Assammizoramborder, Mizoram, Assammizoramclash, Assam-Mizoram Border Dispute, Assam Mizoram Dispute, Assam Mizoram Border, Assam, Mizoram, Border Dispute, Barak Valley Of Assam

Assammizoramborder, Mizoram

सीमा विवाद: असम की बराक घाटी में बंद, मिजोरम को सता रहा नाकाबंदी का डर

मिजोरम से लगती सीमा पर सोमवार को हुई हिंसक झड़प में छह पुलिसकर्मियों समेत सात लोगों की मौत के विरोध में बुधवार को असम

29-07-2021 02:15:00

सीमा विवाद: असम की बराक घाटी में बंद, मिजोरम को सता रहा नाकाबंदी का डर AssamMizoramBorder Mizoram AssamMizoramClash

मिजोरम से लगती सीमा पर सोमवार को हुई हिंसक झड़प में छह पुलिसकर्मियों समेत सात लोगों की मौत के विरोध में बुधवार को असम

सोमवार को हुई झड़प के बाद दोनों राज्यों के पुलिस बल सीमा पर तैनात हैं। हालांकि अधिकारियों ने बुधवार को बताया कि शांति बनाए रखने के मकसद पुलिस बलों को सीमा से 100 मीटर अंदर वापस लिया गया है। असम के बराक घाटी के तीन जिलों कछार, हैलाकांडी और करीमगंज में बुधवार को 12 घंटे के बंद का आह्वान किया गया था। सुबह 5 बजे से शुरू बंद के दौरान सभी व्यापारिक प्रतिष्ठान, दुकानें पूरी तरह से बंद रहे जबकि सड़कों पर भी कुछ ही वाहन नजर आए। हालांकि बंद से आपातकालीन सेवाएं को छूट दी गई थी। ट्रेन सेवाएं पूरी तरह से अप्रभावित रहीं।

मौलाना कलीम सिद्दीक़ी कौन हैं जिन्हें यूपी एटीएस ने गिरफ़्तार किया है - BBC News हिंदी योगी सरकार का विस्तार: जितिन प्रसाद और छह राज्य मंत्रियों को मिली जगह - BBC Hindi इसराइल-फलस्तीन संघर्ष: जेनिन शहर के पास भारी लड़ाई, चार फलस्तीनियों की मौत - BBC Hindi

शांतिपूर्ण रहा बंदबंद का आह्वान बराक डेमोक्रेटिक फ्रंट (बीडीएफ) ने किया था और इसका समर्थन एआईयूडीएफ समेत ज्यादातर राजनीतिक और सामाजिक संगठनों ने किया था। बंद के दौरान कहीं से भी किसी तरह की हिंसा की खबर नहीं है। बीडीएफ के प्रमुख समन्वयक प्रदीप दत्ता राय ने कहा कि हमने बंद का आह्वान इसलिए किया था क्योंकि हमारे पुलिस जवान मारे गए और इस विवाद का स्थायी समाधान होना चाहिए क्योंकि हम और खूनखराबा नहीं चाहते हैं।

मिजोरम को जाने वाली सड़कें ब्लॉक कींहैलाकांडी जिले में कई सामाजिक संगठनों ने मिजोरम को जाने वाली सड़कों को ब्लॉक कर दिया और पड़ोसी राज्य में सामान लेकर जाने वाले ट्रकों को रोकने के लिए अनिश्चितकालीन ‘आर्थिक नाकेबंदी’ शुरू की।दोनों राज्यों के मुख्य सचिवों की दिल्ली में हुई बैठक headtopics.com

केंद्रीय गृहमंत्रालय के निर्देश पर असम और मिजोरम के मुख्य सचिवों और पुलिस महानिदेशकों की बैठक नई दिल्ली में हुई। इसमें सीमा विवाद, हिंसक झड़प व शांति बनाए रखने को लेकर चर्चा हुई।जख्मी कछार के एसपी को एयरलिफ्ट कर मुंबई ले जाया गयाइस बीच झड़प में बुरी तरह से घायल कछार के एसपी वैभव चंद्रकांत निंबालकर को बेहतर उपचार के लिए एयरलिफ्ट कर मुंबई ले जाया गया है। यहां पर एक निजी अस्पताल में उनकी तीन घंटे तक सर्जरी चली। 2009 बैच के आईपीएस अधिकारी निंबालकर महाराष्ट्र के पुणे के रहने वाले हैं। उनकी बैचमेट व मुंबई पुलिस उपायुक्त एन अंबिका ने बताया कि निंबालकर की हालत स्थिर है। साथ ही तीन अन्य पुलिसकर्मियों को गुवाहाटी मेडिकल कॉलेज एंड हॉस्पिटल में भर्ती कराया गया।

