Coronasecondwave, Oxygenshortage, Vaccineshortage, Manishsisodia, कोरोनादूसरीलहर, ऑक्सीजनकमी, वैक्सीनकमी, मनीषसिसोदिया

Coronasecondwave, Oxygenshortage

जब अपने देश में लोग मर रहे हैं, तब टीके निर्यात करना केंद्र का जघन्य अपराध: सिसोदिया

जब अपने देश में लोग मर रहे हैं, तब टीके निर्यात करना केंद्र का जघन्य अपराध: सिसोदिया #CoronaSecondWave #OxygenShortage #VaccineShortage #ManishSisodia #कोरोनादूसरीलहर #ऑक्सीजनकमी #वैक्सीनकमी #मनीषसिसोदिया

10-05-2021 19:30:00

जब अपने देश में लोग मर रहे हैं, तब टीके निर्यात करना केंद्र का जघन्य अपराध: सिसोदिया CoronaSecondWave OxygenShortage VaccineShortage ManishSisodia कोरोनादूसरीलहर ऑक्सीजनकमी वैक्सीनकमी मनीषसिसोदिया

दिल्ली के उप मुख्यमंत्री मनीष सिसोदिया ने कहा कि वैक्सीन की कमी के लिए पूरी तरह केंद्र सरकार ज़िम्मेदार है. जब इतनी वैक्सीन बन गई थी तो इसे अपने लोगों को देकर बेहतर कोरोना मैनेजमेंट हो सकता था, लेकिन केंद्र सरकार इंटरनेशनल इमेज मैनेजमेंट में लगी रही. इस बीच सोमवार को दिल्ली के स्वास्थ्य मंत्री सत्येंद्र जैन ने कहा कि दिल्ली के पास कोवैक्सीन का एक दिन का स्टॉक है, जबकि कोविशील्ड सिर्फ़ तीन से चार दिन के लिए बचा है.

नई दिल्ली:दिल्ली के उप मुख्यमंत्री मनीष सिसोदिया ने टीके निर्यात करने को लेकर रविवार को केंद्र सरकार पर निशाना साधते हुए कहा कि अगर अपने देश में लोगों को पहले टीके लगाए जाते तो बड़ी संख्या में जीवन बचाए जा सकते थे.सिसोदिया ने ऑनलाइन प्रेसवार्ता में आरोप लगाया, ‘जब हमारे अपने देश में लोग मर रहे थे, उस समय केंद्र ने केवल अपनी छवि प्रबंधन के लिए अन्य देशों को टीके की बिक्री की, जो कि केंद्र सरकार द्वारा किया गया जघन्य अपराध है.’

बेबो का विरोध: सीता के रोल के लिए सामने आया करीना का नाम, भड़के सोशल मीडिया यूजर ने लिखा- वह तैमूर खान की अम्मी, मां सीता नहीं बन सकती वैक्सीन पर नहीं घटा GST, रेमडेसिविर समेत कोरोना से जुड़े कई दवा-उपकरणों पर राहत दिग्विजय के बयान पर बवाल: कांग्रेस नेता बोले- सत्ता में आए तो कश्मीर में आर्टिकल 370 का फैसला पलटेंगे; सिंधिया का पलटवार- यही उस पार्टी की नीति और नीयत का सच

इस बीच सोमवार को दिल्ली के स्वास्थ्य मंत्री सत्येंद्र जैन ने कहा कि दिल्ली के पास कोवैक्सीन का एक दिन का स्टॉक है, जबकि कोविशील्ड सिर्फ तीन से चार दिन के लिए बचा है.एक अखबार की रिपोर्ट का हवाला देते हुए सिसोदिया ने कहा कि केंद्र ने 93 देशों को कोरोना वायरस टीके की बिक्री की, जिनमें से 60 फीसदी में संक्रमण नियंत्रण में था और वहां वायरस के चलते लोगों को जान का खतरा नहीं था.

