Mukulroy, Tmc, Mamatabanerjeespeech, India News, Nationalındia News İn Hindi

Mukulroy, Tmc

मुकुल रॉय की घर वापसी : ममता बनर्जी के लिए केंद्रीय राजनीति में भूमिका तलाशेंगे 'दादा'

भाजपा जितिन प्रसाद के पार्टी में आने की खुशी ठीक से मना भी नहीं पाई थी कि उसे पश्चिम बंगाल में जोर का झटका लग गया।

11-06-2021 14:31:00

मुकुल रॉय की घर वापसी : ममता बनर्जी के लिए केंद्रीय राजनीति में भूमिका तलाशेंगे 'दादा' BJP MukulRoy TMC mamatabanerjeespeech

भाजपा जितिन प्रसाद के पार्टी में आने की खुशी ठीक से मना भी नहीं पाई थी कि उसे पश्चिम बंगाल में जोर का झटका लग गया।

दरअसल, मुकुल रॉय और ममता बनर्जी का साथ बहुत पुराना है। वे उन चंद नेताओं में शामिल हैं जिन्होंने 1998 में ममता बनर्जी के साथ कांग्रेस का साथ छोड़ा था। उस समय ममता बनर्जी खेमे की मांग थी कि कांग्रेस नेतृत्व ममता बनर्जी को पश्चिम बंगाल में पार्टी का नेता बनाये और उनके नेतृत्व में चुनाव में जाए। कांग्रेस के तत्कालीन नेतृत्व द्वारा इस मांग को अस्वीकार कर दिए जाने के बाद इन नेताओं ने कांग्रेस का साथ छोड़ अपना अलग झंडा बुलंद कर लिया। इतिहास साक्षी है कि उसके बाद ममता बनर्जी पश्चिम बंगाल की एकछत्र नेता बनकर उभरीं और अब तक तीन बार मुख्यमंत्री पद की शपथ ले चुकी हैं।

नरेंद्र गिरि की संदिग्ध मौत, एक उलझी पहेली... - BBC News हिंदी पंजाब: CM की कुर्सी संभालते ही चन्नी ने दिया सरकारी कर्मचारियों को तोहफा, वेतन में 15 % की बढ़ोतरी राष्ट्रीय महिला आयोग ने सोनिया गांधी से की अपील, महिला सुरक्षा के लिए खतरा हैं पंजाब के मुख्यमंत्री, उन्हें पद से हटाया जाए

जानकार मानते हैं कि मुकुल रॉय अकेले ही ममता बनर्जी के खेमे में वापस नहीं आए हैं। जब वे तृणमूल कांग्रेस का साथ छोड़ भाजपा में गए थे, तब उन्होंने तृणमूल कांग्रेस के सैकड़ों नेताओं को भाजपा से जोड़ा था। ये नेता बहुत गहराई से उनके साथ जुड़े हुए हैं। अब जब मुकुल रॉय ने स्वयं घर वापसी कर ली है, माना जा रहा है कि ये सभी नेता एक बार फिर ममता बनर्जी के खेमे में वापसी करेंगे।

यह भाजपा के लिए बड़ा झटका होगा। क्योंकि जिस समय पार्टी उत्तर प्रदेश में अपना मिशन आगे बढ़ा रही होगी, और अपनी पुरानी रणनीति के अनुसार कभी कांग्रेस तो कभी किसी अन्य दल के नेताओं को अपने साथ जोड़कर जनता के बीच सर्वस्वीकार्य पार्टी की छवि गढ़ने की कोशिश कर रही होगी, ठीक उसी समय बीच-बीच में पश्चिम बंगाल भाजपा के नेता उसका घर छोड़-छोड़कर ममता बनर्जी के खेमे में जा रहे होंगे। अगर ममता बनर्जी इसे सही से इस्तेमाल कर पाईं तो यह भाजपा नेतृत्व के लिए बड़ी असहज करने वाली स्थिति होगी। headtopics.com

मुकुल रॉय ममता बनर्जी के उतने ही खास थे जितना कि कभी सुवेंदु अधिकारी हुआ करते थे। लोगों के जेहन में अभी भी वह तस्वीर धुंधली नहीं पड़ी है जब यूपीए सरकार में दिनेश त्रिवेदी से नाराज ममता बनर्जी ने उनसे रेल मंत्री के पद से इस्तीफा दिलवा दिया था, और उनकी जगह मुकुल रॉय को रेल मंत्री बनवा दिया था। शायद भारत के इतिहास में यह पहली घटना रही होगी जहां रेल मंत्रालय का बजट किसी एक मंत्री (दिनेश त्रिवेदी) ने पेश किया था, तो उसे पास दूसरे रेल मंत्री मुकुल रॉय ने कराया था।