रमनदीप कौर को कछार का एसपी बनाया गयाइस बीच हैलाकांडी के एसपी रमनदीप कौर का तबादला कर कछार का नया एसपी नियुक्त किया गया है। वह वैभव चंद्रकांत निंबालकर की जगह लेंगे। जबकि कौर की जगह हैलाकांडी के एसपी का पदभार चिरांग पुलिस प्रमुख गौर उपाध्याय संभालेंगे। उपाध्याय की जगह प्रंजीत बोरा लेंगे जोकि अभी गुवाहाटी में ट्रैफिक पुलिस उपायुक्त थे।

विस्तार के बराक घाटी के तीन जिलों में बंद का आह्वान किया गया था। बंद शांतिपूर्ण रहा लेकिन स्थिति तनावपूर्ण बनी हुई है। सीमा पर हिंसा के भय से मिजोरम को नाकाबंदी का डर सता रहा है क्योंकि असम में प्रदर्शनकारियों ने पड़ोसी राज्य को जाने वाले ट्रकों को रास्ते में ही रोक दिया है।

विज्ञापनसोमवार को हुई झड़प के बाद दोनों राज्यों के पुलिस बल सीमा पर तैनात हैं। हालांकि अधिकारियों ने बुधवार को बताया कि शांति बनाए रखने के मकसद पुलिस बलों को सीमा से 100 मीटर अंदर वापस लिया गया है। असम के बराक घाटी के तीन जिलों कछार, हैलाकांडी और करीमगंज में बुधवार को 12 घंटे के बंद का आह्वान किया गया था। सुबह 5 बजे से शुरू बंद के दौरान सभी व्यापारिक प्रतिष्ठान, दुकानें पूरी तरह से बंद रहे जबकि सड़कों पर भी कुछ ही वाहन नजर आए। हालांकि बंद से आपातकालीन सेवाएं को छूट दी गई थी। ट्रेन सेवाएं पूरी तरह से अप्रभावित रहीं। headtopics.com

असम में जहां हुई हिंसा, वहां के एसपी सुशांत बिस्वा सरमा पर क्यों उठ रहे हैं सवाल - BBC News हिंदी गौरी लंकेश हत्या: आरोप तय करने के लिए आरोपियों को बेंगलुरु सेंट्रल जेल भेजने का आदेश भारत का मंगलयान: छह महीने के अंतरिक्ष मिशन ने पूरे किए सात साल - BBC Hindi

शांतिपूर्ण रहा बंदबंद का आह्वान बराक डेमोक्रेटिक फ्रंट (बीडीएफ) ने किया था और इसका समर्थन एआईयूडीएफ समेत ज्यादातर राजनीतिक और सामाजिक संगठनों ने किया था। बंद के दौरान कहीं से भी किसी तरह की हिंसा की खबर नहीं है। बीडीएफ के प्रमुख समन्वयक प्रदीप दत्ता राय ने कहा कि हमने बंद का आह्वान इसलिए किया था क्योंकि हमारे पुलिस जवान मारे गए और इस विवाद का स्थायी समाधान होना चाहिए क्योंकि हम और खूनखराबा नहीं चाहते हैं।

मिजोरम को जाने वाली सड़कें ब्लॉक कींहैलाकांडी जिले में कई सामाजिक संगठनों ने मिजोरम को जाने वाली सड़कों को ब्लॉक कर दिया और पड़ोसी राज्य में सामान लेकर जाने वाले ट्रकों को रोकने के लिए अनिश्चितकालीन ‘आर्थिक नाकेबंदी’ शुरू की।दोनों राज्यों के मुख्य सचिवों की दिल्ली में हुई बैठक

