दुखद: छिंदवाड़ा में दौड़ते समय युवक की हार्ट अटैक से हुई मौत, दिल्ली में कर रहा था आईएएस की तैयारी

मध्यप्रदेश के छिंदवाड़ा में एक युवक सुबह ग्राउंड में रनिंग कर रहा था, इस दौरान उसे हार्ट अटैक आ गया और उसकी मौत हो गई।

22-10-2021 01:00:00

दुखद: छिंदवाड़ा में दौड़ते समय युवक की हार्ट अटैक से हुई मौत, दिल्ली में कर रहा था आईएएस की तैयारी MadhyaPradesh Chhindwara Running Youth HeartAttack Death

मध्यप्रदेश के छिंदवाड़ा में एक युवक सुबह ग्राउंड में रनिंग कर रहा था, इस दौरान उसे हार्ट अटैक आ गया और उसकी मौत हो गई।

न्यूज डेस्क, अमर उजाला, छिंदवाड़ाPublished by:Updated Fri, 22 Oct 2021 01:22 AM ISTसारसावन आईएएस बनना चाहता था, परिवार में काफी होशियार था, उसके दो बड़े भाई और एक बहन हैं। सावन ने भोपाल से बीटेक मैकेनिकल ब्रांच से किया था। पिछले एक साल से वह दिल्ली में यूपीएससी की तैयारी कर रहा था।

नरेंद्र मोदी ने अखिलेश यादव की 'लाल टोपी' को क्यों बताया रेड अलर्ट - BBC News हिंदी यूपीए के अस्तित्व के सवाल के बीच: राहुल गांधी से मिलने के बाद संजय राउत ने कहा- विपक्ष का केवल एक मोर्चा होना चाहिए Anil Menon बनेंगे नासा एस्ट्रोनॉट, हो सकते हैं चांद पर जाने वाले पहले भारतवंशी!

प्रतीकात्मक तस्वीर- फोटो : अमर उजालाविज्ञापनख़बर सुनेंख़बर सुनेंमध्यप्रदेश के छिंदवाड़ा में एक युवक सुबह मैदान में दौड़ रहा था, इस दौरान उसे हार्ट अटैक आ गया और उसकी मौत हो गई। जानकारी के अनुसार, युवक का नाम सावन विश्वकर्मा था, वह दशहरे की छुट्टियों में अपने घर आया था और दिल्ली में रहकर यूपीएससी की तैयारी कर रहा था।

ग्राउंड के लगाए थे तीन चक्करपरिजनों बताया कि सुबह जल्दी उठकर दौड़ लगाने जाना उसका डेली का रूटीन था। रोज की तरह गुरुवार को भी सुबह दोस्तों के साथ दौड़ लगाने गया था और उसने ग्राउंड के तीन चक्कर लगाए थे। इसी दौरान अचानक वह गश खाकर गिर गया। दोस्त उसे परासिया अस्पताल लेकर गए और परिजनों को सूचना दी। अस्पताल में डॉक्टरों ने उसे मृत घोषित कर दिया। headtopics.com

परिजनों ने बताया कि वह आईएएस बनना चाहता था, परिवार में काफी होशियार था, उसके दो बड़े भाई और एक बहन हैं। सावन ने भोपाल से मैकेनिकल ब्रांच से बीटेक किया था। पिछले एक साल से वह दिल्ली में यूपीएससी की तैयारी कर रहा था। उसका अफसर बनने का सपना अधूरा रह गया।

युवाओं में हार्ट अटैक के कई कारणडॉक्टर बसंत शर्मा कार्डियोलॉजिस्ट एमडी का कहना है कि आमतौर पर ऐसी घटनाएं कम देखने में आती हैं। ऐसी घटना की वजह स्पष्ट तौर पर पोस्टमॉर्टम रिपोर्ट में सामने आती है। इसके पीछे अलग-अलग कारण हो सकते हैं। कई बार अधिक शारीरिक श्रम की वजह से सीवियर हार्ट अटैक का शिकार हो जाता है, जिसमें व्यक्ति की मौत हो जाती है।

पारा गिरने पर बढ़ेंगे हार्ट अटैक के मामलेजम्मू-कश्मीर में अक्तूबर माह के शुरू होने के साथ ही सर्दी बढ़ने की आशंका है। जिससे पारा गिरने पर प्रदेश में हार्ट अटैक के मामले भी बढ़ने लगते हैं। कड़ाके की ठंड में शारीरिक गतिविधियां कम हो जाती हैं। सामान्य से ज्यादा खानपान शरीर में कॉलेस्ट्रॉल की मात्रा बढ़ाता है, जो खून की सप्लाई को बाधित करता है। शरीर में खून में कंपोनेंट के आपस में जुड़ने से हार्ट अटैक की आशंका रहती है। मोटापा, तनाव, हाईपरटेंशन और अधिक मधुमेह भी दिल के लिए खतरे का कारण बन सकता है।

