Amitshah, Amit Shah, Bjp Leader Amit Shah, Home Minister Amit Shah, Amit Shah Birthday, Gujarat

Amitshah, Amit Shah

Amit Shah Birthday: ड्राइंग रूम में लगाई है चाणक्य की तस्वीर, 3.5 दशक से कर रहे BJP का चुनाव प्रबंधन, गुजरात में ऐसे तोड़ी थी कांग्रेस की कमर

#AmitShah को मौजूदा राजनीति का चाणक्य और चुनाव जिताऊ राजनेता कहा जाता है!

22-10-2021 08:34:00

AmitShah को मौजूदा राजनीति का चाणक्य और चुनाव जिताऊ राजनेता कहा जाता है!

Amit Shah : 1990 के दौर में जब गुजरात में राजनीतिक उथल-पुथल मची थी और राज्य में सत्ताधारी कांग्रेस के सामने बीजेपी एकमात्र बड़ी विपक्षी पार्टी थी, तब अमित शाह ने गुजरात बीजेपी के तत्कालीन संगठन सचिव नरेंद्र मोदी के निर्देशन में पार्टी के प्राथमिक सदस्यों का न केवल आंकड़ा जुटाया था बल्कि उसका दस्तावेजीकरण भी किया था.

नई दिल्ली: केंद्रीय गृह मंत्री (Union Home Minister) और भारतीय जनता पार्टी (BJP) के वरिष्ठ नेता अमित शाह (Amit Shah) को मौजूदा राजनीति का चाणक्य और चुनाव जिताऊ राजनेता कहा जाता है. इसके पीछे उनका चुनावी रणकौशल, आंकड़ों की बाजीगरी, माइक्रो लेवल पर प्लानिंग, नए टैलेंट को अपने साथ करने की शक्ति, धुर राजनीतिक विरोधियों को भी तोड़कर आत्मसात कर लेने की कला और हर हाल में पार्टी के विस्तार की अद्भुत क्षमता है. 

यूपी: प्रैक्टिकल परीक्षा के नाम पर दूसरे स्कूल ले जाकर 17 छात्राओं का शोषण - BBC News हिंदी Katrina Kaif Vicky Kaushal Wedding: सलमान खान के बॉडीगार्ड शेरा देंगे कटरीना-विक्की की शादी में सिक्योरिटी, फोन ले जाने पर भी लगाई गई है पाबंदी तेज प्रताप की दरियादिली, फुटपाथ पर पेन बेचने वाली बच्ची को गिफ्ट किया ₹50 हजार का iPhone

यह भी पढ़ेंनरेंद्र मोदी के साथ निभाई शुरुआती भूमिका:1990 के दौर में जब गुजरात में राजनीतिक उथल-पुथल मची थी और राज्य में सत्ताधारी कांग्रेस के सामने बीजेपी एकमात्र बड़ी विपक्षी पार्टी थी, तब अमित शाह ने गुजरात बीजेपी के तत्कालीन संगठन सचिव नरेंद्र मोदी के निर्देशन में पार्टी के प्राथमिक सदस्यों का न केवल आंकड़ा जुटाया था बल्कि उसका दस्तावेजीकरण भी किया था. यह बीजेपी के लिए एक चुनावी ताकत बनकर उभरा था. इससे बीजेपी गुजरात के ग्रामीण स्तर तक फैल गई और 1995 के विधानसभा चुनावों में बीजेपी सत्ता में आ गई. इसके बाद से बीजेपी ने गुजरात में फिर पीछे मुड़कर नहीं देखा. 

हालांकि, 1995 में बनी बीजेपी की सरकार 1997 में गिर गई लेकिन बीजेपी कार्यकर्ताओं में जोश जाग चुका था. इस दौरान अमित शाह ने गुजरात प्रदेश वित्त निगम के अध्यक्ष के तौर पर दूसरा बड़ा करिश्मा कर डाला था. उन्होंने निगम को स्टॉक एक्सचेंज में लिस्टेड करवा डाला. इसके बाद उन्होंने गुजरात में सहकारी आंदोलन पर कांग्रेस की पकड़ कुंद कर डाली और आंकड़ों की कलाबाजी से सहकारी बैंकों, डेयरियों और कृषि मंडियों तक पैठ बना वहां के चुनाव जीतने शुरू कर दिए. headtopics.com

मुंबई में गुजराती परिवार में हुआ जन्म:22 अक्टूबर, 1964 को मुंबई में जन्मे अमित शाह की पॉलिटिकल एंट्री 19 साल के तेज तर्रार नवयुवक के तौर पर 1983 में अखिल भारतीय विद्यार्थी परिषद में हुई. करीब ढाई साल बाद ही उन्होंने बीजेपी ज्वाइन कर लिया और अगले ही साल बीजेपी युवा मोर्चा के सदस्य बन गए.  पार्टी ने उन्हें सबसे पहला प्रोजेक्ट अहमदाबाद नगर निगम चुनाव में नारणपुरा वार्ड की जिम्मेदारी दी, जहां उन्होंने जीत दिलाई. इसके बाद वह युवा मोर्चा के कोषाध्यक्ष फिर राज्य सचिव बनाए गए.