केंद्रीय गृहमंत्रालय के निर्देश पर असम और मिजोरम के मुख्य सचिवों और पुलिस महानिदेशकों की बैठक नई दिल्ली में हुई। इसमें सीमा विवाद, हिंसक झड़प व शांति बनाए रखने को लेकर चर्चा हुई।जख्मी कछार के एसपी को एयरलिफ्ट कर मुंबई ले जाया गयाइस बीच झड़प में बुरी तरह से घायल कछार के एसपी वैभव चंद्रकांत निंबालकर को बेहतर उपचार के लिए एयरलिफ्ट कर मुंबई ले जाया गया है। यहां पर एक निजी अस्पताल में उनकी तीन घंटे तक सर्जरी चली। 2009 बैच के आईपीएस अधिकारी निंबालकर महाराष्ट्र के पुणे के रहने वाले हैं। उनकी बैचमेट व मुंबई पुलिस उपायुक्त एन अंबिका ने बताया कि निंबालकर की हालत स्थिर है। साथ ही तीन अन्य पुलिसकर्मियों को गुवाहाटी मेडिकल कॉलेज एंड हॉस्पिटल में भर्ती कराया गया।

रमनदीप कौर को कछार का एसपी बनाया गयाइस बीच हैलाकांडी के एसपी रमनदीप कौर का तबादला कर कछार का नया एसपी नियुक्त किया गया है। वह वैभव चंद्रकांत निंबालकर की जगह लेंगे। जबकि कौर की जगह हैलाकांडी के एसपी का पदभार चिरांग पुलिस प्रमुख गौर उपाध्याय संभालेंगे। उपाध्याय की जगह प्रंजीत बोरा लेंगे जोकि अभी गुवाहाटी में ट्रैफिक पुलिस उपायुक्त थे। headtopics.com

आपकी राय हमारे लिए महत्वपूर्ण है। खबरों को बेहतर बनाने में हमारी मदद करें।खबर में दी गई जानकारी और सूचना से आप संतुष्ट हैं?हांखबर की भाषा और शीर्षक से आप संतुष्ट हैं?हांखबर के प्रस्तुतिकरण से आप संतुष्ट हैं?हांखबर में और अधिक सुधार की आवश्यकता है? और पढो: Amar Ujala »

US दौरे पर PM मोदी, अब होगा आतंक पर वार! देखें हल्ला बोल

दो साल बाद अमेरिका के लिए पीएम मोदी की उड़ान तेजी से बदलती दुनिया में भारत की आन-बान और शान को दमदार अंदाज़ में दर्ज कराएगी. ये पहला मौका होगा जब प्रधानमंत्री मोदी और अमेरिकी राष्ट्रपति के तौर पर जो बाइडेन आमने सामने मुलाकात करेंगे. माना जा रहा है कि पीएम मोदी और जो बाइडेन की मुलाकात में अफगानिस्तान में तालिबान राज और उसके बाद के बढ़ते खतरे पर भी बात होगी. भारत और अमेरिका के बीच द्विपक्षीय रिश्तों को मजबूती देने के अलावा प्रधानमंत्री के एजेंडे में आतंकवाद पर दुनिया को कड़ा संदेश देना भी शामिल होगा. SCO की बैठक में पीएम मोदी आतंकवाद को लेकर चीन और पाकिस्तान के सामने खरी-खरी सुना चुके हैं. आज हल्ला बोल में देखें इसी मुद्दे पर चर्चा.

सुलझेगा असम-मिजोरम सीमा विवाद, तैनात होगी पैरामिलिट्री, MHA की बैठक में बनी सहमतिबैठक में इस बात पर सहमति बनी है कि दोनों प्रदेशों की सीमा पर नेशनल हाईवे के पास बने विवादित स्थल पर केंद्रीय अर्धसैनिक बल के वरिष्ठ अधिकारी के नेतृत्व में न्यूट्रल फोर्स यानी कि केंद्रीय अर्धसैनिक बलों की तैनाती होगी. दोनों प्रदेश बातचीत का यह दौर आगे भी जारी रखेंगे और अपने अपने मुद्दे एक दूसरे के सामने रखेंगे. आश्चर्यजनक, देश के अंदर ही दो राज्यों में सीमा विवाद! अभी तक तो लोग दूसरे राज्यों से आये व्यक्ति को बाहरी , परदेसी इत्यादि संबोधन से बुलाते थे। भले ही भाषा अनेक हों हमारी, एक भारतीय कब होंगे।