विस्तारमध्यप्रदेश के छिंदवाड़ा में एक युवक सुबह मैदान में दौड़ रहा था, इस दौरान उसे हार्ट अटैक आ गया और उसकी मौत हो गई। जानकारी के अनुसार, युवक का नाम सावन विश्वकर्मा था, वह दशहरे की छुट्टियों में अपने घर आया था और दिल्ली में रहकर यूपीएससी की तैयारी कर रहा था। headtopics.com

केंद्र के प्रस्ताव पर किसानों की और स्पष्टीकरण की मांग, आंदोलन के भविष्य पर बैठक जारी - BBC News हिंदी UAE में अब सरकारी कर्मचारियों को पांच दिन से भी कम समय करना होगा काम बाजार में 2000 के नोट की संख्या एक तिहाई घटी, सरकार ने बताया बाजार में कितने नोट बचे

विज्ञापनग्राउंड के लगाए थे तीन चक्करपरिजनों बताया कि सुबह जल्दी उठकर दौड़ लगाने जाना उसका डेली का रूटीन था। रोज की तरह गुरुवार को भी सुबह दोस्तों के साथ दौड़ लगाने गया था और उसने ग्राउंड के तीन चक्कर लगाए थे। इसी दौरान अचानक वह गश खाकर गिर गया। दोस्त उसे परासिया अस्पताल लेकर गए और परिजनों को सूचना दी। अस्पताल में डॉक्टरों ने उसे मृत घोषित कर दिया।

परिजनों ने बताया कि वह आईएएस बनना चाहता था, परिवार में काफी होशियार था, उसके दो बड़े भाई और एक बहन हैं। सावन ने भोपाल से मैकेनिकल ब्रांच से बीटेक किया था। पिछले एक साल से वह दिल्ली में यूपीएससी की तैयारी कर रहा था। उसका अफसर बनने का सपना अधूरा रह गया।

युवाओं में हार्ट अटैक के कई कारणडॉक्टर बसंत शर्मा कार्डियोलॉजिस्ट एमडी का कहना है कि आमतौर पर ऐसी घटनाएं कम देखने में आती हैं। ऐसी घटना की वजह स्पष्ट तौर पर पोस्टमॉर्टम रिपोर्ट में सामने आती है। इसके पीछे अलग-अलग कारण हो सकते हैं। कई बार अधिक शारीरिक श्रम की वजह से सीवियर हार्ट अटैक का शिकार हो जाता है, जिसमें व्यक्ति की मौत हो जाती है।

पारा गिरने पर बढ़ेंगे हार्ट अटैक के मामलेजम्मू-कश्मीर में अक्तूबर माह के शुरू होने के साथ ही सर्दी बढ़ने की आशंका है। जिससे पारा गिरने पर प्रदेश में हार्ट अटैक के मामले भी बढ़ने लगते हैं। कड़ाके की ठंड में शारीरिक गतिविधियां कम हो जाती हैं। सामान्य से ज्यादा खानपान शरीर में कॉलेस्ट्रॉल की मात्रा बढ़ाता है, जो खून की सप्लाई को बाधित करता है। शरीर में खून में कंपोनेंट के आपस में जुड़ने से हार्ट अटैक की आशंका रहती है। मोटापा, तनाव, हाईपरटेंशन और अधिक मधुमेह भी दिल के लिए खतरे का कारण बन सकता है। headtopics.com

आपकी राय हमारे लिए महत्वपूर्ण है। खबरों को बेहतर बनाने में हमारी मदद करें।खबर में दी गई जानकारी और सूचना से आप संतुष्ट हैं?हांखबर की भाषा और शीर्षक से आप संतुष्ट हैं?हांखबर के प्रस्तुतिकरण से आप संतुष्ट हैं?हांखबर में और अधिक सुधार की आवश्यकता है? और पढो: Amar Ujala »

रिटायरमेंट के दिन जूते की माला भेंट!: रीवा में यूनिवर्सिटी के डिप्टी रजिस्ट्रार से कर्मचारी यूनियन ने की हरकत; थैंक्यू कहकर दिया जवाब

रीवा में अवधेश प्रताप सिंह विश्वविद्यालय के डिप्टी रजिस्ट्रार लाल साहब सिंह से रिटायरमेंट के दिन विदाई समारोह में बदसलूकी का मामला सामने आया है। यूनिवर्सिटी के कर्मचारी यूनियन के पदाधिकारियों ने डिप्टी रजिस्ट्रार को जूते की माला भेंटकर मुर्दाबाद के नारे लगाए। जवाब में अफसर ने कहा-धन्यवाद, थैंक्यू। | Viral Video: Employees unions misbehaved with Deputy Registrar at Rewa APS University