Rajasthan Politics, Sachin Pilot, Bsp Mla Rajasthan, Ashok Gehlot Govt, राजस्थान राजनीति, सचिन पायलट, बसपा विधायक राजस्थान, अशोक गहलोत, राजस्थान मंत्रिमंडल विस्तार, आज की खबरें

Rajasthan Politics, Sachin Pilot

राजस्थान की सियासत में फिर उबाल, दिल्ली में सचिन पायलट, क्या मंत्रिमंडल का विस्तार करेंगे अशोक गहलोत?

राजस्थान की सियासत में फिर उबाल, दिल्ली में सचिन पायलट, क्या मंत्रिमंडल का विस्तार करेंगे अशोक गहलोत?

14-06-2021 19:35:00

राजस्थान की सियासत में फिर उबाल, दिल्ली में सचिन पायलट , क्या मंत्रिमंडल का विस्तार करेंगे अशोक गहलोत ?

राजस्थान (Rajasthan) में राजनीतिक सरगर्मी दोबारा तेज हो रही है. कांग्रेस आलाकमान से सलाह-मशविरा के लिए राज्य के पूर्व उप-मुख्यमंत्री और कांग्रेसी नेता सचिन पायलट ( Sachin Pilot ) दिल्ली में हैं. वह इस उम्मीद में दिल्ली में हैं कि बगावत करने के 11 महीने बाद उनकी मांगें पूरी की जाएंगी. जयपुर में उनके समर्थक विधायक सरकार पर फोन टैपिंग का इल्जाम लगा रहे हैं और बसपा से आए विधायक सरकार को अब यह चेतावनी दे रहे हैं कि वो न होते तो गहलोत सरकार अब तक गिर चुकी होती.

खास बातेंजयपुर: यह भी पढ़ेंऐसे में अब सबकी निगाहें इस बात पर टिकी हैं कि असंतोष विधायकों को शांत करने के लिए क्या मुख्यामंत्री अशोक गहलोत (Ashok Gehlot) अपने मंत्रिमंडल का विस्तार करेंगे.ज्‍योतिरादित्‍य और जितिन के 'Exit' के बाद अब क्‍या सचिन पायलट....सोशल मीडिया पर उठे सवाल

रूसी खिलाड़ी ओलंपिक में मेडल जीत रहे पर अपने मुल्क के नाम से नहीं - BBC News हिंदी राकेश अस्थाना: गुजरात कैडर के IPS, जो मोदी-शाह के रहे 'भरोसेमंद' - BBC News हिंदी भारत के विकास में कोरोना ने लगाया ब्रेक: GDP ग्रोथ का अनुमान घटाने पर IMF चीफ इकोनॉमिस्ट ने NDTV से कहा..

बसपा से कांग्रेस में आए 6 विधायकों में से एक राजेंद्र गुडा ने कहा है कि अगर वो नहीं होते तो गहलोत सरकार पिछले साल बच नहीं पाती. जाहिर है पार्टी में असंतोष से गहलोत मंत्रिमंडल के विस्तार की चर्चाएं तेज हो रही हैं. ऐसा जान पड़ता है कि अब सब अपना हिस्सा मांग रहे हैं.

राजेंद्र गुडा ने कहा, 'इसमें कोई ज्यादा गणित नहीं है. आज से लगभग 11 महीने पहले कुछ विधायक कांग्रेस को छोड़ के चले गए थे और अगर 10 प्लस हम नहीं होते तो सरकार की प्रथम पुण्यतिथि की तैयारी होती. कैबिनेट तो मुख्यमंत्री अधिकार क्षेत्र का मामला है. दिल्ली में जिस तरह की बातें चल रही हैं, वफादारियों का क्या होगा, वो कहां जाएंगे.' headtopics.com

बताते चलें कि 11 महीने बाद भी सचिन पायलट खेमे के लोगों को कैबिनेट में जगह नहीं मिली है और राजनीतिक नियुक्तियां भी नहीं हुई हैं. इसी मसले को सुलझाने के लिए वह दिल्ली में हैं, जबकि उनकी बगावत के बाद पिछले साल अक्टूबर में कुमार विश्वास की पत्नी डॉक्टर मंजू शर्मा को राजस्थान लोक सेवा आयोग में जगह मिली और उसी साल दिसंबर में राजस्थान सूचना आयोग में शीतल धनकड़, जो बंगाल के राज्यपाल जगदीप धनकड़ की भतीजी और कांग्रेसी रणदीप धनकर की बेटी है, की नियुक्ति की गई.

