Nıtıaayog, Rajeevkumar, Nıtı Aayog, Pm Narendra Modi, Pm Modi, Reconstitution Of Nıtı Aayog, Pm Modi Approves Reconstitution Of Nıtı Aayog

Nıtıaayog, Rajeevkumar

NITI Aayog के पुनर्गठन को पीएम मोदी ने दी मंजूरी, राजीव कुमार बने रहेंगे उपाध्यक्ष

#NITIAayog के पुनर्गठन को पीएम मोदी ने दी मंजूरी, राजीव कुमार बने रहेंगे उपाध्यक्ष #rajeevkumar @narendramodi

6.6.2019

NITIAayog के पुनर्गठन को पीएम मोदी ने दी मंजूरी, राजीव कुमार बने रहेंगे उपाध्यक्ष rajeevkumar narendramodi

नीति आयोग गवर्निंग काउंसिल की बैठक से पहले पीएम मोदी ने बड़ा कदम उठाते हुए नीति आयोग केे पुनर्गठन को मंजूरी दे दी है। अर्थशास्त्री डा. राजीव कुमार नीति आयोग के उपाध्यक्ष बने रहेंगे

नीति आयोग गवर्निंग काउंसिल की बैठक से पहले पीएम मोदी ने बृहस्पतिवार को बड़ा कदम उठाते हुए नीति आयोग केे पुनर्गठन को मंजूरी दे दी है। गौरतलब है कि नीति आयोग की गवर्निंग काउंसिल की बैठक 15 जून को होनी है। पीएम मोदी की अगुवाई में इस बैठक में सभी मुख्यमंत्री, राज्यपाल, उपराज्यपाल, केंद्रीय मंत्री और अधिकारी शामिल होंगे। पीएम मोदी के फिर से सत्ता संभालने के बाद यह आयोग की पहली बैठक होगी। यह गर्वनिंग काउंसिल की पांचवीं बैठक होगी। वहीं मोदी की अगुवाई वाली नई सरकार के अंतर्गत संचालन परिषद की यह पहली बैठक है।

बता दें कि अर्थशास्त्री डा. राजीव कुमार नीति आयोग के उपाध्यक्ष बने रहेंगे। उनके साथ हीवी के सारस्वत, प्रोफेसर रमेश चंद और डा. वी के पॉल भी आयोग में पूर्णकालिक सदस्य के रूप में बने रहेंगे। हालांकि प्रधानमंत्री की आर्थिक सलाहकार परिषद के अध्यक्ष विवेक देबरॉय को इस बार नीति आयोग का सदस्य नहीं बनाया गया है। इसके अलावा गृह मंत्री अमित शाह को भी आयोग का सदस्य बनाया गया है।

नई सरकार के गठन से पूर्व आयोग के पदाधिकारियों ने इस्तीफा दे दिया था, जिसके बाद इसके पुनर्गठन की आवश्यकता पड़ी है। प्रधानमंत्री कार्यालय से जारी आदेश के अनुसार आयोग में चार पदेन सदस्य- गृह मंत्री अमित शाह, रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह, वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण और कृषि मंत्री नरेन्द्र सिंह तोमर भी आयोग में शामिल होंगे। इसके अलावा सड़क परिवहन मंत्री नितिन गडकरी, सामाजिक अधिकारिता मंत्री थावर चंद गहलौत, रेल मंत्री पीयूष गोयल और सांख्यिकी राज्य मंत्री स्वतंत्र प्रभार राव इंद्रजीत विशेष आमंत्रित सदस्य होंगे। राव इंद्रजीत पहले इसमें पदेन सदस्य थे। इससे पूर्व मानव संसाधन विकास मंत्री नीति आयोग में विशेष आमंत्रित सदस्य थे, लेकिन इस बार उन्हें हटा दिया गया है।

narendramodi जरूरी कदम, अन्यथा नीती आयोग गैरजरूरी संस्थान बन गया था। जरूरी है कि इसे औऱ जिम्मेदारी व अधिकार मिले।

और पढो: Dainik jagran

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी का बड़ा फैसला, नीति आयोग के पुनर्गठन को दी मंजूरीप्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी का बड़ा फैसला, नीति आयोग के पुनर्गठन को दी मंजूरी NITIAayog PMModi