उप मुख्यमंत्री ने कहा कि कोरोना वायरस संक्रमण की दूसरी लहर में बड़ी संख्या में युवाओं की जान चली गई.उन्होंने कहा कि अगर टीके का निर्यात करने के बजाय इन लोगों को टीका लगाया गया होता तो उनकी जान बचाई जा सकती थी.सिसोदिया ने कहा कि केंद्र को अब यह सुनिश्चित करना चाहिए कि देश में निर्मित टीके इसकी कमी का सामना कर रहे राज्यों को उपलब्ध कराए जाएं. headtopics.com

उन्होंने दोहराया कि अगर पर्याप्त मात्रा में खुराक उपलब्ध कराई जाए तो दिल्ली सरकार तीन महीने के भीतर शहर में सभी का टीकाकरण कर सकती है.उप मुख्यमंत्री मनीष सिसोदिया ने रविवार को प्रेस कॉन्फ्रेंस करने के अलावा ट्विटर पर केंद्र की मोदी सरकार को निशाना साझा है.

दिल्ली सरकार ने दिल्ली के लोगों के लिए वैक्सीन ख़रीदने के लिए 600 करोड़ का बजट मंज़ूर किया है. कई और राज्य भी इसी तरह तैयार हैं. लेकिन वैक्सीन उपलब्ध नहीं हैं. क्योंकि मार्च से अब तक केंद्र सरकार ने अरब देशों सहित 93 देशों पर मेहरबानी दिखाते हुए 6.6 करोड़ वैक्सीन एक्सपोर्ट कर दी.

— Manish Sisodia (@msisodia)May 9, 2021सिसोदिया ने ट्वीट कर कहा, दिल्ली सरकार ने दिल्ली के लोगों के लिए वैक्सीन खरीदने के लिए 600 करोड़ का बजट मंजूर किया है. कई और राज्य भी इसी तरह तैयार हैं, लेकिन वैक्सीन उपलब्ध नहीं हैं, क्योंकि मार्च से अब तक केंद्र सरकार ने अरब देशों सहित 93 देशों पर मेहरबानी दिखाते हुए 6.6 करोड़ वैक्सीन एक्सपोर्ट कर दी.

उन्होंने कहा, ‘अंतरराष्ट्रीय जगत की चिंता करना अच्छी बात है, लेकिन अमेरिका, कनाडा, यूरोप के देश पहले दुनिया भर से अपने लोगों के लिए वैक्सीन का इंतजाम करने में लगे हैं. केवल फ्रांस ने पिछले महीने एक लाख वैक्सीन एक्सपोर्ट की हैं. हमारी केंद्र सरकार मार्च से अब तक 6.6 करोड़ दान दे चुकी है.’ headtopics.com

भारत सरकार के कुछ कदम लोकतांत्रिक मूल्यों के परस्पर विरोधी : शीर्ष अमेरिकी अधिकारी मोदी-शाह से जीत का फाॅर्मूला लेकर लौटे योगी: जातीय समीकरण साधने पर होगा फोकस, अपना दल और निषाद पार्टी को मनाकर वोट बैंक बिखरने से बचाने की रणनीति सिंधिया को भेंट किया बेशरम का फूल!: दूसरी लहर में 'लापता' ज्योतिरादित्य की कार रोककर NSUI कार्यकर्ताओं ने धिक्कार पत्र भी सौंपा; चिट्ठी पढ़कर गुस्सा हुए सांसद

हमारे ही वैज्ञानिकों की बनाई वैक्सीन हमारे ही लोगों के लिए उपलब्ध नहीं है. वैक्सीन की कमी के लिए पूरी तरह केंद्र सरकार ज़िम्मेदार है.जब इतनी वैक्सीन बन गई थी तो इसे अपने लोगों को देकर बेहतर कोरोना मेनेजमेंट हो सकता था लेकिन केंद्र सरकार इंटर्नैशनल इमेज मेनेजमेंट में लगी रही.

— Manish Sisodia (@msisodia)May 9, 2021उन्होंने कहा कि हमारे देश का युवा वैक्सीन न मिलने के कारण अपनी जान गंवा रहा है. उन्होंने दावा किया कि दिल्ली में अपने देश के युवाओं के लिए केंद्र सरकार ने केवल 5.5 लाख वैक्सीन दी.उन्होंने कहा, ‘हमारे ही वैज्ञानिकों की बनाई वैक्सीन हमारे ही लोगों के लिए उपलब्ध नहीं है. वैक्सीन की कमी के लिए पूरी तरह केंद्र सरकार जिम्मेदार है. जब इतनी वैक्सीन बन गई थी तो इसे अपने लोगों को देकर बेहतर कोरोना मैनेजमेंट हो सकता था, लेकिन केंद्र सरकार इंटरनेशनल इमेज मैनेजमेंट में लगी रही.’