अटल-आडवाणी का कर चुके चुनाव प्रबंधन:1989 के लोकसभा चुनावों में उन्हें गांधीनगर सीट पर लालकृष्ण आडवाणी के चुनाव प्रबंधन का काम सौंपा गया. इसके बाद लगातार 2009 तक अमित शाह आडवाणी के लिए गांधीनगर में चुनाव प्रबंधन करते रहे. जब पूर्व प्रधानमंत्री अटल बिहारी वाजपेयी ने गांधीनगर से चुनाव लड़ा था, तब भी अमित शाह ने ही चुनाव प्रबंधन का काम संभाला था.

VIDEO :'आज तक अमित शाह को देखा भी नहीं, फिर भी की मेरी मदद', दिग्विजय सिंह ने बताया वाकयाशुद्ध शाकाहारी हैं शाह:अपने ड्राइंग रूम में चाणक्य और सावरकर की तस्वीर लगाने वाले अमित शाह विशुद्ध शाकाहारी हैं. उन्होंने पहला चुनाव 1997 में लड़ा. उन्होंने सरखेज विधान सभी सीट पर हुए उपचुनाव में 25,000 वोटों के अंतर से जीत दर्ज की थी. इसके अगले ही साल यानी 1998 के चुनावों में उन्होंने इसी सीट से 1.30 लाख वोटों को अंतर से बड़ी जीत दर्ज की थी. इसके बाद उन्होंने इसी सीट से 2002 और 2007 का भी चुनाव जीता.साल 2012 में उन्होंने नरनपुरा से चुनाव लड़ा और जीत दर्ज की.

केंद्रीय राजनीति में चुनाव जिताऊ भूमिका:साल 2013 में उन्होंने केंद्रीय राजनीति में कदम रखा. उन्हें पार्टी महामंत्री बनाया गया. उन्होंने देशभर में व्यापक दौरे किए और 2014 के चुनावों की व्यापक रणनीति बनाई. शाह ने सभी राज्यों में छोटे-छोटे दलों के साथ गठबंधन किया. इसके तहत उन्होंने खासतौर पर पिछड़ी, अति पिछड़ी जाति के कई नेताओं के बीजेपी के साथ लाया और पार्टी को ब्राह्मणों और बनियों की पार्टी की इमेज से बाहर निकालने की कोशिश की. headtopics.com

'30 दिनों के अंदर दोषी आर्मी मैन को करें अरेस्ट, AFSPA तुरंत हटाएं', नगा जनजाति समूह ने सौंपे 5 सूत्रीय ज्ञापन India Russia 2+2 dialogue: भारत-रूस के बीच AK Deal, देश में इंसास राइफल की लेंगी जगह AK 203 वैज्ञानिक बना रहे ऐसा Chewing Gum, चबाते ही मुंह में खत्म हो जाएगा कोरोना वायरस

आगामी विधानसभा चुनावों को लेकर हुई बीजेपी की वॉर रूम मीटिंग, अमित शाह भी हुए शामिलइसका असर 2014 के चुनावों में नरेंद्र मोदी की प्रतिभा के प्रदर्शन के तालमेल के साथ दिखा और पार्टी को बड़ी जीत हासिल हुई. 2019 के आम चुनावों से पहले उन्होंने न केवल बीजेपी को 11 करोड़ कार्यकर्ताओं की पार्टी बनाया बल्कि मोदी सरकार की योजनाओं से लाभान्वित लोगों का डेटा जुटाकर उसे वोट बैंक में तब्दील करने में बड़ी सार्थक भूमिका निभाई.

