2019-2020 में दो साल के मुकाबले घटी बेरोज़गारी: एनएसओ- आज की बड़ी ख़बरें - BBC Hindi

2019-2020 में दो साल के मुकाबले घटी बेरोज़गारी: एनएसओ

24-07-2021 11:05:00

2019-2020 में दो साल के मुकाबले घटी बेरोज़गारी: एनएसओ

भारतीय सांख्यिकी कार्यालय के हाल के आँकड़ों के अनुसार साल 2019-20 में 2018-2019 और 2017-2018 के मुकाबले बेरोज़गारी दर में कुल मिलाकर कमी आई है.

5:27चीन ने अमेरिकी वाणिज्य मंत्री पर लगाई पाबंदी, फिर बढ़ा दोनों देशों में तनावDrew Angerer/Getty Imagesवाइट हाउस की प्रेस सेक्रेटरी जेन साकीImage caption: वाइट हाउस की प्रेस सेक्रेटरी जेन साकीचीन ने अमेरिकी वाणिज्य मंत्री विल्बर रोस समेत कई अमेरिकी नागरिकों पर पाबंदी लगा दी है.

चीन ने सीमा विवाद पर भारत से की शांतिपूर्ण समाधान की पेशकश, कहा- मुद्दों को विवाद नहीं बनने देना चाहिए - BBC Hindi टेम्पो ड्राइवर की बेटी बनीं ओपनर बल्लेबाज: नागौर की संध्या 7 साल पहले पिता के साथ पहुंची हैदराबाद, स्टेडियम में मैच देखा तो क्रिकेट खेलना शुरू किया, अब हैदराबाद टीम के लिए खेलेगी Quad Summit LIVE Updates: मौलिक अधिकारों में क्वाड का विश्वास, आस्ट्रेलिया-जापान ने दिया मुक्त और खुले इंडो पैसिफिक क्षेत्र पर जोर

चीन ने यह फ़ैसला अमेरिका के उस कदम के जवाब में उठाया है जिसके तहत अमेरिका ने हॉन्ग कॉन्ग में चीनी अधिकारियों पर प्रतिबंध लगा दिया था.चीन का यह ऐलान उसी दिन सामने आया है जिस दिन अमेरिका की उप विदेश मंत्री वेंडी शर्मन चीन दौरे पर जाने वाली हैं.बाइडन प्रशासन ने चीन के इस फ़ैसले को ‘निरर्थक’ और ‘निराशावादी’ क़रार दिया है.

अमेरिकी ने हॉन्ग कॉन्ग में चीनी अधिकारियों पर पाबंदी उस इलाके में हुई कार्रवाइयों में उनकी कथित भूमिका को लेकर लगाई थी.अमेरिका ने हॉन्ग कॉन्ग में कारोबार करने वाले अपने नागरिकों को भी वहाँ मौजूद ख़तरों को लेकर चेताया था.ISAAC LAWRENCE/AFP via Getty Images headtopics.com

Copyright: ISAAC LAWRENCE/AFP via Getty Imagesहॉन्ग कॉन्ग में हुए प्रदर्शनImage caption: हॉन्ग कॉन्ग में हुए प्रदर्शनइससे पहले क्या-क्या हुआ था?हॉन्ग कॉन्ग में पिछले साल बड़े पैमाने पर लोकतंत्र समर्थक प्रदर्शन हुए थे जिसके बाद चीन ने वहाँ राष्ट्रीय सुरक्षा क़ानून लागू कर दिया था.

इस क़ानून में हड़ताल, विरोध प्रदर्शन और विदेशी ताकतों से मेलजोल को अपराध माना गया है और इनके लिए किसी को उम्रक़ैद तक की सज़ा हो सकती है.अपनी हालिया पाबंदियों का ऐलान करते हुए चीनी विदेश मंत्रालय ने कहा कि अमेरिकी प्रतिबंध ‘हॉन्ग कॉन्ग में कारोबार के माहौल को बेबुनियाद तरीके से बदनाम करने के लिए’ लगाए हैं और ये ‘अंतरराष्ट्रीय क़ानूनों के बुनियादी सिद्धांतों का उल्लंघन करते है.’

चीनी विदेश मंत्रालय ने कहा कि जवाबी कार्रवाई के तौर पर वो अमेरिकी वाणिज्य मंत्री विल्बर रोस समेत अमेरिका के सात नागरिकों और संगठनों पर प्रतिबंध लगा रहा है.डोनाल्ड ट्रंप प्रशासन में विल्बर रोस ने उन चीनी कंपनियों की संख्या बढ़ा दी थी जो पहले लाइसेंस लिए बिना अमेरिकी कंपनियों के साथ कारोबार नहीं सकतीं. इनमें चीन की नामी कंपनी ख़्वावे भी शामिल थी.

