Union Ministers, Janashirvad Yatra, Connect With Public, After 15Th August

Union Ministers, Janashirvad Yatra

BJP के 43 केंद्रीय मंत्री जाएंगे लोगों के बीच, 15 अगस्त के बाद शुरू होगा जन आशीर्वाद कार्यक्रम

मोदी सरकार में शामिल सभी नए 43 मंत्रियों को बीजेपी अध्यक्ष जेपी नड्डा ने 15 अगस्त के बाद जनता से सीधे जुड़ने का दिया निर्देश (@ashokasinghal2)

29-07-2021 09:34:00

मोदी सरकार में शामिल सभी नए 43 मंत्रियों को बीजेपी अध्यक्ष जेपी नड्डा ने 15 अगस्त के बाद जनता से सीधे जुड़ने का दिया निर्देश (ashokasinghal2)

जेपी नड्डा ने चिट्ठी में यह लिखा है कि मोदी सरकार बनने से पहले केंद्रीय मंत्री जनता की पहुंच से बहुत दूर होते थे. लेकिन मोदी सरकार आने के बाद मंत्री जनता की पहुंच में हैं और जनता के बीच रहते हैं. इसी उद्देश्य से यह यात्रा निकालने का कार्यक्रम बना है.

Live TV और पढो: आज तक »

US दौरे पर PM मोदी, अब होगा आतंक पर वार! देखें हल्ला बोल

दो साल बाद अमेरिका के लिए पीएम मोदी की उड़ान तेजी से बदलती दुनिया में भारत की आन-बान और शान को दमदार अंदाज़ में दर्ज कराएगी. ये पहला मौका होगा जब प्रधानमंत्री मोदी और अमेरिकी राष्ट्रपति के तौर पर जो बाइडेन आमने सामने मुलाकात करेंगे. माना जा रहा है कि पीएम मोदी और जो बाइडेन की मुलाकात में अफगानिस्तान में तालिबान राज और उसके बाद के बढ़ते खतरे पर भी बात होगी. भारत और अमेरिका के बीच द्विपक्षीय रिश्तों को मजबूती देने के अलावा प्रधानमंत्री के एजेंडे में आतंकवाद पर दुनिया को कड़ा संदेश देना भी शामिल होगा. SCO की बैठक में पीएम मोदी आतंकवाद को लेकर चीन और पाकिस्तान के सामने खरी-खरी सुना चुके हैं. आज हल्ला बोल में देखें इसी मुद्दे पर चर्चा.

ashokasinghal2 These old men should stay at home and play with their grand kids rather than the economy and nation.

बिहार के स्वास्थ्य मंत्री बोले- राज्य में ऑक्सीजन की कमी से नहीं कोई मौतपांडेय की तरफ से ये जवाब विधान परिषद में प्रश्नोत्तर काल के दौरान दिया गया है. दरअसल कांग्रेस विधायक प्रेमचंद्र मिश्रा ने कहा था कि कोरोना की दूसरी लहर के दौरान हुई मौतों में 30 फीसदी से ज्यादा मौतें ICU में इंफेक्शन की वजह से हुईं. UtkarshSingh_ Always maligned UP, Bihar have been role model states when it comes to Covid handling. Maharashtra, Kerala, Delhi have been so terrible and yet, the Media seems to be only reporting nonsense about UP especially! UtkarshSingh_ यहाँ तो कोरोना आया ही नही था UtkarshSingh_ Mere ko lagta hai bihar ke swasth mantri corona ke dusre lahar men apne ghar se nikle hee nahi. healthminister,bihar.

Jammu Kashmir के किश्तवाड़ में बादल फटने से 4 की मौत, 40 से ज्यादा लापताजम्मू कश्मीर के किश्तवाड़ जिले के डच्चन इलाके में बादल फटने की घटना हई है. बादल फटने के बाद किश्तवाड़ जिले के पद्दार इलाके में फ्लैश फ्लड आ गया. इस वीडियो में तस्वीरों में आप देख सकते हैं मलबे के साथ पानी का बहाव किस कदर तेज है. फ्लैश फ्लड में अब तक चार लोगों की मौत की खबर आ चुकी है. करीब 43 लोगों के लापता होने की खबर भी है. छह से आठ घर फ्लैश फ्लड बह गए हैं. भारी बारिश की वजह से राहत कर्मियों का वहां तक पहुंचना मुश्किल हो रहा है, जिस इलाके में ये आपदा आई है वहां सड़क संपर्क फिलहाल नहीं है. सेना और पुलिस की टीम को वहां भेजा गया है. देखें ये वीडियो.

ओमप्रकाश चौटाला के साथ हुई घटना से मिला सबक, किसी के नहीं होते अराजक आंदोलनकारीजींद के खटकड़ा टोल पर सतबीर पहलवान का एक बयान आता है कि चौटाला ने उसके पैर में डोगा (छड़ी) मारी। इस घटनाक्रम का कोई न तो आडियो है और न ही वीडियो है। अगले दिन सतबीर की कुछ राजनीतिज्ञों के साथ मंच साझा करते हुए फोटो वायरल होती है। Aisi koe baat nhi party ke hote Apne pe gujari to pedal hue Public pe gujare to chutmut hinsa

डांस सीखने के लिए कॉलेज से भागकर कार से यूरोप पहुंच गई थीं जोहरा सहगलदोस्तों आज हम बात करेंगे उस अभिनेत्री की जो हिंदी सिनेमा की दौर दर दौर तरक्की की गवाह रहीं...

इसराइल के प्रतियोगी से लड़ने से एक और खिलाड़ी का इनकार, छोड़ा ओलंपिक - BBC Hindiफ़िल्म अभिनेत्री शिल्पा शेट्टी के पति व व्यवसायी राज कुंद्रा को मुंबई की एक अदालत ने 14 दिन की न्यायिक हिरासत में भेज दिया है. Bjp ज्वाइन नहीं करेंगे क्या कमी किस चीज की जो ये कार्य करने के लिए मजबूर हुए.. अभाव किसी वस्तु की नही बस लत से खुद के भाव में स्थित रहे☄️ SorryGullu 😀😀

ऑक्सीजन की कमी से मौत पर किरकिरी के बाद एक्शन में केंद्र, राज्यों से मांगे आंकड़ेऑक्सीजन की कमी के कारण हुई मौतों के मसले पर सियासी हंगामा बरपा तो केंद्र सरकार अब हरकत में आ गई है. सूत्रों की मानें तो सरकार ने अब राज्यों से ऑक्सीजन की कमी के कारण हुई मौतों के आंकड़े मांगे हैं.