NEET दाखिले में EWS आरक्षण को लेकर पूरा विवाद क्या है? - BBC News हिंदी

NEET दाखिले में EWS आरक्षण को लेकर पूरा विवाद क्या है?

22-10-2021 15:19:00

NEET दाखिले में EWS आरक्षण को लेकर पूरा विवाद क्या है?

नीट के दाखिले में केंद्र सरकार के आरक्षण के फ़ैसले को कुछ पोस्ट ग्रैजुएट छात्रों ने चुनौती दी है. अब सुप्रीम कोर्ट ने केंद्र सरकार से 'आर्थिक रूप से कमज़ोर' की पात्रता पर सवाल पूछे हैं.

ईडब्लूएस की पात्रतासंविधान के 103वें संशोधन के तहत केंद्र सरकार ने जनवरी 2019 सरकारी नौकरी और शिक्षण संस्थानों में आर्थिक रूप से कमज़ोर वर्गों (ईडब्ल्यूएस) के लिए 10 फ़ीसदी आरक्षण का प्रावधान किया था.इस संविधान संशोधन को भी कोर्ट में चुनौती दी गई है और पूरा मामला संवैधानिक पीठ के पास है, जिस पर सुनवाई चल रही है और फ़ैसला नहीं आया है.

इस्लाम छोड़ हिंदू बनेंगे वसीम रिजवी, यति नरसिंहानंद ग्रहण करवाएंगे सनातन धर्म बीजेपी पर राघव चड्ढा का गंभीर आरोप, कहा- हमारे MLA, MP को खरीदने की कोशिश क्या है कोरोना के नए वैरिएंट Omicron से लड़ने की यूपी सरकार की तैयारी? जानिए

इस बीच ईडब्ल्यूएस के लिए पात्रता के लिए केंद्र सरकार ने जोअधिसूचना जारीकी थी, उसमें कहा गया था जिस परिवार की सालाना आय 8 लाख से कम है वो इस आरक्षण का लाभ उठा सकते हैं.परिवार में वो व्यक्ति शामिल है, जो इस आरक्षण का लाभ लेना चाहता है, उसके माता-पिता, 18 साल से कम उम्र के उसके भाई-बहन, उसकी पत्नी और उसके बच्चे जो 18 साल से कम उम्र के हों.

साथ ही कुछ अपवाद भी जोड़े गए हैं. अगर परिवार के पास• पाँच एकड़ की कृषि ज़मीन या उससे ज़्यादा हो• 1000 स्क्वायर फीट या उससे बड़ा फ़्लैट हो• 100 स्क्वायर यार्ड या उससे बड़ा प्लॉट अधिसूचित नगरपालिका इलाके में हो• 200 स्क्वायर यार्ड या उससे बड़ा प्लॉट ग़ैर अधिसूचित नगरपालिका इलाक़े में हो. headtopics.com

तो वो व्यक्ति ईडब्ल्यूएस कोटे का तहत आरक्षण का लाभ नहीं उठा सकता.ये भी पढ़ें:बिहार: इंजीनियरिंग, मेडिकल में आरक्षण से लड़कियों के लिए क्या बदलेगा?केंद्र सरकार इस पात्रता तक कैसे पहुँची?ये तो हुई ईडब्ल्यूएस के लिए पात्रता तय करने की बात. लेकिन सुप्रीम कोर्ट का सवाल ईडब्ल्यूएस की इसी परिभाषा को लेकर है. कोर्ट, केंद्र सरकार से जानना चाहती है कि इस परिभाषा तक सरकार कैसे पहुँची?

इसका जवाबसामाजिक न्याय मंत्री ने संसदमें इसी साल अगस्त में दिया था.यूपीए सरकार ने साल 2006 में आर्थिक रूप से पिछड़ों पर एक कमिशन का गठन किया था. इसके अध्यक्ष रिटायर्ड मेजर जनरल एसआर सिन्‍हो थे. 2010 में इस कमिशन ने अपनी रिपोर्ट सौंपी. रिपोर्ट के आधार पर सरकार सलाह-मशविरा करके ईडब्ल्यूएस की परिभाषा पर पहुँची है.

इमेज स्रोत,PWC/BBCमेडिकल में सीटों की संख्यानीट में ईडब्ल्यूएस और ओबीसी आरक्षण के फ़ैसले के वक़्त केंद्र सरकार ने इस बात पर ख़ास ज़ोर दिया था कि पिछले सात सालों में मेडिकल में सीटों की संख्या काफ़ी बढ़ाई गई है.2014 से 2020के बीच एमबीबीएस सीटों की संख्या 56 फ़ीसदी बढ़ी है.