विस्तार पार्टी के उपाध्यक्ष मुकुल रॉय ने शुक्रवार को भाजपा का दामन छोड़ घर वापसी करते हुए ममता बनर्जी का दामन थाम लिया जो भाजपा में आने से पहले उनका ठिकाना था। इससे जहां भाजपा की दूसरे दलों से नेताओं को इम्पोर्ट करने वाली रणनीति पर सवाल खड़ा हो गया है, वहीं खबर है कि तृणमूल कांग्रेस मुकुल रॉय को राज्यसभा भेजेगी। वे यहां दिल्ली की राजनीति में सक्रिय रहकर ममता बनर्जी की केन्द्रीय राजनीति में भूमिका की जमीन तैयार करेंगे।

विज्ञापनदरअसल, मुकुल रॉय और ममता बनर्जी का साथ बहुत पुराना है। वे उन चंद नेताओं में शामिल हैं जिन्होंने 1998 में ममता बनर्जी के साथ कांग्रेस का साथ छोड़ा था। उस समय ममता बनर्जी खेमे की मांग थी कि कांग्रेस नेतृत्व ममता बनर्जी को पश्चिम बंगाल में पार्टी का नेता बनाये और उनके नेतृत्व में चुनाव में जाए। कांग्रेस के तत्कालीन नेतृत्व द्वारा इस मांग को अस्वीकार कर दिए जाने के बाद इन नेताओं ने कांग्रेस का साथ छोड़ अपना अलग झंडा बुलंद कर लिया। इतिहास साक्षी है कि उसके बाद ममता बनर्जी पश्चिम बंगाल की एकछत्र नेता बनकर उभरीं और अब तक तीन बार मुख्यमंत्री पद की शपथ ले चुकी हैं।

जानकार मानते हैं कि मुकुल रॉय अकेले ही ममता बनर्जी के खेमे में वापस नहीं आए हैं। जब वे तृणमूल कांग्रेस का साथ छोड़ भाजपा में गए थे, तब उन्होंने तृणमूल कांग्रेस के सैकड़ों नेताओं को भाजपा से जोड़ा था। ये नेता बहुत गहराई से उनके साथ जुड़े हुए हैं। अब जब मुकुल रॉय ने स्वयं घर वापसी कर ली है, माना जा रहा है कि ये सभी नेता एक बार फिर ममता बनर्जी के खेमे में वापसी करेंगे। headtopics.com

ब्रिटेन सरकार के इस नियम पर भारत में गहरी नाराज़गी, क्या है मामला? - BBC Hindi PM Modi: महंत नरेंद्र गिरि का देहावसान अत्यंत दुखद, संत समाज को जोड़ने में बड़ी भूमिका निभाई थी Mahant Narendra Giri की रहस्यमयी मौत- सुसाइड या मर्डर? देखें दस्तक

यह भाजपा के लिए बड़ा झटका होगा। क्योंकि जिस समय पार्टी उत्तर प्रदेश में अपना मिशन आगे बढ़ा रही होगी, और अपनी पुरानी रणनीति के अनुसार कभी कांग्रेस तो कभी किसी अन्य दल के नेताओं को अपने साथ जोड़कर जनता के बीच सर्वस्वीकार्य पार्टी की छवि गढ़ने की कोशिश कर रही होगी, ठीक उसी समय बीच-बीच में पश्चिम बंगाल भाजपा के नेता उसका घर छोड़-छोड़कर ममता बनर्जी के खेमे में जा रहे होंगे। अगर ममता बनर्जी इसे सही से इस्तेमाल कर पाईं तो यह भाजपा नेतृत्व के लिए बड़ी असहज करने वाली स्थिति होगी।

ममता बनर्जी के खासमुकुल रॉय ममता बनर्जी के उतने ही खास थे जितना कि कभी सुवेंदु अधिकारी हुआ करते थे। लोगों के जेहन में अभी भी वह तस्वीर धुंधली नहीं पड़ी है जब यूपीए सरकार में दिनेश त्रिवेदी से नाराज ममता बनर्जी ने उनसे रेल मंत्री के पद से इस्तीफा दिलवा दिया था, और उनकी जगह मुकुल रॉय को रेल मंत्री बनवा दिया था। शायद भारत के इतिहास में यह पहली घटना रही होगी जहां रेल मंत्रालय का बजट किसी एक मंत्री (दिनेश त्रिवेदी) ने पेश किया था, तो उसे पास दूसरे रेल मंत्री मुकुल रॉय ने कराया था।

विज्ञापनममता बनर्जी के खासविज्ञापनआपकी राय हमारे लिए महत्वपूर्ण है। खबरों को बेहतर बनाने में हमारी मदद करें।खबर में दी गई जानकारी और सूचना से आप संतुष्ट हैं?हांखबर की भाषा और शीर्षक से आप संतुष्ट हैं?हांखबर के प्रस्तुतिकरण से आप संतुष्ट हैं?हांखबर में और अधिक सुधार की आवश्यकता है?