राजस्थान में कोरोना से हाहाकार, ऑक्सीजन व दवाओं का कोटा बढ़वाने दिल्ली जाएगा मंत्री समूहमंत्रिमंडल में फेर बदल अब तक क्यों नहीं हुआ, इस सवाल पर गहलोत सरकार का तर्क है कि कोरोना से पहले निपट लें, इसके बाद इस बारे में विचार किया जाएगा. राज्य के मंत्री प्रताप सिंह खाचरियावास ने कहा, 'कोरोना के बीच में ये सब नियुक्तियां लेट हुई हैं. कैबिनेट एक्सपेंशन सब मुख्यमंत्री का अधिकार है. अभी जनता को तो सिर्फ इस बात से मतलब है कि कोरोना में हमारी जान कैसे बचेगी.'

पायलट समर्थक अब शांत होने के मूड में नहीं दिख रहे. काम नहीं होने से लेकर फोन टैपिंग की शिकायत उन्होंने सार्वजनिक कर दी है. चाकसू से विधायक प्रकाश सोलंकी ने कहा, 'कई विधायकों ने कहा है कि उनके फोन टेप हो रहे हैं और कहा है कि उन्हें डराने की कोशिश की जा रही है. उन्हें ये भी डर है कि ACB की मदद से उन्हें ट्रैप करने की कोशिश हो सकती है.'

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.comVIDEO: कोरोना को लेकर राजस्थान की स्थिति अन्य राज्यों की तुलना में अच्छी : अशोक गहलोतRajasthan politicsSachin PilotBSP MLA rajasthanAshok Gehlot govtटिप्पणियां पढ़ें देश-विदेश की ख़बरें अब हिन्दी में (Hindi News) | कोरोनावायरस के लाइव अपडेट के लिए हमें फॉलो करें | headtopics.com

सोनिया गांधी से मिलने के बाद क्या बोलीं ममता बनर्जी - BBC Hindi पुराने मोबाइल फोन और लैपटॉप से बने हैं Tokyo Olympics 2020 में मिलने वाले मेडल पेगासस जासूसी: ममता बनर्जी ने मोदी सरकार को दी चुनौती

लाइव खबर देखें: और पढो: NDTVIndia »

देशभर में खराब मौसम से हाल बेहाल: जम्मू-कश्मीर में बादल फटने से 4 की मौत, 40 लापता; महाराष्ट्र के 7 जिलों में यलो अलर्ट, हिमाचल में भारी बारिश से बाढ़ जैसे हालात

जम्मू कश्मीर में किश्तवाड़ के होंजर डच्चन गांव में बादल फटने से 4 लोगों की मौत हो गई। न्यूज एजेंसी के मुताबिक, अब तक 17 लोगों को रेस्क्यू किया जा चुका है। 30 से 40 लोग अब भी लापता बताए जा रहे हैं। खराब मौसम की वजह से बचाव के लिए पुलिस और सेना के जवानों को मौके पर पहुंचने के लिए दिक्कतों का सामना करना पड़ रहा है। घायलों का एयरलिफ्ट करने के लिए एयरफोर्स की भी मदद ली जा रही है। | Weather Forecast Update; Jammu Kashmir Cloudburst, Mumbai Delhi Rain Alert Today | Himachal Pradesh Flood Situation

For a start i deposited ₹25,000 to test the waters, in 4days I got a return of ₹105,000 her diligence and honesty is undeniable. Interested persons should contact her sharon_cryptofx मेरा मारता उबाल खून रग रग तों------ पायलेट बिन जहाज सबको कुर्सी की भूख है Till anyone change Gandhi Family leaders from Oldest party-now they are virtual leaders- not actual ground leaders as don't have put efforts& achieved qualities as just by born or by learning or by face appearance,one can't become leaders like their ancestors-accept this truth

Sir Majority in India is worst than Minority,not united as earlier,divided into castism-still on,but in cities-divided into selfish gain as child-no respect to parents,if parents are Avg.,western impact is too much,no belief in RAM-Aim money/entertainment/good job without effort IndiaTv Rajat: अयोध्या ज़मीन का 2017 में circle rate 5 CR 85 lakh था अब 4 साल बाद हिसाब से 18.5 CR दिये गये।' लेकिन धरम पुरा शहादत गाँव अयोध्या के लोगो को ज़नोरा गाँव से कम मुआवजा क्यों दिया जा रहा है? Rajat तहकीकात करके बताएँगे?