उप मुख्यमंत्री ने एक ट्वीट में कहा, ‘हमारे ही वैज्ञानिकों की बनाई वैक्सीन हमारे ही लोगों के लिए उपलब्ध नहीं है. वैक्सीन की कमी के लिए पूरी तरह केंद्र सरकार जिम्मेदार है. जब इतनी वैक्सीन बन गई थी तो इसे अपने लोगों को देकर बेहतर कोरोना मैनेजमेंट हो सकता था, लेकिन केंद्र सरकार इंटरनेशनल इमेज मैनेजमेंट में लगी रही.’

उन्होंने आरोप लगाया कि 22 अप्रैल को जब भारत में विश्व के सर्वाधिक 3.32 लाख केस आए थे उस दिन भी केंद्र सरकार ने परागुवे को दो लाख वैक्सीन एक्सपोर्ट की थी. जब हमारे खुद के देश में कोरोना बेकाबू हो गया था, उस समय भी केंद्र सरकार वैक्सीन एक्सपोर्ट करने में लगी थी. headtopics.com

सोमवार को दिल्ली के स्वास्थ्य मंत्रीसत्येंद्र जैनने मध्य दिल्ली के गुरुद्वारा रकाबगंज साहिब में गुरु तेग बहादुर कोविड केयर सेंटर में तैयारियों की समीक्षा के बाद संवाददाताओं से कहा, ‘कोवाक्सिन की खुराक केवल एक दिन तक चल सकती है, जबकि कोविशील्ड की खुराक तीन से चार दिनों तक चल सकती है.’

मंत्री की टिप्पणी मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल के उस बयान के एक दिन बाद आया, जिसमें उन्होंने केंद्र सरकार से राजधानी दिल्ली के लिए वैक्सीन आपूर्ति मई और जून के बीच बढ़ाने का आग्रह किया था.रविवार को जारी सरकारी आंकड़ों के अनुसार, दिल्ली में अब तक 18-44 आयु वर्ग के लिए कोरोनो वायरस टीके की 5.5 लाख खुराकें और 45 वर्ष से अधिक उम्र के लोगों, हेल्थकेयर और फ्रंटलाइन वर्कर्स के लिए 43 लाख खुराकें मिली हैं.

मिशन यूपी के लिए अमित शाह का मास्टर प्लान: ब्राह्मणों के साथ ओबीसी भी महत्वपूर्ण, गैर-जाटव दलित वोटों पर भी नजर Analysis: यूपी में नेतृत्व परिवर्तन की बात पूरी तरह बेमानी, बीजेपी के शीर्ष नेतृत्व को है योगी पर पूरा भरोसा! कोरोना में अनाथ हुए बच्चों और विधवाओं को मदद: गहलोत सरकार का बड़ा फैसला- बालिग होने तक हर बच्चे के मिलेंगे 2500 रुपए महीने, विधवाओं को मिलेगी पेंशन

राष्ट्रीय राजधानी में अब तक लगभग 39 लाख खुराक दी जा चुकी है.(समाचार एजेंसी भाषा से इनपुट के साथ) और पढो: द वायर हिंदी »

खबरदार: PNB स्कैम, एंटीगा की नागरिकता से लेकर मिस्ट्री गर्ल तक, देखें क्या बोलीं मेहुल चोकसी की पत्नी

मेहुल चोकसी की बेचैनी को इसी से समझा जा सकता है कि कोर्ट में सुनवाई से ठीक पहले उसके परिवार के लोग भी सामने आने लगे. जो अब तक चुप थे. मेहुल चोकसी की पत्नी ने कहा कि चोकसी एंटीगा का नागरिक है और उसे डोमिनिका से एंटीगा ही डिपोर्ट किया जाना चाहिए. चोकसी के बचाव में उसकी पत्नी ने क्या कहा, ये जानने के लिए देखिए खबरदार का ये एपिसोड.

और इमरान हुसैन द्वारा सिलिंडर जमा करना विदेशी मदद आज मिल रही उसके पीछे भारत द्वारा विदेशों को दी गई मदद का ही परिणाम है ...वरना आपलोग तो भारत को मोदी को बदनाम करने के लिये कृत्रिम ऑक्सीजन की कमी क्रिएट करने के लिये अपने सहयोगियों द्वारा ऑक्सीजन की जमाखोरी और कालाबाजारी में व्यस्त थे ? और दीजिये झूठे विज्ञापन?

