Citizenshipamendmentbill, Amitshah, Congress, India, Politics, नागरिकतासंशोधनविधेयक, अमितशाह, कांग्रेस, राजनीति

Citizenshipamendmentbill, Amitshah

धर्म के आधार पर देश विभाजन के कारण नागरिकता क़ानून में संशोधन की ज़रूरत पड़ी: अमित शाह

लोकसभा में नागरिकता विधेयक पेश करते हुए गृह मंत्री अमित शाह ने कहा कि कांग्रेस ने धर्म के आधार पर देश का विभाजन किया. अगर धर्म के आधार पर देश का विभाजन नहीं किया जाता तब इस विधेयक की ज़रूरत नहीं पड़ती.

9.12.2019

धर्म के आधार पर देश विभाजन के कारण नागरिकता क़ानून में संशोधन की ज़रूरत पड़ी: अमित शाह CitizenshipAmendmentBill AmitShah Congress India Politics नागरिकतासंशोधनविधेयक अमितशाह कांग्रेस राजनीति भारत

लोकसभा में नागरिकता विधेयक पेश करते हुए गृह मंत्री अमित शाह ने कहा कि कांग्रेस ने धर्म के आधार पर देश का विभाजन किया. अगर धर्म के आधार पर देश का विभाजन नहीं किया जाता तब इस विधेयक की ज़रूरत नहीं पड़ती.

लोकसभा में नागरिकता विधेयक पेश करते हुए शाह ने कहा, ‘कांग्रेस ने धर्म के आधार पर देश का विभाजन किया. अगर धर्म के आधार पर देश का विभाजन नहीं किया जाता तब इस विधेयक की जरूरत नहीं पड़ती.’

विपक्षी सदस्यों ने हालांकि इसका विरोध करते हुए कहा कि पहली बार देश को मुस्लिम और गैर मुस्लिम में बांटने का प्रयास किया जा रहा है.

शाह ने कहा कि आजादी के बाद बंटवारे के कारण लोगों का एक दूसरे के यहां आना जाना हुआ. इस समय ही नेहरू लियाकत समझौता हुआ जिसमें एक दूसरे के यहां अल्पसंख्यकों को सुरक्षा की गारंटी देने की प्रतिबद्धता व्यक्त की गई थी.

लोकसभा में विपक्षी सदस्यों ने विधेयक पेश करने का भारी विरोध किया. विधेयक को पेश किये जाने के लिए विपक्ष की मांग पर मतदान करवाया गया और सदन ने 82 के मुकाबले 293 मतों से इस विधेयक को पेश करने की स्वीकृति दे दी.

और पढो: द वायर हिंदी

इब्तिदाए इश्क़ है रोता है क्या। आगे आगे देखिए होता है क्या।। जाति व वणॅ के आधार पे विभाजन करने वाले और छुआछूत ऊंच नीच को जन्म देने वाले। पिछले पांच हजार वषोॅ से देश की समस्या बने 'ब्रहम्मण' का क्या समाधान है? narendramodi rajnathsingh AmitShah RahulGandhi yadavakhilesh Mayawati Dr_Uditraj Profdilipmandal PJkanojia asadowaisi

सरकारी व कॉरपोरेट दबावों से मुक्त, जनतांत्रिक मूल्यों को आगे ले जाने और जनता से जुड़े उपेक्षित मुद्दों को मुख्यधारा में लाने के लिए प्रतिबद्ध पत्रकारिता संस्थान कांग्रेस से तो पैसे लेते ह न? दो नेशन, मतलब एक हिन्दू के लिए और एक मुसलमान के लिए, लेकिन दोनों देशो में क्रमश हिन्दू मुसलमान गए, भारत में मुसलमान हिन्दुओं के भाई बन कर रहे, लेकिन पाकिस्तान में हिन्दू मार दिए गए, प्रताड़ित किये गए, अब बताओ वो हिन्दू कहाँ जाये, उनके लिए दुनिया में एक ही देश बचा, वो हिंदुस्तान

देश पहले से जनसंख्या के दबाव में है और आर्थिक हालात बदतर हैं अपने नागरिकों के लिये रोजगार तक नहीं ऐसे में दानवीर शहनशाह विदेशियों के स्वागत की तैयारी कर रहे हैं... देश के युवाओं का हक छीनकर विदेशियों को देना न्याय होंगा या अन्याय... सरकार को ये भी बताना चाहिये कि यदि मुस्लिम शरणार्थी (अमित शाह के अनुसार घुसपैठिया) अपना धर्म बदल लेता है तब क्या होगा। कोई भी शरणार्थी पहले इन्सान होता है बाद में किसी धर्म को मानने वाला। इंसानों को धर्म के आधार पर विभाजित करना ग़लत (अधर्म) है। अमित शाह अधर्म कर रहे हैं।