 VIDEO: Prime Time With Ravish Kumar: प्रदर्शनों को कुचलने की दुनिया भर में तैयारीListen to the latest songs, only on JioSaavn.comAmit ShahBJP Leader Amit ShahHome Minister Amit ShahAmit Shah birthdayBJPGujaratटिप्पणियां पढ़ें देश-विदेश की ख़बरें अब हिन्दी में (Hindi News) | कोरोनावायरस के लाइव अपडेट के लिए हमें फॉलो करें |

लाइव खबर देखें: और पढो: NDTVIndia »

21 महीने बाद गर्भगृह में प्रवेश: महाकाल ज्योतिर्लिंग को जल अर्पित कर स्पर्श कर सकेंगे; पुरुषों को धोती-सोला, महिलाओं के लिए साड़ी पहनना जरूरी

21 महीने बाद श्री महाकालेश्वर मंदिर में सोमवार से गर्भगृह में प्रवेश शुरू हो गया है। पहले दिन सुबह 7.30 बजे की आरती में संघ के पूर्व संघचालक भैयाजी जोशी, महाकाल मंदिर के प्रशासक गणेश धाकड़, पुजारी, पुरोहित सहित 15 श्रद्धालु मौजूद थे। सभी ने भगवान महाकाल का गर्म जल व दूध से अभिषेक कर पूजन किया। इसके बाद आम श्रद्धालुओं को गर्भगृह में प्रवेश दिया गया। कोविड गाइडलाइन का पालन होता नहीं दिखा। मंदिर समिति... | Mahakal Mandir Ujjain, entry reopen in garbhgrah from today

चाणक्य की एक भी नीति को अगर ऐसे लोग अपने जीवन में अपनाने लगे ना तो ये धर्म के मुद्दो को भूल कर इंसानियत की राह पर चल पड़ेंगे श्री राम जी की तस्वीर लगाने से कोई राम नहीं बन जाता है उस के लिए उनके गुणों को अपनाना पड़ता है हाथी के दांत है ये खाने के अलग दिखाने के अलग है NDTV भी लग रहा भजन भाव की लाइन में लग गया है । सही है जब सब लगे हैं तो तुम भी कर लो

चाणक्य के साथ कायर सावरकर का भी तस्वीर है ArmyExamMeraHaq अन्धभगत कहते होंगे, आँखों वाले तो कह नहीं सकते इनको चाणक्य🤦 सरकार किसानों की समस्याओं पर बात नहीं कर रही। जब किसान चुनावी वायदा याद दिलाता है तो मुख्यमंत्री, र्मंत्री व कार्यकर्ता किसानों को षडयंत्रकारी तरह से अनेक धमकियां दे रहे हैं। किसान मर रहे हैं सर व शरीर तोड़े जा रहा हैं। सरकार को संवेदनशील हो समस्या का हल निकालना चाहिए। जय किसान

हमारे यशस्वी मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ जी को सादर प्रणाम आपसे सविनय निवेदन है कि 108,102 से निकाले 8000 कर्मचारियों की बहाली जल्द से जल्द करवा दें उनके साथ में बहोत अन्याय हो रहा है 10 साल की सेवा करने के बाद हम लोगो को बिना गलती निकाल दिया गया ! रहम कीजिये हम लोग भी आपके बच्चे माफीवीर की इसको चाणक्य नीति नहीं बल्कि गुंडई कहते हैं !!

चाणक्य के झड़े हुये बाल बराबर भी नहीं हैं ये एक देशद्रोही का फोटो लगा है पीछे । और ये भी उन में से ही है ।

IPL 2022 के ऑक्शन में शामिल होने के लिए मैनचेस्टर यूनाइटेड के मालिक ने जताई दिलचस्पीबीसीसीआई को आईपीएल के अगले पांच साल के टेंडर में तकरीबन पांच अरब डॉलर की कमाई हो सकती है। वहीं आईपीएल 2022 के ऑक्शन में शामिल होने के लिए फुटबॉल क्लब मैनचेस्टर यूनाइटेड के मालिक ने भी दिलचस्पी जताई है।

🤣🤣🤣🤣🤣🤣😂😂😂😂😂👆🏻👆🏻👆🏻👆🏻 Ye mc bhosadiwala hai झूट फ़रेब दंगा दूसरों को मार के चुनाव जीताने वाले को तड़ीपार कहा जाता है हर गंजा चाणक्य नही होता ये चाणक्य बंगाल क्यों नही जितवा पाया Isko tadipar gunda kaha jata h DivideAndRule HinduMuslim single policy चारसौबीसी है ये चाणक्य नीति नही Ndtv की तो सबसे ज्यादा जलती है शाह जी से 😊

CAA पर सो गए Perfect democracy delivered by popular BJP in Madhya Pradesh, Manipur, Goa, Arunachal Pradesh and Karnataka after they purchased more than 120 CONGRESS, MLAs. MONEY MAKES MARE GO DEMOCRACY DEMEANED