और पढो: Amar Ujala »

Delhi में बड़े Terror Module का पर्दाफाश, जांच एजेंसियों ने 6 को दबोचा, देखें स्पेशल रिपोर्ट

दिल्ली में पाकिस्तान की बड़ी साजिश का खुलासा करते हुए एजेंसी ने 6 लोगों को गिरफ्तार किया है. जानकारी के मुताबिक इस पाकिस्तानी आतंकी मॉड्यूल के लिए काम करने वाले 6 लोगों में से दो ने पाकिस्तान में ट्रेनिंग हासिल की थी. जांच एजेंसियों ने पाकिस्तान द्वारा पोषित एक आतंकी मॉड्यूल का भंडाफोड़ किया है. इस मामले में जांच एजेंसियों ने 6 लोगों को गिरफ़्तार किया है. पकड़े गए संदिग्ध भारत में इस आतंकी मॉड्यूल को ऑपरेट कर रहे थे. इन सभी से लगातार पूछताछ की जा रही है. एजेंसी का दावा है कि पकड़े गए इन संदिग्ध आतंकियों के पास से बड़ी मात्रा में हथियार और विस्फोटक बरामद हुए हैं. देखिए स्पेशल रिपोर्ट का ये एपिसोड.

BJP ko ese neta mile Bangal mae jinke ander dam nahi tha. Aur Lalach bharpur tha. Ab is neta ko BJP central se bhi jaati dikh rahi hai. Bas maar di girgit baali palti. Nahi vapas jata to TMC iske pure kaarobaar ko khela kar deti. KhelaSuru भाइयो नेताओ की कोई विचार धारा नहीं होती ये लोग कब किस समय किसपार्टी से जाये या फिर से बापस आ जाए कुछ पता नहीं चलता,पब्लिक को पागल बना ये लोग वोट हासिल कर लेते हे,दलबदलू का भी एक कानून बनाए जाने की सख्त जरूरत हे की जो नेता पार्टी छोड़ कर आए बो 10 साल से पहले किसी और पार्टी मे नहीं

राजनीति का घमासान: मैनपुरी में मुलायम की भतीजी ने पुनर्मतगणना के लिए दायर की याचिकाराजनीति का घमासान: मैनपुरी में मुलायम की भतीजी ने पुनर्मतगणना के लिए दायर की याचिका UttarPradesh Mainpuri MulayamSinghYadav PanchayatChunav

vivo की 20 हजार की सेगमेंट में नई एंट्री, vivo Y73 स्मार्टफोन भारत में हुआ लॉन्चभारतीय बाजार में vivo Y73 की कीमत 20,990 रुपये रखी गई है। इस कीमत में आपको 8 जीबी रैम के साथ 128 जीबी की स्टोरेज मिलेगी। फोन को डायमंड

ब्रिटिश पुलिस के पास पहुंचे मेहुल के वकील, किडनैपिंग की जांच करने की गुहारचोकसी की बचावपक्ष की टीम में शामिल पोलाक ने वीडियो कांफ्रेंसिंग के जरिए मीडिया से बातचीत में कहा कि मेट्रोपॉलिटन पुलिस के पास यातना, युद्ध अपराध और नरसंहार की जांच के लिए एक इकाई है।

अमेरिका : फ्लोरिडा की सुपरमार्केट में बंदूकधारी ने दो की हत्या कर की खुदकुशीअमेरिका में फ्लोरिडा की एक सुपरमार्केट में बृहस्पतिवार को हुई गोलीबारी में तीन लोगों की मौत हो गई। मरने वालों में बंदूकधारी

उभरते मॉडल-बॉक्सर की हत्या, की थी छेड़छाड़ मामले में बीच-बचाव की कोश‍िशहरियाणा के रोहतक में उभरते मॉडल, एक्टर और बॉक्सर कामेश की निर्मम हत्या कर दी गई. कामेश की हत्या चाकु से गोद कर की गई. कामेश ने नाबालिग से छेड़छाड़ के मामले में दखल दिया था. जिसका खामियाजा बॉक्सर को जान गंवा कर देनी पड़ी. वारदात पास में लगे हुए सीसीटीवी कैमरे में भी कैद हो गया. पुलिस ने इस मामले में दो आरोपियों को गिरफ्तार भी कर लिया है. देखें वीडियो.

तृणमूल कांग्रेस के ऑफिस रवाना हुए मुकुल रॉय, पार्टी में कर सकते हैं वापसीइन चर्चाओं को उस समय और बल मिला जब ममता बनर्जी के भतीजे और TMC के प्रमुख नेता अभिषेक बनर्जी, मुकुल राय से मिलने उस अस्‍पताल पहुंचे थे, जहां उनकी (रॉय की) पत्‍नी भर्ती हैं. बताया जाता है कि इसके अगले ही दिन पीएम नरेंद्र मोदी ने मुकुल रॉय को फोन करके उनकी पत्‍नी के स्‍वास्‍थ्‍य के बारे में जानकारी ली थी. भगदड़ का शुभारंभ 🤗 जहाँ कुर्सी, वहीं नेता। Bjp की वाशिंग मशीन में में अछि तरह नही धुला ये नेता अब फिर देशद्रोही और बेईमान हो जायेगा।same bjp