कितनी झूठा है हमारे गृह मंत्री धर्म के आधार पर जिन्ना ने जो पाकिस्तान के मांग की उस समय गोलगावकर श्यामा प्रसाद मुखर्जी यह सब धर्म के आधार पर देश बांटने का हिमायती की थी वह तो नेहरु की पटेल की आजाद की देन है हम लोगों का सारे धर्मों का समन्वय एक भारत मिला C

LIVE: शाह का हमला- कांग्रेस ने धर्म के आधार पर किया देश का विभाजनCitizenshipAmendmentBill केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह ने सदन में पेश किया बिल, कांग्रेस समेत कई विपक्षी पार्टियां कर रही हैं विरोध More than 2 rapes occur every day in Guj, with Ahmedabad city being the police jurisdiction accounting for the most rape cases, 621 in the last five years. From April 1, 2013 to March 31, 2018, a total of 4,358 cases of rape were reported in the state अबकी बार 20 सीट मिलेगा कांग्रेस को, लक्षण ठीक नहीं हुआ अब तक CommunalAmendmentBill

अमित शाह ने कहा, कांग्रेस ने धर्म के आधार पर किया देश का विभाजननागरिकता संशोधन विधेयक को लेकर संसद में हंगामा, अमित शाह ने कांग्रेस को घेरा. Dear PMOIndia HMOIndia The sad story & facts of India's religious Partition be brought to the parliament & discussed in length to expose INCIndia role, apathy ^ connivance which led to massacre of millions & still massacres are continuing in those religiously divided areas बिल में कोई परेशानी नहीं है। यह हिंदू हितों की रक्षा के लिए है। Ab no appeasement, only development

VIDEO: टीम की हार के बावजूद मैदान पर छाए कोहली, बाउंड्री पर लपका शानदार कैचVIDEO: टीम की हार के बावजूद मैदान पर छाए कोहली, बाउंड्री पर लपका शानदार कैच ViratKohli imVkohli imVkohli Super man 💪 h Kohli bhaiya

इकोनॉमी पर कम हुआ लोगों का भरोसा, 5 साल के निचले स्‍तर पर कन्ज्यूमर कॉन्फिडेंसआर्थिक मोर्चे पर सुस्‍ती की वजह से आलोचना झेल रही मोदी सरकार के लिए एक और बुरी खबर है. दरअसल, लोगों का देश की इकोनॉमी पर भरोसा 5 साल के निचले स्‍तर पर है. nsitharaman cngrts mam you are doing a good job !! Waah Modi ji Waah. Aisi news sirf Twitter/social media pe post Kia kro, TV channel pe mat dikhaya kro..

निर्भया के दोषियों को फांसी पर लटकाने के लिए जल्लाद बनने को तैयार ये हेड कांस्टेबलनिर्भया (Nirbhaya) के दोषियों को भी जल्द से जल्द फांसी देने की मांग हो रही है. इस बीच खबर आई थी कि तिहाड़ जेल के पास जल्लाद न होने के कारण दोषियों को फांसी देने की तारीख तय नहीं हो पा रही है. | nation News in Hindi - हिंदी न्यूज़, समाचार, लेटेस्ट-ब्रेकिंग न्यूज़ इन हिंदी Open invitation daal do .. pura Hindustan khada ho jayega. Kisi ladki se karwa do.

रॉकेट हमले के बाद इजराइल ने गाजा में हमास के ठिकानों पर हमले किएहमास अधिकारियों ने बताया कि उत्तरी-गाजा में हमास सैन्य शाखा की अल-कसम ब्रिगेड और गाजा सिटी के पश्चिम में कसम क्षेत्र पर हमला किया गया. किसी के हताहत होने की तत्काल कोई जानकारी नहीं मिली है. | world News in Hindi - हिंदी न्यूज़, समाचार, लेटेस्ट-ब्रेकिंग न्यूज़ इन हिंदी

टिप्पणी लिखें

Thank you for your comment.
Please try again later.

ताज़ा खबर

समाचार

09 दिसम्बर 2019, सोमवार समाचार

पिछली खबर

कर्नाटक उपचुनाव: भाजपा को 12 सीटों पर जीत मिली, विधानसभा में मिला स्पष्ट बहुमत

अगली खबर

बाल तस्करी के मामले में राजस्थान शीर्ष पर, बिहार से हर दिन एक बच्चे की तस्करी: एनसीआरबी