COVID-19 : हाईकोर्ट का आदेश- कालाबाजारी रोकने के लिए कदम उठाएं केंद्र और दिल्ली सरकारनई दिल्ली। दिल्ली उच्च न्यायालय ने सोमवार को केंद्र सरकार और दिल्ली सरकार से कहा कि वे दवाओं और ऑक्सीजन सांद्रक जैसे चिकित्सीय उपकरणों की जमाखोरी तथा कालाबाजारी को रोकने के लिए कदम उठाएं और इसके लिए अदालत के आदेश का इंतजार नहीं करें।

सेंट्रल विस्टा पर बोला केंद्र, मजदूरों के रहने का इंतजाम, कोविड नियमों का होता है पालनकेंद्र सरकार ने अपने हलफनामे में कहा है कि 19 अप्रैल को कर्फ्यू लगाए जाने से पहले साइट पर 400 कर्मचारी थे। कर्मचारी उसी समय से साइट पर रहे हैं और पूरी तरह से नियमों का पालन कर रहे हैं।

चेतन सकारिया के पिता के बाद पीयूष चावला के पिता का कोरोना से निधनभारतीय क्रिकेट टीम के अनुभवी लेग स्पिनर पीयूष चावला के पिता का सोमवार को कोरोना संक्रमण के कारण निधन हो गया। वह 65 वर्ष के थे CricketNews IPL2021 PiyushChawala ChetanSakariya

दिल्ली में ऑक्सीजन के बाद वैक्सीन कम: दिल्ली के हेल्थ मिनिस्टर बोले- कोवैक्सिन का स्टॉक बस एक दिन चलेगा, कोवीशील्ड का 3-4 दिन का बचादिल्ली में ऑक्सीजन की कमी को बहुत मुश्किल से पूरा किया जा रहा है। इसी बीच अब वैक्सीन की किल्लत भी सामने आने लगी है। दिल्ली के स्वास्थ्य मंत्री सत्येंद्र जैन ने बताया कि कोवैक्सिन का केवल एक दिन का स्टॉक बचा है। कोवीशील्ड का स्टॉक केवल 3-4 दिन तक चलेगा। जैन ने केंद्र से जल्द से जल्द वैक्सीन उपलब्ध कराने की अपील की है। | Vaccine Crisis In Delhi | Vaccination In Delhi, Covaxin Stock, Covishield Stock, Covishield Prize, Covaxin Prize, Coronavirus Outbreak SatyendarJain तो ऑर्डर करना था पहले ब्रो। SatyendarJain कोरोना वैक्सीन कोविशील्ड लेने के बाद मेरा अनुभव SatyendarJain कोई समाचार एजेंसी यह क्यों नहीं पूछती कांग्रेस ने करोना पीड़ितों के लिए क्या किया उनके नेता क्या कर रहे है उनके राज्यों की स्थिति क्या है कांग्रेस के नेता झूट करोना बीमार बता कर किनारे हो जाते दोगली कांग्रेसियों से कोई उम्मीद मत करो जब देखो कांग्रेस लोगों को गुमराह करते हैं

केजरीवाल ने कहा, दिल्ली के पास 3-4 दिनों की वैक्सीन का स्टॉक - BBC Hindiदिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने कहा है कि केंद्र सरकार दिल्ली को और वैक्सीन उपलब्ध कराए. AAp party pahle oksizn ke liye Roti thi ab vekasin vekasin Par Roti he vo kua chahti he Delhi ki janata ka bhala nhi Chahti vo Modi ko badalam Karane me lagi he....jsn दूसरे राज्य पर भी फोकस करो Other AAP leaders asked for one day stock, Who's cheating ?

दिल्ली: गाय के गोबर से MCD बनाएगा लकड़ी, अंतिम संस्कार के लिए होगी इस्तेमालउत्तरी दिल्ली नगर निगम की तरफ से गाय के गोबर और पराली से लकड़ी बनाने की व्यवस्था शुरू की गई है. इसके जरिए हर रोज लकड़ियां बनाई जाएंगी, जिन्हें श्मशान घाट में अंतिम संस्कार के लिए इस्तेमाल किया जाएगा. (sushantm870) RE sushantm870 हे प्रभु, ये कैसा दिन आ गया पृथ्वीलोक 🌎पर...🙏 🤔 sushantm870 India