50 साल से बंद तिजोरी एक झटके में कैसी खुली

50 साल से बंद तिजोरी एक झटके में कैसी खुली

6/7/2019
NoAds

50 साल से बंद तिजोरी एक झटके में कैसी खुली

कनाडा के एक म्यूज़ियम में रखी तिजोरी को इससे पहले एक्सपर्ट भी नहीं खोल पाए थे.

कनाडा में एक व्यक्ति ने पहले ही प्रयास में दशकों से बंद एक तिजोरी को खोलकर सबको हैरान कर दिया है. यह तिजोरी ए म्यूज़ियम में रखी थी.

उन्होंने बीबीसी को बताया,"जब भी हम गर्मियों की छुट्टियों के लिए जाते हैं, हम हर छोटे से शहर से भी कुछ सीखते हैं, चाहे वो कहीं का भी हो".

इससे पहले म्यूज़ियम में उसे खोलने के लिए एक्सपर्ट्स की मदद ली गई थी, कई लोगों ने इसे खोलने की कोशिश भी की और पुराने कर्मचारियों से भी मदद के लिए संपर्क किया गया था.

उन्होंने देखा कि ज़ीरो से 60 तक नंबर आजमाए जा चुके हैं और उन्होंने इसे आज़माने का फैसला किया: 20-40-60.

उन्होंने याद करते हुए बताया,"ये ताला थोड़ा अजीब नम्बरों का जोड़ था. घड़ी के हैंडल की दिशा में तीन बार (20), दो बार उसकी विपरीत दिशा में (40), एक बार घड़ी के हैंडल की दिशा में (60) मैंने हैंडल घुमाया और खोल दिया."

किबलव्हाइट कहते हैं,"हालांकि इन सबका कोई मूल्य नहीं हैं लेकिन इसे जानने में बहुत रूचि थी, जो हमें 1977-78 के समय का एक आइडिया देते हैं कि उस समय ये जगह कैसी हुआ करती थी."

और पढो: BBC News Hindi

कोई काम नहीं है बीबीसी बालों को तिजोरी कैसे खुली का भी समाचार बना दिया ।

दिल्ली: कनॉट प्लेस स्थित जीवन दीप बिल्डिंग में लगी आग, 50 लोग बाहर निकाले गए– News18 हिंदीदिल्ली के दिल कहे जाने वाले कनॉट प्लेस में स्थित जीवन दीप बिल्डिंग के चौथे माले पर आग लग गई है. आग एक स्टोर रूम में लगी है. मौके पर फायर ब्रिगेड की सात गाड़िया मौजूद हैं और आग पर काबू पाने की कोशिश जारी है.

कैसे चलता है BJP का संगठन, राष्ट्रीय अध्यक्ष के चुनाव से लेकर सब कुछ जानें यहांआखिर बीजेपी का लंबा और मजबूत संगठन कैसे चलता है, कैसे होता है राष्ट्रीय अध्यक्ष सहित तमाम पदाधिकारियों का चुनाव. बीजेपी के संविधान के हवाले से जानिए इन सवालों का जवाब. navneetmishra99 Kitne paise mile bjp ki chatukarita ke liye navneetmishra99 navneetmishra99 Wa apna name bhi change kr ke official bjp aaj tak rakh lo

लोगों को ठगने का काम करेंगे ईशान और जान्हवी?– News18 हिंदी2005 में इस फिल्म ने दर्शकों को खूब हंसाया था. रानी और अभिषेक ठग के किरदार में नजर आए थे जो लोगों को बेवकूफ बनाया करते थे.

एक और एक ग्यारह: डिप्टी स्पीकर के पद पर शिवसेना ने किया दावालोकसभा में डिप्टी स्पीकर (Deputy Speaker) पद के लिए खींचतान शुरु हो गई है. शिवसेना (Shivsena) ने डिप्टी स्पीकर पद पर दावा ठोंक दिया है. शिवसेना का कहना है कि डिप्टी स्पीकर पद घटक दल को मिलना चाहिए. शिवसेना लोकसभा चुनाव (Lok Sabha Election 2019) में 18 सीटों पर जीत हासिल करके एनडीए के दूसरे सबसे बड़े सहयोगी दल के तौर पर उभरी है, इसलिए उद्धव (Uddhav Thackeray) ने ज्यादा मंत्री पद की मांग की है. उन्होंने एनडीए सरकार के मंत्रिमंडल में शामिल अपनी पार्टी के इकलौते सांसद को ज्यादा दमदार पोर्टफोलियो दिए जाने पर जोर दिया है. शिवसेना के मंत्री को हेवी इंडस्ट्रीज ऐंड पब्लिक एंटरप्राइजेज मिनिस्ट्री दी गई है. PoojaShali MinakshiKandwal nehabatham03 Hoping home minister Mr. Amit Shah will take hard decisions & strict action to save innocent citizens of J & K. PoojaShali MinakshiKandwal nehabatham03 साडे तीन साल PDP के साथ सरकार.. भारत के आधे से ज्यादा सैनिक ताकत और भाजपा का केंद्र शासन.. जिम्मेदारी किसकी. सवाल भाजपा सरकार से पुछीये..!😎😎

क्वीन हरीश: एक मर्द जो औरत बना और उसकी संपूर्णता में समा गयाक्वीन हरीश: एक मर्द जो औरत बना और उसकी संपूर्णता में समा गया QueenHarish Rajasthan FolkArtists क्वीनहरिश राजस्थान लोककलाकार

माैसम विभाग ने कहा- केरल में एक हफ्ते की देरी से 8 जून तक पहुंचेगा मानसूनस्काई मेट का दावा- 65 साल में दूसरी बार प्री-मानसून सबसे सूखा रहा स्काई मेट ने इस साल 93% और मौसम विभाग ने 96% बारिश की संभावना जाहिर की मानसून के राष्ट्रीय राजधानी क्षेत्र (एनसीआर) पहुंचने में 10-15 दिन की देरी संभव | Monsoon 2019: Monsoon is expected to make a fall in Kerala within next 48 hours, Forecasts Skymet expects

टिप्पणी लिखें

Thank you for your comment.
Please try again later.

ताज़ा खबर

समाचार

07 जून 2019, शुक्रवार समाचार

पिछली खबर

नडाल ने फेडरर को 8 साल बाद सेमीफाइनल में हराया, 12वीं बार फाइनल में

अगली खबर

वोट देने में आगे, पगार पाने में पीछे, आधी आबादी के अधूरे अधिकारों का ये है पूरा सच
नडाल ने फेडरर को 8 साल बाद सेमीफाइनल में हराया, 12वीं बार फाइनल में वोट देने में आगे, पगार पाने में पीछे, आधी आबादी के अधूरे अधिकारों का ये है पूरा सच