रिपोर्ट: भारतीय, अफगान सरकार के सैन्य अधिकारियों को निशाना बना रहे पाकिस्तानी हैकर

एक रिपोर्ट में पता चला है पाकिस्तानी हैकर अफगान प्रतिष्ठानों को भी निशाना बना रहे हैं।

İndia, Pakistan

04-12-2021 22:25:00

रिपोर्ट: भारतीय, अफगान सरकार के सैन्य अधिकारियों को निशाना बना रहे पाकिस्तानी हैकर india pakistan afghanistan hackers

एक रिपोर्ट में पता चला है पाकिस्तानी हैकर अफगान प्रतिष्ठानों को भी निशाना बना रहे हैं।

ख़बर सुनेंपाकिस्तानी हैकर भारतीय और अफगान सरकारों, विशेष रूप से सैन्य अधिकारियों को अपना निशाना बना रहे हैं। ‘द हैकरन्यूज’ वेबसाइट के मुताबिक, पाकिस्तानी हैकर ट्विटर और फेसबुक आईडी हैक करके सरकारी अधिकारियों से जुड़ी जानकारियां खंगाल रहे हैं।वेबसाइट के मुताबिक, साइडकॉपी एपीटी के इस्तेमाल से सभी सरकारी कामकाजी फाइलों का डाटा इकट्ठा किया जा रहा है। इसके बाद सभी को एक जगह एम्बेड किया जाता है। जानकारी के मुताबिक, सोशल मीडिया यूजर्स को धोखे से मैलवेयर प्रोग्राम इंस्टॉल करवाए जाते हैं।

UP Opinion Poll Live Updates: इस बार UP में किसकी सरकार?| UP Assembly Election 2022 | Janata Ka Mood

इसके बाद साइडकॉपी से लोगों को ट्रोजनाइज्ड चैट ऐप्स (मैलवेयर भरे प्रोग्राम) को इंस्टॉल करने के लिए कहा जाता है। इसमें वाइबर और सिग्नल के रूप में प्रीजेंट करने वाले मैसेंजर या कस्टम-निर्मित एंड्रॉएड एप भी शामिल हैं।इस तरह के कई एप का इस्तेमाल डिवाइस तक पहुंच बनाने के लिए बड़ी चालाकी से मैलवेयर शामिल किए गए थे। हैकर्स के ग्रुप ने इसके लिए महिलाओं के नाम पर अकाउंट बनाए। रोमांटिक तरीके के लालच देते हुए हैकर्स ने यूजर्स को फंसाने वाली बातें की। यह ग्रुप चैट ऐप्स डाउनलोड करने में भी शामिल रहा।

साइडकॉपी के नाम से जाना जाने वाला ग्रुप, काबुल में पिछली अफगान सरकार, सेना और कानून प्रवर्तन एजेंसियों से जुड़े लोगों को टारगेट कर रहा था। इससे पहले भी फेसबुक ने ऐसे ही पाकिस्तानी हैकर्स का पता चलने पर कई अकाउंट्स को डिएक्टिवेट कर उनके डोमेन को हमारे प्लेटफॉर्म पर पोस्ट होने से रोक दिया था। headtopics.com

पाकिस्तानी हैकरों के निशाने पर फिलहाल भारत और अफगानिस्तानमालवेयरबाइट्स के ताजा शोध में पता चला है कि हैकर भारतीय प्रतिष्ठानों को निशाना बनाने के लिए नए तरीके खोज रहे हैं। पता चला है पाकिस्तानी हैकर साइडकापी एआरटी नाम के तरीके को उपयोग कर रहे हैं। मालवेयरबाइट्स शोधकर्ता हुसैन जाजी ने बताया कि पाकिस्तानी हैकरों के निशाने पर फिलहाल भारत और अफगानिस्तान हैं।

IPL 2022, Ravi Bishnoi: खेतों में बॉलिंग सीखते थे रवि बिश्नोई, अब लखनऊ फ्रेंचाइजी देगी 4 करोड़ रुपये

यहां करें शिकायतसाइबर क्राइम से पीड़ित टोल फ्री नंबर 155260 पर शिकायत कर सकते हैं।ये भी हैं साइबर क्राइमसोशल नेटवर्किंग वेबसाइट, ई-मेल, चैट व डिजिटल उपकरण के जरिये किसी को अश्लील या धमकाने वाले संदेश भेजना और किसी भी रुप में परेशान करना साइबर क्राइम के दायरे में आता है।