वहीं इसी दौरान पीजी कोर्स में सीटों की संख्या 80 फ़ीसदी तक बढ़ी है.केंद्र सरकार का दावा है कि पिछले सात सालों में तकरीबन 179 मेडिकल कॉलेज जोड़े गए हैं. आज की तारीख़ में भारत में 558 मेडिकल कॉलेज हैं, जिनमें सरकारी 289 और प्राइवेट 269 हैं.याचिकाकर्ता में से एक छात्र डॉ. नील का कहना है, "हम आरक्षण के ख़िलाफ़ नहीं है. सरकार ने प्रेस रिलीज़ में सीट बढ़ाने की बात तो की है, लेकिन छात्रों को किस कॉलेज में कितनी सीटें बढ़ाई गई हैं इसकी जानकारी नहीं दी गई है. परीक्षा की प्रक्रिया की शुरुआत में इसकी घोषणा नहीं की गई थी, जिससे आरक्षण के दायरे में नहीं आने वाले छात्रों को काफ़ी नुक़सान होगा. अगर कोरोना महामारी नहीं होती, तो इस बार की नीट परीक्षा सरकार के फ़ैसले के पहले हो गई होती. इसलिए इस बार के दाखिले में इस आरक्षण को लागू नहीं किया जाना चाहिए." headtopics.com

इलाहाबाद हाईकोर्ट ने सीएए-एनआरसी के छह प्रदर्शनकारियों के हिरासत आदेश को ख़ारिज किया वैक्सीन की दोनों डोज नहीं तो मॉल-थियेटर में एंट्री नहीं, Omicron बढ़ने के बाद बेंगलुरु में नई Covid Guidelines महंगाई की मार, जनवरी से ये सभी कंपनियां बढ़ाएंगी कार की कीमतें

इस याचिका पर सुप्रीम कोर्ट में अगली सुनवाई 28 अक्तूबर को होनी है. इस साल नीट की परीक्षा हो चुकी है और नतीजे भी घोषित किए जा चुके हैं. पोस्ट ग्रैजुएट कोर्स में दाखिले के लिए काउंसलिंग की तारीख़ का एलान अभी तक नहीं हुआ है. छात्रों को उम्मीद है कि अगली तारीख़ में इस पर कोर्ट की ओर से कोई फ़ैसला आएगा.

और पढो: BBC News Hindi »

रिटायरमेंट के दिन जूते की माला भेंट!: रीवा में यूनिवर्सिटी के डिप्टी रजिस्ट्रार से कर्मचारी यूनियन ने की हरकत; थैंक्यू कहकर दिया जवाब

रीवा में अवधेश प्रताप सिंह विश्वविद्यालय के डिप्टी रजिस्ट्रार लाल साहब सिंह से रिटायरमेंट के दिन विदाई समारोह में बदसलूकी का मामला सामने आया है। यूनिवर्सिटी के कर्मचारी यूनियन के पदाधिकारियों ने डिप्टी रजिस्ट्रार को जूते की माला भेंटकर मुर्दाबाद के नारे लगाए। जवाब में अफसर ने कहा-धन्यवाद, थैंक्यू। | Viral Video: Employees unions misbehaved with Deputy Registrar at Rewa APS University

UPSSSC_को_गतिशक्ति_दो upsssc_pet_result upsssc_pet_result_2021 UPSSSC_PET_RESULT2021 जाति लिखी गाड़ी जब्त कर रहे हो तो जाति से मिली नौकरी भी जब्त होनी चाहिए। सवर्ण_आर्मी आरक्षण’ एक अवैध बूचड़खाना है, जहाँ सामन्य वर्ग के युवाओ की प्रतिभा का बड़ी खामोशी से कत्ल किया जाता है. आरक्षण_भारत_छोड़ो सुप्रीम कोर्ट को एक बात अपने आप में जान लेनी चाहिए मोदी और अमित शाही और मोहन भागवत यह शख्स ही ऐसे हैं जो संविधान को खत्म करना चाहते हैं देश में वही पुराना रामराज नीचे आ जाना चाहते हैं

यह सुप्रीम कोर्ट को अपने आप में समझ लेना चाहिए मोदी कभी भी किसी भी कमजोर वर्ग के बच्चों को पढ़ते हुए देखना चाहता ही नहीं दर्द भरा का सबसे बड़ा दुश्मन है दामोदरदास मोदी इससे ज्यादा निकम्मा आदमी द्वारा पैदा हो ही नहीं सकता यह मोदी नहीं मुशर्रफ है मुशर्रफ Follow the twitter handles of 'All India Trinamool Congress' from all over India 👇👇👇 AITCofficial AITC4Gujarat AITC4Goa AITC4Tripura AITC4Jharkhand AITC4Assam AITC4Bihar AITC4UP AITC4Delhi BanglarGorboMB AITC_Parliament ANewDawnForGoa

