Extendthelockdown, Covıd 19, Coronavirusoutbreak, Lockdown, Coronavirusoutbreakindia, Iıtroorkee, Coronavirus Cases İn Uttarakhand, Coronavirus Update Uttarakhand, Uttarakhand Coronavirus Case, Coronavirus Update İndia, Uttarakhand Corona Cases, Coronavirus, Coronavirus Live Updates İn İndia, Narendra Modi, Coronavirus İn Uttarakhand, Coronavirus Live Updates, Coronavirus İn İndia, Covid 19, Uttarakhand News, Covid 19 İn İndia, Covid 19 Updates, Covid 19 Tracker Mobile App, Covid 19 Live Updates, Covid 19 Symptoms, Up, Noida, Delhi, Maharashtra, Rajasthan, Kerala, Karnataka, Tamil Nadu, Punjab, Andhra Pradesh, Haryana, Odisha, Telangana, Uttar Pradesh, Uttarakhand, Jammu Kashmir, Laddakh, Covid 19 İndia, Uttarakhand Coronavirus Cases, Coronavirus Update, उत्तराखंड लॉकडाउन, Coronavirus Vaccine, Coronavirus Symptoms, Coronavirus Cure, Aiims Rishikesh, Coronavirus Treatment, Corona Symptoms, Supreme Court, İndian Army, Janta Curfew, Railway, Janata Curfew Trains, कोरोना वायरस, कोरोना, जनता कर्फ्यू, Uttarakhand Lockdown, Markaz Building Nizamuddin, İit Roorkee, Dehradun News İn Hindi, Latest Dehradun News İn Hindi, Dehradun Hindi Samachar

Extendthelockdown, Covıd 19

Coronavirus: आईआईटी रुड़की के वैज्ञानिक ने बनाया कोविड-19 ट्रेसर एप, बताएगा आपसे कितनी दूर है मरीज

कोरोना के प्रति अलर्ट करने के लिए आईआईटी के सिविल इंजीनियरिंग विभाग के प्रोफेसर कमल जैन कोविड ट्रेसर मोबाइल एप बनाया

07-04-2020 03:55:00

Coronavirus: आईआईटी रुड़की के वैज्ञानिक ने बनाया कोविड-19 ट्रेसर एप, बताएगा आपसे कितनी दूर है मरीज ExtendTheLockdown COVID19 CoronaVirusOutbreak lockdown CoronavirusOutbreakindia PMOIndia MoHFW_INDIA IITRoorkee

कोरोना के प्रति अलर्ट करने के लिए आईआईटी के सिविल इंजीनियरिंग विभाग के प्रोफेसर कमल जैन कोविड ट्रेसर मोबाइल एप बनाया

Updated Tue, 07 Apr 2020 01:50 AM ISTविज्ञापन- फोटो : अमर उजालाख़बर सुनेंख़बर सुनेंकोरोना के प्रति अलर्ट करने के लिए आईआईटी के सिविल इंजीनियरिंग विभाग के प्रोफेसर कमल जैन ने कोविड ट्रेसर मोबाइल एप बनाया है। इसके माध्यम से यह पता लगाया जा सकेगा कि कोरोना का संदिग्ध या संक्रमित मरीज आपसे कितनी दूर है।

NDTV से बोले नितिन गडकरी- देश संकट में है, अभी राजनीति करने का समय नहीं J-K: राजौरी के कालाकोट में सुरक्षा बलों और आतंकियों के बीच मुठभेड़, एक दहशतगर्द ढेर हार्दिक पंड्या ने गुपचुप सगाई पर तोड़ी चुप्पी, कहा- मम्मी-पापा को भी नहीं पता था - Sports AajTak

एप यह भी बताएगा कि क्वारंटीन व्यक्ति ने लक्ष्मण रेखा तो नहीं लांघ दी। प्रो. कमल जैन ने बताया कि विदेशों में व्यक्ति के शरीर में जीपीएस टैग यानी कॉलर लगा दिया जाता है। इसके विकल्प के रूप में मोबाइल के जरिए क्वारंटीन या आइसोलेट किए गए व्यक्तियों से अलर्ट करने के लिए एप तैयार किया गया है।