विस्तारपाकिस्तानी हैकर भारतीय और अफगान सरकारों, विशेष रूप से सैन्य अधिकारियों को अपना निशाना बना रहे हैं। ‘द हैकरन्यूज’ वेबसाइट के मुताबिक, पाकिस्तानी हैकर ट्विटर और फेसबुक आईडी हैक करके सरकारी अधिकारियों से जुड़ी जानकारियां खंगाल रहे हैं।विज्ञापनवेबसाइट के मुताबिक, साइडकॉपी एपीटी के इस्तेमाल से सभी सरकारी कामकाजी फाइलों का डाटा इकट्ठा किया जा रहा है। इसके बाद सभी को एक जगह एम्बेड किया जाता है। जानकारी के मुताबिक, सोशल मीडिया यूजर्स को धोखे से मैलवेयर प्रोग्राम इंस्टॉल करवाए जाते हैं।

इसके बाद साइडकॉपी से लोगों को ट्रोजनाइज्ड चैट ऐप्स (मैलवेयर भरे प्रोग्राम) को इंस्टॉल करने के लिए कहा जाता है। इसमें वाइबर और सिग्नल के रूप में प्रीजेंट करने वाले मैसेंजर या कस्टम-निर्मित एंड्रॉएड एप भी शामिल हैं।इस तरह के कई एप का इस्तेमाल डिवाइस तक पहुंच बनाने के लिए बड़ी चालाकी से मैलवेयर शामिल किए गए थे। हैकर्स के ग्रुप ने इसके लिए महिलाओं के नाम पर अकाउंट बनाए। रोमांटिक तरीके के लालच देते हुए हैकर्स ने यूजर्स को फंसाने वाली बातें की। यह ग्रुप चैट ऐप्स डाउनलोड करने में भी शामिल रहा। headtopics.com

Sabse Bada Opinion Poll Live: इस बार UP में किसकी सरकार? | Assembly Election 2022 | Janata Ka Mood

साइडकॉपी के नाम से जाना जाने वाला ग्रुप, काबुल में पिछली अफगान सरकार, सेना और कानून प्रवर्तन एजेंसियों से जुड़े लोगों को टारगेट कर रहा था। इससे पहले भी फेसबुक ने ऐसे ही पाकिस्तानी हैकर्स का पता चलने पर कई अकाउंट्स को डिएक्टिवेट कर उनके डोमेन को हमारे प्लेटफॉर्म पर पोस्ट होने से रोक दिया था।

पाकिस्तानी हैकरों के निशाने पर फिलहाल भारत और अफगानिस्तानमालवेयरबाइट्स के ताजा शोध में पता चला है कि हैकर भारतीय प्रतिष्ठानों को निशाना बनाने के लिए नए तरीके खोज रहे हैं। पता चला है पाकिस्तानी हैकर साइडकापी एआरटी नाम के तरीके को उपयोग कर रहे हैं। मालवेयरबाइट्स शोधकर्ता हुसैन जाजी ने बताया कि पाकिस्तानी हैकरों के निशाने पर फिलहाल भारत और अफगानिस्तान हैं।

यहां करें शिकायतसाइबर क्राइम से पीड़ित टोल फ्री नंबर 155260 पर शिकायत कर सकते हैं।ये भी हैं साइबर क्राइमसोशल नेटवर्किंग वेबसाइट, ई-मेल, चैट व डिजिटल उपकरण के जरिये किसी को अश्लील या धमकाने वाले संदेश भेजना और किसी भी रुप में परेशान करना साइबर क्राइम के दायरे में आता है।

आपकी राय हमारे लिए महत्वपूर्ण है। खबरों को बेहतर बनाने में हमारी मदद करें।खबर में दी गई जानकारी और सूचना से आप संतुष्ट हैं?हांखबर की भाषा और शीर्षक से आप संतुष्ट हैं?हांखबर के प्रस्तुतिकरण से आप संतुष्ट हैं?हांखबर में और अधिक सुधार की आवश्यकता है?