Reutersअमेरिका वाणिज्य मंत्री विल्बर रोसImage caption: अमेरिका वाणिज्य मंत्री विल्बर रोसट्रंप प्रशासन में और बिगड़ गए थे रिश्तेव्हाइट हाउस की प्रेस सेक्रेटरी जेन साकी ने पत्रकारों से कहा कि अमेरिका चीन के इन प्रतिबंधों के बाद भी ‘अडिग’ है.साकी ने कहा, “ये पाबंदियाँ ताज़ा उदाहरण हैं कि चीन कैसे राजनीतिक संदेश भेजने के लिए लोगों, कंपनियों और सिविल सोसायटी संस्थानों को सज़ा देता है.” headtopics.com

Quad Summit Updates: मौलिक अधिकारों में क्वाड का विश्वास, आस्ट्रेलिया-जापान ने दिया मुक्त और खुले इंडो पैसिफिक क्षेत्र पर जोर मोदी-बाइडेन मुलाकात: US प्रेसिडेंट बोले- मैंने 15 साल पहले कह दिया था, 2020 तक भारत-अमेरिका सबसे करीबी देश होंगे बाइडेन के किस्से, मोदी के ठहाके...व्हाइट हाउस में दिखी दोनों नेताओं की जबरदस्त बॉन्डिंग

चीन और अमेरिका के रिश्ते पूर्व राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप के शासन काल से और ज़्यादा बिगड़ने लगे थे.इसके बाद से अब तक दोनों देशों के सम्बन्ध कोरोना वायरस के स्रोत, मानवाधिकार और साइबर सुरक्षा जैसे मुद्दों को लेकर तनावपूर्ण ही बने हुए हैं.इन सबके बीच अमेरिका की उप विदेश मंत्री वेंडी शर्मन चीन जाने वाली हैं.

और पढो: BBC News Hindi »

वारदात: दिल्ली में अब तक का सबसे भयंकर गैंगवॉर, जज के सामने गैंगस्टर का कत्ल

दिल्ली का रोहिणी कोर्ट का कोर्टरूम पूरी तरह से तैयार था. जज गगनदीप सिंह अपने सीट पर मौजूद थे. मुकादमे की कार्रवाई शुरू हो चुकी थी. इसके बाद अगले केस की बारी थी. और उसी केस के सिलसिल में एक आरोपी को कोर्टरूम में लाया जाता है. कोर्टरूम में आने के बाद वो अपने सीट पर बैठने के लिए आगे बढ़ रहा था. मगर इससे पहले वो बैठ पाता. उसी कोर्टरूम में पहले से मौजूद दो लोग अचानक खड़े होते हैं और पिस्टल निकालकर उस आरोपी पर अंधाधुंध गोलियां चलाना शुरू कर देते हैं. वो दोनों वकील के पोशाक में थे. इसके बाद पुलिस अंदर आती है. और फिर मुठभेड़ होता है. दोनों हमलावरों को पुलिस मार गिराती है. ये सबकुछ कोर्ट परिसर के अंदर होता है. और जज साहब बकायदा इसके गवाह होते हैं. ये कोई फिल्मी कहानी नहीं है. बल्कि दिल्ली की रोहिणी कोर्ट का लाइव शूटआउट का सच है. देखें वारदात.

What was favorite drink and the dish of Md. Ali Jinnah……? साफ़ लिखिये, पाक अवैध काबिज कश्मीर। धारा 370 हटाया है, वो वाला कश्मीर भी लेंगे। भिखारी को पूछो कितने गधे बेचे ? NSO Pegasus का डाटा 😁 😁 😁 Berojgari ka naam badal ka rojgaar rakh diya gyaan is liye ye aankda aisa hai अब BBC को भी मोदी की दलाली करने वाला बताया जाएगा। संघी तमगे के लिए तैयार रहो BBC😂

कहते हैं पचास लाख लोग मरे हैं तो यें अनुपस्थिति दिखना ही..! वैसें हमारे मोईजी बहुत शातिर हैं सर्वे कन्हा और कैसे हुआ ? ग्राम पंचायत का मुख्यालय बदलने व स्कूल क्रमोनत करवाने को लेकर बाड़मेर जिला मुख्यालय पर ग्रामीणो का धरना आज 158वे दिन भी जारी है। गूंगी-बहरी राजस्थान सरकार को दलितो का दर्द दिखाई नही दे रहा है ashokgehlot51 जी गहरी नींद मे है। कांग्रेस सरकार दलित हैतेशी होने का ढोंग बन्द करे।

NSO और बाकी संस्थाएं सभी सरकार की मुट्ठी में हैं जैसी चाहे वैसी रिपोर्ट बना कर दे सकती हैं।

देश के कई हिस्सों में बाढ़ से तबाही: महाराष्ट्र में बाढ़ से जुड़े हादसों में 136 मौतें, कर्नाटक के 7 जिलों में रेड अलर्ट; गोवा के कई शहर पानी में डूबेमहाराष्ट्र में शनिवार को भी बारिश का कहर जारी है। गुरुवार शाम से लेकर अब तक बारिश से जुड़ी अलग-अलग घटनाओं में 136 लोगों की मौत हो चुकी है। बुरी तरह प्रभावित ठाणे, रायगढ़, रत्नागिरी, सतारा, सांगली और कोल्हापुर जिलों से 8 हजार से ज्यादा लोगों को NDRF, नेवी और आर्मी ने रेस्क्यू किया है। 200 से ज्यादा गांवों का प्रमुख इलाकों से संपर्क टूट गया है। | heavy rain in maharashtra: NDRF, Army and Navy have rescued more than 8 thousand people so far, 129 people died in the state; Red alert of rain for the next two days in many districts नर्सेज भर्ती 2018 को अस्थायी पदस्थान को 1 साल से ऊपर हो गया फ़ाइल मंत्री RaghusharmaINC के पास पड़ी है वो ध्यान नही दे रहे है मंत्री जी आम नर्सेज को कार्य बहिष्कार के लिए मजबूर नही करें 12000 नर्सेज में बहुत आक्रोश है ajaymaken RahulGandhi SachinPilot ashokgehlot51

