

कंपनी गैलेक्सी S21 और कुछ हाइ-मिड रेंज डिवाइसेज में वाटरप्रूफ फीचर देती है।

,अपडेटेड: 2 दिसंबर 2021 15:32 ISTसैमसंग ने स्मार्टफोन के बैक कवर के लिए अगले साल प्रोडक्‍शन प्रोसेस को आसान बनाने का फैसला किया हैख़ास बातेंगैलेक्सी ए33 के अगले साल जनवरी में लॉन्च होने की खबरें हैंयह कम दाम में IP68 रेटिंग वाला सैमसंग का पहला फोन हो सकता है

IP68 रेटिंग वाली डिवाइस पानी में 30 मिनट तक टिकी रह सकती हैंस्‍मार्टफोन मार्केट में खासतौर पर चीन में एक तरफ तो चीनी ब्रैंड्स हैं, वहीं, दूसरी तरफ उनका मुकाबला अकेले साउथ कोरियाई कंपनी सैमसंग कर रही है। अब सैमसंग ने मिड और लो-एंड सेगमेंट में भी Xiaomi और OPPO जैसे चीनी स्मार्टफोन दिग्गजों के खिलाफ मुकाबले के लिए कमर कस ली है। सैमसंग अपने एक खास फीचर के जरिए लो और मिड रेंज सेग्‍मेंट में स्थिति को मजबूत करने की तैयारी कर रही है। एक रिपोर्ट में यह जानकारी सामने आई है।

TheElec की एकरिपोर्टके अनुसार, अपनी फ्लैगशिप डिवाइसेज की बदौलत दुनिया की सबसे बड़ी स्मार्टफोन कंपनियों में से एक सैमसंग अगले साल से अपने मिड और लो-एंड स्मार्टफोन्‍स में वॉटरप्रूफिंग फंक्शन पेश करके स्थिति को मजबूत करना चाहती है।सैमसंग के इस फैसले को दोहरे सॉल्‍यूशन के तौर पर भी देखा जा सकता है। कंपनी को इससे मिड और लो रेंज स्‍मार्टफोन्‍स में बढ़त बनाने में मदद मिलेगी। वहींं, स्‍मार्टफोन्‍स के बैक कवर प्रोडक्‍शन का प्रोसेस आसान बनाया जा सकेगा और उसकी कॉस्‍ट भी कम की जा सकेगी। बदले में वॉटरप्रूफ्र‍िंग जैसा दमदार फीचर भी हाईलाइट होगा।    headtopics.com

फ‍िलहाल, यह रिपोर्ट के मुताबिक, सैमसंग के अपकमिंग स्‍मार्टफोन, गैलेक्सी ए33, जिसके अगले साल जनवरी में लॉन्च होने की खबरें हैं, वह नई कैटिगरी में वॉटरप्रूफ फीचर से लैस पहला फोन होगा। हालांकि अभी यह कहना जल्दबाजी होगी कि फोन में वही IP68 रेटिंग होगी, जो गैलेक्सी S21 में मिलती है। 

IP जिसे इनग्रेड प्रोटेक्शन भी कहते हैं, वह धूल और लिक्विड के ख‍िलाफ दुनियाभर में स्‍वीकारा गया एक मेजरमेंट है। स्‍मार्टफोन और स्‍मार्टवॉचेज में यह रेटिंग देखने को मिलती है। IP68 रेटिंग वाली डिवाइसेज को धूल, गंदगी और रेत का सामना करने के लिए फिट माना जाता है। जिन डिवाइस को यह रेटिंग मिलती है, वो पानी के अंदर 1.5 मीटर गहराई तक 30 मिनट तक बिना नुकसान हुए रह सकती हैं।

और पढो: NDTV India »

अपनी मां की वजह से साधना गुप्ता के करीब आये थे Mulayam Singh, जानें कैसे शुरू हुई ये कहानी

मुलायम सिंह यादव अपनी बीमार मां का इलाज करा रहे थे. एक नर्स मुलायम सिंह की मां मूर्ति देवी को गलत इंजेक्शन लगाने जा रही थी. वहां मौजूद एक महिला ने गलत इंजेक्शन लगाने से रोक दिया. बताते हैं कि तभी से एक नई शुरुआत मुलायम सिंह की जिंदगी में हुई. वो शुरुआत थी साधना गुप्ता से रिश्ते की, जिसे साल 2003 में जाकर मुलायम सिंह ने नाम दिया. साधना गुप्ता को अपनी पत्नी का दर्जा दिया. बात 1980 के दशक की है. यूपी के औरैया जिले के बिधूना के रहने वाले कमलापति की 23 साल की बेटी साधना नर्सिंग की ट्रेनिंग कर रही थी. लेकिन वो राजनीति में कुछ करना चाहती थी. यही ललक इस लड़की को राजनीतिक कार्यक्रमों में लेकर चली गई और वहीं पर बताया जाता है मुलायम सिंह यादव ने पहली बार साधना गुप्ता को देखा. देखें लखनऊ की लड़ाई.