कौन बढ़े कौन चढ़े मौके से मिल कर कौन रहे। कौन स्वेच्छा से खुद के हक छोड़े। कौन अधिकार से मिल खुद को सब से जोड़े🧬 Please. Read my Pinned Tweet. Judges are corrupt and dishonest. They have changed decisions of Supreme court of India. TWICE. SHAMEFUL ये कमीने हरामी अब कुत्तों की तरह बिस्किट नमकीन स्वाद ले लेकर फैसले भी बदलने लगे हैं। मैं इन सब को यू ट्यूब पर बेनकाब करने वाला हूं। समर्थन दीजिए

'सुपरमैन' की फिल्म में कश्मीर को लेकर विवादित टिप्पणी, भड़के भारतीय बोले- अफगानिस्तान को बचा लेतेकॉमिक्स की दुनिया का सबसे लोकप्रिय सितारा सुपरमैन विवादों में है. दरअसल डीसी कॉमिक्स की नई फिल्म इनजस्टिस की एक क्लिप सामने आने के बाद से ही भारतीय ट्विटर यूजर्स काफी भड़क गए हैं. इस एनिमेशन फिल्म में कश्मीर को विवादित क्षेत्र बताया है. इसके बाद से ही एंटी इंडिया सुपरमैन भी ट्विटर पर ट्रेंड होने लगा था.

यूपी विधानसभा चुनाव में कांग्रेस का 40 फीसद आरक्षण, गोरखपुर में जश्न में केवल छह महिलाएं पहुंचींUP Vidhan Sabha Chunav 2022 कांग्रेस की राष्ट्रीय महासचिव प्रियंका वाड्रा ने विधानसभा चुनाव में 40 फीसद सीटों पर महिलाओं को मैदान में उतारने की घोषणा की थी। कांग्रेसियों को हाइकमान की तरफ से निर्देश मिला कि प्रियंका की घोषणा को लेकर कांग्रेसी हर जिले में जश्न मनाएं। उन छ:महिलाओं में से ही ४०% को कांग्रेस का टिकट दे देना चाहिए. छह से छह हज़ार और छह हज़ार से छह लाख हो जाएगी, आपसे उम्मीद है हौसला रखे। womenempowerment SureshNakhua महिलायें अभी बाहर से लाएगी ॥

अफगानिस्तान में तालिबान ने महिला खिलाड़ी का सिर कलम किया, परिवार को दी यह धमकी...काबुल। तालिबान के लड़ाकों ने अफगानिस्तान की जूनियर महिला वॉलीबॉल टीम की खिलाड़ी का सिर कलम कर दिया। जूनियर महिला नेशनल टीम के कोच ने अंतरराष्ट्रीय मीडिया को इसकी जानकारी दी है। इतना ही नहीं तालिबान के लड़ाकों ने महिला खिलाड़ी के परिवार वालों को भी धमकी देते कुछ बोलने से मना कर दिया।

भाजपा और नरसिंहानंद से जुड़ीं हिंदुत्ववादी नेता ने मुस्लिम व्यक्ति को ट्रेन में पीटाइस घटना को लेकर एक वीडियो सामने आया है, जिसमें ये देखा जा सकता है कि कट्टर हिंदुत्ववादी नेता यति नरसिंहानंद की अनुयायी मधु शर्मा मुस्लिम व्यक्ति का बाल पकड़ कर खींच रही हैं और उन्हें थप्पड़ मार रही हैं. धक्का देने का आरोप लगाते हुए उन्होंने व्यक्ति को पैर छूने के लिए मजबूर किया. सही पीटा मुल्ले को👍 औरतों को छेड़ रहा था साला क्यों पीटा बे ये पता है वो मत लिखना दोगले!! Very bad

आर्यन खान की ज़मानत अर्जी पर बॉम्बे HC में सुनवाई मंगलवार कोआर्यन खान की ज़मानत अर्जी पर बॉम्बे HC में सुनवाई मंगलवार को AryanKhan Uthe gire sakoo-n na mila phir khade hue Kha kha k chot waqt ki itne bade hue क्या NCB को एक ड्रग यूज़र को जेल में बंद करना सही है। ड्रग माफिया तो नहीं है। आर्यन जो NCB उसके केस में इतना दिलचस्पी ले रही है। और NCB अधिकारी बेल न मिलने पर सत्यमेव जयते का नारा लगा रहे हैं।

Prime Time With Ravish Kumar: प्रदर्शनों को कुचलने की दुनिया भर में तैयारीPrime Time With Ravish Kumar - October 21, 2021: जनता कहां प्रदर्शन करेगी, क्या उस शहर में प्रदर्शन नहीं होगा जहां कोई मैदान या बड़ा पार्क नहीं होगा और होगा ... लगता है पूरे दुनियां का ठेका इ खबिश कुमार ने हीं ले रखा है? Respected Sir, Please take action for making Permanent Services for COMMUNITY HEALTH OFFICER (CHO) of U.P.