Plz koi Dusri Sarkar Badlo 🙏 plz Aur itni berozgari to Congress Me Bhi Na Thi JITNI BJP Walo Ki Sarkar Me Berojgaari He बेरोजगारी बढ़ रही है। जब तक भाजपा सरकार रहेगी बेरोजगारी बढ़ती रहेगी Sarkar Badlo Tabhi Desh Badlega Ye post Woh Post Dalne Se kuch nhi hoga

इस साल के अंत तक मिनी LED डिस्प्ले के साथ लॉन्च हो सकता है MacBook Proकुछ दिन पहले आई एक रिपोर्ट में दावा किया गया था कि इसी साल सितंबर में MacBook Pro को 14 इंच और 16 इंच की साइज में पेश किया जाएगा।

J-K: Bandipora Encounter में 2 आतंकी ढेर, देखें सोकबाबा के जंगलों में चल रहा ऑपरेशनजम्मू कश्मीर (Terrorist) के बांदीपोरा (Bandipora) में सुरक्षाबलों और आतंकियों के बीच जारी एनकाउंटर (Encounter) में दो आतंकी (Terrorist) मार गिराए गए हैं. जम्मू कश्मीर पुलिस ने इस बात की जानाकरी दी. हालांकि इन आतंकियों की पहचान अभी नहीं हो पाई है. सोकबाबा के जंगल में आतंकियों के छिपे होने की सूचना सुरक्षाबलों को मिली थी जिसके बाद यह एनकाउंटर शुरू हुआ. सुरक्षाबलों ने सर्च ऑपरेशन चलाया इस दौरान आतंकियों ने फायरिंग शुरू कर दी. पुलिस सूत्रों के मुताबिक शुक्रवार की दोपहर सर्च ऑपरेशन चलाया गया था. जैसे ही पुलिस और आर्मी के जवान संदिग्ध जगह पर पहुंचे, यहां छिपे आतंकियों ने सुरक्षाबलों पर फायरिंग शुरू कर दी. देखें वीडियो.

पंजाब के नेताओं को पीछे छोड़ किसान संसद में भी चमकने में कामयाब रहे राकेश टिकैतटिकैत को पंजाब के नेताओं से दिक्कत नहीं उनसे तो वह आंदोलन का नेतृत्व लगभग छीन ही चुके है उनकी समस्या आंदोलन से हुड्डा समर्थकों के मुंह मोड़ लेने से है। लेकिन टिकैत की मजबूरी है कि उन्हें हुड्डा या चौटाला में से एक को चुनना था।

Taliban की दहशत के बीच Afghanistan में Sikh Community के लोग कर रहे पलायनरिपोर्टिंग करने के लिहाज से इस वक्त दुनिया का सबसे खतरनाक मुल्क अगर कोई है. तो वो है अफगानिस्तान. और आजतक ने अफगानिस्तान के मौजूदा हालात को दुनिया के सामने लाने का बीड़ा उठाया है. आजतक की टीम लगातार अफगानिस्तान के अलग-अलग इलाकों की ग्राउंड रियलिटी को कवर कर रही है. अफगानिस्तान (Afghanistan) में तालिबान (Taliban) के बढ़ते दबदबे के चलते वहां रह रहीं सिख परिवार (Sikh Families) खौफ में है और इसी डर के चलते 53 परिवार जलालाबाद (Jalalabad) को छोड़कर इंडिया (India) आ गए हैं. और वहां सिर्फ 6 से 7 सिख परिवार ही बची हैं. Aajtak ने जाना उनका दर्द. देखें वीडियो. भारत में मुस्लिम समुदाय और सिख समुदाय एक हैं तो जलन हो रही है- आज तक जहाँ देश के ऊपर धर्म का कब्ज़ा हो फिर देश का कोई मतलब नहीं रह जाता, क्यों जलालत झेल रहें है ये लोग, क्यों नहीं मिल जाते पानी में नमक की तरह... INCIndia AITCofficial was not just against CAA but these helpless sikhs

Sukanya Samriddhi Yojana बेटियों के लिए है बेहतर, इस योजना में निवेश के हैं कई फायदेकोई भी व्यक्ति अपने साथ-साथ अपने बच्चों के भविष्य को बेहतर बनाने की कोशिश में लगा रहता है। अगर बात आर्थिक पैमाने पर की जाए तो अक्सर बेटियों की उच्च शिक्षा और शादी को लेकर धन इकट्ठा करना बड़ी चुनौती होती है।