योगी सरकार का विस्तार: जितिन प्रसाद और छह राज्य मंत्रियों को मिली जगह - BBC Hindi

योगी सरकार का विस्तार: जितिन प्रसाद और छह राज्य मंत्रियों को मिली जगह

26-09-2021 16:05:00

योगी सरकार का विस्तार: जितिन प्रसाद और छह राज्य मंत्रियों को मिली जगह

उत्तर प्रदेश में योगी आदित्यनाथ की सरकार ने कैबिनेट में विस्तार किया है. इसी साल कांग्रेस छोड़कर बीजेपी में शामिल होने वाले जितिन प्रसाद को योगी मंत्रिमंडल में कैबिनेट मंत्री के रूप में जगह मिली है.

5:27मोदी की मौजूदगी मेें हुई क्वॉड बैठक पर चीनी मीडिया क्या कह रहा?Getty ImagesCopyright: Getty Imagesअमेरिका, जापान, भारत और ऑस्ट्रेलिया के नेताओं ने क्वॉड शिखर सम्मेलन के तहत बीते शुक्रवार को बैठक की थी. क्वॉड समूह देशों के नेताओं की यह पहली व्यक्तिगत मुलाक़ात थी.

वंदे मातरम्: 250 गोरखाओं के सामने 4000 पाक सैनिकों का सरेंडर, देखें सिलहट की शौर्यगाथा शनिवार को फिर बढ़े दाम, डेढ़ साल में पेट्रोल 36 रुपये और डीज़ल 26.58 रुपये महंगा हुआ - BBC Hindi 'शराब का सेवन नहीं, खादी धारण जरूरी' : कांग्रेस ने रखी पार्टी सदस्य बनने के लिए शर्तें

ग्लोबल टाइम्स ने इस मुलाक़ात को चीन के संदर्भ में रेखांकित किया है.ग्लोबल टाइम्स के मुताबिक़, शुक्रवार को वॉशिंगटन में क्वॉड देशों ने चीन को ‘रोकने’ के लिए आपसी संबंधों की मज़बूती के लिए बैठक की.लेकिन जानकारों का कहना है कि बैठक के दौरान अमेरिकी राष्ट्रपति जो बाइडन ने अपने अनुवाद उपकरण में ख़राबी की शिकायत की. यह उभरते हुए चीन-विरोधी गुट के भविष्य का सूचक भी था. अमेरिका की घटती क्षमता और वैश्विक परिस्थितियों में आए बदलाव के कारण चीन विरोधी यह गुट किसी भी तरह से कारगर साबित नहीं होगा.

वॉशिंगटन पोस्ट की रिपोर्ट के मुताबिक़, शुक्रवार को हुई क्वॉड देशों की इस बैठक की उद्घोषणा में मुख्य रूप से वैक्सीन, जलवायु, तकनीकी और अंतरिक्ष सहयोग सहित दूसरे अन्य मुद्दों का ज़िक्र किया गया. पत्रकारों ने चीन या बीजिंग जैसे शब्द नहीं सुने लेकिन क्वॉड ‘समूह के ज़्यादातर एजेंडे का सब-टेक्स्ट चीन’ था. headtopics.com

Getty ImagesCopyright: Getty Imagesअमेरिकी राष्ट्रपति जो बाइडन ने कहा कि क्वॉड समूह के देश मौजूदा समय में"कोविड से लेकर जलवायु की चुनौतियों और उभरती प्रौद्योगिकी से जुड़ी प्रमुख चुनौतियों का सामना करने के लिए एक मंच पर आ रहे हैं."उन्होंने बैठक की शुरुआत में कहा, “हम जानते हैं कि हमें हमारा लक्ष्य कैसे प्राप्त करना है और इसके लिए हम हर चुनौती के लिए तैयार भी हैं."

ऑस्ट्रेलिया के प्रधानमंत्री स्कॉट मॉरिसन ने बाइडन की टिप्पणी को ही दोहराते हुए कहा,"हम एक स्वतंत्र हिंद-प्रशांत क्षेत्र में विश्वास करते हैं, क्योंकि यही एक मज़बूत, स्थिर और समृद्ध क्षेत्र प्रदान कर सकता है."जापान के प्रधानमंत्री योशिहिदे सुगा ने भी इस बैठक में भाग लिया. उन्होंने कहा कि क्वॉड चार देशों की"एक अति महत्वपूर्ण" पहल है"जो समान मौलिक मूल्यों को साझा करते हैं और क़ानून के शासन के आधार पर हिंद-प्रशांत क्षेत्र में एक स्वतंत्र और खुले अंतरराष्ट्रीय व्यवस्था को साकार करने के लिए सहयोग करते हैं."

