Earthquake, Google, Earthquake, Google Earthquake, Google Earthquake Alert, Earthquake Alert, Technology News İn Hindi, Mobile Apps News İn Hindi, Mobile Apps Hindi News

Earthquake, Google

भूकंप के बारे में जानकारी देगा गूगल, जल्द ही इन देशों के लिए जारी होगा अपडेट

भूकंप के बारे में जानकारी देगा गूगल, जल्द ही इन देशों के लिए जारी होगा अपडेट #earthquake

03-05-2021 09:39:00

भूकंप के बारे में जानकारी देगा गूगल, जल्द ही इन देशों के लिए जारी होगा अपडेट earthquake

गूगल ने अब मोर्चा संभाल लिया है। गूगल ने कहा है कि वह भूकंप के अलर्ट का फीचर जल्द ही कुछ और देशों में जारी करेगा।

Google ने पहली बार अगस्त 2020 में एंड्रॉयड यूजर्स के लिए जारी किया था। Verge though की एक रिपोर्ट में कहा गया है कि गूगल का भूकंप अलर्ट फीचर उनके लिए उतना प्रभावी नहीं है जो भूकंप के काफी करीब होते हैं।दूर के लोगों को भूकंप के बारे में सटीक और पहले जानकारी मिलती है। अमेरिका के वॉशिंगटन के यूजर्स को पिछले साल मई में आए भूकंप के बारे में अलर्ट गूगल के जरिए मिला था। गूगल ने अभी तक इस बात की जानकारी नहीं दी है कि भारत और अन्य देशों के लिए भूकंप अलर्ट का फीचर कब जारी किया जाएगा।

राम मंदिर: 'सच छुपाने को हज़ार झूठ मत बोलिए चंपत राय जी'- संजय सिंह - BBC News हिंदी पेट्रोल-डीजल में लगी 'आग' से अब NDA में शुरू हुआ मतभेद, JDU ने कहा- कीमतें अब चुभने लगी हैं धारावी ने किया कमाल, 24 घंटों में कोरोना का एक भी नया मामला नहीं, केवल 13 एक्टिव केस बचे

विस्तारपिछले सप्ताह ही आसाम में लगातार आए भूकंप से लोग डरे सहमे हुए हैं। आज टेक्नोलॉजी काफी विकसित हो गई है लेकिन भूकंप में बारे में अभी भी सटीक जानकारी बहुत ही कम मिल पाती है, हालांकि टेक्नोलॉजी की दिग्गज कंपनी विज्ञापनगूगल का भूकंप अलर्ट अपने एंड्रॉयड यूजर्स को देगा, आईओएस के लिए इसका अपडेट कब तक आएगा, इस बारे में फिलहाल कोई जानकारी नहीं है। गूगल का भूकंप अलर्ट पहले से अमेरिका के कुछ इलाकों के लिए था, लेकिन अब इसे ग्रीस और न्यूजीलैंड के लिए भी जारी कर दिया गया है। एंड्रॉयड यूजर्स के पास भूकंप के अलर्ट को ऑफ और ऑन करने का भी विकल्प होगा।

Google ने पहली बार अगस्त 2020 में एंड्रॉयड यूजर्स के लिए जारी किया था। Verge though की एक रिपोर्ट में कहा गया है कि गूगल का भूकंप अलर्ट फीचर उनके लिए उतना प्रभावी नहीं है जो भूकंप के काफी करीब होते हैं।दूर के लोगों को भूकंप के बारे में सटीक और पहले जानकारी मिलती है। अमेरिका के वॉशिंगटन के यूजर्स को पिछले साल मई में आए भूकंप के बारे में अलर्ट गूगल के जरिए मिला था। गूगल ने अभी तक इस बात की जानकारी नहीं दी है कि भारत और अन्य देशों के लिए भूकंप अलर्ट का फीचर कब जारी किया जाएगा। headtopics.com

आपकी राय हमारे लिए महत्वपूर्ण है। खबरों को बेहतर बनाने में हमारी मदद करें।खबर में दी गई जानकारी और सूचना से आप संतुष्ट हैं?हांखबर की भाषा और शीर्षक से आप संतुष्ट हैं?हांखबर के प्रस्तुतिकरण से आप संतुष्ट हैं?हांखबर में और अधिक सुधार की आवश्यकता है? और पढो: Amar Ujala »