I-Pac के समर्थन में गई टीएमसी की टीम को भी त्रिपुरा में रोकापार्टी सुप्रीमो ममता बनर्जी ने कहा, 'एक टीम पहले से वहां है। जब वह टीम लौटकर आएगी, तब मैं अभिषेक बनर्जी, डेरेक ओ ब्रायन और अन्य को भेजूंगी।' India Tv Rajat: 'Kashmir में कुदरत का केहर' और 'पकिस्तान में हिन्दूओ पर अत्याचार' जन्तर्मन्तर पर किसान आंदोलन में ना जाने के लिए Delhi Police ने Alka Lamba को घर में ही केद किया। Rajat यह Modi सरकार का केहर है या अत्याचार?

यूपी में किसान आंदोलन होगा तेज़, पांच सितंबर को मुज़फ़्फ़रनगर में महापंचायत से होगी शुरुआतसंयुक्त किसान मोर्चा ने उत्तर प्रदेश और उत्तराखंड में आंदोलन को तेज़ करने के लिए चार चरणों में आंदोलन की योजना बनाई है. पहले चरण में राज्यों में आंदोलन में सक्रिय संगठनों के साथ संपर्क और समन्वय स्थापित किया जाएगा. दूसरे चरण में मंडलवार किसान कन्वेंशन और ज़िलेवार तैयारी बैठक होगी. तीसरे चरण में पांच सितंबर को मुज़फ़्फ़रनगर में किसानों की महापंचायत आयोजित की जाएगी और चौथे चरण में मंडल मुख्यालयों पर महापंचायत होगी.

असम-मिजोरम विवाद पर एक्शन में गृह मंत्रालय, CRPF की 2 कंपनियां तैनातअसम और मिजोरम के बीच हुए सीमा विवाद के बाद गृह मंत्रालय एक्शन में नजर आ रहा है। दोनों राज्यों के पुलिसकर्मियों में हुई हिंसक झड़प के बाद सीआरपीएफ की 2 कं‍पनियां तैनात कर दी गई Assam Mizoram CRPF CRPFRaisingDay राष्ट्र_प्रथम crpfindia

असम-मिज़ोरम की पुलिस आपस में क्यों भिड़ गई, विवाद की पूरी कहानी - BBC News हिंदीअसम और मिज़ोरम पड़ोसी राज्य हैं. दोनों के बीच ताज़ा तनाव में असम पुलिस के पांच जवान मारे गए हैं. आख़िर इस तनाव की वजह क्या है और इसकी शुरुआत कैसे हुई. सबकुछ जानें. असम- मिज़ोरम विवाद में क्या, कब, कैसे हुआ? पूरी कहानी:- ColdCigar

असम-मिजोरम बॉर्डर पर क्यों भड़की हिंसा,  5 प्वाइंटर्स में जानिए क्या है पूरा मामलाअसम और मिजोरम के सीमावर्ती इलाके में हिंसा ( Assam - Mizoram Border Clashes) का मामला सुर्खियों में है. इसमें असम पुलिस के 5 पुलिसकर्मी शहीद हुए हैं. हालात को देखते हुए वहां सीआरपीएफ (CRPF) की दो कंपनियां तैनात की गई हैं. हालांकि पूर्वोत्तर के इन दोनों राज्यों में किस वजह से हिंसा भड़की, इसको लेकर कौतूहल बना हुआ है. पांच बिंदुओं में आप भी जानिए कि किस वजह से यहां हिंसक झड़प हुई... धन्यवाद मोदीजी गृहयुद्ध छिड़वाने के लिये महाराष्ट्र और कर्नाटक के बीच बहुत साल सीमा विवाद चला राज नेताओं के कारण। आसाम बड़ा राज्य है करोड़ों की आबादी वाला और मिजोरम तीस लाख की आबादी वाला प्रांत है। सरहद कलह शांत रहती है, पर असंतुष्ट राजनेता बड़ा बनने के लिए कुछ कर गुजरते हैं। मामला सुलझ जाएगा कोई बड़ा नहीं है।