चाइना फ़ॉरेन अफ़ेयर्स यूनिवर्सिटी में इंस्टिट्यूट ऑफ़ इंटरनेशनल रिलेशन्स में प्रोफ़ेसर ली हैडोंगे ने ग्लोबल टाइम्स से कहा, हालांकि इन चारों देशों के नेताओं ने चीन को लेकर कुछ नहीं कहा और ना ही उन्होंने ज़ाहिर तौर पर चीन के साथ मौजूदा गतिरोध का ज़िक्र किया लेकिन इस शिखर सम्मेलन का एजेंडा चीन पर ही केंद्रित था. यह एक ऐसी पहल है, जिसका उद्देश्य विशेष रूप से पश्चिमी प्रशांत क्षेत्र में सहयोग के बैनर तले विवादों और टकराव को बढ़ाना है.

Getty ImagesCopyright: Getty Imagesउन्होंने कहा कि वीक्सीन की आपूर्ति पर सहयोग और महामारी से निपटने के उपायों जैसे मुद्दों की आड़ में अमेरिका समेत क्वॉड के अन्य तीन देश अपने असली उद्देश्य को छिपाना चाहते हैं. ऐसा करके वे अंतरराष्ट्रीय समर्थन हासिल करना चाहते हैं लेकिन चीन और अंतरराष्ट्रीय समुदाय ने इस तरह की निम्न-स्तरीय रणनीति देखी है. headtopics.com

यूपी में दलितों के बाद सबसे अधिक नाइंसाफी मुसलमानों के साथ हुई : असदुद्दीन ओवैसी विराट कोहली पाकिस्तान के ख़िलाफ़ मैच और कप्तानी छोड़ने पर बोले - BBC Hindi उत्तर प्रदेश चुनाव: लगातार बढ़ रहा है प्रियंका गांधी का ग्राफ, जमीनी स्तर की राजनीति का दिखने लगा है जादू

ली के मुतबिक़, अमेरिका क्वॉड के चारों सदस्यों के बीच एकजुटता और समन्वय दिखाना चाहता है क्योंकि वह चीन के साथ प्रतिस्पर्धा को बढ़ाने की कोशिश कर रहा है.ली ने कहा,"चीन और अमेरिका के बीच पहले से ही तनावपूर्ण प्रतिस्पर्धा है. ऐसे में बाइडन, चीन के साथ टकराव से बचना चाहते हैं और चीन के ख़िलाफ़ उकसावे की कार्रवाई कर रहे हैं. लेकिन तथ्य यह है कि वह नाजुक स्थिति को संभालने में असमर्थ है."

Getty ImagesCopyright: Getty Imagesअमेरिकी मीडिया के मुताबिक़, चार देशों के नेताओं के बीच हुई इस बैठक में अमेरिकी विदेश मंत्री एंटनी ब्लिंकन भी शामिल हुए.ली कहते है कि ब्लिंकन की उपस्थिति ने यह दिखा दिया है कि वह ब्लिंकन ही हैं जो क्वाड समूह को आगे बढ़ा रहे हैं.

शिन्हुआ विश्वविद्यालय में अंतरराष्ट्रीय सुरक्षा के फेलो सुन चेंगहाओ के मुताबिक़ ने ग्लोबल टाइम्स से कहा है कि चीन का बिल्कुल उल्लेख नहीं होना भी क्वॉड देशों के बीच के गतिरोध को प्रदर्शित करता है. हो सकता है कि वे सभी देश चीन के उदय को न चाहने के समान विचार वाले हों लेकिन चीन के प्रति उनकी नीतियां एक-दूसरे से अलग हो सकती हैं.