उत्तर भारत में बर्फबारी से दिल्ली और NCR में बढ़ेगी ठंड, पारा और गिरेगानई दिल्ली। दिल्ली और एनसीआर में अब ठंड तेजी से बढ़ेगी और न्यूनतम तापमान गिरेगा। दिल्ली-एनसीआर समेत समूचे उत्तर भारत में ठंड धीरे-धीरे बढ़ रही है, वहीं पहाड़ी राज्यों में शुमार उत्तराखंड व हिमाचल प्रदेश के साथ केंद्र शासित प्रदेशों में शामिल लद्दाख और जम्मू-कश्मीर में बर्फबारी ने न्यूनतम और अधिकतम पारे में कमी लाना शुरू कर दिया है।

Delhi Pollution Level: सांसों पर पॉल्यूशन का पहरा! दिल्ली, गुरुग्राम और नोएडा में और जहरीली हुई हवा, AQI पहुंचा 600 पारDelhi AQI Pollution Level: सिस्टम ऑफ एयर क्वालिटी एंड वेदर फॉरकास्टिंग एंड रिसर्च (SAFAR) के अनुसार, नोएडा में पीएम 10 का एयर क्वालिटी इंडेक्स सुबह 604 दर्ज किया गया, जबकि गुरुग्राम में पीएम 2.5 409 दर्ज हुआ. हालांकि, इससे कुछ देर पहले नोएडा में पीएम 10 का एक्यूआई लेवल 543 हो गया था.

50MP कैमरा और 120Hz डिस्प्ले के साथ Coolpad COOL 20 Pro लॉन्च, जानें कीमतCoolpad Cool 20 Pro फोन 120 हर्ट्ज़ रिफ्रेश रेट वाले डिस्प्ले से लैस है। साथ ही इसमें मीडियाटेक डायमेंसिटी 900 प्रोसेसर दिया गया है। फोन में मौजूद रैम के अलावा 5 जीबी का वर्चुअल रैम सपोर्ट भी मिलता है।

ओमिक्रॉन के मद्देनजर एयरपोर्ट्स पर सुरक्षा सख्ती की केंद्र और राज्य करेंगे समीक्षा : 5 बड़ी बातेंकेंद्रीय स्वास्थ्य मंत्री मनसुख मंडाविया (Union Health Minister Mansukh Mandaviya) आज सभी राज्यों और केंद्रशासित प्रदेशों के अधिकारियों के साथ बैठक करेंगे और अंतरराष्ट्रीय हवाई अड्डों पर कोविड परीक्षण और निगरानी उपायों की समीक्षा करेंगे. भारत ने कल (बुधवार, 1 दिसंबर) ही विदेशी आगमन के लिए सख्त नियम लागू किए हैं और विशेष रूप से ओमिक्रॉन के जोखिम वाले देशों से आने वाले यात्रियों की निगरानी और जांच के आदेश दिए गए हैं.

'प्रदूषण बढ़ रहा है और कुछ नहीं हो रहा', दिल्ली सरकार को SC की फटकारप्रदूषण को लेकर सुप्रीम कोर्ट ने एक बार फिर दिल्ली सरकार को फटकार लगाई है. कोर्ट ने दिल्ली सरकार से पूछा कि प्रदूषण के बीच स्कूल क्यों खोले गए? दरअसल, दिल्ली-नोएडा में प्रदूषण का कहर जारी है. दिल्ली में गुरुवार को भी हवा की गुणवत्ता 'बहुत खराब' श्रेणी में रही. सुप्रीम कोर्ट ने पूछा कि बड़े लोग घर से काम कर रहे हैं, ऐसे में बच्चे सुबह धुंध में स्कूल क्यों जा रहे हैं? सुप्रीम कोर्ट ने दिल्ली सरकार से कहा है कि वह साफ निर्देश दे कि स्कूल खुले हैं या बंद. Supreme court hi Bata de hawa ko clean kese kara jaye . NCR main air pollution nahi hai kiya ? Court wahan ke liye bolegi kabhi ? Only soft Target dekho or jo kehna hai keh kar nikal jao .

ममता बनर्जी- शरद पवार की मुलाकात और यूपीए के अंत की बात, 2004 से 2021 तक, यूपीए के उत्थान और पतन की दास्तान | Rise and Fall of UPARise and Fall of UPA: 2004 में अटल बिहारी वाजपेयी की नेतृत्व वाली केन्द्र की बीजेपी सरकार का विकल्प बनने वाला यूनाइटेड प्रोग्रेसिव अलायंस यानि यूपीए नरेन्द्र मोदी (PM Modi) के नेतृत्व वाली बीजेपी सरकार का विकल्प नहीं बनेगी क्योंकि अब उसका असित्व खत्म हो चुका है, कम से कम पश्चिम बंगाल की मुख्‍यमंत्री और TMC प्रमुख ममता बनर्जी (Mamata Banerjee) की ऐलान से तो ऐसा ही लगता है। 1 दिसंबर 2021 को एनसीपी सुप्रीमो शरद पवार (Sharad Pawar) से मुलाकात के बाद तो ममता दीदी ने साफ कह दिया कि कहीं कोई यूपीए नाम की चीज़ है ही नहीं, क्षेत्रीय दलों को खुद साथ आकर मोदी सरकार का विकल्प पेश करना होगा। जनसत्ता की इस खास रिपोर्ट में एक नजर यूपीए के उत्थान और पतन पर..