Omegaseiki, Automobile, Automobile, New Car Launches, Omega Seiki, Omega Seiki Launched Electric Scv, Omega Seiki Vehicle Commercial Vehicle, Automobile

Omegaseiki, Automobile

Omega Seiki ने लांच किया देश का पहला इलेक्ट्रिक स्मॉल कमर्शियल वाहन M1KA, जानें कब से कर सकेंगे बुक

Omega Seiki ने लांच किया देश का पहला इलेक्ट्रिक स्मॉल कमर्शियल वाहन, जानें कब से कर सकेंगे बुक #OmegaSeiki #Automobile

20-09-2021 19:20:00

Omega Seiki ने लांच किया देश का पहला इलेक्ट्रिक स्मॉल कमर्शियल वाहन, जानें कब से कर सकेंगे बुक OmegaSeiki Automobile

ओमेगा सेकी मोबिलिटी प्रा. (ओएसएस) ने आज भारत का पहला इलेक्ट्रिक स्मॉल कमर्शियल वाहन (एससीवी) एम1केए लांच किया है। इस मौके पर कंपनी की तरफ से कहा गया कि उनका हमेशा से लक्ष्य स्वच्छ पर्यावरण और ग्रीन मोबिलिटी का रहा है।

एंग्लियन ओमेगा समूह की कंपनी ओमेगा सेकी मोबिलिटी प्रा. (ओएसएस) ने आज भारत का पहला इलेक्ट्रिक स्मॉल कमर्शियल वाहन (एससीवी) 'एम1केए' लांच किया है। ओएसएस 'M1KA' एक खास डिजाइन से बना है, जो आपकी आमदनी का साथी होने का वादा पूरा करेगा। नया प्रोडक्ट लांच कर ब्रांड अपनी श्रेणी में सर्वश्रेष्ठ भरोसा और कम टीसीओ के साथ लागत का पूरा लाभ देना जारी रखने का वादा कर रही है। ओमेगो सेकी मोबिलिटी 2021 की चौथी तिमाही से वाहन बुकिंग लेना शुरू करेगी।

महिलाओं के अधिकार के लिए आज भी डटे हैं : UP में 40% टिकट महिलाओं को देने पर राहुल गांधी अमरिंदर स‍िंह बनाएंगे नई पार्टी, कहा - पंजाब चुनाव में बीजेपी से सीटों के समझौते को तैयार प्रियंका लड़की हैं, लड़ सकती हैं

'M1KA' में एक हल्के वजन की एनएमसी आधारित 90 केडब्ल्यूएच की बैटरी है जो एक बार चार्ज करने पर 250 किमी. की ड्राइविंग रेंज देती है। इस बैटरी को डीसी फास्ट चार्जर की मदद से महज 4 घंटे में ही फुल चार्ज किया जा सकता है। वाहन की पेलोड क्षमता 2 टन है। इसलिए यह अपनी श्रेणी में सबसे कुशल वाहन होगा। इस वाहन के अंदर 10 फुट बड़ा लोडिंग एरिया भी दिया गया है जो भारी सामान ज्यादा मात्रा में ढोने के लिए काफी आसान है। इसके अलावा कंपनी के अनुसार 'एम1केए' किसी भी हाइवे पर ले जाने के लिए भी एक सही वाहन है।

ओमेगो सेकी मोबिलिटी (ओएसएस) का हमेशा से #इंडियाफर्स्ट में विश्वास रहा है और कंपनी 2020 में गठन के बाद से ही निरंतर इलेक्ट्रिक वाहन पेश कर परिवहन को स्वच्छ और सतत उपयोगी समाधान देती है। आज कंपनी के पास ओएसएस वाहनों की एक बेजोड़ श्रंखला मौजूद है। 'एम1केए' लांच के मौके पर कंपनी के संस्थापक और अध्यक्ष उदय नारंग ने कहा, "कामर्शियल वाहन के बाजार में ईवी के आगे निकलने की खास वजह लागत पर लाभ, स्थायी समाधान और केंद्र और राज्य सरकार से अधिक से अधिक समर्थन मिलना है। वर्तमान में लागू एसओपी और अनुकूल परिवेश प्रेरित करता है कि हम ग्राहकों के लिए नए-नए ईवी पेश करते रहें।" इसके अलावा नारंग ने बताया कि "हम अत्याधुनिक प्रोडक्ट को एम1केए पेश करते हुए बहुत उत्साहित हैं। ओमेगा सेकी मोबिलिटी नई पीढ़ी के इलेक्ट्रिक कमर्शियल व्हीकल्स पेश कर नेट-जीरो कार्बन मोबिलिटी का विकास करने का मिशन मजबूत बना रही है।" headtopics.com

और पढो: Dainik jagran »

वारदात: अब जेल में ही कटेगी Ram Rahim की सारी जिंदगी, तीसरी बार उम्र कैद

25 अगस्त 2017, दो साध्वियों से यौन शोषण में राम रहीम को पहली उम्र क़ैद. 17 जनवरी 2019, पत्रकार रामचंद्र छत्रपति के क़त्ल में राम रहीम को दूसरी उम्र क़ैद. और अब 18 अक्टूबर 2021, मैनेजर रंजीत सिंह के मर्डर में राम रहीम को तीसरी उम्र क़ैद. बीस साल वाली पहली उम्र क़ैद को छोड़ दें, तो बाक़ी उम्र क़ैद उम्र भर की है. 60 से ऊपर के हो चुके गुरमीत राम रहीम की बची कुची उम्र क़ायदे से अब जेल की चारदिवारी के अंदर ही गुज़रेगी. राम रहीम की सज़ाओं की फेहरिसत में नई फेहरिस्त सोमवार को जुड़ी, पंचकूला सीबीआई की स्पेशल कोर्ट ने डेरा सच्चा सौदा के पूर्व मैनेजर रंजीत सिंह के क़त्ल के इल्ज़ाम में राम रहीम को उम्र कैद की सज़ा दी है. देखिए वारदात का ये एपिसोड.