खबरदार: सुस्त टीकाकरण को जून में मिलेगी रफ्तार! केंद्र सरकार ने बनाया प्लान

वैक्सीन के लिए अप्रैल और मई में जो मारामारी रही है, उसमें जून से कुछ राहत ज़रूर मिलनी चाहिए. क्योंकि सरकार ने वैक्सीन पर बड़ा दावा किया है कि जून में वैक्सीनेशन के लिए करीब 12 करोड़ डोज़ उपलब्ध होंगी. ये मई के आंकड़े से करीब 4 करोड़ एक्सट्रा डोज़ हैं. मई में 8 करोड़ डोज़ उपलब्ध कराई गई थीं. अप्रैल के पहले हफ्ते में जहां औसतन 34 लाख टीके प्रति दिन लग रहे थे। वहीं मई के पहले हफ्ते में ये आंकड़ा गिर कर 18 लाख टीके प्रति दिन तक पहुंच गया था. जून में केंद्र सरकार वैक्सीन की करीब 6 करोड़ 90 हज़ार डोज़ राज्यों को देगी जो हेल्थ केयर वर्कर, फ्रंटलाइन वर्कर और 45 प्लस आबादी के लिए होंगी. देखें वीडियो.

Earthquake in Assam: असम के मोरेगांव में भूकंप के झटके, 2.8 रिक्टर स्केल पर हिली धरतीगुवाहाटी न्यूज़: असम के मोरिगांव में 6 बजकर 13 मिनट पर भूकंप गया। रिक्टर स्केल पर भूकंप की तीव्रता 2.8 मापी गई है। भूकंप आने के बाद लोग अपने घरों से बाहर निकल गए। कई लोग अपने घरों में सो रहे थे और उन्हें भूकंप के झटकों का एहसास नहीं हुआ।

Madhya Pradesh में Bhopal के निकट रिक्टर पैमाने पर 4.3 तीव्रता वाले भूकंप के झटकेनेशनल सेंटर फॉर सिस्मोलॉजी के मुताबिक, शनिवार दोपहर Bhopal में Madhya Pradesh के निकट रिक्टर पैमाने पर 4.3 तीव्रता वाले भूकंप के झटके महसूस किए गए. How? India isn't on any tectonic plate. MP isn't near Himalaya that we could attribute it to collision of India and Asia. EXPERTS .... please educate me on why this earthquake has occurred. Rahul Gandhi ne koi logical baat ki hogi...

बिहार के बक्सर के बाद अब यूपी के गाजीपुर में नदी में तैरते दिखे शवबिहार के बक्सर के बाद अब उत्तर प्रदेश के गाजीपुर में गंगा के किनारे शव नजर आए. मंगलवार को गाजीपुर के गंगा तट पर कुछ शव दिखाए दिए. गाजीपुर और बक्सर के बीच करीब 55 किलोमीटर की दूरी है. बक्सर में सोमवार को करीब 100 शव पानी में तैरते हुए दिखाई दिए थे. इन लाशों को देखने के बाद बिहार के अधिकारियों ने तर्क दिया था कि यह उत्तर प्रदेश से आई हैं. अधिकारियों के अनुसार बिहार में शवों को पानी में डालने की परंपरा नहीं है. देश के हालात खराब कर दिए मोदी सरकार ने bycotmodgoverment मैली होती गंगा, रोती हुई जनता, मौत के सौदागर और तमाशेबाज प्रधान लाशों पर महल बनाने में व्यस्त! गंगा_मे_बहतीं_लाशें मोदी_है_तो_मातम_है मोदीजी_इस्तीफा_दो

RSS के संगठन ने कोविड वैक्सीन और दवाओं के बारे में सरकार से की यह मांगस्वदेशी जागरण मंच (SJM) ने केंद्र सरकार से मांग की है कि कोविड-19 के वैक्सीन और दवाओं को पेटेंट मुक्त किया जाए, ताकि कोई भी मैन्युफैक्चरर इसे बना सके और कोविशील्ड और कोवैक्सीन जैसे टीकों के उत्पादन को बढ़ावा दिया जा सके.

मुंबई में 24 घंटे में कोरोना के 3672 नए मामले, 45+ के वैक्सीनेशन पर संकटसिर्फ पांच वैक्सीनेशन सेंटर आज से खोले गए हैं जिसपर 18 से अधिक उम्र के लोगों के लिए वैक्सीनेशन शुरू किया गया है. यहां पर उन्हीं लोगों को वैक्सीन दिया जा रहा है जिन्होंने रजिस्ट्रेशन करवाया है और उन्हें मैसेज मिला है.