गहलोत जी को बढ़प्पन दिखाते हुए पार्टी को मज़बूत बनाने के लिये अपनी ओर से पहल करनी चाहिये। इस तरह उनका सम्मान और बढ़ जायेगा और पार्टी भी टूटने से बच जाएगी। कब तक कुर्सी से अपने स्वार्थ के लिये चिपके रहेंगे। कभी तो पार्टी के लिये भी सोचिये गहलोत जी 🙏ashokgehlot दूसरों का बुरा करने वालों तुम्हारा समय आ गया है बहुत आंदोलन कर लिए अब तो हमारा पीछा छोड़ो 'लुटेरों'

ससुर से जान का खतरा है इसलिए पायलट फ्लाइ नहीं कर सकता

दिल्ली में 22 फरवरी के बाद एक दिन में सबसे कम कोरोना के नए मामलेDelhi Coronavirus Update: दिल्ली में कोरोना के नए मामले 22 फरवरी के बाद सबसे कम सामने आए. दिल्ली में सोमवार को समाप्त 24 घंटों में कोविड के 131 नए मामले सामने आए और 16 मरीजों की मौत हो गई. यह 22 फरवरी के बाद एक दिन में सबसे कम नए मामले हैं. मौतें 5 अप्रैल के बाद एक दिन में सबसे कम हुई हैं. दिल्ली में पॉजिटिविटी रेट 0.22% है जो कि 21 फरवरी के बाद सबसे कम है. 19 मार्च के बाद सबसे कम एक्टिव मामले हैं. यूपी में चुनाव होने वाले हैं न इसलिए कोविड 19 कम हो रहे है।।।

बिहार: एलजेपी में चिराग पासवान के खिलाफ बगावत, जेडीयू में शामिल हो सकते हैं पांचों सांसदबिहार की राजनीति में बड़ा नाटकीय मोड़ आ गया है. राम विलास पासवान की एलजेपी में फूट पड़ गई है. पांच सांसद चिराग पासवान से नाराज हैं और उनकी तरफ से लोकसभा स्पीकर ओम बिरला को एक चिट्ठी भी लिखी गई है. मांग की गई है कि अब उन्हें अलग मान्यता दी जाए. वे पांचों सांसद जेडीयू ज्वॉइन कर सकते हैं. Himanshu_Aajtak iChiragPaswan अब कौन सा नारा देंगे श्रीमान? Himanshu_Aajtak Father Jitna chalak the beta utna bda Gobar Ganesh h iChiragPaswan Himanshu_Aajtak इन्हें भोजपुरी सिनेमा में काम करना चाहिए, राजनीति में अभिनय ज़्यादा लंबा नहीं चलता, कट हो ही जाता है

मुंह में राम, जेब में चंदा- राम मंदिर जमीन घोटाले में पूर्व IAS का तंज़पूर्व आईएएस अधिकारी ने तंज करते हुए एक और ट्वीट किया और लिखा 'मुँह में राम, जेब में चंदा, चम्पत होगा अब ये बंदा।' उन्होंने आगे लिखा 'ट्रस्ट ने ट्रस्ट खोया, लाखों रामभक्तों का।' संज्ञान में लिया जाय और सीबीआई से जांच हो BJP4UP priyankac19 ppbajpai narendramodi myogiadityanath नेता बनने का कितना सौक पाल रखा है आपने जरा समर्पण राशि के बारे में बताना आप ने कितना दिया है सिविल सर्विस में देश को लूटा जी नही भरा तो राजनित करने आ गये लेकिन मेरे ठाकुर जी पर तो रहम करो राजनित करने के बहुत मंच मिलेंगे जब हमारे प्रधानमंत्री हजारों करोड़ खर्च करके कुर्सी खरीद सकते हैं और कहते हैं मैने तो 35 साल भीख मान्गकर कर खाया था,!

मुंबई में जोरदार बारिश के बीच पार्किंग में खड़ी कार गड्ढे में समाई, वीडियो वायरलरविवार को भारी बारिश होने की वजह से मुंबई के घाटकोपर में स्थित राम निवास सोसायटी की पार्किंग में खड़ी एक कार देखते ही देखते जमीन में समा गई।

राजस्थान: अब बसपा से कांग्रेस में आए विधायकों ने कहा- मंत्रिमंडल विस्तार हो तो 'अच्छा'राजस्थान: अब बसपा से कांग्रेस में आए विधायकों ने कहा- मंत्रिमंडल विस्तार हो तो 'अच्छा' Rajasthan BSP MLA INCIndia INCIndia राह मुस्किल तो है लेकिन क्या करे चलना भी पड़ेगा

भोपाल में हुई मानसून की पहली बारिश: राजधानी में 10 दिन पहले आया मानसून, 3 से 4 दिन में पूरे MP में पहुंच जाएगा; प्रदेश के सभी संभागों में बारिश की चेतावनीभोपाल में 10 दिन पहले मानसून पहुंच गया है। राजधानी में रविवार दोपहर बाद मानसून की पहली बारिश हुई। मौसम विभाग ने प्रदेश के सभी संभागों में बारिश का यलो अलर्ट जारी किया है। प्रदेश में दक्षिण-पश्चिम मानसून समय से पहले ही पहुंच गया है। पिछले साल राजधानी में 23 जून को मानसून आया था। | Monsoon arrived in Bhopal, Vidisha, Chhatarpur, Bhopal…. Monsoon came the day before, yellow alert of rain in the state