Farmer, Agitation, Demand Msp, Parliament, New Agriculture Law, Repealed, Minimum Suport

Farmer, Agitation

समांतर संसद

समांतर संसद

23-07-2021 01:56:00

समांतर संसद

नए कृषि कानूनों को लेकर किसानों का रुख लगातार तीखा होता जा रहा है, तो इसके पीछे बड़ा कारण सरकार का उदासीन, टालमटोल वाला और हठधर्मी रवैया है।

और पढो: Jansatta »

महंत नरेंद्र गिरि के सुसाइड नोट में लड़की का जिक्र, देखें हल्ला बोल

महंत नरेंद्र गिरि की संदिग्ध परिस्थितियों में मौत हो गई है. महंत नरेंद्र गिरी देश के बड़े और प्रभावशाली संतों में से थे. ऐसे में उनकी संदिग्ध मौत ने हर किसी को चौंका दिया है. उनकी मौत प्रयागराज के बाघंबरी मठ में हुई है. महंत नरेंद्र गिरी का शव उनके कमरे में नायलॉन की रस्सी से लटका हुआ पाया गया था. पुलिस के मुताबिक, उनके कमरे से एक 6-7 पन्ने का सुसाइड नोट बरामद किया गया है. अब ये सुसाइड सामने आया है. जिसमें उन्होंने आनंद गिरि, लेटे हनुमान मंदिर के पुजारी अद्या तिवारी, संदीप तिवारी को अपनी मौत के लिए जिम्मेदार बताया है और कई बातों का उल्लेख किया. इस पर देखें हल्ला बोल.

200 किसान पहुँचे दिल्ली, संसद के पास कृषि क़ानून का विरोध शुरू - BBC Hindiदिल्ली की सीमा पर कृषि क़ानूनों का महीनों से विरोध कर रहे किसानों में से 200 किसानों का एक दल किसान नेता राकेश टिकैत की अगुआई में संसद भवन के पास जंतर मंतर पहुँच गया है. Gjb हेड लाइन कुछ और, और लिंक न्यूज़ कुछ और.. 🤔

Kisan Andolan : जंतर-मंतर पर 'किसान संसद' का पहला दिन खत्म, शुक्रवार को फिर जुटेंगे किसाननई दिल्ली। भारी सुरक्षा-व्यवस्था के बीच केंद्र के तीन नए कृषि कानूनों के खिलाफ प्रदर्शन करते हुए 200 किसानों के एक समूह ने मध्य दिल्ली के जंतर मंतर पर गुरुवार को 'किसान संसद' शुरू की। जंतर मंतर, संसद भवन से कुछ ही दूरी पर स्थित है जहां मानसून सत्र चल रहा है। राष्ट्रगान के बाद गुरुवार शाम 5 बजे किसान संसद खत्म हो हुई। शुक्रवार की सुबह 11 बजे फिर 200 किसान जंतर-मंतर आएंगे। किसान बस में बैठकर वापस सिंघु बॉर्डर के लिए रवाना हो गए।

कल किसान फिर करेंगे दिल्ली कूच, चलाएँगे अपनी संसद - BBC Hindiकृषि क़ानूनों का विरोध कर रहे किसान संगठनों ने कहा है कि वो कल से दिल्ली में किसान संसद के पास अपनी संसद लगाएँगे जो संसद के मॉनसून सत्र तक चलेगी. सिर्फ हंगामा खड़ा करना मेरा मकसद नहीं सारी कोशिश है कि ये सूरत बदलनी चाहिए ! मेरे सीने में नहीं तो तेरे सीने में सही हो कहीं भी आग..लेकिन आग जलनी चाहिए ! किसान_संसद FarmersProtest आब कीबार कोई दंगा करने की कोशिश की इन तथाकथित किसानो के ठेकेदारो ने तो इंका बक्कल उतार दियाजाये एसा मुझे भारत सरकार से उम्मीद हे,इन करोड़पति किसाननेताओ ने26 जनवरी को जोकिया बो किसीभी हालत मे भूलने लायक नहीं,ये किसानो को मूर्ख बना अपने आप को करोड़ो का मालिक बना लेतेहे हर आंदोलन से

Jantar-Mantar पर सुरक्षा के तगड़े इंतजाम, कल से लगेगी Farmers की संसद, देखें शतककल से फिर किसानों का आंदोलन जोड़ पकड़ेगा. किसान नेताओं ने संसद सत्र की समाप्ति तक जंतर मंतर पर किसान संसद का ऐलान किया है. हर रोज 200 किसान जंतर मंतर पर धरना देंगे. इस दौरान किसानों को कोविड प्रोटोकॉल का कड़ाई से पालन करना होगा. किसानों की तैयारी देखते हुए जंतर मंतर पर सुरक्षा के तगड़े इंतजाम किए गए हैं. किसानों के प्रदर्शन की बाबत सरकार कोई रिस्क नहीं लेना चाहती है. इसी के तहत किसानों से सिंघु बॉर्डर पर अधिकारियों ने मुलाकात भी की. इस बीच खुद दिल्ली पुलिस के कमिश्नर ने जंतर-मंतर पहुंचकर सुरक्षा इंतजामों का जायजा लिया. अन्य खबरों के लिए देखें ये वीडियो. माननीय और मीडिया, और so called bollywood celebrity कांवड यात्रा पर खूब ज्ञान दे रहे थे? Strict aadesh दे रहें थे?🤗🙏 पर ये सब ईद और धरना प्रदर्शन पर सिर्फ़ कड़ी निंदा करके रह गए ?🤗🥰🙏 वाह लोकतंत्र जिंदाबाद Zod ?pakdega

किसानों के संसद मार्च पर बोले राकेश टिकैत, ‘हम जरूर जाएंगे, चाहे गिरफ्तार कर ले पुलिस’किसान संगठनों ने ऐलान किया है कि 22 जुलाई को संसद ( Parliament ) तक मार्च किया जाएगा. इसको लेकर बुधवार को भारतीय किसान यूनियन के नेता राकेश टिकैत ने आजतक से बात की. KumarKunalmedia Sansad aane ka rashta chunav h lekin ye dacait khud 2 baar jamant jabt karwa chukaa h toh ab kisan ban gyaa😂 pasro kashmir samasya me v isi ko bithaya jaaega.....ye bolega jabtak 370 nahi aaega tab tak baat nhi hogi😂😂😂👍👍👍 KumarKunalmedia 👍 KumarKunalmedia Kisan aap agy bado hum tumhare saat hai aur tum pure bharat me bhi elaan karo har state me kisano ka saat de

कृषि कानून के खिलाफ जंतर-मंतर पर किसानों की 'संसद', बनाए 3 स्पीकर, बोलने के लिए 90 मिनट का वक्तनई दिल्ली। संसद में मानसून सत्र के बीच केन्द्र के तीन कृषि कानूनों के खिलाफ किसानों ने दिल्ली के जंतर-मंतर पर गुरुवार को किसान संसद लगाई। इसमें 3 स्पीकर, 3 डिप्टी स्पीकर बनाए गए हैं। हर किसी को 90 मिनट का वक्त मिला है, एक स्पीकर के साथ एक डिप्टी मौजूद रहेगा।