Meerut, Uttarpradesh, Coronapandemic, Meerut-City-Jagran-Special, Fight Against Coronavirus, Coronavirus Recovery Cases Of Meerut, 81 Year Old Suman Won Fight Against Corona, Newborn Baby Won Fight Against Coronavirus, Up Commonmanıssue, Hpcommonmanıssue, Meerut News, Uttar Pradesh News

Meerut, Uttarpradesh

मेरठ : आक्सीजन 56 होने के बाद भी कोरोना को किया पस्‍त, 81 वर्ष की सुमन के साथ नवजात ने भी जीती जंग

आक्सीजन 56 होने के बाद भी कोरोना को किया पस्‍त, 81 वर्ष की सुमन के साथ नवजात ने भी जीती जंग #Meerut #UttarPradesh #CoronaPandemic

15-05-2021 14:30:00

आक्सीजन 56 होने के बाद भी कोरोना को किया पस्‍त, 81 वर्ष की सुमन के साथ नवजात ने भी जीती जंग Meerut UttarPradesh CoronaPandemic

युवावस्था में जहां लोग कोरोना के शिकार बन रहे हैं वहीं 81 साल की सुमन ने कोरोना के साथ ही साइटोकाइन स्टार्म को भी शिकस्त दे दी। वहीं एक डेढ़ साल के नवजात ने भी कोरोना से जंग जी‍ती है।

महामारी में चारों तरफ निराशा और भय के बीच हौसला बढ़ाने वाले भी प्रसंग हैं। युवावस्था में जहां लोग कोरोना के शिकार बन रहे हैं, वहीं 81 साल की सुमन जैन ने कोरोना के साथ ही साइटोकाइन स्टार्म को भी शिकस्त दे दी। 27 अप्रैल को संक्रमित हुईं सुमन की तबीयत छह मई को अचानक बिगड़ गई थी। शुगर की बीमारी से जूझ रहीं सुमन के बेटे व छाती रोग विशेषज्ञ डा.आयुष जैन एवं फिजिशयन डा.संदीप जैन ने घर पर ही इलाज करना शुरू किया।

सिद्धू पर 'देशद्रोह' के आरोप, बीजेपी ने पूछा- सोनिया, राहुल और प्रियंका चुप क्यों हैं? - BBC Hindi गुजरात: कोई 10वीं पास तो कोई सिर्फ़ चौथी, भूपेंद्र पटेल के नए मंत्रियों की शिक्षा पर चर्चा - BBC News हिंदी उत्तराखंड में केजरीवाल का बड़ा चुनावी वादा : 6 महीने में 1 लाख जॉब्स, नौकरी न मिलने तक 5000 रुपये भत्ता

तबीयत में थोड़ा सुधार हुआ, लेकिन छह मई को साइटोकाइन स्टार्म का अटैक आया और आक्सीजन का स्तर गिरकर 56 तक पहुंच गया। सुमन ने हौसला नहीं खोया। उन्हें न्यूटिमा अस्पताल में भर्ती कराया गया। डा. संदीप जैन ने बताया कि डा. विश्वजीत बेंबी एवं डा. संदीप गर्ग के प्रयास एवं कुशल नìसग स्टाफ के सहयोग से ठीक हो गईं। 14 मई को उन्हें डिस्चार्ज कर दिया गया। डा. बेंबी ने बताया कि मरीज का आत्मबल बीमारी को शिकस्त देने में अहम साबित होता है। डाक्टरों ने बताया कि कोरोना मरीजों के इलाज में टाइमिंग का बेहद महत्व है।

यह भी पढ़ेंडेढ़ माह के नवजात ने जीती कोरोना से जंगएक नवजात ने कोरोना को शिकस्त देकर मानों दूसरा जन्म पा लिया हो। हापुड़ में एक अप्रैल को पैदा हुए शिशु को गंभीर कोरोना हो गया था। सांस में दिक्कत समेत कई अन्य जटिलताओं की वजह से शिशु को वेंटीलेटर पर लेना पड़ा, लेकिन जिंदगी जीत गई। बाल रोग विशेषज्ञ डा. अमित उपाध्याय ने बताया कि शिशु को हापुड़ में संक्रमण लगा। उसका नोएडा में इलाज चला। फिर 27 अप्रैल को माता-पिता लेकर न्यूटिमा पहुंचे, जहां उसे भर्ती किया गया। डाक्टर ने बताया कि शिशु प्रीमेच्योर पैदा हुआ था, ऐसे में प्रतिरोधक क्षमता और कम हो जाती है। बच्चा जब भर्ती हुआ तो उसकी उम्र 26 दिन थी। headtopics.com

यह भी पढ़ें और पढो: Dainik jagran »

प्रधानमंत्री से लेकर रक्षा मंत्री तक...देखें तालिबान की सरकार में कौन-कौन शामिल

तालिबान ने अंतरिम सरकार की घोषणा कर दी है. इस अंतरिम सरकार में प्रधानमंत्री यानी सरकार के प्रमुख की भूमिका में मुल्ला हसन अखुंद होंगे. मुल्ला हसन अखुंद तालिबान की रहबरी शूरा यानी लीडरशिप काउंसिल का चीफ है और तालिबान प्रमुख मुल्ला हिब्तुल्लाह अखुंदजादा के बेहद करीबियों में शामिल हैं. मुल्ला बरादर को तालिबान सरकार में डिप्टी पीएम बनाया गया है. डिप्टी पीएम की भूमिका में मुल्ला हन्नाफी की भी भूमिका रहेगी. इसके अलावा मुल्ला याकूब तालिबान सरकार में रक्षा मंत्री होगा और सिराजुद्दीन हक्कानी तालिबान सरकार में आंतरिक मामलों का मंत्री होगा. शेर मोहम्मद अब्बास स्तनकजई तालिबान सरकार में उपविदेश मंत्री होगा. खैरुल्लाह खैरख्वा तालिबान सरकार में सूचना मंत्री होगा. जबकि तालिबान प्रवक्ता जैबुल्लाह मुजाहिद को उप सूचना मंत्री की जिम्मेदारी मिल रही है. अब्दुल हकीम को तालिबान सरकार का न्याय मंत्री बनाया गया है. ज्यादा जानकारी के लिए देखें खबरदार.

Will power is really important.