अंबिका सोनी ने ठुकराया कांग्रेस आलाकमान का प्रस्ताव, पंजाब का सीएम बनने से किया इनकारकांग्रेस की अनुभवी नेता और गांधी परिवार की करीबी अंबिका सोनी ने पंजाब के मुख्यमंत्री पद की पेशकश के प्रस्ताव को स्वीकार करने से इनकार कर दिया है। उन्होंने स्वास्थ्य का हवाला देते हुए इस प्रस्ताव को अस्वीकार कर दिया है। Not Bad. Achha kiya, alakaman ka kya bharosha, kaan ke kacche log kab dhakka mar kar beizzat kar bahar nikal de, UPSI2016 upsi2016Joining हम 2486 दरोगा 1 साल की ट्रेनिंग करने के बाद 15 महिने से घर बैठे हैं, हमे नियुक्ति कब मिलेगी? हमे नियुक्ति प्रदान करने की कृपा करें... 🙏💔🙏

आज का जीवन मंत्र: सार्वजनिक रूप से तीखी टिप्पणी करने से वाद-विवाद बढ़ सकता हैकहानी - एक बार आचार्य विनोबा भावे को योजना आयोग की बैठक में दिल्ली बुलाया गया। वहां बड़े-बड़े अधिकारी, विद्वान मौजूद थे और नेशनल प्लानिंग शब्द के साथ विचार-विमर्श हो रहा था। | aaj ka jeevan mantra by pandit vijayshankar mehta, motivational story of acharya vinoba bhave, prerak katha isnt that the strategy used since 8 yrs by 97%media/institutions/government ? यदि सार्वजनिक सेवा को दुरूस्त करना है तो सार्वजनिक टिप्पणी करना जरूरी है, आदमी कानून ,भगवान , लोकलाज की जगह आम राय से डरता है यदि कोई आपके साथ गलत कर दे तो सब तरफ बताओ

दिल्ली से राजस्थान तक खौफ का दूसरा नाम लॉरेंस बिश्नोई, दिल्ली पुलिस ने मकोका क्यों लगायाकुख्‍यात गैंगस्‍टर लॉरेंस बिश्‍नोई पर महाराष्ट्र संगठित अपराध नियंत्रण कानून (MCOCA) लगाया गया है। दिल्‍ली पुलिस की स्‍पेशल सेल ने इंटरस्‍टेट सिंडिकेट चलाने से जुड़े एक केस में चार्जशीट दायर की। बिश्‍नोई और उसके सहयोगियों- फ्राइडे, सम्‍पत नेहरा और 9 अन्‍य पर मकोका की धाराएं लगी हैं। कम से कम छह राज्‍यों में फैले बिश्‍नोई गैंग में 600 से ज्‍यादा अपराधी शामिल हैं। कभी छात्रनेता रहे लॉरेंस बिश्‍नोई ने पहली गैंग कॉलेज में ही बनाई। आज की तारीख में उसके ऊपर कम से कम 25 संगीन मुकदमे दर्ज हैं। वेरी वेरी नाइस बहुत बढ़िया ऑल द बेस्ट दिल्ली पुलिस

महंत नरेन्द्र गिरि ने शिष्य से परेशान होकर किया सुसाइड, पुलिस का दावा, सुसाइड नोट बरामदप्रयागराज। अखाड़ा परिषद के अध्यक्ष और हनुमान मंदिर के महंत नरेन्द्र गिरि का शव फांसी पर झूलते हुए मिलने से हड़कंप मच गया है। नरेन्द्र गिरि की मौत की सूचना मिलते ही जिले के आलाधिकारी मौके पर पहुंच गए। महंत गिरि का शव प्रयागराज स्थित बाघंबरी मठ में ही फांसी के फंदे से झूलता मिला है। पुलिस की प्रारंभिक जांच में ये आत्महत्या है और पुलिस का दावा है कि उसने मौके से सुसाइड नोट भी बरामद किया है। जिसमें आत्महत्या का कारण एक शिष्य से दुखी होना बताया गया है।

जब दीपिका पादुकोण से सड़क पर शख्स ने की बदतमीजी, एक्ट्रेस ने जड़ दिया था थप्पड़जब दीपिका पादुकोण से सड़क पर शख्स ने की बदतमीजी, घुमाकर दे मारा था थप्पड़; एक्ट्रेस ने सुनाया था किस्सा deepikapadukone

राजस्थान: विवाह पंजीकरण क़ानून में संशोधन, भाजपा ने बाल विवाह का जायज़ ठहराने का आरोप लगायाभाजपा ने राजस्थान अनिवार्य विवाह पंजीकरण (संशोधन) विधेयक, 2021 को काला क़ानून बताते हुए दावा किया कि इससे बाल विवाह वैध हो जाएंगे. हालांकि राजस्थान की कांग्रेस सरकार का कहना है कि क़ानून के तहत सिर्फ़ पंजीकरण की अनुमति दी गई है, इसका मतलब ये नहीं कि शादियां वैध हो जाएंगी.