लोभ का बंधन - परमात्मा के न्याय में विश्वास का समाप्त हो जानालोभ का अर्थ है परमात्मा के न्याय में विश्वास का समाप्त हो जाना। लोभ मनुष्य को गुणों और धर्म से दूर करता है। जब प्रगति की इच्छा स्वाभाविक न रहकर व्यसन बन जाती है तो लोभ की परिभाषा बन जाती है। परमात्मा के न्याय में विश्वास अर्थात प्रेम व संतोष को आत्मसात कर तथा लोभ व अहंकार को त्याग कर विश्व बंधुत्व के तहत और प्रकृति-धरती के अनुकूल समानता के अधिकार को प्रश्रय देकर जीव मात्र के अधिकारों की रक्षा करने के दायित्व को निभाना और धैर्य-पूर्वक व संतोष-पूर्वक जीवनयापन करना ।

Y-Axis yaxis a fraud company looting money form overseas carrier aspirants by fake profile evaluations, Cheating and manipulating. Y-Axis operations is a big scam yaxis xavieraugustin यदि वास्तविक रूप से आम जनता के मन में फिर से वापसी करनी हैं INCIndia को, तो सिर्फ़ महंगाई और रोज़गार को मुद्दा बनाएँ रोज़। इसी पर RahulGandhi सड़क पर आंदोलन करें, पूरे देश में।बाक़ी कोई भी मुद्दा आम जनता का नहीं है। इन दोनों मुद्दों पर आम जनता बेहद परेशान है, और मोदी फेल।

Jhoot.... Bangal bhool gai? Chanakya is in my bookshelf 📚

आगरा में मृतक सफाईकर्मी के परिजनों से मिलीं प्रियंका गांधी, न्‍याय का दिलाया भरोसाआगरा। कांग्रेस महासचिव प्रियंका गांधी वाड्रा ने चोरी के आरोप में पूछताछ के दौरान पुलिस हिरासत में मृत सफाईकर्मी अरुण वाल्मीकि के परिजनों से मुलाकात की और उन्हें न्याय दिलाने का भरोसा दिलाया।

MP में ऐत‍िहास‍िक ऊंचाई पर Petrol के भाव, आम लोगों का जीना मुहालमध्यप्रदेश में 20 दिन में 17 बार पेट्रोल-डीजल के रेट बढ़े हैं. सबसे ज्यादा महंगा डीजल हुआ. 6 अक्टूबर को शतक लगाने वाला डीजल अब 103.85 रुपए प्रति लीटर मिल रहा है. अक्टूबर में डीजल पर 4.59 रुपए बढ़ चुके हैं. इधर, पेट्रोल 114.49 रुपए में एक लीटर मिल रहा है. अक्टूबर में यह भी लगभग 4 रुपए महंगा हुआ है. मध्यप्रदेश में सबसे महंगा पेट्रोल-डीजल शहडोल, अनूपपुर और रीवा में मिल रहा है. त्योहारों के सीजन में पेट्रोल-डीजल महंगा होने का असर लोगों की जेब पर पड़ रहा है. वहीं, बाजारों में भी इसका असर दिखाई देने लगा है. देखिए आजतक संवाददाता रवीश पाल सिंह की ये रिपोर्ट. Abhi aamjan ko Modi pel raha hai, 2024 me aamjan Modi ko pele gaa ModiMadeDisaster BJP_हटाओ_देश_बचायो 🤔🤔 👇👇 ModiMustResign मध्यप्रदेश के सतना जिले में पेट्रोल ₹117 रुपए प्रति लीटर है Dalal o ye tu log ka bap Modi ka kamal hay

भिंड में भारतीय वायुसेना का विमान क्रैश, खेत में गिरा प्लेन, पायलट सुरक्षितभिंड में भारतीय वायुसेना का विमान क्रैश, खेत में गिरा प्लेन, पायलट सुरक्षित

VIDEO: जब प्रियंका गांधी के साथ सेल्‍फी के लि‍ए महिला पुलिसकर्मियों में मची होड़...गौरतलब है कि इस महीने में यह दूसरी बार है जब पुलिस ने कांग्रेस नेताओं को हिरासत में लिया है. इससे पहले लखीमपुर खीरी में पीड़ित किसान परिवारों से मिलने जाते वक्त भी पुलिस ने कांग्रेस महासचिव समेत तमाम नेताओं को हिरासत में लिया था. 🤣🤣 मीडिया फ्री है आज ,,पूरा दिन अब पकड़ा ,अब छोड़ा,अब सेल्फी ली ,,चल क्या रहा है नौकरी खा जाओगे तुम लोग उनकी It's remind me about leech which doesn't go even nobody want it.