मोदी ने नीति आयोग का पुनर्गठन किया, राजीव कुमार उपाध्यक्ष बने रहेंगे; शाह भी शामिल हुएवी के सारस्वत, वी के पॉल और रमेश चंद को फिर से सदस्य चुना गया शाह के अलावा राजनाथ, सीतारमण और नरेंद्र सिंह तोमर पदेन सदस्य बनाए गए पिछली बार राजनाथ, जेटली, पीयूष गोयल और राधामोहन सिंह पदेन सदस्य के तौर पर शामिल थे | PM Modi reconstitutes Niti Aayog; Shah ex-officio member

पीएम मोदी ने NITI आयोग के पुनर्गठन को दी मंजूरी, राजीव कुमार बने रहेंगे उपाध्यक्ष-Navbharat TimesIndia News: प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने NITI आयोग के पुनर्गठन को मंजूरी दे दी है। राजीव कुमार उपाध्यक्ष बने रहेंगे। इसके अलावा वी. के. सारस्वत, रमेश चंद और डॉक्टर वी. के. पॉल को सदस्य बनाया गया है। justicefortwinkle

आदिवासी आयोग के अध्यक्ष की सलाह, हिन्दी की जगह संस्कृत को करें शामिलआदिवासी आयोग के अध्यक्ष की सलाह, हिन्दी की जगह संस्कृत को करें शामिल nandkumarsai NewEducationPolicy languagecontroversy तभी हमारे देश की संस्कृति को बचाया जा सकता हैं बरना आजकल तो सब फेसन मे ब्यस्त है VivekKu900 Yes , strongly supported👌👍 Good idea

जम्मू-कश्मीर पर ऐक्शन मोड में अमित शाह!अब ऐसा लग रहा है कि देश के नए गृह मंत्री अमित शाह के पहले टारगेट पर. जम्मू कश्मीर में परिसीमन का मुद्दा ही है क्योंकि पिछले तीन दिनों में एक के बाद एक बैठकों के बीच अचानक ये बड़ी ख़बर आई कि जम्मू-कश्मीर में सीटों के परिसीमन के लिए आयोग बनाने का विचार किया जा रहा है. हालांकि परिसीमन की प्रक्रिया इतनी आसानी से नहीं पूरी होती लेकिन ये बीजेपी के लिए बड़ा चुनावी मुद्दा ज़रूर बनेगा क्योंकि आज ही चुनाव आयोग की तरफ से ये बड़ी ख़बर भी आ गई कि अमरनाथ यात्रा के बाद जम्मू-कश्मीर में विधानसभा चुनाव करवाने पर विचार चल रहा है. दिसंबर से जम्मू-कश्मीर में राष्ट्रपति शासन लगा हुआ है. SwetaSinghAT अरे.......... वो रडार कहा गया SwetaSinghAT अभी बहुत कुछ गायब होगा SwetaSinghAT Why now Isro satellites pressed into operation? It should be within 1 hour max of not finding. Are there any kill switches in aeroplanes bought?

उबर-ओला जैसी कंपनियों के बेड़े में 40% कारें इलेक्ट्रिक रखने की नीति बना सकती है सरकाररिपोर्ट के मुताबिक, नीति आयोग अन्य मंत्रालयों के साथ मिलकर नीति पर काम कर रहा है भारत में इलेक्ट्रॉनिक वाहनों की खरीद तीन गुना बढ़ी, पर यह अभी भी पेट्रोल-डीजल कारों की खरीद का केवल 0.1% है | India plans to order Uber, Ola, other taxi aggregators to go electric

टिप्पणी लिखें

Thank you for your comment.
Please try again later.

ताज़ा खबर

समाचार

07 जून 2019, शुक्रवार समाचार

पिछली खबर

ममता बनर्जी ने बंगाल में बीजेपी के विजय जुलूसों पर लगाया प्रतिबंध-Navbharat Times

अगली खबर

वाजपेयी का आवास '6-ए, कृष्णा मेनन मार्ग' होगा अमित शाह का नया पता
पिछली खबर अगली खबर