हालांकि शिखर सम्मेलन काफी सार्थक बताया गया लेकिन बैठक के दौरान जो बाइडन ने अपने एक कर्मचारी से कहा कि उनका अनुवादक उपकरण काम नहीं कर रहा है. यह बात उन्होंने माइक पर कही, जिसे अन्य नेताओं ने सुना भी.सुन के मुताबिक़, क्वाड शिखर सम्मेलन बाइडन प्रशासन का नवीनतम क़दम है लेकिन अलग-अलग सहयोगियों के साथ, अलग-अलग गठबंधनों का अच्छा असर नहीं होगा क्योंकि अमेरिका का ध्यान केंद्रित नहीं है. इसने उसके सहयोगियों के बीच असंतोष को बढ़ाया भी है. headtopics.com

क्वाड शिखर सम्मेलन से पहले ही अमेरिका ने ब्रिटेन और ऑस्ट्रेलिया के साथ ऑकस डील की घोषणा की थी. इस पर फ्रांस ने नाराज़गी जतायी और अपने राजदूतों को इन सहयोगी देशों से वापस बुला लिया था.विश्लेषकों का कहना है कि ऑकस ने क्वाड शिखर सम्मेलन पर असर तो ज़रूर डाला है क्योंकि जापान और भारत ऑकस में साझेदार नहीं है जबकि ऑस्ट्रेलिया है.

और पढो: BBC News Hindi »

दंगल: क्रूज ड्रग्स केस में आर्यन खान के बाद अनन्या पांडे?

मुंबई क्रूज ड्रग्स केस में क्या आर्यन खान के बाद अभिनेत्री अनन्या पांडे का नंबर है? ऐसा सवाल इस वजह से उठ रहे है क्योंकि नारकोटिक्स कंट्रोल ब्यूरो (एनसीबी) ने आर्यन के साथ ड्रग्स चैट को लेकर पूछताछ के लिए समन भेजा है. एनसीबी के जांच से बॉलीवुड पर आंच बढ़ती जा रही है. गुरुवार को शाहरुख खान बेटे आर्यन से मिलने ऑर्थर जेल पहुंचे. शाहरुख-आर्यन के बीच 15 मिनट तक मुलाकात हुई है. तो अब आर्यन के जमानत याचिक पर 26 अक्टूबर को हाईकोर्ट में सुनवाई होगी. आर्यन की न्यायिक हिरासत 30 अक्टूबर तक बढ़ा दी गई है. तो अनन्या पांडे से समीर वानखेड़े पूछताछ कर रहे हैं. देखें वीडियो.

Iska matlab yeh hai ki yogi sarkar khatre me hai, isi liye ye drama hua hai chunav ke time,, sahi hai lage raho जितन प्रसाद का नाम इसलिए क्योंकि वो चोटीएंटीना, एलियंस, यह रहस्य मय बना दिया गया है बीजेपी 4 साल पहले पूर्वांचल में बंद पड़ी चीनी मिल चालू करवा रही थी कितनी चली राम जाने। पिछले 4 साल में डीजल 52 से 90 पहुंच गया । बाबा जी 25 पर ही रुक गए।

वो भी पूरे 25 ₹ क्या नरेंद्र मोदी को हटाकर नितिन गडकरी को देश का प्रधानमंत्री बनाना चाहिए. चुनाव आने वाला है लगता ? start_MP_teachers_transfer_portal म.प्र.शिक्षा विभाग की भेदभाव पूर्ण ट्रांसफर नीति देश के इतिहास में पहली ऐसी नीतिहै जिसमें प्राथमिकता का आधार सिफारिशी पत्र है जिससे हजारों शिक्षक वंचित हो गये कृपया समानता से पुनः पोर्टल चालू करें narendramodi ChouhanShivraj OfficeOfKNath

यूपी में चुनाव से ठीक पहले योगी कैबिनेट विस्तार के क्या हैं मायने?उत्तर प्रदेश में आज कैबिनेट विस्तार होने की पूरी-पूरी संभावना है. कैबिनेट में 7 नए चेहरों को शामिल किया जा सकता है. माना जा रहा है कि कैबिनेट विस्तार के जरिए बीजेपी उन जातियों को साधने की कोशिश करेगी, जिसका विधानसभा चुनाव में फायदा मिल सकता है. abhishek6164 Aunty hot

UP Cabinet Expansion: योगी आदित्यनाथ मंत्रिमंडल का आज विस्तार, राज्यपाल लखनऊ पहुंची; सात मंत्री लेंगे शपथUP Cabinet Expansion एक ब्राह्मण जितिन के अलावा पांच-छह एससी-ओबीसी ही मंत्री बन रहे हैं। योगी आदित्यनाथ मंत्रिमंडल में जितिन जितिन प्रसाद को कैबिनेट मंत्री तथा जबकि छह-सात को स्वतंत्र प्रभार तथा राज्य मंत्री पद की शपथ दिलाई जाएगी।

