China, Jammu Kashmir İssue, Jammu Kashmir Reorganization Bill 2019, İnternal Affairs, India-China Boundary Question, Jammu Kashmir, Article 370, Constitution Of India, Kashmir

China, Jammu Kashmir İssue

जम्मू कश्मीर मुद्दे पर भारत को बर्दाश्त नहीं किसी का दखल, चीन को दिया करारा जवाब

भारत की चीन को खरी-खरी

6.8.2019

भारत की चीन को खरी-खरी

जम्मू कश्मीर के मुद्दे को लेकर चीन की टिप्पणी पर विदेश मंत्रालय के प्रवक्ता रवीश कुमार ने कहा है कि जम्मू कश्मीर पुनर्गठन बिल 2019 भारत के क्षेत्र से जुड़ा एक आंतरिक मामला है. भारत अन्य देशों के आंतरिक मामलों पर टिप्पणी नहीं करता है और इसी तरह अन्य देशों से भी उम्मीद करता है कि वे भारत के आंतरिक मामलों पर कमेंट ना करें.

और पढो: आज तक

Tum ladhak pe Kaahe nhi karte ho 🙄🙄🙄 😳😳😳😂😂😂😂😂😂Kitna khari khari jyada to nhi n जी मस्त यह नया भारत है कोई नेहरू युग का चीज नहीं है, कि चीन वाले आए और 25000 स्क्वायर किलोमीटर का कश्मीर का क्षेत्र लूट के ले गए हिंदुस्तान से, इस वक्त एटम बम का बटन मोदी के हाथ में है ,और वह इस्तेमाल करने से हिचक जाएगा नहीं

370 pe 370 ka support इटालियन क्रिश्चियन माफिया आज बेनकाब हो गया हिंदुस्तान के सामने की वह भारत विरोधी ही है. Pel do..... 👌👌👍👍

370 पर केंद्र के फैसले पर विचार-विमर्श: संविधान के प्रावधानों पर बहस जारीसंविधान विशेषज्ञ सुभाष कश्यप ने कहा कि इसमें कोई दो राय नहीं है कि भारतीय संविधान का अनुच्छेद 370 पूरी अस्थायी है। इसका जिक्र अनुच्छेद में ही किया गया है। जहां तक हटाने का सवाल है, इसको लेकर संविधान में दो बातें कही गई हैं। पहली यह कि अनुच्छेद 370 को जम्मू-कश्मीर विधानसभा की सहमति से संसद हटा सकती है जबकि दूसरा प्रावधान है कि संविधान के अनुच्छेद 368 के तहत संसद दो तिहाई बहुमत से इसको समाप्त कर सकती है।

कश्मीर पर इमरान ख़ान: 'बीजेपी हिटलर के रास्ते पर चल रही है'भारत प्रशासित जम्मू कश्मीर का विशेष दर्जा समाप्त किए जाने के बाद इमरान ख़ान का पाकिस्तानी संसद में संबोधन. यह बात एक 'सेलेक्टेड' PM बोल रहा है जिसका दूसरा नाम 'तालिबान खान' भी है😡 ImranKhanPTI Sir you don’t get stress coz of kashmir issue ... you should think about Pakistan first. as pakistan economy at it’s worst.. so think on that Respected ImranKhanPrimeMinister sir🙏🏻 JaiHind

Article 370: Jammu Kashmir पर भारत के फैसले से बिलबिलाया पाकिस्तान, भारत को दी गीदड़ भभकीनरेंद्र मोदी सरकार द्वारा अनुच्छेद-370 को खत्म करने के फैसले पर पाकिस्‍तान में हड़कंप मच गया है। पाकिस्‍तान ने कहा है कि भारत ने बहुत खतरनाक खेल खेला है। BJP4India AmitShah रहने को घर नहीं सोने को बिस्तर नहीं सच मे तेरा तो अब खुदा ही रखवाला हैँ 🤣🤣 BJP4India AmitShah पाकिस्तान तुमको सख्त चेतावनी है। POK खाली कर दो वर्ना जान बचाने के लाले पड़ जाएंगे। ये भारत की देहाती औरत नही देहाती मर्द है। जब तुम्हारी मारेगा तो सह नही पाओगे। ImranKhanPTI BJP4India AmitShah अबे इमरान ज्यादा बक बक की तो इस बार सरिया तेरी गांड में पूरा घुसा दिया जाएगा

भारत ने कश्मीर पर ग़लत वक़्त चुना है: पाकिस्तानपाकिस्तान ने कहा कि भारत ने इस वक़्त को जानबूझकर चुना है जब वो सबसे अहम काम कर रहा. पाकिस्तान अपना घर संभालें 👍 Tumhare taraf se galat ho sakta hai, hamare taraf se toh sahi hai The time may be wrong for Pakistan but very suitable for India, Pakistan economy in shambles, could not sustain a day's full blown war.

धारा 370 हटाने पर पाक में बवाल, भारत से उच्चायुक्त वापस बुलाने पर विचारभारत सरकार के जम्मू कश्मीर से अनुच्छेद 370 हटाने के फैसले को लेकर पड़ोसी देश पाकिस्तान में बवाल मचा हुआ है. अब पाकिस्तान भारत से उच्चायुक्त को वापस बुलाने पर विचार कर रहा है. पाकिस्तान के वरिष्ठ पत्रकार हामिद मीर ने ट्वीट कर इस बात की जानकारी दी है कि पाकिस्तान सरकार भारत से उच्चायुक्त को वापस बुलाने पर विचार कर रहा है. हालांकि अभी तक इस मामले पर कोई फैसला नहीं लिया गया है. Jaldi vapas bulao Hume jarurat nhi hai जाने दो यार, एसै भी कोई काम का नही। केवल उच्चायुक्त को ही क्यों बुला रहे हैं यह अपने महबूबा फारूक उमर आदि आदि को भी बुला ले

हर बाइकर जाना चाहता है लद्दाख की इस 18,380 फीट ऊंची जगह पर, ये है वजहजम्मू-कश्मीर और लद्दाख को केन्द्र शासित प्रदेश का दर्जा देने के एलान के साथ ही बाइकर्स और पर्यटक खुश हैं। अगर आप भी लद्दाख

टिप्पणी लिखें

Thank you for your comment.
Please try again later.

ताज़ा खबर

समाचार

06 अगस्त 2019, मंगलवार समाचार

पिछली खबर

आर्टिकल 370 हटाने और जम्मू-कश्मीर पुनर्गठन विधेयक लोकसभा से पास | nation - News in Hindi - हिंदी न्यूज़, समाचार, लेटेस्ट-ब्रेकिंग न्यूज़ इन हिंदी

अगली खबर

इलाहाबाद HC ने जौहर यूनिवर्सिटी में छापा मारने के मामले पर सरकार से मांगा जवाब