संदिग्ध का डाटा फीड करने के बाद जीपीएस तकनीक के जरिए तैयार इस एप में संदिग्ध की लोकेशन मिलती रहेगी। यह भी पता चलेगा कि संदिग्ध किसी से मिल तो नहीं रहा है। एक समयांतराल में एसएमएस के जरिए अलर्ट मिलने के साथ ही लोकेशन का मैसेज भी मिलता रहेगा।जीपीएस एक्टीवेट नहीं होने पर यह एप मोबाइल टॉवर की सहायता से ट्रेस करेगा। इंटरनेट नहीं काम करने पर उस जगह का पता एसएमएस से मिलेगा। एप बंद होने पर तत्काल अलर्ट जारी होगा। डिवाइस पर एसएमएस भेजकर व्यक्ति के जगह का पता प्राप्त किया जा सकता है।

इसके अलावा क्वारंटीन प्रबंधन के लिए यह एप अलर्ट देकर किसी भी जगह पर भीड़भाड़ को दूर करने में मदद करेगा। लाइव ट्रैकिंग के दौरान किसी भी व्यक्ति की पूरी मूवमेंट हिस्ट्री प्राप्त की जा सकती है। एप में मल्टी-कैमरा सपोर्ट, सर्विलांस मैग्नेटिक डिवाइस, हाल्ट टाइम और प्रीसेट ऑटो कैमरा क्लिक फीचर्स शामिल हैं।

संस्थान निदेशक प्रो. एके चतुर्वेदी ने कहा कि यह सिस्टम कोविड-19 संदिग्धों की ट्रैकिंग और निगरानी में मदद करेगा।कोरोना के प्रति अलर्ट करने के लिए आईआईटी के सिविल इंजीनियरिंग विभाग के प्रोफेसर कमल जैन ने कोविड ट्रेसर मोबाइल एप बनाया है। इसके माध्यम से यह पता लगाया जा सकेगा कि कोरोना का संदिग्ध या संक्रमित मरीज आपसे कितनी दूर है।

विज्ञापनएप यह भी बताएगा कि क्वारंटीन व्यक्ति ने लक्ष्मण रेखा तो नहीं लांघ दी। प्रो. कमल जैन ने बताया कि विदेशों में व्यक्ति के शरीर में जीपीएस टैग यानी कॉलर लगा दिया जाता है। इसके विकल्प के रूप में मोबाइल के जरिए क्वारंटीन या आइसोलेट किए गए व्यक्तियों से अलर्ट करने के लिए एप तैयार किया गया है।

संदिग्ध का डाटा फीड करने के बाद जीपीएस तकनीक के जरिए तैयार इस एप में संदिग्ध की लोकेशन मिलती रहेगी। यह भी पता चलेगा कि संदिग्ध किसी से मिल तो नहीं रहा है। एक समयांतराल में एसएमएस के जरिए अलर्ट मिलने के साथ ही लोकेशन का मैसेज भी मिलता रहेगा।जीपीएस एक्टीवेट नहीं होने पर यह एप मोबाइल टॉवर की सहायता से ट्रेस करेगा। इंटरनेट नहीं काम करने पर उस जगह का पता एसएमएस से मिलेगा। एप बंद होने पर तत्काल अलर्ट जारी होगा। डिवाइस पर एसएमएस भेजकर व्यक्ति के जगह का पता प्राप्त किया जा सकता है।

क्या CAA के खिलाफ दोबारा शुरू होगा प्रदर्शन, देखें दंगल केरल: एक और हथिनी की मौत, जबड़े में फ्रैक्‍चर, पटाखे खाने की आशंका केंद्र सरकार ने जारी किया राज्यों का जीएसटी बकाया, दिए 36400 करोड़ रुपये

इसके अलावा क्वारंटीन प्रबंधन के लिए यह एप अलर्ट देकर किसी भी जगह पर भीड़भाड़ को दूर करने में मदद करेगा। लाइव ट्रैकिंग के दौरान किसी भी व्यक्ति की पूरी मूवमेंट हिस्ट्री प्राप्त की जा सकती है। एप में मल्टी-कैमरा सपोर्ट, सर्विलांस मैग्नेटिक डिवाइस, हाल्ट टाइम और प्रीसेट ऑटो कैमरा क्लिक फीचर्स शामिल हैं।

संस्थान निदेशक प्रो. एके चतुर्वेदी ने कहा कि यह सिस्टम कोविड-19 संदिग्धों की ट्रैकिंग और निगरानी में मदद करेगा।विज्ञापनआगे पढ़ें और पढो: Amar Ujala »

PMOIndia MoHFW_INDIA सही है

LockDown में देखिए 2000 के दशक के मैचों के highlights, जानिए कब और कहां होगा प्रसारणभारत और ऑस्ट्रेलिया के बीच ऐतिहासिक कोलकाता टेस्ट के हाईलाइट्स को दिखाया जाएगा...देखिए पूरा शेड्यूल। bcci COVID19outbreak lockdown effect coronavirus StayHomeStaySafe

मुंबई के दो अस्पताल कंटेनमेंट जोन घोषित, स्टाफ में कोरोना की पुष्टि के बाद फैसलादक्षिण मुंबई के दो अस्पतालों- वॉकहार्ट अस्पताल और जसलोक अस्पताल को कंटेनमेंट जोन घोषित किया गया है. दरअसल, इन दोनों अस्पतालों के डॉक्टर और कर्मचारी कोरोना पॉजिटिव मिले हैं.