LIVE UP Cabinet Expansion: योगी आदित्यनाथ मंत्रिमंडल विस्तार, जितिन प्रसाद ने ली कैबिनेट मंत्री की शपथUP Cabinet Expansion एक ब्राह्मण जितिन के अलावा पांच-छह एससी-ओबीसी ही मंत्री बन रहे हैं। योगी आदित्यनाथ मंत्रिमंडल में जितिन जितिन प्रसाद को कैबिनेट मंत्री तथा जबकि छह-सात को स्वतंत्र प्रभार तथा राज्य मंत्री पद की शपथ दिलाई जाएगी। myogiadityanath प्रदेश सरकार के मंत्रिमंडल में स्थान प्राप्त करने वाले सभी नवीन मंत्रियों को बहुत बहुत बधाई व हार्दिक शुभकामनाएं myogiadityanath चुनाव नजदीक आने पर पिछड़ों दलितों और ब्राह्मणों को मंत्री बनाया जा रहा है। मतदाताओं को इतना बेवकूफ न समझे!

यूपी चुनाव से पहले योगी कैबिनेट का विस्तारसोशल इंजीनियरिंग को ध्यान में रखते हुए इसी साल जून महीने में कांग्रेस छोड़ भाजपा की सदस्यता लेने वाले जितिन प्रसाद को योगी कैबिनेट में शामिल किया गया है।

बड़ी खबर: यूपी में आज शाम होगा मंत्रिमंडल विस्तार, जितिन प्रसाद सहित सात मंत्री लेंगे शपथयोगी मंत्रिमंडल विस्तार आज: जितिन प्रसाद, पलटू राम ,संजय गौड़, संगीता बिंद, दिनेश खटिक, धर्मवीर प्रजापति और छत्रपाल गंगवार बनाए जाएंगे मंत्री YogiAdityanath cabinetexpansion myogioffice BJP4UP myogioffice BJP4UP पल्टू राम 🤣🤣🤣🤣 myogioffice BJP4UP अंत है बीजेपी का झाड़ू सरकार myogioffice BJP4UP सात के सातों मामखोर सुकुल होय. तिर्फला लोग आँखे खोल के देख लेव. atulbasti0 ParasuramSena SawarnArmychief

आज UP सरकार में बड़ा फेरबदल: विधानसभा चुनाव से पहले योगी कैबिनेट का विस्तार, शाम साढ़े 5 बजे 7 मंत्री लेंगे शपथ; एक ब्राह्मण चेहरा बाकी 6 पिछड़े और दलित​​​​​​​उत्तर प्रदेश की सियासत से जुड़ी बड़ी खबर है। आज शाम साढ़े 5 बजे योगी सरकार की कैबिनेट का विस्तार होगा। सात नए मंत्रियों की शपथ लेने की संभावना है। हालांकि संख्या बढ़ भी सकती है। राज्यपाल आनंदीबेन पटेल दोपहर 12:45 बजे गुजरात से लखनऊ राजभवन पहुंचीं। इसके बाद दोपहर 2 बजे एक हाईलेवल मीटिंग हुई, इसके बाद कैबिनेट विस्तार की अधिकारिक घोषणा कर दी गई। | Uttar Pradesh Yogi Adityanath Cabinet Latest Updates। Uttar Pradesh Government Cabinet 6 to 7 Ministers Will Take Oath Lucknow:योगी सरकार का आज शाम हो सकता है कैबिनेट विस्तार, 6 से 7 मंत्री लेंगे शपथ CMOfficeUP myogiadityanath Election ate hi palat di baji CMOfficeUP myogiadityanath National Politics se sidha state level ki politics par aa gaye Jitin Prasad. Promoting hai ya demotion?🤔 CMOfficeUP myogiadityanath 🤭🤭💤✍चार-पांच महीने मात्र विधानसभा चुनाव यूपी के रह गए हैं तो माननीय योगी सरकार एकाद ब्राह्मणों को कैबिनेट में शामिल करके टाफी देना चाहती है उनके हाथों में और ब्राह्मणों को यह दिखाना चाहती हमारे कैबिनेट में ब्राह्मण भी काफी संख्या में है-🤭🤭💤✍