और पढो: Amar Ujala »

कोरोना की पाबंदियों के बीच होंगे चुनाव, किस पार्टी को मिलेगी जीत? देखें शखंनाद

चुनावी शंखनाद शुरू हो चुका है. चुनाव आयोग ने पांच राज्यों में चुनाव का ऐलान कर दिया है. नेताओं ने कमर कस ली है. वहीं कई पाबंदियां लागू हो चुकी हैं. सबके अपने दावे हैं, सबके अपने वादे हैं. इस बार मतदाताओं की संख्या बढ़ी है. ऐसे में कोरोना और मतदाताओं की संख्या को देखते हुए चुनाव आयोग ने पूरा प्लान तैयार किया है. चुनाव आयोग की तारीखों के ऐलान के बाद देश के सबसे बड़े सूबे के सीएम योगी आदित्यनाथ की प्रतिक्रया भी सामने आई है. देखें कैसे तारीखों के ऐलान के बाद शुरू हुआ बयानों का दौर.

JusticeForRailwayStudets

पूर्व अफ़ग़ान राष्ट्रपति हामिद करज़ई ने तालिबान को बताया अपना भाई - BBC Hindiअफ़ग़ानिस्तान के पूर्व राष्ट्रपति हामिद करज़ई ने तालिबान को अपना भाई बताया है और उनके साथ काम करने पर ज़ोर दिया है. सत्ता की मलाई और जिंदगी दोनों चाहिए भाई..! 🤔🤔 Has BBC ever spoke about the truth. Has any media or Peace keepers or human rights. Ever spoke for Kashmiri pandits. United Nations shame on you तालिबान क्या इनके तो बगदादी,लादेन भी भाई ही थे जब सत्ता चाहिए तो भाई का कत्ल करवा दो, न मिल सके तो भाई मान लो, यही तो पढ़ा है मुगल इतिहास में।

श्रीलंकाई नागरिक की हत्या पर पाकिस्तानी पूछ रहे- हम क्या बन गए हैं? - BBC News हिंदीपाकिस्तान के सियालकोट शहर में एक श्रीलंकाई नागरिक को ईशनिंदा के आरोप में पीट-पीटकर मार डालने को पाकिस्तानी शर्मनाक बता रहे हैं और अपनी सरकार से तीखे सवाल पूछ रहे हैं. हिंसा हर समाज या देश में होती है लेकिन इस्लामिक हिंसा अलग है, क्यूंकि इस में हिंसा करने वाले को इनाम मिलता है 🙂 Pakistanis se isse jyda ki ummid bhi nahi hai.. hatya karna unke liye aam baat hai.. Exactly. There is no difference between RSS and Terrorist. They are doing in Pakistan and RSS doing in India. Both will destroy countries

ओमिक्रॉन: कर्नाटक सरकार ने निगेटिव रिपोर्ट देने वाली लैब की जांच के आदेश दिए - BBC Hindiकर्नाटक सरकार ने ओमिक्रॉन से संक्रमित पाए गए दक्षिण अफ्रीकी नागरिक को निगेटिव कोरोना रिपोर्ट देने वाली लैब की जांच करने के आदेश दिए हैं. Sarvsamaj hit me 18 saal ka hone par bachoo ko adhikaar milne chahiye ya aajadi is mudde par bahas karna hai

IND vs SA: उपकप्तानी से हटाए जा सकते हैं अजिंक्य रहाणे, रोहित को जिम्मेदारी मिलने की उम्मीदभारतीय टेस्ट टीम के उपकप्तान अजिंक्य रहाणे को पद से हटाया जा सकता है। वह बीते काफी समय से खराब फॉर्म से जूझ रहे हैं।

Watch: ईशनिंदा में श्रीलंका के नागरिक को जिंदा जलाने वाले पाकिस्तानी हैवानों से मिलिए, तर्क सुनकर दंग रह जाएंगेBlasphemy in Pakistan : अमेरिकी सरकार के सलाहकार पैनल की रिपोर्ट कहती है कि दुनिया के किसी भी देश की तुलना में पाकिस्तान में सबसे अधिक ईशनिंदा कानून का इस्तेमाल होता है।

क्या रूस वास्तव में यूक्रेन पर हमला कर सकता है? | DW | 03.12.2021नाटो और यूरोपीय संघ के साथ शीर्ष अमेरिकी राजनयिकों ने यूक्रेन पर कोई भी सैन्य कार्रवाई शुरू करने के खिलाफ रूस को चेतावनी दी है. Russian