चीन के ऊंची कूद के एथलीट च्यांग ने 28 साल की उम्र में संन्यास लियाशंघाई। चीन के विश्व चैंपियनशिप के रजत पदक विजेता ऊंची कूद के एथलीट च्यांग गुवोवेइ ने 28 साल की उम्र में संन्यास लेकर अपने प्रशंसकों को चौंका दिया।

दूध के कंटेनर में कर रहा था शराब की तस्करी, राष्ट्रपति भवन के पास से गिरफ्तारपुलिस ने राष्ट्रपति भवन के पास चेकिंग के दौरान बुलंदशहर निवासी दूधिया को पकड़ने के अलावा बाइक और दूध के कंटेनर से शराब की बोतल जब्त की. arvindojha डालो जेल मे arvindojha इसका अलग ही Swag है, शराबियो कि चिंता कर रहा है बेचारा 😂😂😂 arvindojha Liked

कोरोना संकट में बने मिसाल, मां के निधन के बाद भी अस्पताल में रहे तैनातराममूर्ति पर अस्पताल की पूरी टीम की जिम्मेदारी है. डॉक्टर दो दिनों में दो बार आते हैं. लेकिन बाकी समय में मेडिकल स्टाफ ही कोरोना मरीजों की देखभाल करते हैं. यानी कि 24 घंटे मरीजों के साथ रहकर उनकी देखभाल करते हैं. sharatjpr नमन sharatjpr 🙏🙏नमन sharatjpr Our real Heroes.

कोरोना: उद्धव ठाकरे के घर के पास एक चायवाला मिला संक्रमित, पूरा 'मातोश्री' परिसर सील कोरोना : उद्धव ठाकरे के घर के पास एक चायवाला मिला संक्रमित, पूरा 'मातोश्री' परिसर सील lockdown Coronavirus CoronavirusOutbreakindia Maharashtra OfficeofUT ShivsenaComms BJP4India NCPspeaks INCIndia OfficeofUT ShivsenaComms BJP4India NCPspeaks INCIndia बस अब यही सुनना बाकी था! OfficeofUT ShivsenaComms BJP4India NCPspeaks INCIndia Lockdown kab tak khatam ho jaye ga please koi batayega mujhe OfficeofUT ShivsenaComms BJP4India NCPspeaks INCIndia ek to pahle se hi chay wale ne desh ko loot liya h ab ye b sala aa gya

राहुल ने फिर लॉकडाउन को बताया फेल, कहा- राज्यों को उनके हाल पर छोड़ रहा केंद्र राहुल का ट्वीट- क्या भारतीय सीमा में नहीं घुसा कोई चीनी सैनिक? स्पष्ट करे सरकार BJP विधायक ने सोनू सूद से मांगी मदद तो अलका लांबा ने जमकर लताड़ा, कहा- देश में इन्हीं की सरकार फिर भी मदद, शर्म हो तो... अनुष्का शर्मा ने शेयर की फोटो, पति विराट कोहली ने किया ये कमेंट जब सब कुछ रामभरोसे ही छोड़ना था, तो तालाबंदी कर अर्थव्यवस्था की रीढ़ क्यों तोड़ी...? हथिनी की मौत पर राहुल गांधी से मेनका का सवाल, पूछा- क्यों नहीं की कार्रवाई गर्भवती हथिनी की मौत से दुखी IPS डी रूपा, दोषियों को सजा की मांग जॉर्ज फ्लॉयड के सपोर्ट में उतरे स्टार्स पर अभय देओल का तंज- अपना देश भी देख लो 'सच बोलने से डरते हैं लोग', उद्योगपति राजीव बजाज ने लॉकडाउन पर कही ये 5 बातें केरल में हथिनी की हत्या पर बोले प्रकाश जावड़ेकर- दोषी नहीं बख्शे जाएंगे चक्रवाती तूफान निसर्ग को लेकर राहुल की अपील- खुद का रखें खयाल, पूरा देश आपके साथ